अप्रैल में उत्‍तर-पश्चिमी और मध्‍य भारत में गर्मी का 122 वर्षों का रिकॉर्ड टूटा

0
24

1.कर्नाटक में इंटरनेशनल सेमीकंडक्टर कंसोर्टियम, चिप विनिर्माण संयंत्र के लिए 22 हजार नौ सौ करोड़ रूपये का निवेश करेगा

इंटरनेशनल सेमीकंडक्टर कंसोर्टियम- आईएसएमसी कर्नाटक में चिप विनिर्माण संयंत्र के लिए 22 हजार नौ सौ करोड़ रूपये का निवेश करेगा। यह भारत का पहला सेमीकंडक्टर विनिर्माण संयंत्र होगा, जिससे एक हजार पांच सौ से अधिक प्रत्यक्ष और दस हजार से अधिक अप्रत्यक्ष रोजगार सृजित होंगे। राज्य सरकार के साथ बेंगलुरू में इस आशय के एक समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए गए। आईएसएमसी ने इस संयंत्र के लिए मैसुरू के कंचनहल्ली औद्योगिक क्षेत्र में एक सौ पचास एकड़ भूमि का अनुरोध किया है। यह संयंत्र केन्द्र सरकार के भारतीय सेमीकंडक्टर अभियान के अंतर्गत स्थापित किया जाएगा। आईएसएमसी आबुधाबी की कंपनी नेक्स्ट ऑर्बिट वेंचर्स और इज़राइल की टॉवर सेमीकंडक्टर का संयुक्त उद्यम है। भारत का सेमीकंडक्टर बाज़ार वर्ष 2026 तक 63 अरब डॉलर तक पहुंचने का अनुमान है। वर्ष 2020 में यह 15 अरब डॉलर का था।

2.बिहार के पूर्णिया जिले में मोटे अनाज से संचालित देश के पहले एथेनॉल संयंत्र का उद्घाटन

बिहार के पूर्णिया जिले में मोटे अनाज से संचालित देश के पहले एथेनॉल संयंत्र का उद्घाटन किया गया। इस अवसर पर मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि एथेनॉल के उत्‍पादन से राज्‍य में पेट्रोल की लागत कम होगी और रोजगार के नए अवसर सृजित होंगे। पूर्णिया जिले में एक निजी निवेशक ने एक सौ पांच करोड रूपये की लागत से यह संयंत्र स्‍थापित किया है। यह बिहार सरकार की एथेनॉल उत्‍पादन और संवर्धन नीति-2021 को केन्‍द्र सरकार द्वारा मंजूरी दिए जाने के बाद स्‍थापित पहला संयंत्र है। नवीनतम प्रौद्योगिकी वाले इस संयंत्र से कोई अपशिष्‍ट नहीं निकलता। इस संयंत्र में किसानों से प्रतिदिन चावल की एक सौ तीस टन भूसी और डेढ़ सौ टन चावल अथवा मकई की खरीद की जाएगी।

3.दूरदर्शन से प्रसारित होने वाले साप्‍ताहिक कार्यक्रम बेस्‍ट फ्रैंड फॉरएवर को 2021 के ई एन बी ए अवार्ड के लिए चुना गया

दूरदर्शन से प्रसारित होने वाले साप्‍ताहिक कार्यक्रम बेस्‍ट फ्रैंड फॉरएवर को 2021 के ई एन बी ए अवार्ड के लिए चुना गया है। दूरदर्शन के राष्‍ट्रीय चैनल पर दिखाए जाने वाले आधे घंटे के इस साप्‍ताहिक फोन इन लाइव शो में दो विशेषज्ञ पालतू जानवरों की देखभाल के बारे में दर्शकों को सलाह देते हैं।

4.विनय मोहन क्‍वात्रा ने नये सचिव का पदभार संभाला

भारतीय विदेश सेवा के वरिष्ठ अधिकारी विनय मोहन क्वात्रा ने नए विदेश सचिव का पदभार संभाल लिया। उन्होंने हर्षवर्धन श्रृंगला का स्थान लिया है। वे 1988 बैच के भारतीय विदेश सेवा के अधिकारी हैं। इससे पहले श्री क्वात्रा नेपाल में भारत के राजदूत के रूप में कार्यरत थे।

5.जाने-माने अर्थशास्‍त्री सुमन बेरी ने नीति आयोग के उपाध्‍यक्ष का पद ग्रहण किया

जाने माने अर्थशास्‍त्री सुमन बेरी ने नीति आयोग के उपाध्‍यक्ष का कार्यभार संभाल लिया। उन्‍होंने डॉ राजीव कुमार से इस प्रमुख नीति निर्धार‍क संस्‍था का पदभार ग्रहण किया । श्री बेरी राष्‍ट्रीय अनुप्रयुक्‍त आर्थिक अनुसंधान परिषद्-एनसीएईआर के महानिदेशक और रॉयल डच शेल के प्रमुख अंतर्राष्‍ट्रीय अर्थशास्‍त्री रह चुके हैं। वे प्रधानमंत्री की आर्थिक सलाहकार परिषद्, सांख्यिकी आयोग और मौद्रिक नीति संबंधी भारतीय रिजर्व बैंक की तकनीकी सलाहकार समिति के सदस्‍य भी रहे हैं।

6.अप्रैल में उत्‍तर-पश्चिमी और मध्‍य भारत में गर्मी का 122 वर्षों का रिकॉर्ड टूटा

अप्रैल में उत्‍तर-पश्चिमी और मध्‍य भारत में गर्मी का 122 वर्षों का रिकॉर्ड टूट गया है। जम्‍मू-कश्‍मीर, लद्दाख, पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़, दिल्‍ली, उत्‍तराखंड, हिमाचल प्रदेश, राजस्‍थान, गुजरात, मध्‍य प्रदेश और छत्‍तीसगढ़ 122 वर्षों में सबसे गर्म रहे। मौसम विभाग के अनुसार अप्रैल में मध्‍य भारत में औसत अधिकतम तापमान 37 दशमलव सात-आठ डिग्री सेल्सियस रहा, जबकि उत्‍तर-पश्चिमी भारत में यह 35 दशमलव नौ डिग्री सेल्सियस था। यह सामान्‍य से लगभग तीन दशमलव तीन-पांच डिग्री अधिक था। वर्ष 1901 में पूरे भारत का औसत तापमान 35 दशमलव शून्‍य-पांच डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया था। मौसम विभाग के महानिदेशक मृत्युंजय महापात्रा बताया कि पूरे देश में विशेष रूप से उत्‍तर-पश्चिम में अधिकतम तापमान अधिक रहा।

7.चंडीगढ़ में एकीकृत सड़क दुर्घटना डेटाबेस (IRAD) परियोजना लॉन्च

हाल ही में iRAD प्रोजेक्ट को चंडीगढ़ में लॉन्च किया गया है। केंद्र सरकार द्वारा एक केंद्रीय दुर्घटना डेटाबेस प्रबंधन प्रणाली शुरू की गई है जो भारत में इस तरह की दुर्घटनाओं को कम करने के उद्देश्य से सड़क दुर्घटनाओं के कारणों का विश्लेषण करने और सुरक्षा उपायों को विकसित करने में मदद करेगी। इस सिस्टम का नाम Integrated Road Accident Database (IRAD) है। यह सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय की एक पहल है। भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान-मद्रास (IIT-M) ने इस प्रणाली को विकसित किया है। यह प्रणाली राष्ट्रीय सूचना विज्ञान केंद्र द्वारा कार्यान्वित की जा रही है। इस परियोजना की लागत 258 करोड़ रुपये है और इसे विश्व बैंक द्वारा समर्थित किया गया है। वर्ष 2019 में, iRAD का प्रस्ताव किया गया था लेकिन COVID-19 महामारी के कारण इसके कार्यान्वयन में देरी हुई। इस प्रणाली को 6 राज्यों के 59 जिलों में एक पायलट के रूप में शुरू किया गया है जो फरवरी 2022 में मध्य प्रदेश, कर्नाटक, राजस्थान, महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश और तमिलनाडु हैं। IRAD एक वेब-आधारित सूचना प्रौद्योगिकी (IT) समाधान है जो लोक निर्माण विभाग (PWD), पुलिस आदि जैसी विभिन्न एजेंसियों को सड़क इंजीनियरिंग, जांच, स्थिति जैसे विभिन्न दृष्टिकोणों से सड़क दुर्घटना के बारे में विवरण दर्ज करने में मदद करेगा।

8.हिम तेंदुआ संरक्षणवादी चारुदत्त मिश्रा ने जीता प्रतिष्ठित ‘व्हिटली गोल्ड अवार्ड’

प्रसिद्ध हिम तेंदुआ विशेषज्ञ और वन्यजीव संरक्षणवादी चारुदत्त मिश्रा ने प्रतिष्ठित व्हिटली गोल्ड अवार्ड जीता है। यह अवार्ड उन्हें एशिया के उच्च पर्वतीय पारिस्थितिक तंत्र में बड़ी बिल्ली प्रजातियों (तेंदुए) के संरक्षण और पुनर्प्राप्ति में स्वदेशी समुदायों को शामिल करने में उनके योगदान के लिए प्राप्त हुआ है। प्रिंसेस ऐनी ने मिश्रा को लंदन की रॉयल जियोग्राफिक सोसाइटी में यह पुरस्कार प्रदान किया। यह उनका दूसरा व्हिटली फंड फॉर नेचर (Whitley Fund for Nature – WFN) अवार्ड है। उन्हें वर्ष 2005 में उन्हें पहला अवार्ड मिला था।

9.अर्देशिर बी. के. दुबाश को पेरू सरकार द्वारा सर्वोच्च राजनयिक पुरस्कार से सम्मानित किया गया

मुंबई में पेरू के पूर्व मानद कौंसल, अर्देशिर बी.के. दुबाश को पेरू के विदेश मंत्रालय द्वारा पेरू जोस ग्रेगोरियो पाज़ सोल्डन की राजनयिक सेवा में ऑर्डर ऑफ मेरिट प्रदान किया गया है। एच.ई. कार्लोस आर. पोलो ने उन्हें यह पुरस्कार प्रदान किया है, जो वर्तमान में भारत में पेरू के राजदूत हैं। दुबाश को सन् 1973 में पेरू के मानद कौंसल के रूप में नामित किया गया था। ऑर्डर ऑफ मेरिट वर्ष 2004 में स्थापित किया गया था, जिसका नाम जोस ग्रेगोरियो पाज़ सोल्डन के नाम पर रखा गया था। दुबाश को 13 अगस्त, 1973 को पेरू के मानद कौंसल के रूप में नामित किया गया था। मानद कौंसल के रूप में उनका करियर, तकरीबन आधी सदी तक चला, जिसमें उन्होंने पेरू के 14 राष्ट्रपतियों और भारत में पेरू के 15 राजदूतों के साथ कार्य करने का मौका मिला।

10.दिल्ली विश्वविद्यालय ने अपनी स्थापना के सौ वर्ष पूरे किये

एक मई 1922 को स्थापित हुए दिल्ली विश्वविद्यालय ने एक मई को सौ वर्ष पूरे कर लिये हैं। इस अवसर पर, विश्वविद्यालय के सम्मान में, उप- राष्ट्रपति एम वैंकेया नायडू और केंद्रीय शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने सौ रुपये का स्मारक सिक्का और एक डाक टिकट जारी किया। उप राष्ट्रपति ने स्मारक शताब्दी खंड भी जारी किया, जो विश्वविद्यालय की ऐतिहासिक यात्रा को बताता है। विश्व के सर्वश्रेष्ठ विश्वविद्यालों में शुमार दिल्ली विश्वविद्यालय से निकले छात्र आज राष्ट्रीय -अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर, देश का नाम रौशन कर रहे हैं। इनमें बॉलीवुड अभिनेता अमिताभ बच्चन, शाहरूक खान, आईपीएस किरण बेदी, पूर्व लोकसभा स्पीकर मीरा कुमार, राजनेता दिवंगत अरूण जेटली और शशि थरूर शामिल हैं।

11.अमेरिका ने अपनी बौद्धिक संपदा संरक्षण प्राथमिकता निगरानी सूची में भारत, रूस और चीन को सूचीबद्ध किया

भारत, चीन, रूस और चार अन्य देशों को बौद्धिक संपदा संरक्षण और प्रवर्तन के लिए अमेरिका की वार्षिक प्राथमिकता निगरानी सूची में जोड़ा गया। संयुक्त राज्य व्यापार प्रतिनिधि की अन्य देशों की सूची में अर्जेंटीना, चिली, इंडोनेशिया और वेनेजुएला शामिल हैं। इस वर्ष की सूची के कुल सात देश ही पिछले वर्ष की सूची में शामिल थे। अमेरिकी व्यापार प्रतिनिधि कैथरीन ताई ने अपनी स्पेशल 301 रिपोर्ट में अमेरिकी व्यापारिक भागीदारों की सुरक्षा और बौद्धिक संपदा अधिकारों के प्रवर्तन की पर्याप्तता और प्रभावशीलता पर संकेत दिया कि, ये राष्ट्र अगले वर्ष में विशेष रूप से गहन द्विपक्षीय जुड़ाव का ध्यान केंद्रित करेंगे। अल्जीरिया, बारबाडोस, बोलीविया, ब्राजील, कनाडा, कोलंबिया, डोमिनिकन गणराज्य, इक्वाडोर, मिस्र, ग्वाटेमाला, मैक्सिको, पाकिस्तान, पराग्वे, पेरू, थाईलैंड, त्रिनिदाद और टोबैगो, तुर्की, तुर्कमेनिस्तान, उज्बेकिस्तान और वियतनाम उन देशों की सूची में शामिल हैं, जिस पर अंतर्निहित बौद्धिक संपदा के मुद्दों को संबोधित करने के लिए द्विपक्षीय ध्यान देने की आवश्यकता है। स्पेशल 301 रिपोर्ट दुनिया भर में बौद्धिक संपदा संरक्षण और प्रवर्तन की स्थिति का वार्षिक मूल्यांकन है। इस वर्ष की स्पेशल 301 रिपोर्ट के लिए USTR ने सौ से अधिक व्यापारिक भागीदारों को शामिल किया।

12.युवाओं, महिला उद्यमियों को डिजिटल अर्थव्यवस्था का लाभ देने के लिए गूगल का तेलंगाना सरकार से करार

गूगल ने डिजिटल अर्थव्यवस्था का लाभ युवाओं और महिला उद्यमियों तक पहुंचाने के उद्देश्य से तेलंगाना सरकार के साथ समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए। इस अवसर पर, Google ने 2019 में गाचीबोवली में अधिग्रहित 7.3 एकड़ की साइट पर अपने ग्राउंड-अप विकास के डिजाइन का भी अनावरण किया। समझौता ज्ञापन के अनुसार, Google युवाओं को Google कैरियर प्रमाणपत्र छात्रवृत्ति प्रदान करने के लिए तेलंगाना सरकार के साथ सहयोग करेगा ताकि उन्हें डिजिटल प्रतिभा की मांग के लिए “नौकरी के लिए तैयार” किया जा सके। स्कॉलरशिप को तेलंगाना एकेडमी फॉर स्किल एंड नॉलेज के माध्यम से रूट किया जाता है और प्रशिक्षण आईटी सपोर्ट, आईटी ऑटोमेशन, यूएक्स डिजाइन, डेटा एनालिटिक्स और प्रोजेक्ट मैनेजमेंट जैसे उच्च-मांग वाले क्षेत्रों में केंद्रित होगा।

13.एसबीआई के पूर्व चेयरमैन रजनीश कुमार बने ‘इंडिफी टेक्नोलॉजीज’ के सलाहकार

ऑनलाइन लेंडिंग प्लेटफॉर्म इंडिफी टेक्नोलॉजीज ने एसबीआई के पूर्व चेयरमैन रजनीश कुमार को सलाहकार नियुक्त किया है। यह वर्तमान में एचएसबीसी एशिया पैसिफिकएलएंडटी इंफोटेकहीरो मोटोकॉर्प और भारतपे के बोर्ड में शामिल हैं। बतौर सलाहकार, कुमार कंपनी की विकास रणनीति पर प्रबंधन के साथ जुड़ेंगे और वित्तीय सेवा क्षेत्र में मार्गदर्शन प्रदान करेंगे।

14.बैंक ऑफ बड़ौदा ने वरिष्ठ नागरिकों के लिए एक नया फीचर ‘बॉब वर्ल्ड गोल्ड’ लॉन्च किया

बैंक ऑफ बड़ौदा ने वरिष्ठ नागरिकों व बुजुर्गों के लिए बॉब वर्ल्ड मोबाइल बैंकिंग प्लेटफॉर्म पर बॉब वर्ल्ड गोल्ड लांच किया। इसके फीचर एंड्रॉइड व आईओएस दोनों पर उपलब्ध है। इसके मदद से वरिष्ठ ग्राहकों को एक सहज व आसान और सुरक्षित मोबाइल बैकिंग का सेवा प्रदान करना है। इस प्लेटफॉर्म में आसान नेविगेशन, बड़े फोंट, पर्याप्त स्पेसिंग और स्पष्ट मेनू हैं। बॉब वर्ल्ड गोल्ड के पीछे का विचार इस जनसांख्यिकी की नज़र से हर चीज़ को देखना और डिजिटल बैंकिंग प्लेटफॉर्म से उनकी विशिष्ट आवश्यकताओं को समझना था।

15.विश्व बैंक ने भारत के मिशन कर्मयोगी कार्यक्रम के लिए $47 मिलियन के कार्यक्रम को मंजूरी दी

विश्व बैंक ने भारत सरकार के मिशन कर्मयोगी – सिविल सेवा क्षमता निर्माण के लिए राष्ट्रीय कार्यक्रम का समर्थन करने के लिए 47 मिलियन अमरीकी डालर की परियोजनाओं को मंजूरी दी है। भारत भर में लगभग 18 मिलियन सिविल सेवक कार्यरत हैं, जिनमें से लगभग दो-तिहाई राज्य सरकार और स्थानीय प्राधिकरण स्तरों पर कार्यरत हैं। बैंक के वित्तपोषण का लक्ष्य लगभग 40 लाख सिविल सेवकों की कार्यात्मक और व्यवहारिक दक्षताओं को बढ़ाने के सरकार के उद्देश्यों का समर्थन करना है। यह तीन घटकों पर केंद्रित है: सक्षमता ढांचे का विकास और कार्यान्वयन, एक एकीकृत शिक्षण मंच का विकास और कार्यक्रम निगरानी, मूल्यांकन और प्रबंधन।

16.न्यू स्पेस इंडिया लिमिटेड और वनवेब ने उपग्रह प्रक्षेपण के लिए हस्ताक्षर किए

भारती समूह समर्थित वनवेब और ISRO की वाणिज्यिक शाखा न्यू स्पेस इंडिया लिमिटेड ने एक समझौता किया है जो वनवेब को अपने उपग्रह प्रक्षेपण कार्यक्रम को पूरा करने में मदद करेगा। न्यू स्पेस इंडिया के साथ पहला प्रक्षेपण 2022 में सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र (SDSC) SHAR, श्रीहरिकोटा से होने की उम्मीद है।

17.आरबीएल बैंक के पूर्व रिटेल प्रमुख ‘अंशुल स्वामी’ को ‘शिवालिक स्मॉल फाइनेंस बैंक’ के एमडी-सीईओ के रूप में नामित किया गया

अंशुल स्वामी को शिवालिक स्मॉल फाइनेंस बैंक का प्रबंध निदेशक और मुख्य कार्यकारी अधिकारी नामित किया गया है। स्वामी का नामांकन पहले ही भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) द्वारा स्वीकार कर लिया गया है। स्वामी ने सुवीर कुमार गुप्ता की जगह ली, जिन्होंने बैंक की सह-स्थापना की और शहरी सहकारी से स्थानीय वित्त संस्थान में परिवर्तन के माध्यम से इसे निर्देशित किया।

18.अंतर्राष्‍ट्रीय श्रमिक दिवस

1 मई को अंतरराष्ट्रीय श्रमिक दिवस मनाया जाता है । यह दिवस पूरे विश्‍व में श्रमिकों के योगदान को सम्‍मान देने के लिए मनाया जाता है। इसे मई दिवस के रूप में भी जाना जाता है। इस दिन को मनाने का उद्देश्‍य पूरे विश्‍व में आर्थिक और सामाजिक अधिकारों को प्राप्‍त करने में श्रमिकों के समर्पण के प्रति आभार व्‍यक्‍त करना है। आठ घंटे के कार्य दिवस की आवश्यकता को बढ़ावा देने के लिए अंतर्राष्ट्रीय श्रम दिवस मनाया जा रहा है। पहले के समय में, मजदूरों की काम करने की स्थिति बहुत गंभीर थी और काम के घंटे दिन में 10 से 16 घंटे तक चलते थे यहां तक ​​कि असुरक्षित परिस्थितियों में भी, जिससे कई लोगों कि मृत्यु हुई, श्रमिकों की चोटें भी आती थीं। श्रमिकों के संघर्ष के बाद, 1886 में अमेरिकन फेडरेशन ऑफ लेबर द्वारा शिकागो में राष्ट्रीय सम्मेलन में श्रमिकों के लिए कानूनी समय घोषित किया गया था। 1889 में, पेरिस में आयोजित अंतर्राष्ट्रीय श्रमिकों की महासभा की दूसरी बैठक हुई और एक प्रस्ताव पारित किया गया कि 1 मई को अंतर्राष्ट्रीय श्रमिक दिवस के रूप में मनाया जाना चाहिए। भारत में, इस दिन को 1923 से राष्ट्रीय अवकाश के रूप में मनाया जाता है।

19.गुजरात स्थापना दिवस

1 मई को गुजरात स्थापना दिवस मनाया गया। भारत के स्वतंत्र होने के समय यह प्रदेश मुम्बई राज्य का अंग था। अलग गुजरात की स्थापना 1 मई, 1960 को हुआ। महाराष्ट्र और गुजरात का स्थापना दिवस 1 मई को मनाया जाता है कभी ये दोनों राज्य मुंबई का हिस्सा थे। राज्यों पुनर्गठन अधिनियम, 1956 ने भाषाओं के आधार पर भारतीय राज्यों की सीमाओं को फिर से परिभाषित किया था। इस अधिनियम के आधार पर महाराष्ट्र का गठन किया गया था। बंबई राज्य में विभिन्न भाषाएँ बोली जाती थीं अर्थात् गुजराती, कोंकणी, मराठी और कच्छी। बॉम्बे राज्य को 1960 में गुजरात और महाराष्ट्र में विभाजित किया गया था। जहाँ लोग गुजराती और कच्छी बोलते थे उस क्षेत्र में गुजरात का गठन किया गया। दूसरे क्षेत्र का नाम महाराष्ट्र रखा गया था जहां लोग कोंकणी और मराठी बोलते थे। बॉम्बे राज्य को दो राज्यों महाराष्ट्र और गुजरात में विभाजित करने के आंदोलन में संयुक्त महाराष्ट्र समिति (Samyukta Maharashtra Samiti) सबसे आगे थी।

20.महाराष्‍ट्र का 62वां स्‍थापना दिवस

एक मई को महाराष्‍ट्र का 62वां स्‍थापना दिवस मनाया गया । इस अवसर पर मुख्‍यमंत्री उद्धव ठाकरे ने हुतात्‍मा स्‍मारक पर फूलमाला चढ़ाए। यह स्‍मारक उन लोगों की स्‍मृति में बनाया गया है, जिन्‍होंने एकीकृत महाराष्‍ट्र राज्‍य के लिए अपने प्राणों की आहुति दी थी। महाराष्ट्र राज्य की स्थापना एक मई 1960 को हुई थी।