जगदीशपुर में एक साथ 77 हजार नौ सौ राष्‍ट्रीय ध्‍वज फहराने का विश्‍व रिकॉर्ड बनाया

0
46

1.डॉक्टर सुमन के. बेरी, नीति आयोग के नए उपाध्यक्ष होंगे

डॉ सुमन के. बेरी को नीति आयोग का नया उपाध्यक्ष नियुक्त किया गया है। वह पहली मई से कार्यभार संभालेंगे। कार्मिक, लोक शिकायत और पेंशन मंत्रालय के आदेश में कहा गया है कि नीति आयोग के वर्तमान उपाध्यक्ष डॉ राजीव कुमार 30 अप्रैल को अपने पद से कार्यमुक्त हो जाएंगे। डॉ. सुमन के. बेरी इससे पहले नई दिल्ली में नेशनल काउंसिल ऑफ एप्लाइड इकोनॉमिक रिसर्च के महानिदेशक के रूप में काम कर चुके हैं। यह देश के अग्रणी स्वतंत्र गैर-लाभकारी नीति अनुसंधान संस्थानों में एक है। उन्होंने प्रधानमंत्री की आर्थिक सलाहकार परिषद, राष्ट्रीय सांख्यिकी आयोग और रिजर्व बैंक के वित्तीय नीति संबंधी तकनीकी सलाहकार समिति के सदस्य के रूप में भी काम किया है।

2.जगदीशपुर में एक साथ 77 हजार नौ सौ राष्‍ट्रीय ध्‍वज फहराने का विश्‍व रिकॉर्ड बनाया

बिहार ने विजयोत्‍सव के अवसर पर जगदीशपुर में एक साथ 77 हजार नौ सौ राष्‍ट्रीय ध्‍वज फहराने का विश्‍व रिकॉर्ड बनाया है। इससे पहले यह रिकॉर्ड पाकिस्‍तान के नाम था, जहां वर्ष 2004 में एक साथ 57 हजार छह सौ बत्‍तीस राष्‍ट्रीय ध्‍वज फहराए गए। विजयोत्‍सव महान भारतीय स्वतंत्रता सेनानी वीर कुंवर सिंह द्वारा अंग्रेजों के खिलाफ 23 अप्रैल, 1858 को जीत के उपलक्ष्य में मनाया जा रहा है। वीर कुंवर सिंह ने 1857 के भारतीय विद्रोह का नेतृत्व किया था। उनके वीरतापूर्ण कार्यों और ब्रिटिश ईस्ट इंडिया कंपनी के खिलाफ लड़ाई से युवा पीढ़ी को परिचित कराने के लिए चल रहे ‘आजादी का अमृत महोत्सव’ के तहत यह आयोजन किया गया। गृहमंत्री अमित शाह ने बिहार में भोजपुर जिले के जगदीशपुर में विजयोत्सव समारोह में बाबू वीर कुंवर सिंह को श्रद्धांजलि अर्पित की। केन्‍द्रीय मंत्री ने घोषणा की है कि जगदीशपुर में वीर कुंवर सिंह स्‍मारक का निर्माण किया जाएगा। स्‍वतंत्रता सेनानी वीर कुंवर सिंह की वीरता और ब्रिट‍िश ईस्‍ट इंडिया कम्‍पनी के खिलाफ उनके संघर्ष के बारे में युवाओं को जागरूक करने के लिए आजादी के अमृत महोत्‍सव के अंतर्गत विजयोत्‍सव का आयो‍जन किया गया है।

3.पैट्रिक अची फिर बने आइवरी कोस्ट के प्रधान मंत्री

पैट्रिक अची को आइवरी कोस्ट के प्रधानमंत्री के रूप में राष्ट्रपति अलासेन औटारा द्वारा फिर से नियुक्त किया गया है। उन्हें मार्च 2021 में प्रधान मंत्री नियुक्त किया गया था। वह पश्चिम अफ्रीकी राज्य (आइवरी कोस्ट) में पिछले तीन वर्षों में अमादौ गॉन कूलिबली (जिनकी 2020 में मृत्यु हो गई) और हमीद बकायोको (जिनकी 2021 में मृत्यु हो गई) के बाद तीसरे प्रधान मंत्री थे।

4.अतुलनीय भारत अंतरराष्‍ट्रीय क्रूज सम्‍मेलन 14 और 15 मई को मुंबई में

अतुलनीय भारत अंतरराष्‍ट्रीय क्रूज सम्‍मेलन 14 और 15 मई को मुंबई में आयोजित किया जाएगा। यह सम्‍मेलन देश में पहली बार आयोजित किया जा रहा है। केन्‍द्रीय पत्‍तन, पोत परिवहन और जलमार्ग मंत्री सर्बानंद सोनोवाल ने मुंबई में इस बारे में घोषणा की। इस सम्‍मेलन का आयोजन केन्‍द्रीय पत्‍तन, पोत परिवहन और जलमार्ग मंत्रालयमुंबई पत्‍तन प्राधिकरण तथा भारतीय वाणिज्‍य और उद्योग परिसंघ-फिक्‍की कर रहे हैं। मुंबई में कल संवाददाता सम्‍मेलन में श्री सोनोवाल ने कहा कि भारतीय क्रूज उद्योग के अगले दशक में दस गुना प्रगति करने की संभावना है। उन्‍होंने कहा कि प्रधानमंत्री का सागरमाला अभियान चेन्‍नई, विशाखापत्‍तनम और अंडमान के पत्‍तनों को गोवा से जोड़ने की दिशा में काम रहा है। इन पत्‍तनों में सबसे ज्‍यादा पर्यटक आते हैं। श्री सोनोवाल ने सम्‍मेलन के शुभंकर-कैप्‍टन क्रूज, प्रतीक चिह्न और विवरण पुस्‍ति‍का जारी की। उन्‍होंने सम्‍मलेन की वेबसाइट-www.iiicc2022.in का भी शुभारंभ किया। इस सम्‍मेलन का उद्देश्‍य भारत को क्रूज के केन्‍द्र रूप में विकसित करना है। इस अवसर पर पत्‍तन, पोत परिवहन और जलमार्ग मंत्रालय के सचिव डॉ. संजीव रंजन, मुंबई पत्‍तन प्राध‍िकरण के अध्‍यक्ष राजीव जलोटा और अंतरदेशी जलमार्ग प्राधिकरण के अध्‍यक्ष संजीव बंदोपाध्‍याय भी उपस्थित थे।

5.तेलंगाना में लगेगी दुनिया की सबसे बड़ी इलेक्ट्रिक थ्री व्हीलर फैक्ट्री

संयुक्त राज्य अमेरिका के कैलिफोर्निया में स्थित बिलिटी इलेक्ट्रिक इंक (बिलिटी) ने तेलंगाना में दुनिया की सबसे बड़ी इलेक्ट्रिक थ्री-व्हीलर निर्माण सुविधा स्थापित करने की अपनी मंशा की घोषणा की है। यह संयंत्र दो चरणों में 200 एकड़ क्षेत्र में बनाया जाएगा। प्रति वर्ष 18000 इलेक्ट्रिक वाहन (ईवी) के उत्पादन की क्षमता के साथ 13.5 एकड़ का पहला चरण 2023 में शुरू हो जाएगा और 240000 ईवी प्रति वर्ष की उत्पादन क्षमता के साथ 200 एकड़ की बड़ी सुविधा 2024 में शुरू हो जाएगा। यह सुविधा कार्गो मॉडल टास्कमैनटीएम और यात्री संस्करण अर्बनटीएम सहित बिलिटी के सभी उत्पादों का उत्पादन करेगी। इस सुविधा से 150 मिलियन अमरीकी डालर (लगभग 1,144 करोड़ रुपये) के निजी निवेश का अनुमान है और तेलंगाना में 3000 से अधिक नौकरियों के सृजन की उम्मीद है।

6.दिल्ली के नए मुख्य सचिव नियुक्त किए गए नरेश कुमार

गृह मंत्रालय द्वारा जारी अधिसूचना के अनुसार वरिष्ठ आईएएस अधिकारी नरेश कुमार को दिल्ली का मुख्य सचिव नियुक्त किया गया है। AGMUT कैडर के 1987 बैच के आईएएस अधिकारी कुमार को अरुणाचल प्रदेश से दिल्ली स्थानांतरित किया गया है। स्थानांतरित होने से पहले, वह अरुणाचल प्रदेश के मुख्य सचिव थे।

7.नीति आयोग की ओर से 25 अप्रैल को ‘अभिनव कृषि’ पर एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया जाएगा

आजादी का अमृत महोत्सव के तहत नीति आयोग 25 अप्रैल, 2022 को ‘अभिनव कृषि‘ पर एक दिवसीय राष्ट्रीय कार्यशाला का आयोजन कर रहा है। केंद्रीय मंत्री श्री नरेंद्र सिंह तोमर और परषोत्तम रूपाला, गुजरात के राज्यपाल आचार्य देवव्रत और नीति आयोग के उपाध्यक्ष डॉ. राजीव कुमार, आयोग के सदस्य (कृषि) डॉ. रमेश चंद और सीईओ अमिताभ कांत कार्यशाला को संबोधित करेंगे। कार्यशाला में भारत और विदेशों से अभिनव कृषि और प्राकृतिक कृषि कार्यप्रणाली के क्षेत्र में काम करने वाले हितधारकों को एक साथ लाने की उम्मीद है। प्राकृतिक खेती को बढ़ावा देने, मृदा स्वास्थ्य परावर्तन और जलवायु परिवर्तन में कमी लाने में इसकी भूमिका से संबंधित प्रमुख क्षेत्रों में चर्चा की जाएगी।

8.प्रधानमंत्री ने लाल किले में श्री गुरु तेग बहादुर जी के 400वें प्रकाश पर्व के समारोह में भाग लिया

प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने नई दिल्ली के लाल किले में श्री गुरु तेग बहादुर जी के 400वें प्रकाश पर्व के समारोह में भाग लिया। प्रधानमंत्री ने श्री गुरु तेग बहादुर जी को नमन किया। प्रधानमंत्री 400 रागियों द्वारा किए गए शबद/कीर्तन के समय प्रार्थना में बैठे। इस अवसर पर सिख नेतृत्व ने प्रधानमंत्री को सम्मानित किया। इस अवसर पर प्रधानमंत्री ने एक स्मारक सिक्का और डाक टिकट भी जारी किया।

9.सेबी ने किया अपनी नियामकीय लाभ एवं प्रौद्योगिकी समाधान सलाहकार समिति का पुनर्गठन

भारतीय प्रतिभूति और विनिमय बोर्ड की नियामकीय लाभ एवं प्रौद्योगिकी समाधान सलाहकार परिषद को नियामकीय लाभ एवं प्रौद्योगिकी समाधान सलाहकार समिति (अलर्ट्स) के रूप में पुनर्गठन किया गया है। सात सदस्यीय पैनल का नेतृत्व अब सुनील बाजपेयी करेंगे। सेबी की वेबसाइट (ट्राई) के अनुसार, ALeRTS की सलाहकार समिति का नेतृत्व अब भारतीय दूरसंचार नियामक प्राधिकरण के पूर्व प्रधान सलाहकार (सूचना प्रौद्योगिकी) सुनील बाजपेयी करेंगे। डॉयचे बैंक के कॉरपोरेट बैंकिंग टेक्नोलॉजी इंडिया प्रमुख पुनीत नारंग, टीसीएस रिसर्च एंड इनोवेशन के प्रमुख वैज्ञानिक गिरीश केशव पालशिकर, अमेजन के वरिष्ठ डेटा वैज्ञानिक रत्नाकर पांडे, एच2ओ डॉट एआई के वरिष्ठ डेटा वैज्ञानिक रोहन राव, आईसीआईसीआई ग्रुप के अनुपालन प्रमुख सुबीर साहा और सेबी मुख्य महाप्रबंधक (आईएसडी) हरिणी बालाजी, समिति के अन्य सदस्यों में से हैं। दिसंबर 2021 में, SEBI ने ALERTS के लिए एक सात सदस्यीय समिति की स्थापना की, जिसकी अध्यक्षता उस समय माधबी पुरी बुच ने की थी, जो वर्तमान में नियामक की अध्यक्ष हैं। समिति का मिशन विभिन्न चल रही प्रौद्योगिकी पहलों के लिए भविष्य के रोडमैप और संवर्द्धन के लिए सिफारिशें करना है। वे विभिन्न आंतरिक प्रणालियों के लिए आवश्यकताओं के डिजाइन और सेटिंग में सेबी की सहायता भी करेंगे।

10.एचडीएफसी ADIA को बेचेगा एचडीएफसी कैपिटल की 10 फीसदी हिस्सेदारी, 184 करोड़ रुपये में सौदा तय

एचडीएफसी लिमिटेड, एक बंधक ऋणदाता, ने अपनी निजी इक्विटी शाखा, एचडीएफसी कैपिटल एडवाइजर्स में 10% हिस्सेदारी अबू धाबी निवेश प्राधिकरण (एडीआईए) की पूर्ण स्वामित्व वाली सहायक कंपनी को 184 करोड़ रुपये में बेचने की घोषणा की। एडीआईए एचडीएफसी कैपिटल के यूएसडी 3 बिलियन वैकल्पिक निवेश वाहनों में सबसे बड़ा शेयरधारक भी है। एचडीएफसी कैपिटल, जिसे 2016 में स्थापित किया गया था, एचडीएफसी कैपिटल अफोर्डेबल रियल एस्टेट फंड 1, 2, और 3 के लिए निवेश प्रबंधक है। एचडीएफसी लिमिटेड के एक बयान के अनुसार, यह आवास आपूर्ति बढ़ाने और प्रधान मंत्री आवास योजना – ‘सभी के लिए आवास’ पहल का समर्थन करने के सरकार के लक्ष्य के अनुरूप है।

11.वित्त मंत्री ने अहमदाबाद की गिफ्ट सिटी में विदेशी विश्वविद्यालयों की स्थापना के लिए कई अमरीकी विश्वविद्यालयों के साथ वार्ता की

वित्त मंत्री निर्मला सीतारामन ने अहमदाबाद में गुजरात इंटरनेशल फाइनेंशियल टेक – गिफ्ट सिटी में विदेशों के विश्वविद्यालयों और संस्थानों की स्थापना की संभावनाओं का पता लगाने के लिए कई प्रतिष्ठित अमरीकी विश्वविद्यालयों के साथ वर्चुअल वार्ता की। इसमें अमरीका के 14 विश्वविद्यालयों के प्रतिनिधियों ने हिस्सा लिया। अंतर्राष्ट्रीय वित्तीय सेवा केंद्रों में निहित क्षमता को ध्यान में रखकर हुए इस वर्ष के बजट में विश्व स्तरीय विदेशी विश्वविद्यालयों को गिफ्ट सिटी में वित्तीय प्रबंधन, फिनटेक, विज्ञान, प्रौद्योगिकी, इंजीनियरिंग और गणित विषयों में पाठ्यक्रम शुरू करने की अनुमति देने का मार्ग प्रशस्त किया गया है।

12.एशियाई कुश्ती चैंपियनशिप में, भारतीय पहलवानों ने एक स्वर्ण, दो रजत और दो कांस्य पदक जीते

भारत के ओलंपिक पदक विजेता पहलवान रवि दहिया ने मंगोलिया की राजधानी उलानबटोर में एशियन कुश्‍ती चैम्पियनशिप में स्‍वर्ण पदक जीत लिया है। 57 किलोग्राम भारवर्ग के फाइनल में रवि ने कजाखस्‍तान के रखत कलजान का तकनीकी आधार से पराजित किया। बजरंग पूनिया को 65 किलोग्राम भारवर्ग में रजत पदक से संतोष करना पड़ा। फाइनल में बजरंग को ईरान के रहमान मूसा ने 1-3 से पराजित किया। वहीं नवीन ने 70 किलोग्राम भारवर्ग में मंगोलिया के पहलवान को हराकर कांस्‍य पदक अपने नाम किया।

13.मणिपुर में ‘खोंगजोम दिवस’

प्रत्येक वर्ष 23 अप्रैल को मणिपुर में ‘खोंगजोम दिवस’ मनाया जाता है। इस दिवस का आयोजन वर्ष 1891 के एंग्लो-मणिपुर युद्ध में लड़ने वाले योद्धाओं को श्रद्धांजलि देने के उद्देश्य से किया जाता है। ध्यातव्य है कि एंग्लो-मणिपुर युद्ध, ब्रिटिश साम्राज्य तथा मणिपुर साम्राज्य के मध्य एक सशस्त्र संघर्ष था, जो कि 31 मार्च से 27 अप्रैल 1891 तक लड़ा गया था। एंग्लो-मणिपुर युद्ध में ब्रिटिश साम्राज्य की जीत हुई थी। इस ऐतिहासिक युद्ध की शुरुआत मणिपुर के राजकुमारों के मध्य ईर्ष्या, असंतोष, अविश्वास और कलह के कारण हुई थी। मणिपुर के तत्कालीन महाराजा चंद्रकीर्ति सिंह की मृत्यु के पश्चात् उनके सबसे बड़े पुत्र सुरचंद्र ने वर्ष 1886 में सिंहासन ग्रहण किया। सुरचंद्र के सत्ता में आने के पश्चात् राजकुमारों के मध्य कलह शुरू हो गई। शाही परिवार के आंतरिक असंतोष का लाभ उठाते हुए, ब्रिटिश सरकार ने मणिपुर के प्रशासन में खुले तौर पर हस्तक्षेप करना शुरू कर दिया। असल में, ब्रिटिश सरकार शुरू से ही मणिपुर को अपने नियंत्रण में रखना चाहती थी, किंतु अब तक यह संभव न हो पाया था। यह युद्ध मणिपुर के खोंगजोम की खेबा पहाड़ियों पर लड़ा गया था और इसलिये इस दिवस का नाम खोंगजोम दिवस है। 27 अप्रैल 1891 को युद्ध समाप्त होने के पश्चात् मणिपुर पर अंग्रेज़ों का प्रत्यक्ष नियंत्रण हो गया। इस युद्ध के बार ब्रिटिश सरकार ने कई लोगों के विरुद्ध मुकदमा चलाया और उन्हें मृत्यु दंड दिया।

14.नाज़िहा सलीम

23 अप्रैल, 2022 को गूगल ने इराकी कलाकार, शिक्षक और लेखक,नाज़िहा सलीम के सम्मान में एक डूडल बनाया। यह डूडल सलीम की पेंटिंग शैली और कला में उनके योगदान को श्रद्धांजलि है। सलीम का जन्म 1927 में तुर्की में एक इराकी परिवार में हुआ था। उनके पिता एक चित्रकार थे और उनकी माँ एक कुशल कढ़ाई कलाकार थीं। सलीम के तीनों भाई कला में काम करते थे। उनके भाई जवाद को व्यापक रूप से इराक के सबसे प्रभावशाली मूर्तिकारों में से एक माना जाता था। इस बीच, उनके अन्य दो भाई – सुआद सलीम एक डिजाइनर थे और राशिद एक राजनीतिक कार्टूनिस्ट थे। सलीम ने पेंटिंग का अध्ययन किया और बगदाद ललित कला संस्थान से स्नातक की उपाधि प्राप्त की। अपनी कड़ी मेहनत और कला के जुनून के कारण उन्होंने इकोले नेशनेल सुपरियर डेस बीक्स-आर्ट्स में पेरिस में अपनी शिक्षा जारी रखने के लिए एक छात्रवृत्ति हासिल की। सलीम स्कॉलरशिप पाने वाली पहली महिलाओं में से एक थीं। वह इराक के कला समुदाय में भी सक्रिय थीं। सलीम अल-रुवाद के संस्थापक सदस्यों में से एक था। यह कलाकारों का एक समुदाय है जो विदेशों में अध्ययन करता है और इराकी सौंदर्यशास्त्र में यूरोपीय कला तकनीकों को शामिल करता है। 15 फरवरी, 2008 को उनका निधन बगदाद में हुआ था।