प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आधिकारिक तौर पर ब्राजील के राष्ट्रपति लुईस इनासियो लूला डी सिल्वा को जी20 की अध्यक्षता सौं

0
29

1 प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आधिकारिक तौर पर ब्राजील के राष्ट्रपति लुईस इनासियो लूला डी सिल्वा को जी20 की अध्यक्षता सौंपी

18वां जी-20 शिखर सम्मेलन नई दिल्‍ली में सफलतापूर्वक सम्‍पन्‍न हो गया है। भारत ने ब्राजील को जी-20 की अध्‍यक्षता सौंप दी है। समापन समारोह में प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने ब्राजील के राष्‍ट्रपति लुईस इनासियों लूला डी सिल्‍वा को औपचारिक रूप से जी-20 की अध्‍यक्षता का प्रतीक हथौडा सौंपा। इस अवसर पर श्री मोदी ने विश्‍वास व्‍यक्‍त किया कि ब्राजील की अध्‍यक्षता में जी-20 साझा लक्ष्‍यों को हासिल करने में समर्थ होगा। उन्‍होंने यह प्रस्‍ताव भी रखा कि इस शिखर सम्‍मेलन में तय किये गए मुद्दों की समीक्षा के लिए नवंबर के आखिर में समूह का वर्चुअल सत्र आयोजित किया जाए। जी-20 की अध्‍यक्षता का प्रतीक स्‍वीकार करने के बाद ब्राजील के राष्‍ट्रपति ने कहा कि वर्तमान विश्‍व में धन अब भी अधिक केन्द्रित है, जबकि लाखों लोग भुखमरी से त्रस्‍त हैं। उन्‍होंने आय, स्‍वास्‍थ्‍य देखभाल, शिक्षा, भोजन और स्त्री-पुरुष के बीच अंतर जैसी असमानता के मुद्दों से निपटने की आवश्‍यकता पर बल दिया। इससे पहले प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने नई दिल्‍ली में एक भविष्‍य विषय पर जी-20 शिखर सम्‍मेलन के दूसरे और अंतिम दिन तीसरे सत्र की अध्‍यक्षता की।

2 भारतीय तटरक्षक बल ने इस्तांबुल, तुर्किये में एशियाई तटरक्षक एजेंसियों के प्रमुखों की 19वीं बैठक (एचएसीजीएएम) में भाग

भारतीय तटरक्षक बल ने 05-08 सितंबर 2023 को इस्तांबुल, तुर्किये में एशियाई तटरक्षक एजेंसियों के प्रमुखों की 19 वींबैठक (एचएसीजीएएम) में भाग लिया। भारतीय तटरक्षक बल के महानिदेशक श्री राकेश पाल के नेतृत्व में चार सदस्यीय आईसीजी प्रतिनिधिमंडल ने तटरक्षक एजेंसियों के 23 सदस्यों और आरईसीएएपी और यूएनओडीसी के रूप में 2 सहयोगी सदस्यों वाले स्वतंत्र मंच के वार्षिक कार्यक्रम में भाग लिया। सभी सदस्य देशों के तटरक्षकों के प्रमुखों ने इस तीन दिवसीय उच्च-स्तरीय बैठक में भाग लिया। बैठक के दौरान समुद्री कानून प्रवर्तन, समुद्री जीवों की रक्षा और सुरक्षा, समुद्री पर्यावरण संरक्षण, और समुद्री रास्तों से दवाओं, हथियारों, और मानव तस्करी आदि सहित कई महत्वपूर्ण मुद्दों पर चर्चा की गई और एजेंडा तैयार करने के रास्ते तलाशे गए। बैठक में एशियाई तट रक्षकों के बीच समुद्री सहयोग को और मजबूत करने का संकल्प लिया। यह बहुपक्षीय मंच नवंबर 1999 में भारतीय तटरक्षक बल द्वारा समुद्री डाकू जहाज एमवी अलोंद्रा रेनबो को पकड़ने के बाद क्षेत्रीय तटरक्षकों के बीच सहयोग को बढ़ावा देने की जापानी पहल का एक हिस्सा है। एचएसीजीएएम का अंतिम संस्करण 2022 में नई दिल्ली में आयोजित किया गया था।

3 महिला फैशन ब्रांड W ने अनुष्का शर्मा को अपना ब्रांड एंबेसडर चुना

महिला फैशन ब्रांड W ने अनुष्का शर्मा को अपना ब्रांड एंबेसडर चुना है। इस साझेदारी के साथ, ब्रांड अपने उच्च-डेसिबल उत्सव अभियान को लॉन्च करने की तैयारी कर रहा है जो उत्सव की गर्मजोशी को आधुनिकता की भावना के साथ खूबसूरती से विलय करता है। अनुष्का शर्मा एक प्रसिद्ध बॉलीवुड अभिनेत्री और उद्यमी हैं। उन्होंने अपना फैशन लेबल नश (Nush) लॉन्च किया। अनुष्का शर्मा को प्यूमा इंडिया ने भी भारतीय बाजार के लिए अपना नया ब्रांड एंबेसडर नियुक्त किया है।

4 राधिका अयंगर की पुस्तक ‘फायर ऑन द गंगा: लाइफ अमंग द डेड इन बनारस’ का विमोचन

राधिका अयंगर ‘फायर ऑन द गंगा: लाइफ अमंग द डेड इन बनारस’ की लेखिका हैं, जिसे हारपरकॉलिंस द्वारा प्रकाशित किया गया। पुस्तक भारत में बनारस शहर (जिसे वाराणसी के रूप में भी जाना जाता है) पर प्रकाश डालती है, जिसमें मृत्यु और उसके बाद के जीवन के संबंध पर विशेष जोर दिया गया है। “फायर ऑन द गंगा” बनारस में डोमों के दैनिक अनुभवों को दस्तावेजित करने के पहले प्रयास का प्रतिनिधित्व करता है।

5 झारखंड कैबिनेट ने ट्रांसजेंडर समुदाय के लिए पेंशन और ओबीसी दर्जे को मंजूरी दी

झारखंड कैबिनेट ने ट्रांसजेंडर समुदाय के लिए पेंशन और ओबीसी दर्जे को मंजूरी दी। ट्रांसजेंडर व्यक्ति अब ‘मुख्यमंत्री राज्य सामाजिक सुरक्षा पेंशन योजना’ के तहत 1000 रुपये की मासिक वित्तीय सहायता प्राप्त करने के पात्र होंगे। यह निर्णय ट्रांसजेंडर समुदाय को सामाजिक सुरक्षा प्रदान करने और उन्हें समाज की मुख्यधारा में लाने के उद्देश्य से किया गया था।

6 SBI ने डिजिटल किराया भुगतान के लिए देश का पहला ट्रांजिट कार्ड लॉन्च किया

भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) ने ‘नेशन फर्स्ट ट्रांजिट कार्ड’ के लॉन्च के साथ आवागमन के अनुभव को बढ़ाने और डिजिटल भुगतान को बढ़ावा देने की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम उठाया है। यह इनोवेटिव कार्ड ग्राहकों को निर्बाध और सुविधाजनक आवागमन अनुभव प्रदान करने के लिए डिज़ाइन किया गया है। यह कार्ड ग्राहकों को मेट्रो, बस और पार्किंग जैसी चीजों के लिए डिजिटल टिकटिंग भुगतान करने की अनुमति देता है। कार्ड का उपयोग खुदरा दुकानों पर खरीदारी के लिए भी किया जा सकता है। कार्ड RuPay और नेशनल कॉमन मोबिलिटी कार्ड (NCMC) तकनीक पर आधारित है।

7 अमरीकी ओपन टेनिस टूर्नामेंट में अमरीका की कोको गॉफ ने महिला सिंगल्स का खिताब जीता

अमरीकी ओपन टेनिस टूर्नामेंट में अमरीका की कोको गॉफ ने पहली बार महिला सिंगल्स का खिताब जीत लिया है। न्यूयार्क में फाइनल मुकाबले में उन्होंने बेलारूस की आर्यना सबालेंका को 2-6, 6-3, 6-2 से हराय़ा। गॉफ ने पिछले 40 दिनों में 3 बड़े खिताब अपने नाम किेए हैं। इससे पहले उन्होंने वाशिंगटन ओपन और सिनसिनाटी ओपन टेनिस टूर्नामेंट में जीत हासिल की थी। मिक्स्ड डबल्स के फाइनल में कजाकिस्तान की अन्ना दानीलीना और फिनलैंड के हैरी हिलियोवारा की जोड़ी ने जेसिका पेगुला और ऑस्टिन क्रेजीसेक की जोड़ी को हराकर जीत हासिल की। पुरूष सिंगल्स के फाइनल में विश्व के नंबर 2 खिलाड़ी नोवाक जोकोविच का सामना तीसरी वरीयता प्राप्त दानिल मेदवेदेव से होगा।

8 गोवा के राज्यपाल ने 37वें राष्ट्रीय खेलों के लिए ‘मशाल’ का किया शुभारंभ

गोवा के राज्यपाल पी.एस. श्रीधरन पिल्लई ने 37वें राष्ट्रीय खेलों के लिए मशाल (टॉर्च) लॉन्च की। यह लॉन्च डोनापौला के दरबार हॉल राजभवन में आयोजित एक कार्यक्रम में हुआ। 37वें राष्ट्रीय खेल 25 अक्टूबर से 9 नवंबर तक गोवा में होंगे। राज्यपाल ने राष्ट्रीय खेलों का एंथम (थीम सॉन्ग) भी जारी किया, जिसमें अभिनेता अमिताभ बच्चन ने अपनी आवाज दी है। इस समारोह में डॉ. प्रमोद सावंत, मुख्यमंत्री, श्री. गोविंद गाड़े, खेल और युवा कार्य मंत्री, श्री. श्रीपद नाइक, पर्यटन के राज्य मंत्री, और कई अन्य विशिष्ट मेहमानों शामिल थें।

9 G20 शिखर सम्मेलन स्थल पर विश्व की सबसे ऊंची नटराज प्रतिमा स्थापित की गई

जी20 शिखर सम्मेलन के आयोजन स्थल पर, विश्व नेताओं का स्वागत नटराजभगवान शिव की ब्रह्मांडीय नृत्य मुद्रा में 27 फुट ऊंची एक लुभावनी प्रतिमा द्वारा किया जाएगा। अष्टधातु से बनी इस भव्य मूर्ति का वजन 18 टन है। तमिलनाडु के तंजावुर जिले के स्वामीमलाई के कुशल कारीगरों द्वारा निर्मित, यह उत्कृष्ट कृति प्राचीन नटराज मूर्तियों से प्रेरणा लेते हुए परंपरा को आधुनिकता के साथ जोड़ती है। इस उत्कृष्ट कृति के पीछे प्राथमिक मूर्तिकार 61 वर्षीय श्रीकंडा स्थापति, उनके भाई राधाकृष्ण स्थापति और स्वामीनाथ स्थापति हैं।

10 भारत फ्रांस द्विपक्षीय नौसेना अभ्यास ‘वरुण’ का 21वां संस्करण – 2023

भारतीय और फ्रांस की नौसेना के द्विपक्षीय अभ्यास के 21वें संस्करण का दूसरा चरण, वरुण (वरुण -23) अरब सागर में आयोजित किया गया। अभ्यास में दोनों पक्षों के गाइडेड मिसाइल फ्रिगेट, टैंकर, समुद्री गश्ती विमान और संयुक्त हेलीकॉप्टरों ने भाग लिया। तीन दिवसीय अभ्यास में संयुक्त संचालन, पुनर्गठन और विभिन्न सामरिक युद्धाभ्यास शामिल थे। ‘वरुण-2023’ का पहला चरण 16 से 20 जनवरी तक भारत के पश्चिमी तट पर आयोजित किया गया था। भारतीय और फ्रांसीसी नौसेनाओं के बीच द्विपक्षीय नौसैनिक अभ्यास 1993 में शुरू हुआ। 2001 में ‘वरुण’ नाम से आयोजित यह अभ्यास तब से मजबूत भारत-फ्रांस द्विपक्षीय संबंधों का प्रतीक बन गया है।

11 वायु सेना उप प्रमुख ने उड़ाया हिंदुस्तान टर्बो ट्रेनर एचटीटी-40

वायु सेना उप प्रमुखएयर मार्शल आशुतोष दीक्षित एवीएसएम वीएम वीएसएम ने बेंगलुरु में बेसिक ट्रेनर एयरक्राफ्ट हिंदुस्तान टर्बो ट्रेनर एयरक्राफ्ट – 40 (एचटीटी-40) उड़ाया। हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड (एचएएल) द्वारा निर्मित, विमान स्वदेश में डिजाइन किया गया है और एचएएल के विमान अनुसंधान एवं डिजाइन केन्द्र द्वारा विकसित किया गया है। यह भारतीय सशस्त्र बलों की प्रशिक्षण आवश्यकताओं पर आधारित है। एचटीटी-40 एक पूरा एरोबेटिक विमान है, जो चार ब्लेड वाले टर्बो-प्रोप इंजन द्वारा संचालित है। यह एक अत्याधुनिक ग्लास कॉकपिट, आधुनिक एवियोनिक्स और जीरो-जीरो इजेक्शन सीट सहित नवीनतम सुरक्षा सुविधाओं से सुसज्जित है। ट्रेनर की अधिकतम गति 450 किलोमीटर प्रति घंटा और अधिकतम सर्विस सीलिंग छह किलोमीटर है। एचटीटी-40 ने पहली बार 31 मई 2016 को उड़ान भरी और 06 जून 2022 को सिस्टम स्तर का प्रमाणपत्र प्राप्त किया। सैन्य उड़ान योग्यता और प्रमाणन केन्द्र की मंजूरी से पूरा विमान अभी चल रहा है। भारतीय वायु सेना ने 70 विमानों की आपूर्ति के लिए एचएएल के साथ एक अनुबंध पर हस्ताक्षर किए, जिसका प्रवेश 15 सितम्बर 2025 को शुरू होगा और 15 मार्च 2030 तक जारी रहेगा।

12 महत्त्वपूर्ण खनिजों के लिये इंडोनेशिया ने जताई अमेरिकी व्यापार वार्ता की इच्छा

इंडोनेशिया ने महत्त्वपूर्ण खनिजों के लिये अमेरिकी व्यापार वार्ता की इच्छा जताई है। इंडोनेशिया अपने विशाल निकल भंडार का लाभ उठाते हुए इलेक्ट्रिक वाहनों और उनकी बैटरियों के विनिर्माण क्षेत्र में एक प्रमुख अभिकर्त्ता बनना चाहता है। इंडोनेशिया विश्व भर के 21 मिलियन मीट्रिक टन के सबसे बड़े निकल भंडार का उत्पादक और धारक है। महत्त्वपूर्ण खनिज वे खनिज और धातुएँ हैं जिनका उपयोग विशिष्ट औद्योगिक, तकनीकी तथा रणनीतिक उद्देश्यों के लिये किया जाता है। वे हरित और डिजिटल अर्थव्यवस्था तथा सौर पैनल, इलेक्ट्रिक वाहन, पवन टरबाइन व विद्युत नेटवर्क जैसे कई स्वच्छ ऊर्जा प्रौद्योगिकियों के लिये बिल्डिंग ब्लॉक हैं। कोबाल्ट, कॉपर, गैलियम, जर्मेनियम, ग्रेफाइट, हेफनियम, इंडियम, लिथियम और निकेल महत्त्वपूर्ण खनिजों के कुछ प्रमुख उदाहरण हैं।

13 हिमालयी राज्यों की वहन क्षमता

हाल ही में केंद्र ने सर्वोच्च न्यायालय से आग्रह किया है कि देश के 13 हिमालयी राज्य अपनी ‘वहन क्षमता‘ का आकलन करने का आदेश दें और साथ ही केंद्र ने उनके द्वारा प्रस्तुत कार्य योजनाओं का मूल्यांकन करने के लिये एक विशेषज्ञ पैनल की स्थापना का प्रस्ताव दिया है। यह पहल संवेदनशील हिमालयी पारिस्थितिकी तंत्र के धारणीय विकास और संरक्षण को सुनिश्चित करने के लिये आवश्यक है। “वहन क्षमता” पद से आशय उस सबसे बड़ी आबादी से है जिसे एक पारिस्थितिकी तंत्र अथवा पर्यावरण अपने प्राकृतिक संसाधनों को नुकसान पहुँचाए बिना एक निश्चित समय-सीमा तक बनाए रख सकता है। दीर्घकालिक स्थिरता सुनिश्चित करने के लिये मानवीय गतिविधियों और प्राकृतिक पारिस्थितिक तंत्र के संरक्षण के बीच संतुलन को समझने एवं प्रबंधित करने के लिये वहन क्षमता का आकलन किया जाना महत्त्वपूर्ण है। हिमालयी पारिस्थितिकी तंत्र को बनाए रखने पर राष्ट्रीय मिशन (2010) में 11 राज्य (हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, सिक्किम, सभी पूर्वोत्तर राज्य और पश्चिम बंगाल) तथा 2 केंद्रशासित प्रदेश (जम्मू-कश्मीर व लद्दाख) शामिल हैं। यह जलवायु परिवर्तन पर राष्ट्रीय कार्य योजना (National Action Plan on Climate Change- NAPCC) का हिस्सा है, जिसमें कुल आठ मिशन शामिल हैं।

14 आसियान 2026 के लिये म्याँमार की अध्यक्षता को अस्वीकृति

दक्षिण-पूर्व एशियाई देशों के संगठन (Association of Southeast Asian Nations- ASEAN) के नेतृत्वकर्त्ताओं ने वर्ष 2026 में म्याँमार को अपने क्षेत्रीय समूह की क्रमिक अध्यक्षता संभालने का अवसर देने से इनकार करने का फैसला किया है। यह निर्णय वर्ष 2021 में हिंसक तरीके से सत्ता पर कब्ज़ा करने के बाद अंतर्राष्ट्रीय मान्यता की मांग करने वाले म्याँमार के सत्तारूढ़ जनरलों के लिये एक बड़ा झटका है। फिलीपींस ने वर्ष 2026 में इंडोनेशिया द्वारा आयोजित आसियान शिखर सम्मेलन में क्षेत्रीय ब्लॉक की अध्यक्षता संभालने को लेकर सहमति जताई है। आसियान राजनयिकों ने सुझाव दिया है कि म्याँमार का बहिष्कार देश के भीतर चल रहे नागरिक संघर्ष से संबंधित है। इसके अतिरिक्त ऐसी चिंताएँ जताई जा रही हैं कि म्याँमार की सैन्य नेतृत्व वाली सरकार को मान्यता न देने के कारण संयुक्त राज्य अमेरिका और यूरोपीय संघ सहित अन्य अंतर्राष्ट्रीय अभिकर्ताओं के साथ आसियान के संबंधों पर नकारात्मक प्रभाव पड़ सकता है।

15 जीआई टैग ने सेलम साबूदाना के लिए अंतरराष्ट्रीय बाजार में पहुंचने का मार्ग प्रशस्त किया

तमिलनाडु के सलेम जिले को अपने साबूदाना उत्पादन के लिए भौगोलिक संकेत (जीआई) टैग प्राप्त हुआ है। सलेम साबूदाना, जिसे स्थानीय रूप से जाववारिसी के नाम से जाना जाता है, टैपिओका की जड़ों से निकाले गए गीले स्टार्च पाउडर से बनाया जाता है। सागो उत्पादन 1967 के बाद से सलेम के आर्थिक विकास की आधारशिला रहा है। वर्तमान में, भारत में साबूदाना का 80% से अधिक उत्पादन सलेम क्षेत्र में किया जाता है, जिसमें एक महत्वपूर्ण हिस्सा सागोसर्व के माध्यम से विपणन किया जाता है। सलेम साबूदाना(जाववारिसी) के लिए भौगोलिक संकेतक (जीआई) टैग के लिए अनुरोध सलेम स्टार्च एंड सागो मैन्युफैक्चरर्स सर्विस इंडस्ट्रियल को-ऑपरेटिव सोसाइटी लिमिटेड (SAGOSERVE) द्वारा दायर किया गया था, जिसे आमतौर पर सागोसर्व के नाम से जाना जाता है।

16 प्रयागराज पुलिस ने वरिष्ठ नागरिकों की सहायता के लिए शुरू किया ‘सवेरा’ योजना

प्रयागराज पुलिस ने अपने समुदाय में वरिष्ठ नागरिकों की सुरक्षा और कल्याण सुनिश्चित करने की दिशा में एक सक्रिय कदम उठाया है। उन्होंने हाल ही में ‘सवेरा’ योजना शुरू की है, जिसका उद्देश्य प्रयागराज जोन के भीतर सात जिलों में रहने वाले वरिष्ठ नागरिकों को स्वास्थ्य और अन्य आपात स्थितियों के दौरान आवश्यक सेवाएं प्रदान करना है। इस पहल ने महत्वपूर्ण ध्यान और भागीदारी प्राप्त की है, जिसमें पिछले तीन दिनों में 700 से अधिक वरिष्ठ नागरिकों ने पंजीकरण कराया है। ‘सवेरा’ योजना के तहत, प्रयागराज पुलिस 60 वर्ष और उससे अधिक आयु के व्यक्तियों का एक व्यापक रिकॉर्ड बनाए रख रही है। ये रिकॉर्ड एक समर्पित हेल्पलाइन नंबर, 112 के माध्यम से सुलभ हैं, जो जरूरत के समय त्वरित और कुशल प्रतिक्रिया सुनिश्चित करते हैं। इस योजना में शामिल पुलिस कर्मियों की प्राथमिक जिम्मेदारियों में से एक पंजीकृत वरिष्ठ नागरिकों के घरों पर नियमित सुरक्षा जांच करना है।

17 चीन में पक्षी जैसे डायनासोर के जीवाश्म खोजे गए

दक्षिण-पूर्वी चीन में फ्यूजीयानवेनेटर प्रोडिजियोसस नामक जुरासिक काल के पक्षी जैसे डायनासोर के जीवाश्मों की हालिया खोज वैज्ञानिकों के लिये एक रोचक विषय है, जिसने पक्षियों की उत्पत्ति में एक महत्त्वपूर्ण विकासवादी चरण पर प्रकाश डाला है। इस डायनासोर के पैर लंबे थे और भुजाएँ डैनों/पंखों की भाँति थीं, जिससे पता चलता है कि यह या तो तेज़ धावक था या इसकी जीवनशैली आधुनिक पक्षी की तरह झुंड में निवास करने की थी। इसे एवियलांस नामक समूह के सदस्य के रूप में वर्गीकृत किया गया है जिसमें सभी पक्षी और उनके निकटतम गैर-एवियन डायनासोर की प्रजातियों में शामिल हैं। इसका अग्रभाग आमतौर पर पक्षी के पंख की तरह बना होता है, लेकिन उंगलियों पर तीन पंजे होते हैं, जो आधुनिक पक्षियों में अनुपस्थित हैं।

18 जापान ने ‘मून स्नाइपर’ को H-IIA रॉकेट पर किया लॉन्च

जापान ने अपने चंद्र अन्वेषण अंतरिक्ष यान ‘मून स्नाइपर’ को एक स्वदेशी H-IIA रॉकेट पर लॉन्च किया है, जिससे अगले साल की शुरुआत में चंद्रमा पर उतरने वाला दुनिया का पांचवां देश बनने का रास्ता साफ हो गया है। जापान एयरोस्पेस एक्सप्लोरेशन एजेंसी (JAXA) ने कहा कि रॉकेट ने योजना के अनुसार दक्षिणी जापान के तनेगाशिमा अंतरिक्ष केंद्र से उड़ान भरी और स्मार्ट लैंडर फॉर इन्वेस्टिगेशन मून (SLIM) को सफलतापूर्वक छोड़ा। जापान का लक्ष्य चंद्रमा की सतह पर अपने लक्ष्य स्थल के 100 मीटर के दायरे में स्लिम को उतारना है। 10 करोड़ डॉलर के इस मिशन के फरवरी तक चांद पर पहुंचने की उम्मीद है। इस लॉन्च से दो सप्ताह पहले भारत चंद्रमा के दक्षिणी ध्रुव पर अपने चंद्रयान-3 मिशन के साथ चंद्रमा पर सफलतापूर्वक अंतरिक्ष यान उतारने वाला चौथा देश बन गया था। इससे पहले जापान द्वारा पिछले साल चंद्रमा पर उतरने के दो प्रयास विफल हो गए थे।