नमामि गंगे को ग्लोबल वाटर समिट में ग्लोबल मान्यता मिली

0
14

राष्ट्रीय न्यूज़

1.गूगल ने एक नया क्लाउड प्लेटफ़ॉर्म, एंथोस लॉन्च किया:-

गूगल ने एक नया क्लाउड प्लेटफ़ॉर्म एन्थोस लॉन्च किया, जो उपयोगकर्ताओं को कहीं से भी एप्लिकेशन चलाने की अनुमति देता है।एंथोस उपयोगकर्ताओं को मौजूदा ऑन-प्रिमाइसेस हार्डवेयर या सार्वजनिक क्लाउड पर, अनमॉडिफाइड एप्लिकेशन चलाने की अनुमति देता है।यह क्लाउड सर्विसेज प्लेटफॉर्म पर आधारित है जिसे गूगल ने पिछले साल घोषित किया था।एंथोस पूरी तरह से सॉफ्टवेयर आधारित समाधान है। गूगल ने दावा किया कि उपयोगकर्ता इसका उप्गोग करते हुए इसे मौजूदा हार्डवेयर पर सेट कर सकते हैं।

2.एनजीटी ने प्रदूषित नदियों के लिए एक राष्ट्रीय योजना तैयार करने के लिए केंद्रीय निगरानी समिति बनाई:-

एनजीटी (नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल) के अध्यक्ष न्यायमूर्ति आदर्श कुमार गोयल की अध्यक्षता वाली एक पीठ ने नदी प्रदूषण को कम करने के लिए एक राष्ट्रीय योजना लागू करने के लिए एक केंद्रीय निगरानी समिति का गठन किया है।यह देश भर में 350 से अधिक नदी को प्रदूषण मुक्त बना देगा क्योकि इन्होने पानी और पर्यावरण की सुरक्षा के लिए गंभीर खतरा पैदा कर दिया है।केंद्रीय निगरानी समिति राज्यों की नदी कायाकल्प समितियों के साथ भी समन्वय करेगी और कार्य योजनाओं के निष्पादन की देखरेख करेगी।

3.नमामि गंगे को ग्लोबल वाटर समिट में ग्लोबल मान्यता मिली:-

नेशनल मिशन फॉर क्लीन गंगा (NMCG) को लंदन में ग्लोबल वाटर समिट में “पब्लिक वाटर एजेंसी ऑफ द ईयर” का सम्मान मिला।ग्लोबल वाटर अवार्ड्स ग्लोबल वाटर समिट में प्रस्तुत किए जाते हैं, जो दुनिया भर में जल उद्योग के लिए प्रमुख व्यवसाय सम्मेलन है।पुरस्कार अंतर्राष्ट्रीय जल उद्योग में उत्कृष्टता को पहचानते हैं और पानी, अपशिष्ट जल और विलवणीकरण क्षेत्रों में उन पहलों को पुरस्कृत करते हैं, जो लोगों के जीवन में उल्लेखनीय सुधार लाते हैं।

4.नौसेना को युद्धपोत डिजाइन करने के लिए वर्चुअल रियलिटी सेंटर बनाया:-

नौसेना स्टाफ के प्रमुख एडमिरल सुनील लांबा ने नौसेना डिजाइन निदेशालय, नई दिल्ली में अत्याधुनिक-वर्चुअल रियलिटी सेंटर (वीआरसी) का उद्घाटन किया।

यह केंद्र भारतीय नौसेना के स्वदेशी युद्धपोत डिजाइन क्षमताओं को प्रमुख बढ़ावा देगा।यह भारत सरकार की मेक इन इंडियापहल के तहत आत्मनिर्भरता और युद्धपोत निर्माण के लिए अधिक से अधिक उत्साह प्रदान करेगा।यह परियोजना डिजाइन और एर्गोनॉमिक्स ऑनबोर्ड युद्धपोतों में सुधार करने के लिए डिजाइनरों और अंतिम उपयोगकर्ताओं के बीच निरंतर बातचीत के लिए सहयोगी डिजाइन समीक्षाओं की सुविधा प्रदान करेगी।

5.भारतीय वायुसेना ने अर्ध मैराथन का आयोजन किया:- 

भारतीय वायुसेना के दिवंगत मार्शल अर्जन सिंह डीएफसी भारतीय वायुसेना के पहले और एकमात्र पंच सितारारैंक के अधिकारी थे। हॉकी के लिए उनका प्रेम अप्रतिम था। भारतीय वायुसेना का यह इतिहास पुरुष हमेशा ही न केवल युद्ध के मोर्चे पर बल्कि खेलों के क्षेत्रों में भी नेतृत्‍व करने वाला वायु योद्धाओं के लिए प्रेरणा का एक बड़ा स्रोत रहा।इस विख्‍यात मार्शल अर्जन सिंह के जन्‍मशती समारोह के एक हिस्‍से के रूप में 14 अप्रैल 2019 को  देश भर के 100 वायुसेना केंद्रों में एक अर्ध मैराथन का आयोजन किया गया। 10 हजार से अधिक वायु योद्धाओं ने 100 वायुसेना केंद्रों पर अब तक के उनके पहले पंच सितारा रैंक के मार्शल की जन्‍मशती समारोह को मनाने के लिए 2.1 लाख किलोमीटर की दूरी तय की।दिल्‍ली राष्‍ट्रीय राजधानी क्षेत्र में स्थित वायु योद्धाओं के लिए 14 अप्रैल 2019 को जवाहरलाल नेहरू स्‍टेडियम में अर्ध मैराथन का आयोजन किया गया। इस कार्यक्रम में 800 से अधिक वायु योद्धाओं ने भाग लिया। अर्ध मैराथन को एयर मार्शल रघुनाथ नाम्बियार, पीवीएसएम एवीएसएम वीएम एवं बार एडीसी, पश्चिमी हवाई कमान के एयर ऑफिसर कमांडिंग इन चीफ ने जवाहरलाल नेहरू स्‍टेडियम से रवाना किया और एयर चीफ मार्शल बीएस धनोवा पीवीएसएम एवीएसएम वाईएसएम वीएम एडीसी, चीफ ऑफ एयर स्‍टाफ (सीएएस) मुख्‍य अतिथि के रूप में समापन समारोह में उपस्थित हुए। 2228 स्‍क्‍वाड्रन के अग्रणी एयरक्राफ्ट्समैन मनोहर, 13 बेस रिपेयर डिपो के डिफेंस सिक्‍यूरिटी कॉर्प्‍स  (डीएससी) के सिपाही एस. राजू एवं पश्चिमी वायु कमान के डीएससी के लांस नायक रतन सिंह ने क्रमश: 35 वर्ष और उससे नीचे, 36 वर्ष से 45 वर्ष और 46 वर्ष के वर्गों में स्‍वर्ण पदक जीता।जवाहरलाल नेहरू स्‍टेडियम में प्रतिभागियों को संबोधित करते हुए सीएएस ने कहा भारतीय वायुसेना ने एक ही साथ देशभर में अर्ध मैराथन का आयोजन कर क्रीड़ा गतिविधियों में एक मील का पत्‍थर अर्जित किया है। भारतीय वायुसेना के दिवंगत मार्शल अर्जन सिंह डीएफसी एक कुशल खिलाड़ी थे। इस अर्ध मैराथन का आयोजन इस ऐतिहासिक पुरुष को एक उपयुक्‍त श्रद्धांजलि तथा देश के प्रति उनके योगदान को देख‍ते हुए हमारी तरफ से कृतज्ञता व्‍यक्‍त करने का एक सराहनीय तरीका है। यह कार्यक्रम खेलों को आगे बढ़ाने तथा हमारे युद्ध योद्धाओं को फिटनेस के उच्‍च मानकों को स्‍थापित करने के लिए प्रोत्‍साहित करने के प्रति हमारी प्रतिबद्धता को रेखांकित करता है।उन्‍होंने देशभर में वायुसेवा केंद्रों में अर्ध मैराथन में भाग लेने वाले सभी युद्ध योद्धाओं को बधाई दी। उन्‍होंने पुरस्‍कार विजेताओं को भी बधाई दी और कहा कि वह भारतीय वायुसेना के मार्शल के जन्‍म शताब्‍दी हॉकी प्रतियोगिता की भी प्रतीक्षा कर रहे हैं, जिसका आयोजन चंडीगढ़ में किया जा रहा है। यह प्रतियोगिता भारतीय वायुसेना के दिवंगत मार्शल के प्रति एक उपयुक्‍त श्रद्धांजलि होगी। 

अन्तराष्ट्रीय न्यूज़

6.फलस्‍तीन प्र‍ाधिकरण की नई सरकार ने प्रधानमंत्री मोहम्‍मद इश्तियार के नेतृत्‍व में शपथ ली:-

फलस्‍तीन में फलस्‍तीनी प्राधिकरण की नई सरकार ने शपथ ले ली है। राष्‍ट्रपति महमूद अब्‍बास ने मोहम्‍मद इश्तियाक को प्रधानमंत्री बनाया है। राष्‍ट्रपति महमूद अब्‍बास के सलाहकार रहे फतह पार्टी के वरिष्‍ठ सदस्‍य इश्तियाक और उनके 24 सदस्‍यीय मंत्रिमंडल ने रमल्‍ला में शपथ ली।संयुक्‍त राष्‍ट्र के मध्‍य पूर्व मामलों के दूत निकोल म्‍लादेनोफ ने आशा व्‍यक्‍त की है कि नई सरकार आंतरिक मतभेदों को दूर करने में सफल रहेगी।

7.बांग्‍लादेश में मनाया जा रहा नववर्ष पोहेला बोयशाख:-

illustration of India background showing its culture and diversity with monument, dance and festival

बांग्‍लादेश में नववर्ष पोहेला बोयशाख मनाया जा रहा है बांग्‍ला नववर्ष कृषि पर्व के रूप में मनाये जाने की प्राचीन परंपरा है। बांग्ला नववर्ष पोहेला बोयशाख बांग्लादेश में जातीय धर्म की सीमाओं से ऊपर उठकर मनाया जाने वाला एक महत्वपूर्ण अवसर है। इस दिन लोग नाचते-गाते हुए देश भर में फसली मौसम की शुरूआत की घोषणा करते है। छोटे-दुकानदारों तथा व्यापारियों के लिए यह नए खाते-बही की शुरूआत का दिन है। पोहेला बोयशाख बांग्लादेश की समृद्ध सांस्कृतिक परंपराओं तथा विविधिता को दर्शाने का अवसर है। इस अवसर पर बांग्‍लादेश की राष्‍ट्रपति शेख हसीना ने लोगों को बधाई देते हुए कहा है कि नववर्ष का पहला दिन लोगों को दुखों को भूल कर नई शुरूआत की प्रेरणा देता है।

खेल न्यूज़

8.मुक्केबाजी विश्व कप में मीना कुमारी ने जीता स्वर्ण पदक:-

मीना कुमारी मैसराम (54 किग्रा) ने जर्मनी के शहर कोलोन में आयोजित मुक्केबाजी विश्व कप में शनिवार को शानदार प्रदर्शन करते हुए स्वर्ण पदक जीता। हालांकि साक्षी (57 किग्रा) और पिलाओ बासुमातारे (64 किग्रा) को फाइनल में शिकस्त मिली और दोनों को रजत पदक से संतोष करना पड़ा है। भारत ने इस टूर्नामेंट में पांच पदक अपने नाम किए। शनिवार को पिंकी रानी (51 किग्रा) और परवीन (60 किग्रा) ने कांस्य पदक जीता था।मीना ने फाइनल में थाईलैंड की माचाई बुनियानुत को हराया। मीना को छोटा ड्रॉ होने के कारण सीधे फाइनल में खेलने का मौका मिला था। वहींआयरलैंड की माइकेला ने साक्षी को 5-0 से हराया। बासुमातारे को चीन की चेनग्यू यांग के खिलाफ शिकस्त झेलनी पड़ी।

9.जर्मनी में कोलोन में विश्‍व कप मुक्‍केबाजी में मीना कुमारी मेसनाम ने स्‍वर्ण पदक जीता:-

भारत ने जर्मनी के कोलोन में मुक्केबाजी विश्वकप प्रतियोगिता में शनिवार को एक स्वर्ण और दो रजत पदक जीते। मीना कुमारी मैसनाम ने 54 किलोग्राम वर्ग में स्वर्ण पदक हासिल किया। 57 किलोग्राम वर्ग में साक्षी ने और 64 किलोग्राम भार वर्ग में प्वीलाओ बासुमतारी को रजत पदक मिला। मुक्केबाजी विश्व कप प्रतियोगिता में भारत को कुल पांच पदक मिले हैं।

10.टाइगर वुड्स ने अपने पांचवें मास्टर्स को प्राप्त किया:-

गोल्फर टाइगर वुड्स ने अपने पांचवें मास्टर्स और 15 वें प्रमुख खिताब को हासिल किया, जो कैरियर की धमकी वाली पीठ की समस्याओं पर काबू पाने के बाद एक प्रमुख खिताब के लिए 11 साल के इंतजार को समाप्त करता है। 43 वर्षीय वुड्स के साथ 18 वीं हरी के आसपास कर्कश उत्सव मनाया गया, जिसमें 13 अंडर 13 जीतने के साथ-साथ साथी अमेरिकनों डस्टिन जॉनसन
ज़ेंडर स्कैफेल और ब्रुक्स कोएप्का का एक स्पष्ट अंत था। रात भर के नेता फ्रांसेस्को मोलिनारी की उम्मीदें नौ नौ पर दो डबल बोगियों के साथ डूब गईं और उन्हें 11 के स्कोर पर पांचवें हिस्से के लिए समझौता करना पड़ा। आज की रोमांचक जीत ने पूर्व विश्व नंबर 1 को जैक निकलॉस के सर्वकालिक रिकॉर्ड के पीछे केवल तीन बड़ी कंपनियों में डाल दिया।

बाजार न्यूज़

11.टाटा ट्रस्ट्स, माइक्रोसॉफ्ट ने हथकरघा बुनाई समुदाय का समर्थन करने के लिए हाथ मिलाया:-

टाटा ट्रस्ट्स और माइक्रोसॉफ्ट इंडिया ने देश के पूर्वी और उत्तर-पूर्वी हिस्सों में संयुक्त रूप से हथकरघा समूहों का कायाकल्प करने के लिए एक समझौता किया।दोनों संस्थाओं ने इस संबंध में एक समझौता ज्ञापन (एमओयू) पर हस्ताक्षर किए हैं।सहयोग के एक हिस्से के रूप में, टाटा ट्रस्ट्स और माइक्रोसॉफ्ट व्यवसाय और संचार कौशल, डिजाइन शिक्षा और डिजिटल साक्षरता को हथकरघा बुनकरों को प्रदान करने के लिए एक-दूसरे की ताकत का लाभ उठाएंगे ताकि वे एक स्थायी भविष्य का निर्माण कर सकें।