उपराष्‍ट्रपति जगदीप धनखड आसियान-भारत शिखर सम्‍मेलन और पूर्वी एशिया सम्‍मेलन में शामिल होने के लिए कम्‍बोडिया पहुंचे, 2022 को आसियान-भारत मित्रता वर्ष के रूप में मनाया जा रहा है

0
24

1. उपराष्‍ट्रपति जगदीप धनखड आसियान-भारत शिखर सम्‍मेलन और पूर्वी एशिया सम्‍मेलन में शामिल होने के लिए कम्‍बोडिया पहुंचे, 2022 को आसियान-भारत मित्रता वर्ष के रूप में मनाया जा रहा है

नोम पेन्ह पहुंचने पर कंबोडिया के डाक और दूरसंचार मंत्री, ची वंदेथ और अन्य गणमान्य व्यक्तियों ने उप-राष्ट्रपति जगदीप धनखड़ का स्वागत किया। उप-राष्ट्रपति का कार्यभार संभालने के बाद यह उनका पहला विदेशी दौरा है। उनके साथ विदेश मंत्री डॉक्टर सुब्रह्मण्यम जयशंकर भी हैं। श्री धनखड़ नोम पेन्ह में आसियान-भारत स्मारक शिखर सम्मेलन में भाग लेंगे। इस वर्ष आसियान-भारत संबंधों की तीसवीं वर्षगांठ है और ये साल आसियान-भारत मैत्री वर्ष के रूप में मनाया जा रहा है। उपराष्ट्रपति कंबोडिया और अन्य देशों के नेताओं के साथ द्विपक्षीय वार्ताएं भी करेंगे। उनका कंबोडियाई विरासत स्थलों पर भारत द्वारा किए जा रहे संरक्षण और जीर्णोद्धार कार्य की समीक्षा के लिए सिएम रीप जाने का भी कार्यक्रम हैं।

2. यूक्रेन ने आसियान के साथ नॉम पेन में सदभाव और सहयोग की संधि के साथ विलय पत्र पर हस्‍ताक्षर किए

यूक्रेन ने आसियान के साथ कंबोडिया शिखर बैठक में नॉम पेन में सदभाव और सहयोग की संधि के साथ विलय पत्र पर हस्‍ताक्षर किए हैं। यूक्रेन के विदेश मंत्री डीमाइत्रो कुलेबा ने विलय पत्र पर हस्‍ताक्षर किया। इसके बाद यूक्रेन दक्षिण पूर्व एशिया में कंबोडिया की अध्‍यक्षता में सदभाव और सहयोग संधि का 50वां सदस्‍य बन गया। उन्‍होंने आसियान के महासचिव दातो लिम जोक होइ के साथ बैठक की। यह बैठक 40वें और 41वें शिखर बैठक और संबंधित शिखर बैठकों से अलग आयोजित की गई।

3. प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने कर्नाटक में कई विकास परियोजनाओं का लोकार्पण किया

प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने कहा कि कनेक्टिविटी भारत के विकास में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगी। श्री मोदी ने बेंगलुरू में नादप्रभु केम्‍पेगौड़ा की 108 फुट ऊंची कांस्‍य प्रतिमा स्‍टेच्‍यू ऑफ प्रोसपेरिटी का अनावरण किया। ‘स्टैच्यू ऑफ यूनिटी’ से प्रसिद्धि हासिल करने वाले राम वी. सुतार द्वारा संकल्पित और गढ़ी गई इस प्रतिमा के निर्माण में 98 टन कांस्य और 120 टन स्टील का उपयोग किया गया है। इससे पहले, श्री मोदी ने शहर में केम्‍पेगौड़ा अंतर्राष्‍ट्रीय हवाई अड्डे के टर्मिनल दो का उद्घाटन किया। उन्‍होंने के. एस. आर. रेलवे स्‍टेशन पर चेन्‍नई-मैसूर वंदे भारत एक्‍सप्रेस को झंडी दिखाकर रवाना किया। ये देश की पांचवीं वंदे भारत एक्सप्रेस ट्रेन होगी और दक्षिण भारत में इस तरह की पहली ट्रेन होगी। ये चेन्नई के औद्योगिक केंद्र, बेंगलुरु के टेक और स्टार्टअप हब और प्रसिद्ध पर्यटन शहर मैसूर के बीच के संपर्क को बढ़ाएगी। इसके बाद प्रधानमंत्री प्लेटफॉर्म संख्या 8 के फ्लैग ऑफ क्षेत्र में पहुंचे और भारत गौरव काशी यात्रा ट्रेन को हरी झंडी दिखाई। कर्नाटक पहला राज्य है जिसने भारत गौरव योजना के तहत इस ट्रेन को शुरू किया है जिसमें कर्नाटक सरकार और रेल मंत्रालय मिलकर कर्नाटक से तीर्थयात्रियों को काशी भेजने के लिए कार्य कर रहे हैं। प्रधानमंत्री ने नादप्रभु केम्पेगौड़ा की परिकल्पना के अनुरूप बेंगलुरु के विकास पर जोर दिया। नादप्रभु कैम्पेगौड़ा ने वर्ष 1537 में बेंगलुरु शहर की नींव रखी थी। उन्होंने कहा कि विजयनगर साम्राज्य के अंतर्गत शासन करने वाले केम्पेगौड़ा की सोच और दूरदर्शिता का लाभ बेंगलुरु को मिल रहा है। प्रधानमंत्री कर्नाटक, तमिलनाडू, आंध्रप्रदेश और तेलंगाना की दो दिन की यात्रा पर हैं।

4. प्रधानमंत्री ने तमिलनाडु के डिंडीगुल में गांधीग्राम ग्रामीण संस्थान के 36वें दीक्षांत समारोह में हिस्सा लिया

प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी तमिलनाडु के डिंडीगुल में गांधीग्राम ग्रामीण संस्थान के 36वें दीक्षांत समारोह में शामिल हुए। इस दीक्षांत समारोह में 2018-19 और 2019-20 बैच के 2300 से अधिक छात्रों ने डिग्री प्राप्त की। इसके बाद प्रधानमंत्री ने विजेताओं को स्वर्ण पदक और योग्य उम्मीदवारों को मानद पुरस्कार प्रदान किए। श्री मोदी ने समारोह में प्रख्यात संगीतकार इलैयाराजा और वादक उमयालपुरम सिवन को मानद उपाधि से सम्मानित किया। इस अवसर पर तमिलनाडु के मुख्यमंत्री श्री एम के स्टालिन, तमिलनाडु के राज्यपाल श्री आर एन रवि, केंद्रीय राज्य मंत्री डॉ एल मुरुगन, कुलाधिपति डॉ के एम अन्नामलाई और कुलपति प्रो गुरमीत सिंह भी उपस्थित थे।

5. मुरैना, मध्य प्रदेश में कृषि मेला एवं प्रदर्शनी का शुभारंभ

केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्रालय द्वारा मध्य प्रदेश शासन एवं जिला प्रशासन के सहयोग से मुरैना में आयोजित 3 दिनी वृहद कृषि मेला एवं प्रदर्शनी का शुभारंभ आज मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री तथा क्षेत्रीय सांसद श्री नरेंद्र सिंह तोमर की अध्यक्षता में किया। इस अवसर पर चंबल-ग्वालियर अंचल के हजारों किसानों की मौजूदगी में 103 अमृत सरोवरों का लोकार्पण, मुख्यमंत्री संजीवनी केंद्रों का शिलान्यास, स्टेडियम में इंडोर-आउटडोर सभी सुविधाओं के लिए 10 करोड़ रुपये की लागत से विभिन्न कार्यों का भूमिपूजन किया गया।

6. ग्रामीण विकास मंत्रालय ने दीनदयाल अंत्योदय योजना -राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के अंतर्गत प्रभावी शासन प्रणाली का समर्थन करने के लिए समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए

ग्रामीण विकास मंत्रालय (एमओआरडी) ने दीनदयाल अंत्योदय योजना – राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन (डीएवाई-एनआरएलएम) के तहत प्रभावी शासन प्रणाली की स्थापना का समर्थन करने, राज्य की क्षमताओं को मजबूत करने, पंचायती राज संस्थाओं (पीआरआई) और स्वयं सहायता समूहों-एसएचजी को शामिल करने के लिए राष्ट्रीय रणनीति का अभिनव मॉडल स्थापित करने और लागू करने के लिए गुरुग्राम के वेदीस फाउंडेशन के साथ एक समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए हैं। ग्रामीण विकास मंत्रालय और वेदिस फाउंडेशन के साथ साझेदारी तीन वर्ष के लिए है और इसकी प्रकृति गैर-वित्तीय है।

7. पहले मल्टी मॉडल लॉजिस्टिक पार्क्स का कार्य मेसर्स रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड को आवंटित किया गया

प्रधानमंत्री की परिकल्पना के अनुरूप और अक्तूबर 2021 में शुरू किए गए ‘प्रधानमंत्री गति शक्ति राष्ट्रीय मास्टर प्लान (एनएमपी)’ के अंतर्गत सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय समेत 16 मंत्रालयों को शामिल कर देश में मल्टी मोड कनेक्टविटी में सुधार करने और देश भर में लास्ट माइल कनेक्टिविटी स्थापित करने का काम शुरू किया गया। सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय देश में 35 मल्टी मॉडल लॉजिस्टिक पार्क्स (एमएमएलपी) स्थापित कर रहा है जिनमें से 15 की स्थापना अगले तीन साल में की जाएगी। इसके साथ ही देश में उद्योग को अधिक प्रभावी और लचीला बनाने के उद्देश्य से 2022 में राष्ट्रीय लॉजिस्टिक्स पॉलिसी शुरू की गई जो लॉजिस्टिक ईकोसिस्टम के भीतर विभिन्न एजेंसियों के प्रभावी एकीकरण और इस प्रक्रिया के प्रवाह को सुगम बनाने के लिए नवीन प्रौद्योगिकियों को अपनाने जैसे इन दो मुख्य क्षेत्रों पर केंद्रित थी। देश भर में स्टेट ऑफ द आर्ट मल्टी मॉडल अवसंरचना के निर्माण को गति देने के लिए मंत्रालय ने राष्ट्रीय मास्टर प्लान के तहत पर्याप्त प्रगति की है। इसके तहत चेन्नई के माप्पेदु में 184.27 एकड़ क्षेत्र में एक एमएमएलपी स्थापित की जा रही है और इस पहली एमएमएलपी का कार्य मेसर्स रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड को आवंटित किया गया है। प्रधानमंत्री ने गत 26 मई 2022 को इसका शिलान्यास किया था।

8. श्री नितिन गडकरी ने उत्तर पूर्वी क्षेत्र के लिए कुल 1.6 लाख करोड़ रुपये की लागत वाली नई परियोजनाओं की घोषणा की

केन्द्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री श्री नितिन गडकरी ने उत्तर पूर्वी क्षेत्र में कुल 1.6 लाख करोड़ रुपये की लागत वाली आगामी नई परियोजनाओं को मंजूरी देने की घोषणा की। असम के गुवाहाटी में उत्तर पूर्वी क्षेत्र में राष्ट्रीय राजमार्ग परियोजनाओं की समीक्षा के समापन संवाददाता सम्मेलन में उन्होंने कहा कि इन परियोजनाओं में सड़कें, रोपवे, आरओबी, ब्रह्मपुत्र नदी एवं अन्य जल निकायों पर बड़े पुल शामिल हैं। श्री गडकरी ने कहा कि त्रिपुरा के उदयपुर और असम के सिलचर में मल्टी मोडल लॉजिस्टिक्स पार्क भी प्रस्तावित किए गए हैं।

9.भोपाल रेलवे स्टेशन को एफएसएसएआई द्वारा 4-स्टार रेटिंग के साथ ‘ईट राइट स्टेशन’ प्रमाणन से सम्मानित किया गया

भारतीय रेलवे के भोपाल रेलवे स्टेशन को यात्रियों को उच्च गुणवत्ता वाला पौष्टिक भोजन प्रदान करने के लिए 4-स्टार ‘ईट राइट स्टेशन’ प्रमाणन से सम्मानित किया गया है। मानक खाद्य भंडारण और स्वच्छता प्रथाओं का पालन करने वाले रेलवे स्टेशनों को एफएसएसएआई द्वारा यह प्रमाणीकरण प्रदान किया जाता है। एफएसएसएआई द्वारा उन रेलवे स्टेशनों को ‘ईट राइट स्टेशन’ प्रमाणन प्रदान किया जाता है जो यात्रियों को सुरक्षित और पौष्टिक भोजन प्रदान करने में मानक स्थापित करता है। स्टेशन को 1 से 5 तक की रेटिंग वाली एफएसएसएआई- पैनलबद्ध तृतीय-पक्ष ऑडिट एजेंसी के निष्कर्ष पर एक प्रमाण पत्र से सम्मानित किया गया है। प्रमाणीकरण ‘ईट राइट इंडिया’ अभियान का हिस्सा है। इस प्रमाणीकरण वाले अन्य रेलवे स्टेशनों में दिल्ली का आनंद विहार टर्मिनल रेलवे स्टेशन; छत्रपति शिवाजी टर्मिनस; (मुंबई), मुंबई सेंट्रल रेलवे स्टेशन; (मुंबई), वडोदरा रेलवे स्टेशन और चंडीगढ़ रेलवे स्टेशन शामिल हैं।

10. केंद्रीय विद्युत और नवीन व नवीकरणीय ऊर्जा मंत्री ने हरित ऊर्जा खुली पहुंच पोर्टल को शुरू किया

केंद्रीय विद्युत व नवीन और नवीकरणीय ऊर्जा मंत्री श्री आर. के. सिंह ने स्वच्छ और हरित ऊर्जा को बढ़ावा देने के लिए भारत सरकार की कई पहलों की निरंतरता को जारी रखते हुए वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से हरित ऊर्जा खुली पहुंच पोर्टल की शुरुआत की। 100 किलोवाट या उससे अधिक के कनेक्टेड भार वाला कोई भी उपभोक्ता अपने या किसी डेवलर्स की ओर से स्थापित किसी भी ऊर्जा उत्पादन संयंत्र से खुली पहुंच के जरिए नवीकरणीय ऊर्जा प्राप्त कर सकता है। यह खुली पहुंच 15 दिनों के भीतर देनी होगी। इस पोर्टल पर ओपन एक्सेस के लिए आवेदन किया जा सकता है।

11. केंद्रीय राज्य मंत्री डॉ. भारती प्रविण पवार ने 16वें डायरिया रोग और पोषण पर एशियाई सम्मेलन (एएससीओडीडी) को संबोधित किया

केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण राज्य मंत्री डॉ. भारती प्रविण पवार ने कोलकाता में 16वें डायरिया (दस्त) रोग और पोषण पर एशियाई सम्मेलन (एएससीओडीडी) को संबोधित किया। इस अवसर पर पश्चिम बंगाल के स्वास्थ्य सचिव श्री नारायण स्वरूप निगम और डीजीएचएस के महानिदेशक डॉ. अतुल गोयल भी उपस्थित थे। भारत व अन्य दक्षिण पूर्व एशियाई देशों, अफ्रीकी देशों, अमेरिका और यूरोपीय देशों के प्रतिनिधियों ने वर्चुअल माध्यम के जरिए इस सम्मेलन में हिस्सा लिया। इस एएससीओडीडी की विषयवस्तु “सामुदायिक भागीदारी के माध्यम से निम्न और मध्यम आय वाले देशों में हैजा, टाइफाइड और आंत संबंधी अन्य रोगों की रोकथाम व नियंत्रण: सार्स-सीओवी-2 महामारी से आगे” थी। इस सम्मेलन के कार्यक्रम नवीनतम मुद्दों पर केंद्रित है। इनमें आंतों का संक्रमण, पोषण, 2030 तक हैजा को समाप्त करने के लिए रोडमैप सहित नीति व इसका अभ्यास, हैजा के टीके का विकास व त्वरित नैदानिकी, आंतों के जीवाणु के रोगाणुरोधी प्रतिरोध के समकालीन दृष्टिकोण: नई पहल व चुनौतियां, शिगेला एसपीपी सहित आंतों का जीवाणु संक्रमण, महामारी विज्ञान, हेपेटाइटिस सहित अन्य वायरल संक्रमणों की बड़ी संख्या व इसके खिलाफ टीके, कोविड महामारी के दौरान डायरिया अनुसंधान पर प्राप्त सीख शामिल हैं।

12. बांग्लादेश को 4.5 अरब डॉलर का ऋण देगा IMF

बांग्लादेश और अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष (IMF) ने 4.5 बिलियन अमरीकी डालर के ऋण के लिए प्रारंभिक सौदे को अंतिम रूप दिया। प्रारंभिक सौदे के तहत, IMF अस्थायी रूप से बांग्लादेश को 4.5 बिलियन अमरीकी डालर का समर्थन कार्यक्रम प्रदान करने के लिए सहमत हुआ है। इसके साथ, बांग्लादेश 2022 में ऋण के लिए IMF के साथ “स्टाफ-स्तरीय समझौते” पर पहुंचने वाला तीसरा दक्षिण एशियाई देश बन गया। अन्य देश पाकिस्तान और श्रीलंका हैं। यह स्टाफ स्तर का समझौता IMF प्रबंधन द्वारा अनुमोदन और इसके कार्यकारी बोर्ड द्वारा विचार के अधीन है। बांग्लादेश के साथ यह समझौता 42 महीने की व्यवस्था के लिए हुआ था, जिसमें IMF की विस्तारित क्रेडिट सुविधा (Extended Credit Facility – ECF) और विस्तारित फंड सुविधा (Extended Fund Facility – EFF) से लगभग 3.2 बिलियन अमरीकी डालर और इसकी नई लचीलापन और स्थिरता सुविधा (RSF) से लगभग 1.3 बिलियन अमरीकी डालर शामिल हैं। यह राशि दिसंबर 2026 तक सात किस्तों में वितरित की जाएगी। 447.48 मिलियन अमरीकी डालर की पहली किस्त फरवरी 2023 में दी जाएगी। ऋण की ब्याज दर परिपक्वता के समय बाजार दर पर निर्भर करेगी। यह करीब 2.2 फीसदी रहने का अनुमान है।

13. श्रीहरिकोटा से लांच होगा देश का पहला प्राइवेट राकेट

भारत का पहला प्राइवेट राकेट आंध्र प्रदेश के श्रीहरिकोटा से 12-16 नवंबर के बीच छोड़ा जाएगा। स्पेस स्टार्टअप कंपनी स्काइरूट एयरोस्पेस ने बताया कि विक्रम-एस नामक यह राकेट टेस्ट फ्लाइट के लिए तैयार हो चुका है, और इसे लांच करने के लिए इसरो ने स्काईरूट एयरोस्पेस को 12 नवंबर से 16 नवंबर का समय दिया है। बता दें कि स्काईरूट एयरोस्पेस के इस मिशन का नाम ‘मिशन प्रारंभ’ रखा गया है। स्काईरूट ने बताया कि यह राकेट तीन ग्राहक पेलोड ले जाएगा। इस राकेट का नाम मशहूर वैज्ञानिक डाक्टर विक्रम साराभाई के नाम पर रखा गया है। डाक्टर विक्रम साराभाई ने ही इसरो (ISRO) की स्थापना की थी। कंपनी के CEO और को-फाउंडर पवन कुमार चांदना हैं।

14. फोर्ब्स की नई लिस्ट में एशिया की टॉप महिला उद्यमियों में 3 भारतीय

फोर्ब्‍स की टॉप 20 एशियाई महिला उद्यमियों की सूची में 3 भारतीय महिला उद्यमियों के नाम भी शामिल हैं। इस सूची में उन महिलाओं को शामिल किया गया, जिन्होंने कोविड-19 महामारी के चलते पैदा हुई अनिश्चितता के बीच अपने कारोबार को बढ़ाने में उल्लेखनीय सफलता हासिल की है। फोर्ब्स के नवंबर अंक में प्रकाशित सूची में स्टील अथॉरिटी ऑफ इंडिया लिमिटेड (SAIL) की चेयरपर्सन सोमा मंडलएमक्योर फार्मा की एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर नमिता थापर और होनासा कंज्यूमर की को-फाउंडर तथा चीफ इनोवेशन ऑफिसर गजल अलघ के नाम शामिल हैं। सोमा मंडल ने एक जनवरी 2021 को स्टील अथॉरिटी ऑफ इंडिया लिमिटेड (SAIL) के चेयरपर्सन का पद संभाला था। वे यह पद संभालने वाली पहली महिला हैं।

15. QS Asia University Rankings 2023 जारी की गई

क्यूएस एशिया यूनिवर्सिटी रैंकिंग 2023 हाल ही में यूके बेस्ड रैंकिंग प्राधिकरण क्वाक्वेरेली साइमंड्स (Quacquarelli Symonds – QS) द्वारा जारी की गई। QS Asia University Rankings Quacquarelli Symonds (QS) द्वारा प्रतिवर्ष जारी की जाती है। यह एशिया महाद्वीप के शीर्ष विश्वविद्यालयों पर प्रकाश डालती है। यह रैंकिंग 11 संकेतकों पर आधारित है। इन संकेतकों में अकादमिक प्रतिष्ठा, नियोक्ता प्रतिष्ठा, संकाय/छात्र अनुपात, अंतर्राष्ट्रीय अनुसंधान नेटवर्क आदि शामिल हैं। 2023 की रैंकिंग 15वां संस्करण है। इसमें 757 संस्थान शामिल थे। यह इसे इस क्षेत्र के लिए अब तक की सबसे बड़ी रैंकिंग बनाता है। चीन की मुख्य भूमि (128 संस्थान), भारत (118), जापान (106) और दक्षिण कोरिया (88) के संस्थान इस रैंकिंग में हावी हैं। क्यूएस एशिया यूनिवर्सिटी रैंकिंग 2023 का शीर्ष प्रदर्शन करने वाला चीन का पेकिंग विश्वविद्यालय है, जिसका कुल स्कोर 100 है। अन्य शीर्ष प्रदर्शनकर्ता नेशनल यूनिवर्सिटी ऑफ़ सिंगापुर (97.4) और चीन स्थित सिंघुआ विश्वविद्यालय (97.3) हैं। शीर्ष 10 में प्रदर्शन करने वालों में 5 विश्वविद्यालय चीन के थे। प्रतिष्ठित रैंकिंग में कुल 118 भारतीय संस्थान शामिल हैं। 5 IIT, IISc और दिल्ली विश्वविद्यालय ने रैंकिंग में शीर्ष 100 में प्रवेश किया। रैंकिंग में आईआईटी-बॉम्बे शीर्ष पर है। इसकी रैंकिंग 42 से बढ़कर 40 हो गई है। भारत में दूसरा सबसे अच्छा प्रदर्शन करने वाला आईआईटी दिल्ली है, जिसे 46वें स्थान पर रखा गया था।

16. Google ने भारत के पहले बाढ़ ट्रैकिंग टूल का और अधिक देशों में विस्तार किया

Google ने अपनी AI बाढ़ पूर्वानुमान सेवाओं का विस्तार अफ्रीका, लैटिन अमेरिका और दक्षिण पूर्व एशिया के 18 अतिरिक्त देशों में किया गया है, जिसे पहली बार 2018 में भारत में पेश किया गया था। कंपनी ने ‘FloodHub’ भी लॉन्च किया, यह एक ऐसा प्लेटफॉर्म है जो बाढ़ के पूर्वानुमान प्रदर्शित करता है और दिखाता है कि बाढ़ कब और कहां आ सकती है, ताकि जोखिम वाले लोगों को सीधे उनकी जरूरत की जानकारी मिल सके और अधिकारी उनकी प्रभावी रूप से सहायता कर सकें। 2018 में, कंपनी ने बाढ़ से होने वाले विनाशकारी नुकसान से निपटने में मदद करने के लिए अपनी बाढ़ पूर्वानुमान पहल शुरू की।

17. राज्यभर में सोने की एक समान कीमत लागू करने वाला पहला राज्य बना केरल

बैंक दर के आधार पर सोने का एक समान कीमत कारोबार शुरू करने वाला केरल भारत का पहला राज्य बन गया है। देश की सबसे बड़ी सोने और हीरे की खुदरा श्रृंखलाओं में से एक मालाबार गोल्ड एंड डायमंड्स के अधिकारियों और ऑल केरल गोल्ड एंड सिल्वर मर्चेंट्स एसोसिएशन के प्रमुख सदस्यों के बीच एक बैठक में 916 शुद्धता वाले 22 कैरेट सोने का मूल्य एक समान रखने का निर्णय लिया गया है।

18. वाराणसी में पीएम गति शक्ति मल्टीमॉडल जलमार्ग शिखर सम्मेलन

अंतर्देशीय जलमार्गों की भूमिका को और मजबूत करने के उद्देश्य से वाराणसी में ‘पीएम गति शक्ति मल्टीमॉडल जलमार्ग शिखर सम्मेलन 2022‘ शुरू किया गया है। भारतीय अंतर्देशीय जलमार्ग प्राधिकरण (आईडब्ल्यूएआई) के तत्वावधान में आयोजित यह 2 दिवसीय कार्यक्रम पीएम गति शक्ति एनएमपी, इसके घटकों और आर्थिक विकास के इंजन के रूप में उनके महत्व को और बढ़ाएगा। शिखर सम्मेलन में पीएम गति शक्ति राष्ट्रीय मास्टरप्लान को डिकोड करने और औद्योगिक एवं वाणिज्यिक समूहों के लिए उन्नत मल्टीमॉडल कनेक्टिविटी पर पूर्ण सत्र आयोजित किए गए। अंतर्देशीय जल और तटीय परिवहन के वास्ते व्यापार सुविधा केंद्र के लिए एक नई वेबसाइट भी शुरू की गई। इससे जलमार्ग और तटीय शिपिंग के उपयोगकर्ताओं को प्रासंगिक परिचालन और वाणिज्यिक जानकारी तक पहुंच आसान हो जाएगी। शिखर सम्मेलन में असम के इलेक्ट्रिक-बैटरी चालित हाइब्रिड बेड़े (नौका) के लिए आईडब्ल्यूएआई और कोचीन शिपयार्ड लिमिटेड के बीच एक समझौता ज्ञापन पर भी हस्ताक्षर किए गए।

19. पीवी सिंधु ने फिट इंडिया स्कूल सप्ताह के शुभंकर तूफान और तूफानी का शुभारंभ किया

ओलंपिक में दो बार की पदक विजेता पीवी सिंधु ने वर्ष 2022 के लिए फिट इंडिया अभियान के फिट इंडिया स्कूल सप्ताह पहल के शुभंकर तूफान और तूफानी का शुभारंभ किया। प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने 2019 में फिट इंडिया अभियान को लॉन्च किया था और इसी वर्ष दिसंबर में अभियान के वार्षिक कार्यक्रम, ‘फिट इंडिया स्कूल सप्ताह’ की शुरुआत हुई थी, जो स्कूलों में फिटनेस की आदतों को विकसित करने तथा छात्रों के बीच फिटनेस और खेल के प्रति जागरूकता बढ़ाने के लिए समर्पित है। पिछले तीन कार्यक्रम, छात्रों के बीच बहुत सफल रहे हैं। इस पहल को युवा पीढ़ी के बीच और अधिक लोकप्रिय बनाने के लिए, इस बार इस प्रमुख कार्यक्रम में “तूफान और तूफानी” नाम के दो शुभंकरों को जोड़ा गया है, जिसमें दोनों भारत के सबसे योग्य सुपरहीरो और सुपरवुमन का प्रतिनिधित्व करते हैं। शुभंकरों के खेलों से अधिक जुड़ाव के लिए, उन्हें हवा के रूप में तेज दौड़ने (एथलेटिक्स), कार उठाने (भारोत्तोलन) और ध्यान केन्द्रित करने के कौशल (शतरंज) जैसी महाशक्तियां दी गई हैं। वे खेल और फिटनेस के बारे में विभिन्न कहानियां सुनाकर लोगों के साथ जुड़ते हैं और इस तरह उन्हें प्रेरित, शिक्षित और प्रोत्साहित करते हैं। चौथा फिट इंडिया स्कूल सप्ताह 15 नवंबर 2022 को शुरू होगा, जिसमें एक महीने के दौरान भारत भर के विभिन्न स्कूल 4 से 6 दिनों के लिए विभिन्न रूपों में फिटनेस और खेल समारोह आयोजित करेंगे और शिक्षक – छात्र समुदाय के बीच इसके महत्व की पुष्टि करेंगे।

20. भारतीय महिला मुक्‍केबाजों ने एशियाई चैंपियनशिप में चार स्‍वर्ण और एक रजत पदक जीता

एशियाई मुक्केबाजी चैंपियनशिप में भारत की मुक्‍केबाजों ने स्‍वर्णिम प्रदर्शन करते हुए चार स्‍वर्ण पदक जीते। परवीन, लवलीना बोरगोहाईं स्‍वीटी बोरा और आल्फिया पठान ने शानदान प्रदर्शन करते हुए स्‍वर्ण पदक देश के नाम किया। जॉर्डन में फाइनल में परवीन ने जापान की कितो माइ को जबकि लवलीना ने उज्‍बेकिस्‍तान की रूजमेटोवा सोखिबा हराया। स्‍वीटी ने कजाखस्‍तान की गुलसाया यरजे़हान को पराजित किया। आल्फिया पठान को इस्‍लाम हुसेली के डिस्‍क्‍वालिफाइड होने से स्‍वर्ण पदक मिला। इससे पहले, मीनाक्षी ने रजत पदक हासिल किया। इसके साथ ही भारतीय महिला मुक्‍केबाजों ने प्रतियोगिता में शानदार प्रदर्शन करते हुए चार स्‍वर्ण, एक रजत और दो कांस्‍य सहित कुल सात पदक जीते।

21. भगत और मनीषा ने पैरा बैडमिंटन विश्व चैम्पियनशिप में स्वर्ण पदक जीते

प्रमोद भगत और मनीषा रामदास ने बीडब्ल्यूएफ पैरा बैडमिंटन विश्व चैम्पियनशिप में अपने वर्गों के फाइनल मुकाबले जीतकर भारत की झोली में दो स्वर्ण पदक डाले। भगत पहले कोर्ट पर उतरे, उन्होंने हमवतन नीतेश कुमार को पुरूष एकल एसएल3 वर्ग के 53 मिनट तक चले फाइनल में 21-19 21-19 से पराजित किया। वहीं 17 वर्षीय मनीषा ने जापान की मामिको तोयोडा को 21-15 21-15 से हराकर महिला एकल एसयू5 वर्ग का स्वर्ण पदक जीतकर स्वप्निल पदार्पण किया। भगत और मनोज सरकार की जोड़ी को पुरूष युगल एसएल3-एसएल4 वर्ग में रजत पदकसे संतोष करना पड़ा। भारतीय जोड़ी एक गेम की बढ़त गंवा बैठी और उन्हें इंडोनेशिया के हिकमत रामदानी और उकुन रूकाएंडी से 21-14 18-21 13-21 से हार मिली।

22. परिवहन दिवस

भारत में प्रतिवर्ष 10 नवंबर को परिवहन दिवस मनाया जाता है। यह दिवस यातायात नियमों और दुर्घटनाओं, निजी वाहनों के उपयोग के परिणामों, सार्वजनिक परिवहन का सख्ती के साथ उपयोग किये जाने की आवश्यकता, परिवहन क्षेत्र के विकास एवं इस संबंध में जागरूक करने के लिये मनाया जाता है। भारत के कई राज्यों में प्रदूषण के घटने-बढ़ने की समस्या भी इस दिवस का केंद्रीय बिंदु है। एक समय ऐसा भी था जब यातायात के इतने साधन नहीं थे, वाहंनों की संख्या बेहद कम थी, लेकिन आज समय और परस्थिति दोनों में बदलाव आया है। आवागमन के साधन व सुविधाओं में वृद्धि से देश में जहाँ एक ओर विकास के नए युग का सूत्रपात हुआ है, वही इनकी वजह से पर्यावरण को भारी क्षति भी पहुंची है। विज्ञान एवं विकास में समन्वय स्थापित कर सुगम, सुरक्षित व प्रदूषण रहित परिवहन व्यवस्था सुनिश्चित की जा सकती है।

23. विश्व उपयोगिता दिवस 2022: “हमारा स्वास्थ्य”

हर साल नवंबर महीने के दूसरे गुरुवार को विश्व उपयोगिता दिवस मनाया जाता है। इस साल विश्व उपयोगिता दिवस 10 नवंबर गुरुवार को मनाया गया। विश्व उपयोगिता दिवस को मनाने का उद्देश्य पूरे धरती पर रहने वाले लोगों को यह बताना कि पृथ्वी को एक बेहतर जगह बनाना है अपनी दुनिया को सभी के लिए आसान बना सके। हर साल इस दिन को मनाने के लिए एक थीम तय की जाती है, जिसके आधार पर यह दिन मनाया जाता है और पूरे साल इसके ऊपर काम किया जाता है। विश्व में उपयोगिता दिवस 2022 की थीम है – OUR HEALTH

24. मौलाना अबुल कलाम आज़ाद

भारत के पहले शिक्षा मंत्री मौलाना अबुल कलाम आज़ाद की जयंती के अवसर पर प्रत्येक वर्ष 11 नवंबर को राष्ट्रीय शिक्षा दिवस मनाया जाता है। अबुल कलाम आज़ाद विद्वान, शिक्षाविद् और स्वतंत्रता सेनानी थे जिन्होंने स्वतंत्र भारत की शिक्षा प्रणाली के विकास में महत्त्वपूर्ण भूमिका निभाई। मौलाना अबुल कलाम आज़ाद को मरणोपरांत वर्ष 1992 में भारत के सर्वोच्च नागरिक पुरस्कार भारत रत्न से सम्मानित किया गया था। मौलाना आज़ाद ने भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (IIT), भारतीय विज्ञान संस्थान (IISC) और स्कूल ऑफ आर्किटेक्चर एंड प्लानिंग की स्थापना में महत्त्वपूर्ण योगदान किया। उन्होंने विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (UGC), अखिल भारतीय तकनीकी शिक्षा परिषद (AICTE), भारतीय सांस्कृतिक संबंध परिषद (ICCR), साहित्य अकादमी, ललित कला अकादमी, संगीत नाटक अकादमी एवं वैज्ञानिक औद्योगिक अनुसंधान परिषद (CSIR) की स्थापना में भी भूमिका निभाई। पहले राष्ट्रीय शिक्षा दिवस समारोह का उद्घाटन तत्कालीन राष्ट्रपति प्रतिभा पाटिल ने 11 नवंबर, 2008 को विज्ञान भवन, नई दिल्ली में किया था, इसके साथ ही केंद्र सरकार ने 11 नवंबर को राष्ट्रीय शिक्षा दिवस के रूप में मनाने की घोषणा की थी।