क्रिस्टोफर लक्सन ने न्यूजीलैंड के प्रधानमंत्री के रूप में शपथ ली

0
28

1 क्रिस्टोफर लक्सन ने न्यूजीलैंड के प्रधानमंत्री के रूप में शपथ ली

न्यूजीलैंड में श्री क्रिस्टोफर लक्सन को प्रधानमंत्री के रूप में शपथ दिलाई गई है। गवर्नर-जनरल सिंडी कीरो ने शपथ ग्रहण समारोह की अध्यक्षता की। पिछले महीने हुए चुनाव के बाद श्री लक्सन की पार्टी और दो छोटी पार्टियों के बीच शुक्रवार को एक उनके नेतृत्व में गठबंधन बना है। गठबंधन के समझौते के अंतर्गत श्री लक्सन ने सार्वजनिक सेवाओं में 6.5 प्रतिशत की कटौती सहित, कर कटौती और सरकारी अधिकारियों में कमी करने का वायदा किया है।

2 लद्दाख के हैनले में दक्षिण पूर्व एशिया की पहली नाइट स्काई सेंचुरी खोली जाएगी

लद्दाख के हैनले में शीघ्र ही दक्षिण पूर्व एशिया की पहली नाइट स्काई सेंचुरी खोली जाएगी। केंद्रीय मंत्री डॉ. जितेन्द्र सिंह ने नई दिल्‍ली में लद्दाख गौरव प्रदर्शनी के उद्घाटन अवसर पर इसकी जानकारी दी। डार्क स्काई रिजर्व पूर्वी लद्दाख के हानले गांव में चांगथांग वन्यजीव अभयारण्य के एक हिस्से के रूप में होगा। इसे भारतीय खगोल भौतिकी संस्थान बेंगलुरु के सहयोग से बनाया जा रहा है जो कि भारत सरकार के विज्ञान और प्रौद्योगिकी विभाग से संबद्ध है। डॉ. जितेन्‍द्र सिंह ने बताया कि यह भारत में खगोल-पर्यटन को बढ़ावा देगा। एक हजार 73 वर्ग किलोमीटर में फैला यह नाइट स्काई रिजर्व भारतीय खगोलीय वेधशाला के निकट बनाया जा रहा है जहां भारतीय खगोल भौतिकी संस्थान का दुनिया का दूसरा सबसे ऊंचा ऑप्टिकल टेलीस्कोप, 4500 मीटर की ऊंचाई पर लगाया गया है।

3 एशिया का सबसे बड़ा खुला व्यापार मेला बाली जात्रा ओडिशा की गौरवशाली प्राचीन समुद्री विरासत के स्मृति में मनाया जा रहा है

एशिया का सबसे बड़ा खुला व्यापार मेला बाली जात्रा ओडिशा की गौरवशाली प्राचीन समुद्री विरासत के स्मृति में मनाया जा रहा है। इसका शुभारंभ कटक में महानदी के तटों पर किया गया। कार्तिक पूर्णिमा के अवसर पर इस वर्ष के उत्सव की शुरुआत हुई। यह उत्सव अगले महीने 4 दिसंबर तक जारी रहेगा। ओडिशा और अन्य राज्यों के सांस्कृतिक दल शाम को मेले के आयोजन स्थल पर ओडिसी, छाऊ, बीहू, महारी, गोटीपुआ, सम्बलपुरी, संथाली लोक नृत्य और अन्य नृत्य की प्रस्तुति देंगे। इस वर्ष मेले में विभिन्न हस्तशिल्प, घरेलू सामान और खाद्य-पदार्थ का प्रदर्शन लगभग दो हजार स्टॉलों पर किए जाने की आशा है।

4 मुंबई की सड़क का नाम अभिनेता विक्रम गोखले की याद में रखा गया

अभिनेता विक्रम गोखले की पहली पुण्यतिथि पर सिने एंड टेलीविजन आर्टिस्ट एसोसिएशन (सिन्टा) और सीएडब्ल्यूटी के अनुरोध पर महाराष्ट्र सरकार ने उनकी स्मृति में अंधेरी में सिनटा टॉवर के बगल की सड़क का नाम नटश्रेष्ठ विक्रम गोखले मार्ग रखने का निर्णय लिया है। बता दें कि अभिनेता के भारतीय भारतीय सिनेमा, रंगमंच और टेलीविजन में अतुल्यनीय योगदान के लिए यह फैसला लिया गया है। 26 नवंबर को इस मार्ग का उद्घाटन महाराष्ट्र के उप मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस के हाथों हुआ। पिछले साल विक्रम गोखले का 77 की उम्र में 26 नवम्बर 2022 को पुणे के एक अस्पताल में निधन हो गया। पिछले महीने विजयदशमी के अवसर पर फिल्म इंडस्ट्री के कलाकारों की संस्था सिने एंड टीवी आर्टिस्ट एसोसिएशन (सिन्टा) के टावर का उद्घाटन उद्घाटन बीते जमाने की अभिनेत्री आशा पारेख ने किया था। विक्रम गोखले साल 2017 से 2022 तक सिन्टा के प्रेसिडेंट रहे। इस दौरान उन्होंने सिंटा के कलाकारों के हित लिए कई अहम फैसले भी लिए।

5 State of the Wet Tropics रिपोर्ट जारी की गई

हाल ही में जारी “State of the Wet Tropics” रिपोर्ट के अनुसार, विश्व धरोहर स्थलों के रूप में नामित ऑस्ट्रेलिया के जैव विविधता से समृद्ध उत्तरी वर्षावनों को बढ़ते खतरों का सामना करना पड़ रहा है, जलवायु परिवर्तन के प्रभावों के कारण 2020 के बाद से 25% अधिक जीवों को खतरे वाली प्रजातियों के रूप में वर्गीकृत किया गया है। यूनेस्को-सूचीबद्ध क्वींसलैंड गीले उष्णकटिबंधीय के लिए संरक्षण प्राधिकरण द्वारा प्रस्तुत रिपोर्ट, रिंगटेल पोसम जैसी प्रजातियों के गिरते स्वास्थ्य को रेखांकित करती है। 1988 में अंतर्राष्ट्रीय संरक्षण प्राप्त करने के बावजूद जलवायु परिवर्तन, निवास स्थान की हानि और पारिस्थितिकी तंत्र का क्षरण इन प्रतिष्ठित प्रजातियों के लिए महत्वपूर्ण खतरा पैदा करता है।

6 छह दशकों में पेरू ने आधे से अधिक ग्लेशियर खो दिए

पेरू के नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ रिसर्च ऑफ माउंटेन ग्लेशियर्स के वैज्ञानिकों के अनुसार, पेरू ने पिछले छह दशकों में अपने ग्लेशियर की सतह के आधे से अधिक हिस्से को विनाशकारी नुकसान का अनुभव किया है, जलवायु परिवर्तन के प्रभावों के कारण 2016 और 2020 के बीच 175 ग्लेशियर विलुप्त हो गए हैं। 58 वर्षों की अवधि में, 1962 में दर्ज हिमनद कवरेज का 56.22% नष्ट हो गया है। इस तीव्र प्रभाव में योगदान देने वाला प्राथमिक कारक औसत वैश्विक तापमान में वृद्धि है, जिससे ग्लेशियरों का तेजी से पीछे हटना शुरू हो गया है, खासकर उष्णकटिबंधीय क्षेत्रों में। चिंताजनक आंकड़ों से संकेत मिलता है कि पेरू में अब 1962 में दर्ज हिमनद कवरेज का केवल 44% है, जो शेष हिमनद कवरेज के 1050 वर्ग किलोमीटर (405 वर्ग मील) का प्रतिनिधित्व करता है। चीला जैसी कुछ पर्वत श्रृंखलाएँ लगभग पूरी तरह से लुप्त हो गई हैं, 1962 के बाद से चीला ने अपनी हिमनदी सतह का 99% खो दिया है। विशेष रूप से, चीला एक महत्वपूर्ण क्षेत्र है क्योंकि यह अमेज़ॅन नदी में योगदान देने वाले पहले पानी का स्रोत है।

7 प्लास्टिक प्रदूषण को कम करने के लिये ज़ीरो ड्राफ्ट टेक्स्ट

हाल ही में अंतर-सरकारी वार्ता समिति (INC-3) का तीसरा सत्र केन्या के नैरोबी में संयुक्त राष्ट्र पर्यावरण कार्यक्रम (UNEP) मुख्यालय में संपन्न हुआ। यह सत्र समुद्री पर्यावरण से संबंधित चिंताओं को शामिल करते हुए प्लास्टिक प्रदूषण पर एक अंतर्राष्ट्रीय वैधानिक बाध्यकारी उपकरण के विकास पर केंद्रित था। हालाँकि प्रगति के दौरान चुनौतियाँ उभरी हैं क्योंकि INC-3 को प्लास्टिक प्रदूषण पर अंतर्राष्ट्रीय कानूनी रूप से बाध्यकारी उपकरण के ज़ीरो ड्राफ्ट टेक्स्ट पर आम सहमति तक पहुँचने में कठिनाइयों का सामना करना पड़ा। INC-3 का ज़ीरो ड्राफ्ट समुद्री पर्यावरण पर ज़ोर देते हुए प्लास्टिक प्रदूषण पर अंतर्राष्ट्रीय वैधानिक बाध्यकारी उपकरण के लिये प्रस्तावित तत्त्वों की रूपरेखा तैयार करता है। इसका उद्देश्य प्रभावी कार्यान्वयन के लिये महत्त्वपूर्ण तकनीकी, नियामक, संस्थागत और प्रक्रियात्मक तत्त्वों को शामिल करते हुए रोकथाम, विनियमन तथा शमन सुनिश्चित करना है। भारत सक्रियता के साथ इस विकास का समर्थन करता है और INC प्रक्रिया में सक्रिय रूप से भाग लेता है। INC-4 और INC-5 की मेज़बानी अब से कुछ महीने बाद क्रमशः ओटावा, कनाडा द्वारा और नवंबर 2024 में बुज़ान, दक्षिण कोरिया द्वारा की जानी है।

8 सात्विक-चिराग की जोड़ी चाइना मास्टर्स के फाइनल में हारी

सात्विक साईराज और चिराग शेट्टी की भारतीय मेंस डबल्स पेयर को चाइना मास्टर्स 750 टूर्नामेंट के फाइनल में हार का सामना करना पड़ा। चीन के शेन्जेन शहर में 26 नवंबर को खेले गए फाइनल में भारतीय जोड़ी को चीन के लियांग वेई केंग और वांग चांग की जोड़ी ने हराया। सात्विक-चिराग की जोड़ी इस साल BWF वर्ल्ड टूर का चौथा फाइनल खेल रही थी। इस जोड़ी ने इस साल इंडोनेशिया सुपर 1000, कोरिया सुपर 500 और स्विस सुपर 300 के खिताब जीते हैं। बैडमिंटन में सालभर अलग-अलग देशों में टूर्नामेंट होते हैं, और इन टूर्नामेंट के पॉइंट्स पर्सनल रैंकिंग में एड होते है। चाइना मास्टर्स BWF वर्ल्ड टूर का हिस्सा है और यह लेवल 3 का टूर्नामेंट है। इसमें जीतने वाले विनर को 11,000 पॉइंट्स मिलते हैं जो कि रैंकिंग में एड होता है।

9 अनीश भानवाला बने आईएसएसएफ विश्व कप फाइनल में 25 मीटर रैपिड फायर में पदक जीतने वाले पहले भारतीय निशानेबाज

अनीश भानवाला ने आईएसएसएफ विश्व कप फाइनल में पुरुषों की 25 मीटर रैपिड फायर स्पर्धा में पदक जीतने वाले पहले भारतीय निशानेबाज बनकर इतिहास में अपना नाम दर्ज कराया। इस उपलब्धि ने 2009 में विजय कुमार और 2015 में गुरप्रीत सिंह जैसे पिछले भारतीय निशानेबाजों के प्रयासों को पीछे छोड़ दिया, जो फाइनल में पहुंचे थे लेकिन पदक जीतने से चूक गए थे। दोहा में आईएसएसएफ विश्व कप फाइनल में पुरुषों की 25 मीटर रैपिड फायर फाइनल में उल्लेखनीय कांस्य पदक हासिल करने के बाद, 21 वर्षीय भारतीय शूटिंग सनसनी अनीश भानवाला को रियो ओलंपिक चैंपियन क्रिश्चियन रिट्ज से हार्दिक बधाई मिली।

10 गुरु नानक जयंती

भारत के राष्ट्रपति ने गुरु नानक जयंती के अवसर पर नागरिकों को शुभकामनाएँ दीं। गुरु नानक जयंती, जिसे गुरुपर्व के नाम से भी जाना जाता है, सिख धर्म के प्रथम गुरु और संस्थापक गुरु नानक देव जी की जयंती के रूप में मनाई जाती है। यह त्योहार कार्तिक महीने के पंद्रहवें चंद्र दिवस पर मनाया जाता है, जो आमतौर पर नवंबर में पड़ता है। गुरु नानक देव जी (1469-1539) का जन्म लाहौर के पास तलवंडी राय भो नामक गाँव में हुआ था (बाद में इसका नाम बदलकर ननकाना साहिब कर दिया गया)। गुरु नानक देव जी ने 16वीं शताब्दी में अंतर-धार्मिक संवाद की शुरुआत की थी और अपने समय के अधिकांश धार्मिक संप्रदायों के साथ वार्ता की थी। गुरु नानक देव जी द्वारा लिखी गई रचनाओं को पाँचवें सिख गुरु, गुरु अर्जन देव जी (1563-1606) द्वारा आदि ग्रंथ में एकीकृत किया गया था। बाद में 10वें सिख गुरु, गुरु गोबिंद सिंह जी (1666-1708) द्वारा इसे बढ़ाया गया, यह गुरु ग्रंथ साहिब के रूप में विकसित हुआ। गुरु नानक देव जी की समानता के प्रति प्रतिबद्धता उन सामाजिक संस्थाओं में स्पष्ट है, जिनका उन्होंने समर्थन किया था: लंगर (सामूहिक रूप से भोजन पकाना और साझा करना), पंगत (ऊँची और नीची जाति के भेदभाव के बिना भोजन में भाग लेना) तथा संगत (सामूहिक निर्णय लेना)।

11 विश्व सतत परिवहन दिवस 2023: 26 नवंबर

संयुक्त राष्ट्र महासभा ने टिकाऊ और पर्यावरण के अनुकूल परिवहन को बढ़ावा देने की दिशा में एक निर्णायक कदम में, 26 नवंबर को विश्व सतत परिवहन दिवस के रूप में नामित किया है। यह संकल्प ग्रीनहाउस गैस उत्सर्जन में इसके महत्वपूर्ण योगदान को स्वीकार करते हुए कनेक्टिविटी, व्यापार, आर्थिक विकास और रोजगार में परिवहन की महत्वपूर्ण भूमिका को रेखांकित करता है। सतत परिवहन की खोज न केवल एक पर्यावरणीय अनिवार्यता है बल्कि व्यापक सतत विकास लक्ष्यों को प्राप्त करने के लिए एक महत्वपूर्ण रणनीति है। विश्व सतत परिवहन दिवस 2023 “सतत परिवहन, सतत विकास” विषय पर केंद्रित है।

12 राष्ट्रीय कैडेट कोर एनसीसी का 75वां स्थापना दिवस

राष्ट्रीय कैडेट कोर/राष्ट्रीय कैडेट कॉर्प्स (NCC) ने 27 नवंबर, 2023 को अपना 75वाँ स्थापना दिवस मनाया। यह दुनिया का सबसे बड़ा गणवेशधारी युवा संगठन है। NCC युवाओं को उनके विकास के लिये विभिन्न प्रकार के अवसर प्रदान करता है। इस संगठन के अनेक कैडेट्स ने खेल और साहसिक गतिविधियों के क्षेत्र में उल्लेखनीय उपलब्धि हासिल की है। NCC ने अंतर्राष्ट्रीय संबंधों के क्षेत्र में भी पिछले चार दशक में कैडेट्स को मंच प्रदान किया है। NCC का गठन वर्ष 1948 (एच.एन. कुंजरु समिति-1946 की सिफारिश पर) में किया गया था और इसकी जड़ें ब्रिटिश युग में गठित युवा संस्थाओं, जैसे-यूनिवर्सिटी कॉर्प्स या यूनिवर्सिटी ऑफिसर ट्रेनिंग कॉर्प्स (University Corps or University Officer Training Corps) में हैं। जिसे भारतीय सेना में कर्मियों की कमी को पूरा करने के उद्देश्य से भारतीय रक्षा अधिनियम, 1917 के तहत निर्मित किया गया था। बाद में वर्ष 1949 में NCC का विस्तार गर्ल्स डिवीज़न को शामिल करने हेतु किया गया ताकि देश की रक्षा के लिये इच्छुक महिलाओं को समान अवसर प्रदान किया जा सके।

13 UP सरकार ने साधु टीएल वासवानी की जयंती पर 25 नवंबर को ‘नो नॉन-वेज डे’ घोषित किया

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने 25 नवंबर को मांस रहित दिवस (नो नॉन-वेज डे) घोषित कर दिया है। योगी सरकार ने यह फैसला साधु टीएल वासवानी की जयंती को देखते हुए लिया है। इस तरह सरकार के इस फैसले के बाद 25 नवंबर यूपी में मांस की दुकानें और बूचड़खाने बंद रहेंगी।