प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मॉरीशस के प्रधानमंत्री के साथ भारत की सहायता से बनी सामाजिक आवास परियोजना का उद्घाटन किया

0
23

1.माल्‍टा की नेता रॉबर्टा मेटसोला को यूरोपीय संसद का अध्‍यक्ष चुना गया

माल्‍टा की नेशनलिस्‍ट पार्टी की नेता रॉबर्टा मेटसोला को यूरोपीय संसद का अध्‍यक्ष चुना गया है। वे इस पद पर निर्वाचित होने वाली तीसरी महिला हैं। सुश्री मेटसला गर्भपात विरोधी रुख को लेकर विवादों में रही हैं, इसके बावजूद यूरोपीय संघ के सांसदों ने उन्‍हें अ‍ध्‍यक्ष चुना है। यूरोपीय संघ के सबसे छोटे सदस्‍य देश की 43 वर्षीय मेटसोला अब तक की सबसे युवा अध्‍यक्ष हैं। उन्‍होंने डेविड सासोली का स्‍थान लिया है जिनका पिछले सप्‍ताह अचानक निधन हो गया था।

2.सेबी ने निवेशकों की जानकारी के लिए सारथी एप की शुरूआत की

भारतीय प्रतिभूति और विनिमय बोर्ड-सेबी ने निवेशकों की जानकारी के लिए सारथी (Saa₹thi) एप की शुरूआत की है। इसका उद्देश्‍य प्रतिभूति बाज़ार के बारे में निवेशकों को उचित जानकारी उपलब्‍ध कराना है। सेबी के अध्‍यक्ष अजय त्‍यागी ने मुम्‍बई में एक समारोह में एप के शुभारंभ के अवसर पर कहा कि यह एप नए निवेशकों को ध्‍यान में रखकर बनाया गया है जो अपने मोबाइल से ट्रेडिंग करते हैं। श्री त्‍यागी ने कहा कि इसके ज़रिए प्रतिभूति बाज़ार, केवाएसी प्रक्रिया, ट्रेडिंग, म्‍यूचल फंड्स और बाज़ार की ताज़ा उथल-पथल आदि के बारे में उपयुक्‍त जानकारी मिलेगी। यह अभी हिंदी और अंग्रेज़ी दोनों में उपलब्‍ध है।

3.फ्लिपकार्ट का LEAP स्टार्टअप प्रोग्राम

लीप (LEAP) फ्लिपकार्ट का नया स्टार्टअप प्रोग्राम है। इसे लीप अहेड (Leap Ahead) भी कहा जाता है। इसका उद्देश्य भारत में स्टार्टअप्स की मदद करना है। इस लीप प्रोग्राम के तहत फ्लिपकार्ट दो प्रोग्राम लागू करेगा। वे FLIN और FLA हैं। FLIN का अर्थ Flipkart Leap Innovation Network है। FLA का अर्थ Flipkart Leap Ahead है। यह अत्याधुनिक तकनीकों पर ध्यान केंद्रित करने वाले स्टार्ट अप में निवेश करेगा। साथ ही, यह उन स्टार्टअप्स में निवेश करेगा जो कंपनी के लिए प्राथमिकता वाली नवीन तकनीकों पर काम कर रहे हैं। चयनित स्टार्टअप फ्लिपकार्ट की टेक और उत्पाद टीमों के साथ काम करेंगे। यह प्रोग्राम फिनटेक, लॉजिस्टिक्स, सप्लाई चेन, अल्टरनेट कॉमर्स, एग्रीटेक, सोशल हेल्थ टेक, बी2बी और एडटेक में स्टार्ट अप की पहचान करेगा। लीप कार्यक्रम फ्लिपकार्ट के सीड-स्टेज निवेश का एक हिस्सा है। 2021 में, फ्लिपकार्ट ने भारतीय स्टार्ट अप के लिए सीड फंड के रूप में 100 मिलियन डालर की घोषणा की। लीप फ्लिपकार्ट के इस निवेश योजना का एक हिस्सा है।

4.गुजरात सरकार ने वरिष्‍ठ नाग‍रिकों के‍ लिए हेल्‍पलाइन शुरू की

गुजरात सरकार ने वरिष्‍ठ नाग‍रिकों के‍ लिए हेल्‍पलाइन शुरू की है। राज्‍य के सामाजिक न्‍याय और अधिकारिता मंत्री प्रदीप परमार ने 1 4 5 6 7 टोल फ्री नंबर जारी किया। एल्‍डर लाइन नाम की ये हेल्‍पलाइन तत्‍काल प्रभाव से शुरू हो गई है। वरिष्‍ठ नागरिक इसके जरिए विभिन्‍न सरकारी योजनाओं, सामाजिक मुद्दों, वृद्ध आश्रमों तथा वरिष्‍ठ नागरिक अधिनियम 2007 से जुड़ी जानकारी प्राप्‍त कर सकेंगे।

5.BSF ने लांच किया ‘ऑपरेशन सर्द हवा’

BSF (Border Security Force) ने ऑपरेशन सर्द हवा शुरू किया। इस ऑपरेशन के तहत BSF ने पाकिस्तान सीमा पर चौकसी बढ़ा दी है। यह आमतौर पर राजस्थान की सीमा में लॉन्च किया जाता है, खासकर जैसलमेर क्षेत्र में। यह एक नियमित वार्षिक अभ्यास है। इसे जनवरी के महीने में लॉन्च किया जाता है। ‘ऑपरेशन सर्द हवा’ सर्दियों के दौरान और ‘ऑपरेशन गर्म हवा’ गर्मियों के दौरान आयोजित किया जाता है। ये ऑपरेशन सीमाओं में घुसपैठ को नियंत्रित करने के लिए किए जाते हैं। सर्दियों के दौरान घना कोहरा सीमा क्षेत्र में दृष्टि को अवरुद्ध करता है। आतंकवादियों के लिए सीमा पार करने के लिए यह परिदृश्य बेहद फायदेमंद है। सुरक्षा बलों के लिए इस मौसम में सतर्क रहना जरूरी है। BSF इसी वजह से सर्दियों में ऑपरेशन सर्द हवा चलाती है। इस साल ऑपरेशन सर्द हवा 23 जनवरी से 28 जनवरी के बीच आयोजित किया जायेगा। इस ऑपरेशन के दौरान अधिकारी और कर्मी सीमा के पास रहते हैं। और लगातार पेट्रोलिंग की जाती है। इस ऑपरेशन के दौरान इंटेलिजेंस विंग को सक्रिय मोड पर रखा जाता है। सीमा पर तैनात जवानों की संख्या बढ़ाई जाती है। जवान उन्नत हथियारों से थानों के आसपास के इलाकों में गश्त करते हैं। साथ ही ऊंट, फुट प्वॉइंट ट्रेकिंग में जवान सीमावर्ती इलाकों पर नजर रखते हैं। वे पैदल घुसपैठियों पर भी जाँच करते हैं।

6.जम्मू-कश्मीर में रियासी जिले का जेरी बस्ती प्रदेश का पहला ‘दुग्ध गांव’ घोषित

केंद्र शासित प्रदेश जम्मू-कश्मीर में प्रशासन ने रियासी जिले में जेरी बस्ती को प्रदेश का पहला ‘दुग्ध गांव‘ घोषित किया है। एकीकृत डेयरी विकास योजना (आईडीडीएस) के तहत गाँव के लिए 57 और डेयरी फार्मों को भी मंजूरी दी गई है। इस योजना के अंतर्गत ऐसा गाँव जिसमें 370 गायों के साथ 73 व्यक्तिगत डेयरी हैं, वहाँ स्थानीय किसानों को वित्तीय सुरक्षा मिलेगी। दुग्ध ग्राम घोषित होने के बाद आईडीडीएस के तहत गांव के लिए कुल 57 इकाइयां स्वीकृत की गई हैं।

7.डॉक्टर जितेंद्र सिंह ने पूर्वोत्तर के लिए मोबाइल कोविड जांच सुविधा का मिजोरम से शुभारंभ किया

केंद्रीय विज्ञान और प्रौद्योगिकी राज्य मंत्री डॉक्टर जितेंद्र सिंह ने पूर्वोत्तर के लिए मोबाइल कोविड जांच सुविधा का मिजोरम से शुभारंभ किया। यह अपनी तरह की पहली मोबाइल जांच प्रयोगशाला है जो आरटी-पीसीआर और एलिसा दोनों जांच करने में सक्षम है। केंद्रीय जैव प्रौद्योगिकी विभाग के सहयोग से विकसित प्रयोगशाला का उद्देश्य पूर्वोत्तर क्षेत्र के ग्रामीण और दूरदराज के हिस्सों में कोविड जांच सुविधा प्रदान करना है। इस अवसर पर मिजोरम के मुख्यमंत्री जोरमथंगा ने इस सुविधा के लिए डॉक्टर जितेंद्र सिंह का आभार व्यक्त किया।

8.पिछले सात साल सबसे गर्म रहे : संयुक्त राष्ट्र

संयुक्त राष्ट्र ने पुष्टि की है कि पिछले सात साल सबसे गर्म रहे हैं। संगठन के अनुसार ला नीना मौसम की घटना के शीतलन प्रभाव के बावजूद 2015 के बाद के इन सात वर्षों में 2021 में तापमान सबसे अधिक बना रहा। संयुक्त राष्ट्र के विश्व मौसम विज्ञान संगठन के प्रमुख पेटेरी तालास ने कहा है कि यह दर्शाता है कि ग्रीनहाउस गैस वृद्धि के परिणामस्वरूप, समग्र दीर्घकालिक वार्मिंग, अब स्वाभाविक रूप से होने वाले जलवायु चालकों के कारण वैश्विक औसत तापमान में साल-दर-साल परिवर्तनशीलता से कहीं अधिक है।

9.भारत और डेनमार्क हरित हाइड्रोजन सहित हरित ईंधन पर संयुक्त अनुसंधान और विकास कार्य शुरू करने पर सहमत हुए

भारत और डेनमार्क हरित हाइड्रोजन सहित हरित ईंधन पर संयुक्त अनुसंधान और विकास कार्य शुरू करने पर सहमत हो गए हैं। इस महीने की 14 तारीख को संयुक्त विज्ञान और प्रौद्योगिकी समिति की बैठक के दौरान दोनों देशों की राष्ट्रीय रणनीतिक प्राथमिकताओं और विज्ञान, प्रौद्योगिकी तथा नवाचार के विकास पर चर्चा हुई। समिति ने जलवायु सहित मिशन संचालित अनुसंधान, नवाचार और प्रौद्योगिकी विकास पर द्विपक्षीय सहयोग के विकास पर जोर दिया है।

10.भारत और इज़राइल ने तकनीकी नवाचार कोष- 14 एफ के दायरे को व्यापक बनाने पर विचार-विमर्श किया

भारत और इज़राइल ने औद्योगिक अनुसंधान और विकास के क्षेत्र में सहयोग बढ़ाने के लिए तकनीकी नवाचार कोष- 14 एफ के दायरे को व्यापक बनाने पर विचार-विमर्श किया है। दोनों देशों के विशेषज्ञों के बीच कल हुई वर्चुअल बैठक में 55 मिलियन अमरीकी डॉलर की तीन संयुक्त अनुसंधान और विकास परियोजनाओं को मंजूरी दी गई। इनमें स्‍वास्‍थ्‍य सेवाओं के लिए नैनो सेंसर तकनीक के उपयोग, मच्‍छरों के नियंत्रण के लिए जैविक समाधान, उपग्रह संचार, कृषि और पर्यावरण जैसे क्षेत्र शामिल हैं। बैठक में भारत और इजरायल के बीच व्‍यापक सहयोग के उपायों पर भी महत्‍वपूर्ण सुझाव सामने आए। विज्ञान और प्रौद्योगिकी मंत्रालय ने एक बयान में कहा है कि इस कार्यक्रम में काफी संभावनाएं हैं। विज्ञान और प्रौद्योगिकी विभाग के सचिव एस चंद्रशेखर ने कहा कि यह बैठक दोनों पक्षों को नए विचारों के साथ आगे बढ़ने में मदद करेगी।

11.भारत और श्रीलंका ने मौजूदा विज्ञान और प्रौद्योगिकी सहयोग तीन वर्षों के लिए बढ़ाया

भारत और श्रीलंका ने अपशिष्ट जल प्रौद्योगिकियों, टिकाऊ कृषि, एयरोस्पेस इंजीनियरिंग, रोबोटिक्स और आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस जैसे क्षेत्रों पर ध्यान देने के साथ मौजूदा विज्ञान और प्रौद्योगिकी सहयोग को तीन और वर्षों के लिए बढ़ा दिया है। यह निर्णय भारत और श्रीलंका के बीच विज्ञान और प्रौद्योगिकी सहयोग पर संयुक्त समिति की पांचवीं बैठक के दौरान लिया गया।

12.ब्रिक्‍स देशों के शेरपाओं की पहली दो दिवसीय बैठक वर्चुअल माध्‍यम से 18 और 19 जनवरी 2022 को आयोजित हुई

ब्रिक्‍स देशों के शेरपाओं की पहली दो दिवसीय बैठक वर्चुअल माध्‍यम से 18 और 19 जनवरी 2022 को आयोजित हुई। सदस्य देशों ने 2021 में ब्रिक्स की अध्यक्षता के लिए भारत को धन्यवाद दिया है। बारी-बारी से अध्‍यक्षता करने की व्‍यवस्‍था के तहत 2022 में चीन ने ब्रिक्स देशों के मंच की अध्यक्षता की। भारत के ब्रिक्स शेरपा संजय भट्टाचार्य ने कहा कि पिछले साल विदेश मंत्रियों ने बहुपक्षीय प्रणाली के सुदृढ़ीकरण और सुधार पर दस्तावेज़ के संदर्भ में एक बडी उपलब्धि हासिल की।

13.प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मॉरीशस के प्रधानमंत्री के साथ भारत की सहायता से बनी सामाजिक आवास परियोजना का उद्घाटन किया

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मॉरीशस के प्रधानमंत्री प्रविंद कुमार जगन्नाथ ने संयुक्त रूप से भारत की सहायता से बनी सामाजिक आवास परियोजना का वर्चुअल माध्यम से उद्घाटन किया। उन्होंने मॉरीशस में सिविल सेवा महाविद्यालय और आठ मेगावॉट की सौर ऊर्जा परियोजनाओं का भी शुभारंभ किया। ये परियोजनाएं भारत के सहयोग से शुरू की गयी हैं। श्री मोदी ने कहा कि भारत के वैक्सीन मैत्री कार्यक्रम के अंतर्गत मॉरीशस को सबसे पहले कोविड टीके भेजे गये। प्रधानमंत्री ने मॉरीशस की तीन चौथाई आबादी को दोनों टीके लगाये जाने पर प्रसन्नता व्यक्त की। इस अवसर पर मेट्रो एक्सप्रेस परियोजना और अन्य ढांचागत परियोजनाओं के लिए भारत की ओर से मॉरीशस को 19 करोड़ अमरीकी डॉलर की ऋण समझौते पर हस्ताक्षर किये गये। लघु विकास परियोजनाओं के कार्यान्वयन पर भी एक समझौता किया गया।

14.कृषि पोषक उद्यान सप्ताह के दौरान 76 हजार पांच सौ से अधिक कृषि पोषक उद्यान लगाये गये

दीनदयाल उपाध्याय अंत्योदय योजना के अंतर्गत मनाये जा रहे कृषि पोषक उद्यान सप्ताह के दौरान निर्धारित लक्ष्य सात हजार पांच सौ की अपेक्षा 76 हजार पांच सौ से अधिक कृषि पोषक उद्यान लगाये गये। दीनदयाल उपाध्याय योजना-राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन द्वारा कृषि पोषक उद्यान सप्ताह इस महीने की 10 से 17 तारीख तक मनाया गया। इस मिशन का उद्देश्य प्रत्येक ग्रामीण परिवार की पोषक आवश्यकताओं को पूरा करना है। अतिरिक्त उत्पादन, आय के लिए बाजारों में बेचा जायेगा।

15.आईएफएससीए ने भारतीय बीमा संस्थान (III) के साथ समझौता किया

अंतर्राष्ट्रीय वित्तीय सेवा केंद्र प्राधिकरण (आईएफएससीए) ने अंतर्राष्ट्रीय वित्तीय सेवा केंद्रों (आईएफएससी) के बीमा क्षेत्र में कार्यरत पेशेवर कर्मियों के क्षमता-निर्माण के उद्देश्य से, भारतीय बीमा संस्थान (III) के साथ एक समझौता (एमओयू) किया है। भारतीय बीमा संस्थान (III) बदलते बीमा परिदृश्य की जरूरतों को पूरा करने के लिए भारत और विदेशों में बीमा उद्योग से जुड़े पेशेवरों के लिए पाठ्यक्रम तैयार करता है, इनका लगातार उन्नयन करता है तथा प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित करता है।

16.कैबिनेट ने भारतीय अक्षय ऊर्जा विकास संस्था लिमिटेड (आईआरईडीए) में 1,500 करोड़ रुपये के निवेश को मंजूरी दी

प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी की अध्यक्षता में आर्थिक मामलों की मंत्रिमंडल समिति ने भारतीय अक्षय ऊर्जा विकास संस्था लिमिटेड (आईआरईडीए) में नकदी देकर इक्विटी शेयर खरीदने के जरिये 1,500 करोड़ रुपये का निवेश करने को मंजूरी दे दी है। नकदी देकर इक्विटी शेयर जारी करने से साल भर में लगभग 10,200 रोजगारों का सृजन होगा तथा लगभग 7.49 मिलियन टन सीओ2/प्रतिवर्ष के बराबर कार्बन डाई-ऑक्‍साइड के उत्सर्जन में कमी आयेगी।

17.रक्षा राज्य मंत्री श्री अजय भट्ट ने वीरता पुरस्कार पोर्टल पर वर्चुअल संग्रहालय का उद्घाटन किया

रक्षा राज्यमंत्री श्री अजय भट्ट ने 20 जनवरी, 2022 को वीरता पुरस्कार पोर्टल (https://www.gallantryawards.gov.in/) पर एक इंटरैक्टिव वर्चुअल म्यूजियम का उद्घाटन किया। वर्चुअल म्यूजियम में वीरता पुरस्कार विजेताओं की प्रतिबद्धता तथा बलिदान की कहानियों को एक अभिनव और उपयोगकर्ता के अनुकूल प्रारूप में एक साथ रखा गया है। इसमें 3-डी वॉक थ्रू एक्सपीरियंस, गैलरी बिल्डिंग, लॉबी, वॉल ऑफ फेम, वॉर मेमोरियल का दर्शन, वॉर रूम, रिसोर्स सेंटर, सेल्फी बूथ और प्रदर्शन उपकरण आदि शामिल हैं। वर्चुअल म्यूजियम को रक्षा मंत्रालय, सोसाइटी ऑफ इंडियन डिफेंस मैन्युफैक्चरर्स (एसआईडीएम), इलेक्ट्रॉनिक्स एवं सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय और भास्कराचार्य नेशनल इंस्टीट्यूट फॉर स्पेस एप्लिकेशन एंड जियो-इंफॉर्मेटिक्स द्वारा संयुक्त रूप से विकसित किया गया है, जो स्वतंत्रता के 75 साल पूरे होने पर आयोजित ‘आजादी का अमृत महोत्सव’ का एक हिस्सा है।

18.कैबिनेट ने राष्ट्रीय सफाई कर्मचारी आयोग के कार्यकाल को तीन साल बढ़ाने की मंजूरी दी

प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी की अध्यक्षता में केंद्रीय मंत्रिमंडल ने राष्ट्रीय सफाई कर्मचारी आयोग (एनसीएसके) के कार्यकाल को 31.3.2022 से आगे तीन साल बढ़ाने की मंजूरी दे दी है। तीन साल के लिए विस्तार का कुल व्यय लगभग 43.68 करोड़ रुपये होगा। राष्ट्रीय सफाई कर्मचारी आयोग का कार्यकाल 31.3.2022 के बाद 3 वर्ष तक बढ़ाने से मुख्य रूप से देश के सफाई कर्मचारी और हाथ से मैला उठाने वाले चिन्हित लोग लाभार्थी होंगे। 31.12.2021 को एम.एस. अधिनियम सर्वेक्षण के तहत चिन्हित मैनुअल स्कैवेंजर्स की संख्या 58,098 है। राष्ट्रीय सफाई कर्मचारी आयोग की स्थापना वर्ष 1993 में राष्ट्रीय सफाई कर्मचारी आयोग अधिनियम, 1993 के प्रावधानों के अनुसार शुरू में 31.3.1997 तक की अवधि के लिए की गई थी। बाद में अधिनियम की वैधता को शुरू में 31.03.2002 तक और उसके बाद 29.2.2004 तक बढ़ा दिया गया था। राष्ट्रीय सफाई कर्मचारी आयोग (एनसीएसके) अधिनियम 29.2.2004 से प्रभावी नहीं रहा। उसके बाद एनसीएसके के कार्यकाल को समय-समय पर प्रस्तावों के माध्यम से एक गैर-सांविधिक संस्था के रूप में बढ़ाया गया है। वर्तमान आयोग का कार्यकाल 31.03.2022 तक है।

19.भारत-मध्य एशिया शिखर सम्मेलन

27 जनवरी को पीएम मोदी भारत-मध्य एशिया शिखर सम्मेलन (India-Central Asia Summit) की मेजबानी करेंगे। पांच मध्य एशियाई देशों के राष्ट्रपति इस शिखर सम्मेलन में भाग लेंगे। वे कजाकिस्तान, उज्बेकिस्तान, तुर्कमेनिस्तान, ताजिकिस्तान, किर्गिज गणराज्य हैं। यह पहला भारत-मध्य एशिया शिखर सम्मेलन है। यह शिखर सम्मेलन वर्चुअली आयोजित किया जायेगा। इस शिखर सम्मेलन के दौरान, नेताओं से अंतरराष्ट्रीय और क्षेत्रीय मुद्दों पर अपने विचारों का आदान-प्रदान करने की उम्मीद है। उनसे मुख्य रूप से सुरक्षा मुद्दों पर ध्यान केंद्रित करने की उम्मीद है। यह देश अफगानिस्तान के साथ अपनी सीमाएं साझा करते हैं। अगस्त 2021 में अमेरिका के अफ़ग़ानिस्तान से चले जाने के बाद तालिबान ने अफ़ग़ानिस्तान पर कब्ज़ा कर लिया था। इससे अफ़ग़ानिस्तान में भारतीय विकास कार्य अधूरे रह गए। साथ ही, अफगानिस्तान के विकास के लिए किया गया भारतीय निवेश व्यर्थ चला गया। कजाकिस्तान, ताजिकिस्तान और किर्गिज गणराज्य चीन के साथ अपनी सीमाएं साझा करते हैं। भारत अब चीन के साथ 21 महीने के गतिरोध में शामिल है। शिखर सम्मेलन मध्य एशियाई देशों के साथ भारत के बढ़ते जुड़ाव को दर्शाता है। वे भारत के विस्तारित पड़ोस (extended neighbourhood) हैं।

20.काजीरंगा राष्ट्रीय उद्यान में जनगणना आयोजित की गई

काजीरंगा राष्ट्रीय उद्यान एक टाइगर रिजर्व और एक विश्व धरोहर स्थल है। इस पार्क ने हाल ही में जल मुर्गी (water fowl) गणना की। 2021 में, पक्षियों की संख्या बढ़कर 93,491 हो गई। 2020 में यह 34,284 थी। एक साल में पक्षियों की संख्या में 175% की वृद्धि हुई है। जनगणना के दौरान लगभग 126 प्रजातियों को देखा गया। जनगणना में प्वाइंट काउंट पद्धति का इस्तेमाल किया गया। जनगणना ने 868 हिरणों की सूचना दी है। इसमें 173 नर, 557 मादा और 138 साल के बच्चे शामिल हैं। दुर्भाग्य से, हिरणों की आबादी में कमी आई है। पहले यह संख्या 907 थी। मुख्य रूप से बाढ़ के कारण पार्क में हिरणों की आबादी में कमी आई है। इस गणना में 66,776 आर्द्रभूमि पक्षियों की सूचना मिली है। इसमें से 42,205 राष्ट्रीय उद्यान क्षेत्र में गिने गए। 24,571 बुरहाचापोरी वन्यजीव अभयारण्य (Burhachapori Wildlife Sanctuary) और लाओखोवा (Laokhowa) में गिने गए। सभी जानवरों में से, बार हेडेड गीज़ सबसे बड़ी संख्या में थे। इस गणना में 16,552 बार हेडेड गीज़ गिने गये। इसके अलावा, जनगणना में 5,631 चैती, 9,493 नॉर्दर्न पिंटेल और 2,236 फेरुगिनस बत्तखों की सूचना मिली। 40,000 हॉग हिरणों की सूचना मिली थी। वे पार्क में बाघों के लिए मुख्य भोजन हैं। इसके अलावा 35 हाथियों को भी देखा गया। पहली काजीरंगा राष्ट्रीय उद्यान की जनगणना 2019 में हुई थी। इस जनगणना में लगभग 11,500 जलीय पक्षियों की गणना की गई थी।

21.तेलंगाना सरकार द्वारा KCR किट योजना

यह योजना तेलंगाना सरकार द्वारा शुरू की गई है। यह मां और बच्चे के लिए शुरू की गई एक कल्याणकारी योजना है। प्रसव के बाद मां को KCR किट दी जाती है। इस किट में 16 चीजें शामिल हैं जो नवजात बच्चे को स्वच्छ रखने के लिए आवश्यक हैं। इस किट की आपूर्ति तीन महीने तक बच्चे की जरूरतों को पूरा करेगी। इस किट में डायपर, नैपकिन, खिलौने, मच्छरदानी, बेबी पाउडर, बेबी ऑयल, बेबी सोप और कपड़े हैं। इसे 2017 में मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव ने लॉन्च किया था। 2017 में, तेलंगाना राज्य सरकार ने इस योजना के लिए 605 करोड़ रुपये आवंटित किए। यह योजना पिछले कुछ समय से भ्रष्टाचार के आरोपों का सामना कर रही है। क्रियान्वयन अधिकारियों ने फर्जी तरीके से निजी अस्पताल में जन्म लेने वालों को इस योजना के तहत शामिल कर लिया है। यह योजना केवल सरकारी अस्पतालों में जन्म लेने वाले बच्चों के लिए है और इसे निजी अस्पतालों तक नहीं बढ़ाया गया है।

22.आजादी के अमृत महोत्सव से स्वर्णिम भारत की ओर

आजादी के अमृत महोत्सव से स्वर्णिम भारत की ओर’ कार्यक्रम की शुरुआत 20 जनवरी 2022 को हुई। इसकी शुरुआत पीएम मोदी ने की। ‘आजादी के अमृत महोत्सव से स्वर्णिम भारत की ओर’ कार्यक्रम ब्रह्मा कुमारियों द्वारा समर्पित आज़ादी के अमृत के वार्षिक उत्सव का प्रतीक है। इस पहल के तहत 15,000 कार्यक्रम और 30 अभियान आयोजित किये जायेंगे। इस कार्यक्रम के दौरान, ग्रैमी पुरस्कार विजेता रिकी रेज इस कार्यक्रम के लिए एक गीत समर्पित करेंगे। यह कार्यक्रम अस्पतालों और मेडिकल कॉलेजों में आयोजित किये जायेंगे। यह कार्यक्रम कल्याण, आध्यात्मिकता और पोषण पर ध्यान केंद्रित करेगा। इसमें डॉक्टरों के लिए सम्मेलन, कैंसर जांच और चिकित्सा शिविर भी शामिल होंगे। प्रधानमंत्री ने इस कार्यक्रम के दौरान निम्नलिखित सात पहलों का शुभारंभ किया:

  1. मेरा भारत स्वस्थ भारत के तहत हरित पहल
  2. आत्मनिर्भर भारत के तहत आत्मनिर्भर किसान पहल
  3. महिलाएं: भारत की ध्वजवाहक
  4. “अनदेखा भारत” पर एक साइकिल रैली
  5. “एकजुट भारत” पर मोटर बाइक अभियान
  6. स्वच्छ भारत अभियान के तहत पहल

23.क्षुद्रग्रह 1994 PC1

क्षुद्रग्रह 1994 PC1 को 18 जनवरी 2022 को पृथ्वी के पास से गुजरा। यह 12 लाख मील की दूरी से गुजरा। यह चंद्रमा और पृथ्वी के बीच की दूरी का पांच गुना है। इसलिए, इस क्षुद्रग्रह से पृथ्वी को कोई नुकसान नहीं पहुंचा। इसे “7482” के नाम से भी जाना जाता है। इसकी लंबाई एक किलोमीटर से अधिक है। इस क्षुद्रग्रह की गति 45,000 मील प्रति घंटा है। यह एक पथरीला क्षुद्रग्रह है। इसे संभावित खतरनाक क्षुद्रग्रह की श्रेणी में रखा गया है और निकट-पृथ्वी वस्तु (near – earth object) श्रेणी के अंतर्गत भी रखा गया है।

24.अंटार्कटिका में आइसफिश ब्रीडिंग कॉलोनी की खोज की गई

गहरे समुद्र के वैज्ञानिकों ने अंटार्कटिका के वेडेल सागर (Weddell Sea) में एक आइसफिश ब्रीडिंग कॉलोनी (icefish breeding colony) की खोज की है। आइसफिश का वैज्ञानिक नाम Neopagrtopsis ionah है। इस प्रजाति की खोज फरवरी 2021 में की गई थी। हालांकि, हाल ही में उनके प्रजनन घोंसले की खोज की गई। आइस फिश का खून पारदर्शी रंग का होता है। उनके पास लाल रक्त कोशिकाएं नहीं होती हैं। उनके पास ऑक्सीजन ले जाने के लिए हीमोग्लोबिन नहीं होता। यह एक विकासवादी अनुकूलन (evolutionary adaptation) है। वे अपनी त्वचा के माध्यम से ऑक्सीजन को अवशोषित करते हैं। वे 90 मीटर से 200 मीटर की गहराई पर पाई जाती हैं। आइसफिश ब्रीडिंग कॉलोनी (घोंसले) एक फुट चौड़े थे। प्रत्येक घोंसले में एक हजार से अधिक अंडे थे। नर अंडे सेने तक शिकारियों जैसे स्टारफिश से घोंसलों की रक्षा करते हैं। नर समय-समय पर घोंसलों की सफाई करते हैं। घोंसलों को साफ करने के लिए वे अपने लंबे जबड़े का इस्तेमाल करते हैं। प्रत्येक घोंसला एक नर बर्फ मछली द्वारा संरक्षित है। वर्तमान में 60 मिलियन सक्रिय घोंसले हैं। वे अंटार्कटिक समुद्र में 92 वर्ग मील में फैले हुए हैं। यह दुनिया में खोजी गई सबसे बड़ी मछली प्रजनन कॉलोनी है। इन घोंसलों में 60,000 टन मछली का बायोमास था।

25.भारत की स्टार महिला टेनिस खिलाड़ी सानिया मिर्जा ने संन्यास लेने की घोषणा की

भारत की स्टार महिला टेनिस खिलाड़ी सानिया मिर्जा ने संन्यास लेने की घोषणा कर दी है। 35 वर्षीय सानिया ने 2003 में अपने करियर की शुरुआत की थी। उन्‍होंने कहा है कि टेनिस कोर्ट में यह उनका आखिरी साल होगा। इससे पहले सानिया और उनकी जोड़ीदार नादिया किचेनोक ऑस्‍ट्रेलियन ओपन टेनिस टूर्नामेंट के महिला डबल्स के पहले दौर में हारकर टूर्नामेंट से बाहर हो गई हैं। हालांकि, ऑस्ट्रेलियन ओपन के मिक्‍स्‍ड डबल्‍स में सानिया अमेरिका के राजीव राम के साथ अपनी चुनौती पेश करेंगी। सानिया महिला सिंगल्‍स की रैंकिंग में शीर्ष 100 में पहुंचने वाली अकेली भारतीय महिला खिलाड़ी हैं।