प्रधानमंत्री श्री नरेन्‍द्र मोदी और मॉरीशस के प्रधानमंत्री ने संयुक्त रूप से मॉरीशस के अगालेगा द्वीप पर नई हवाई पट्टी और एक जेट्टी का उद्घाटन किया

0
84

1 प्रधानमंत्री श्री नरेन्‍द्र मोदी और मॉरीशस के प्रधानमंत्री ने संयुक्त रूप से मॉरीशस के अगालेगा द्वीप पर नई हवाई पट्टी और एक जेट्टी का उद्घाटन किया

प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी और मॉरीशस के प्रधानमंत्री श्री प्रविंद जगन्‍नाथ ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से मॉरीशस के अगालेगा द्वीप में छह सामुदायिक विकास परियोजनाओं के साथ-साथ नई हवाई पट्टी और सेंट जेम्स जेट्टी का संयुक्त रूप से उद्घाटन किया। इन परियोजनाओं का उद्घाटन भारत और मॉरीशस के बीच मजबूत और दशकों पुरानी विकास साझेदारी का प्रमाण है, जिससे मुख्य भूमि मॉरीशस और अगालेगा के बीच बेहतर कनेक्टिविटी की मांग पूरी होगी, समुद्री सुरक्षा मजबूत होगी और सामाजिक-आर्थिक विकास को बढ़ावा मिलेगा। इन परियोजनाओं का उद्घाटन बहुत महत्वपूर्ण है, क्योंकि यह उद्घाटन अभी हाल में 12 फरवरी, 2024 को दोनों नेताओं द्वारा मॉरीशस में यूपीआई और रूपे कार्ड सेवाओं के लॉन्च के बाद हुआ है।

2 श्री भूपेन्द्र यादव ने भारत में तेंदुओं की स्थिति पर रिपोर्ट जारी की

केंद्रीय पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन मंत्री श्री भूपेन्द्र यादव ने 29 फरवरी, 2024 को नई दिल्ली में भारत में तेंदुओं की स्थिति पर रिपोर्ट जारी की। पांचवें चक्र में तेंदुओं की आबादी का अनुमान राष्ट्रीय बाघ संरक्षण प्राधिकरण और भारतीय वन्य जीव संस्थान द्वारा, राज्य वन विभागों के सहयोग से किया जा रहा है। चतुर्वर्षीय “बाघों की निगरानी, शिकारियों, शिकार और उनके आवास की निगरानी” अभ्यास के एक भाग के रूप में यह प्रयास किया गया था। इससे बाघ संरक्षण प्रयासों को गति मिली है। भारत में तेंदुओं की आबादी 13,874 (रेंज: 12,616 – 15,132) व्यक्ति होने का अनुमान है। यह 2018 में 12852 (12,172-13,535) व्यक्तियों के समान क्षेत्र की तुलना में स्थिर आबादी का प्रतिनिधित्व करती है। यह अनुमान तेंदुए के निवास स्थान की 70 प्रतिशत आबादी को दर्शाता है। इस अभ्यास में हिमालय और देश के अर्धशुष्क हिस्सों का नमूना नहीं लिया गया है, क्योंकि यह बाघों का निवास स्थान नहीं हैं। मध्य भारत में तेंदुओं की आबादी की स्थिर या थोड़ी बढ़ती दिखाई देती है (2018: 8071, 2022: 8820), शिवालिक पहाड़ियों और गंगा के मैदानी इलाकों में गिरावट देखी गई (2018: 1253, 2022: 1109)। यदि हम उस क्षेत्र को देखें जिसका पूरे भारत में 2018 और 2022 दोनों में नमूना लिया गया था, तो प्रतिवर्ष 1.08 प्रतिशत की वृद्धि हुई है। शिवालिक पहाड़ियों और गंगा के मैदानों में, प्रतिवर्ष -3.4 प्रतिशत की गिरावट हो रही है, जबकि सबसे बड़ी वृद्धि दर मध्य भारत और पूर्वी घाट में 1.5 प्रतिशत थी। देश में तेंदुओं की सर्वाधिक संख्या मध्यप्रदेश में है – 3907 (2018: 3421), इसके बाद महाराष्ट्र (2022: 1985; 2018: 1,690), कर्नाटक (2022: 1,879; 2018: 1,783) और तमिलनाडु (2022: 1,070;2018: 868) हैं। टाइगर रिजर्व या सबसे अधिक तेंदुए की आबादी वाले स्थल- आंध्रप्रदेश के श्रीशैलम में नागार्जुन सागर और इसके बाद मध्यप्रदेश में पन्ना और सतपुड़ा हैं।

3 इंडिया सेमीकंडक्टर मिशन के लिए लंबी छलांग: कैबिनेट ने तीन और सेमीकंडक्टर इकाइयां लगाने को मंजूरी दी

प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी की अध्यक्षता में केंद्रीय मंत्रिमंडल ने ‘भारत में सेमीकंडक्टर्स और डिस्प्ले मैन्युफैक्चरिंग इकोसिस्टम के विकास‘ के अंतर्गत तीन सेमीकंडक्टर इकाइयां लगाने को मंजूरी प्रदान की है। अगले 100 दिन के भीतर तीनों इकाइयों का निर्माण शुरू हो जाएगा। भारत में सेमीकंडक्टर्स और डिस्प्ले मैन्युफैक्चरिंग इकोसिस्टम के विकास का कार्यक्रम 21.12.2021 को कुल 76,000 करोड़ रुपये के परिव्यय के साथ अधिसूचित किया गया था। केंद्रीय मंत्रिमंडल ने जून, 2023 में गुजरात के साणंद में सेमीकंडक्टर इकाई लगाने के लिए माइक्रोन के प्रस्ताव को मंजूरी प्रदान की थी। स्वीकृत की गई तीन सेमीकंडक्टर इकाइयां हैं:

  1. टाटा इलेक्ट्रॉनिक्स प्राइवेट लिमिटेड (“टीईपीएल”) ताइवान की पावरचिप सेमीकंडक्टर मैन्युफैक्चरिंग कॉर्प (पीएसएमसी) के साथ साझेदारी में एक सेमीकंडक्टर फैब स्थापित करेगी। इस फैब का निर्माण गुजरात के धोलेरा में किया जाएगा।
  2. असम के मोरीगांव में टाटा सेमीकंडक्टर असेंबली एंड टेस्ट प्राइवेट लिमिटेड (“टीएसएटी”) एक सेमीकंडक्टर इकाई स्थापित करेगी।
  3. गुजरात के साणंद में सीजी पावर द्वारा रेनेसास इलेक्ट्रॉनिक्स कॉर्पोरेशनजापान और स्टार्स माइक्रोइलेक्ट्रॉनिक्स, थाईलैंड के साथ साझेदारी में एक सेमीकंडक्टर इकाई की स्थापना की जाएगी।

4 मंत्रिमंडल ने इंटरनेशनल बिग कैट एलायंस (आईबीसीए) की स्थापना को मंजूरी दी

प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी की अध्यक्षता में केन्द्रीय मंत्रिमंडल ने इंटरनेशनल बिग कैट एलायंस (आईबीसीए) की स्थापना को मंजूरी दे दी है। एलाएंस का मुख्यालय भारत में होगा और इसे 2023-24 से 2027-28 तक पांच वर्षों की अवधि के लिए 150 करोड़ रुपये की एकमुश्त बजटीय सहायता मिलेगी। प्रधानमंत्री ने बाघों, बड़ी बिल्ली परिवार की अन्य प्रजातियों तथा इसकी अनेक लुप्तप्राय प्रजातियों के संरक्षण में भारत की अग्रणी भूमिका को महत्त्व देते हुए, वैश्विक बाघ दिवस, 2019 के अवसर पर अपने भाषण में एशिया में अवैध शिकार को रोकने के लिए वैश्विक नेताओं के एलाएंस का आह्वान किया था। उन्होंने 9 अप्रैल, 2023 को भारत के प्रोजेक्ट टाइगर के 50 वर्ष पूरे होने के अवसर पर इसे दोहराया और औपचारिक रूप से एक इंटरनेशनल बिग कैट एलायंस प्रारंभ करने की घोषणा की थी, जिसका उद्देश्य बड़ी बिल्लियों और उनके द्वारा फूलने-फलने वाले परिदृश्यों के भविष्य को सुरक्षित बनाना है। भारत में विकसित अग्रणी और दीर्घकालिक बाघ और अन्य बाघ संरक्षण की श्रेष्ठ प्रथाओं को कई अन्य रेंज देशों में दोहराया जा सकता है। सात बिग कैट में बाघ, शेर, तेंदुआ, हिम तेंदुआ, प्यूमा, जगुआर और चीता आते हैं। इंटरनेशनल बिग कैट एलायंस की परिकल्पना 96 बिग कैट रेंज देशों, बिग कैट संरक्षण में रुचि रखने वाले गैर-रेंज देशों, संरक्षण भागीदारों तथा बिग कैट संरक्षण के क्षेत्र में काम करने वाले वैज्ञानिक संगठनों के बहु-देशीय, बहु-एजेंसी एलायंस के रूप में की गई है।

5 केन्द्रीय मंत्रिमंडल ने पीएम-सूर्य घर को मंजूरी दी: एक करोड़ घरों में छत पर सौर ऊर्जा स्थापित करने हेतु मुफ्त बिजली योजना

प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी की अध्यक्षता में केन्द्रीय मंत्रिमंडल ने छत पर सौर ऊर्जा स्थापित करने और एक करोड़ घरों के लिए हर महीने 300 यूनिट तक मुफ्त बिजली प्रदान करने हेतु 75,021 करोड़ रुपये के कुल परिव्यय के साथ पीएम-सूर्य घर: मुफ्त बिजली योजना को मंजूरी दे दी है। प्रधानमंत्री ने 13 फरवरी, 2024 को इस योजना की शुरुआत की थी। यह योजना 2 किलोवाट क्षमता वाली प्रणाली के लिए प्रणालीगत लागत के 60 प्रतिशत और 2 से 3 किलोवाट क्षमता वाली प्रणाली के लिए अतिरिक्त प्रणालीगत लागत के 40 प्रतिशत के बराबर सीएफए प्रदान करेगी। सीएफए को 3 किलोवाट पर सीमित किया जाएगा। मौजूदा मानक कीमतों पर, इसका आशय 1 किलोवाट क्षमता वाली प्रणाली के लिए 30,000 रुपये, 2 किलोवाट क्षमता वाली प्रणाली के लिए 60,000 रुपये और 3 किलोवाट या उससे अधिक वाली प्रणाली के लिए 78,000 रुपये की सब्सिडी से होगा। इस योजना में शामिल होने वाले परिवार राष्ट्रीय पोर्टल के माध्यम से सब्सिडी के लिए आवेदन करेंगे और छत पर सौर ऊर्जा स्थापित करने के लिए एक उपयुक्त विक्रेता का चयन करने में सक्षम होंगे। राष्ट्रीय पोर्टल स्थापित की जाने वाली प्रणाली के उचित आकार, लाभ की गणना, विक्रेता की रेटिंग आदि के बारे में प्रासंगिक जानकारी प्रदान करके परिवारों को उनकी निर्णय लेने की प्रक्रिया में सहायता प्रदान करेगा। इस योजना में शामिल होने वाले परिवार 3 किलोवाट तक के आवासीय आरटीएस प्रणाली की स्थापना हेतु वर्तमान में लगभग 7 प्रतिशत के गारंटी-मुक्त कम-ब्याज वाले ऋण का लाभ उठाने में सक्षम होंगे।

6 श्री धर्मेंद्र प्रधान ने “स्वयं प्लस प्लेटफॉर्म” लॉन्च किया

केंद्रीय शिक्षा, कौशल और उद्यमिता विकास मंत्री श्री धर्मेंद्र प्रधान ने नई दिल्ली में “स्वयं प्लस” प्लेटफॉर्म लॉन्च किया। लॉन्च इवेंट के दौरान स्वयं प्लस पर एक वीडियो भी चलाया गया। स्वयं और अपना टाइम टेक प्राइवेट लिमिटेड, एलएंडटी एजुकेशन टेक, टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज लिमिटेड, द जॉब प्लस एंड पीपल नेटवर्क, वाधवानी फाउंडेशन (कौशल विकास नेटवर्क), मिडोरिटी ऑनलाइन लिमिटेड, स्मार्ट ब्रिज एजुकेशनल सर्विसेज प्राइवेट लिमिटेड सहित उद्योग भागीदारों के बीच एक समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए गए। अनादि फाउंडेशन, 360 डिजी टीएमजी, और बलानी इन्फोटेक प्राइवेट लिमिटेड स्वयं प्लस में औद्योगिक पाठ्यक्रम शुरू करेंगे।

7 भारत ने क्रिश्चियन मेडिकल कॉलेज (सीएमसी) वेल्लोर में हीमोफिलिया ए (FVIII की कमी) के लिए जीन थेरेपी का पहला मानव नैदानिक ​​परीक्षण कर लिया है

भारत ने क्रिश्चियन मेडिकल कॉलेज (सीएमसी) वेल्लोर में हीमोफिलिया ए (FVIII की कमी) के लिए जीन उपचार (थेरेपी) का पहला मानव नैदानिक ​​परीक्षण कर लिया है। यह खुलासा केंद्रीय विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) डॉ. जितेंद्र सिंह ने विज्ञान भवन में “राष्ट्रीय विज्ञान दिवस 2024” कार्यक्रम को संबोधित करते हुए किया। यह कार्यक्रम जैव प्रौद्योगिकी विभाग (डिपार्टमेंट ऑफ़ बायोटेक्नोलॉजी-डीबीटी) के इनस्टेम (आईएनएसटीईएम) बेंगलुरु की एक इकाई के सेंटर फॉर स्टेम सेल रिसर्च, क्रिश्चियन मेडिकल कॉलेज (सीएमसी) , वेल्लोर में एमोरी यूनिवर्सिटी, संयुक्त राज्य अमेरिका (यूएसए) के सहयोग से समर्थित है। परीक्षणों में रोगी के स्वयं के हेमेटोपोएटिक स्टेम सेल में FVIII ट्रांसजीन को व्यक्त करने के लिए एक लेंटिवायरल वेक्टर का उपयोग करने की एक नई तकनीक का उपयोग करना शामिल था जो फिर विशिष्ट विभेदित रक्त कोशिकाओं (स्पेसिफिक डिफ़रेंशिएटेड ब्लड सेल्स) से FVIII को व्यक्त करेगा। मंत्री महोदय ने आशा व्यक्त की कि इस वेक्टर का विनिर्माण भारत में शीघ्र ही शुरू होगा और यह आगे के नैदानिक ​​परीक्षणों के साथ प्रगति करेगा।

8  वस्त्र अपशिष्ट एवं स्क्रैप से बने पुनर्प्रयोग योग्य (अपसाइकल) उत्पादों को बढ़ावा देने हेतु वस्त्र समिति, गवर्नमेंट ई-मार्केटप्लेस और लोक उद्यमों के स्थायी सम्मेलन के बीच ‘भारत टेक्स 2024’ के दौरान समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए गए

वस्त्र मंत्रालय के तहत वस्त्र समितिवाणिज्य एवं उद्योग मंत्रालय के गवर्नमेंट ई-मार्केटप्लेस (जीईएम) और लोक उद्यम विभाग के लोक उद्यमों के स्थायी सम्मेलन (स्कोप) द्वारा वस्त्र अपशिष्ट एवं स्क्रैप से बने पुनर्प्रयोग योग्य (अपसाइकल) उत्पादों को बढ़ावा देने के उद्देश्य से नई दिल्ली के प्रगति मैदान स्थित भारत मंडपम में चल रहे भारत के प्रमुख वैश्विक वस्त्र कार्यक्रम ‘भारत टेक्स 2024’ के दौरान एक त्रिपक्षीय समझौता ज्ञापन (एमओयू) पर हस्ताक्षर किए गए। अपसाइक्लिंग का अर्थ अनिवार्य रूप से वस्त्र अपशिष्ट एवं स्क्रैप को उनके जीवन चक्र को बढ़ाने हेतु उनका फिर से उपयोग करना है। अपसाइक्लिंग के माध्यम से, त्याग दी गई वस्तुओं को अधिक मूल्य और कार्यक्षमता वाले नए उत्पादों में बदल दिया जाता है। इन एमओयू के माध्यम से, जीईएम अपसाइक्लिंग के इकोसिस्टम में विभिन्न हितधारकों, विशेष रूप से कम सेवा वाले विक्रेता समूहों के साथ काम करेगा, ताकि मध्यस्थों के बिना उन्हें #VocalforlocalGeMआउटलेट स्टोर्स के माध्यम से सार्वजनिक खरीद को संभव बनाकर सीधे बाजार संपर्क प्रदान किया जा सके। ये स्टोर वस्त्र अपशिष्ट एवं स्क्रैप से बने पुनर्प्रयोग योग्य (अपसाइकल) उत्पादों को बढ़ावा देंगे।

9 पृथ्वी विज्ञान सचिव ने महासागर स्वास्थ्य और शासन पर पहली ‘ब्लू टॉक्स’ बैठक की सह-अध्यक्षता की

पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय (एमओईएस) ने आज नई दिल्ली में पहली ‘ब्लू टॉक्स‘ बैठक का आयोजन किया । इस बैठक में फ्रांस के दूतावास और भारत में कोस्टा रिका के दूतावास की सह-भागीदारी थी। सरकारी, शिक्षा जगत और अनुसंधान संस्थानों के 50 से अधिक प्रतिभागियों ने ‘महासागर स्वास्थ्य और शासन‘ से संबंधित मामलों पर व्यक्तिगत रूप से इस उच्च स्तरीय विचार-विमर्श को देखा। इस बैठक की सह-अध्यक्षता पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय (एमओईएस) के सचिव डॉ. एम. रविचंद्रन के साथ भारत में फ्रांस के राजदूत श्री थिएरी माथौ और कोस्टा रिका चार्जी डी’एफ़ेयर, सुश्री सोफिया सालास मोंगे ने संयुक्त रूप से की। यह बैठक 7-8 जून, 2024 को सैन जोस, कोस्टा रिका में होने वाले आगामी महासागर क्रिया पर उच्च-स्तरीय कार्यक्रम (हाई-लेवल इवेंट ऑन ओशन एक्शन-एचएलईओए) कार्यक्रम ‘इमर्स्ड इन चेंज’ का अग्रदूत है। बड़े परिप्रेक्ष्य में, ‘ एचएलईओए ‘ आगामी संयुक्त राष्ट्र महासागर सम्मेलन (युनाइटेड नेशंस ओसियन कांफ्रेंस – यूएनसीओ3) के लिए सिफारिशें और दृष्टिकोण एकत्र करने के लिए एक पूर्ववर्ती कार्यक्रम (प्रीकर्सर) है।

10 कैडेट प्रशिक्षण पोत का निर्माण

पहले कैडेट प्रशिक्षण पोत (यार्ड-18003) के निर्माण समारोह का आयोजन 29 फरवरी, 2024 को कट्टुपल्ली स्थित मेसर्स एलएंडटी शिपयार्ड में किया। इस समारोह की अध्यक्षता तमिलनाडु और पुडुचेरी क्षेत्र के फ्लैग अधिकारी आर एडमिरल रवि कुमार ढींगरा ने की। इस कार्यक्रम में एलएंडटी के पोत निर्माण व्यापार के प्रमुख एवीएसएम, वीएसएम (सेवानिवृत) आर एडमिरल जीके हरिश और भारतीय नौसेना व मेसर्स एलएंडटी के अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे। इससे पहले 7 मार्च, 2023 को रक्षा मंत्रालय और मेसर्स एलएंडटी के बीच तीन कैडेट प्रशिक्षण पोतों के स्वदेशी डिजाइन और निर्माण का अनुबंध किया गया था। इन कैडेट प्रशिक्षण पोतों का उपयोग तट पर बुनियादी प्रशिक्षण के बाद अधिकारी कैडेटों को समुद्र में प्रशिक्षण देने के लिए किया जाएगा। इसके अलावा ये पोत मित्र देशों के कैडेटों को प्रशिक्षण सुविधा भी प्रदान करेंगे।

11 गोला बारूद की सुविधा के साथ टारपीडो सह मिसाइल बार्ज नौका, एलएसएएम 18 (यार्ड 128) का ठाणे के मेसर्स सूर्यदिप्ता प्रोजेक्ट्स प्राइवेट लिमिटेड में जलावतरण किया गया

भारतीय नौसेना के लिए ठाणे के सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम शिपयार्ड, मेसर्स सूर्यदिप्ता प्रोजेक्ट्स प्राइवेट लिमिटेड द्वारा 11 एक्स एसीटीसीएम बार्ज परियोजना के तहत निर्मित चौथी बार्ज नौका, यानी कि ‘गोला बारूद की सुविधा के साथ टारपीडो सह मिसाइल बार्ज नौका, एलएसएएम 18‘ का जलावतरण 28 फरवरी 2024 को किया गया था। पोत निर्माण निदेशालय के कमांडर शिरीष दुबे ने नए जहाज को समुद्री जल में उतारने के समारोह की अध्यक्षता की। 11 एक्स एसीटीसीएम बार्ज नौकाओं के निर्माण के उद्देश्य हेतु आवश्यक अनुबंध पर रक्षा मंत्रालय और मेसर्स सूर्यदीप्त प्रोजेक्ट्स प्राइवेट लिमिटेड, ठाणे के बीच 05 मार्च 2021 को हस्ताक्षर किए गए थे।

12 जम्मू के कन्वेंशन सेंटर में ‘जेके यूथ कॉन्क्लेव 2024 का उद्घाटन

जम्मू-कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने जम्मू के कन्वेंशन सेंटर में ‘जेके यूथ कॉन्क्लेव 2024 का उद्घाटन किया और सूचना तथा जनसंपर्क विभाग की पहल ‘इंस्पायर जेनजेड‘ और ‘बीट्स ऑफ जेएंडके‘ के दूसरे संस्‍करण की शुरुआत की। यह सभी कार्यक्रम युवाओं को नई जानकारियों से लबरेज करने के लिए और उनमें नई उर्जा भरने के लिए तैयार हैं। इनमें प्रदेश के युवाओं की विविध प्रतिभाओं और क्षमताओं की झलक देखने को मिलेगी।

13  ‘10000 जीनोम’ परियोजना पूरी हो गई

जैव प्रौद्योगिकी विभाग (DBT) ने ‘10,000 जीनोम परियोजना’ के सफल समापन की घोषणा की है – जो भारत से हजारों व्यक्तिगत जीनोम को अनुक्रमित करने का एक प्रयास है। इस ऐतिहासिक परियोजना का उद्देश्य भारतीय आबादी के अनुरूप सटीक चिकित्सा और आनुवंशिक महामारी विज्ञान अध्ययन को सक्षम बनाना है। जबकि भारत ने 2006 में अपना पहला संपूर्ण मानव जीनोम अनुक्रमित किया था, विशेष रूप से भारत की जनसंख्या विविधता का प्रतिनिधित्व करने वाला एक बड़ा जीनोमिक डेटाबेस बनाने की आवश्यकता थी। ‘10,000 जीनोम प्रोजेक्ट’ की संकल्पना 2020 में राष्ट्रीय जैव प्रौद्योगिकी विकास रणनीति 2015-20 के तहत की गई थी। जीनोम अनुक्रमण 2021 में शुरू हुआ और अब डीबीटी की समयसीमा के अनुसार पूरा हो गया है। कुल मिलाकर, सभी 28 राज्यों और 9 केंद्र शासित प्रदेशों में 1014 भारतीय उप-आबादी और जनजातियों से संबंधित व्यक्तियों से 10,010 जीनोम अनुक्रमित किए गए थे। परियोजना को तीन प्रमुख संस्थानों – CSIR इंस्टीट्यूट ऑफ जीनोमिक्स एंड इंटीग्रेटिव बायोलॉजी (IGIB), नई दिल्ली, भोपाल में IISER रीजनल सेंटर फॉर जीनोमिक टेक्नोलॉजीज (RCGT), और जीवन विज्ञान संस्थान (ILS), भुवनेश्वर के नेतृत्व में हब-एंड-स्पोक मॉडल का उपयोग करके कार्यान्वित किया गया था।

14 रिलायंस और डिज़्नी ने संयुक्त उद्यम बनाया

29 फरवरी 2024 को, रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (RIL)वायाकॉम18 मीडिया प्राइवेट लिमिटेड और द वॉल्ट डिज़नी कंपनी ने भारत की सबसे बड़ी टीवी और स्ट्रीमिंग फर्मों में से एक बनाने के लिए समझौते पर हस्ताक्षर किए। संयुक्त उद्यम ने देश के डिजिटल मनोरंजन क्षेत्र में तेजी से विकास को लक्षित करने के लिए डिज़्नी के स्टार इंडिया के साथ Viacom18 का विलय किया है। बाध्यकारी समझौते के अनुसार, Viacom18 में बहुमत हिस्सेदारी वाली RIL की सहायक कंपनी TV18 ब्रॉडकास्ट लिमिटेड, डिज्नी को एक रणनीतिक निवेशक के रूप में शामिल करेगी। यह डिज़्नी के भारतीय मीडिया हब – स्टार इंडिया प्राइवेट लिमिटेड के साथ Viacom18 के विलय के माध्यम से हासिल किया जाएगा।

15 RBI ने साइबर हमले के वेक्टर “जूस जैकिंग” से संभावित धोखाधड़ी के जोखिम के बारे में आगाह किया

भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने हाल ही में मोबाइल फोन उपयोगकर्ताओं को सार्वजनिक स्थानों पर उपलब्ध यूएसबी पोर्ट के माध्यम से अपने उपकरणों को चार्ज करने पर साइबर हमले के वेक्टर “जूस जैकिंग” से संभावित धोखाधड़ी के जोखिम के बारे में आगाह किया है। संवेदनशील उपयोगकर्ता डेटा चुराने के लिए हैकर्स द्वारा ऐसे पोर्ट के साथ छेड़छाड़ की बढ़ती रिपोर्टों के साथ, आरबीआई की सलाह का उद्देश्य लोगों के बीच अपने वित्त और गोपनीयता की सुरक्षा के लिए आवश्यक सावधानी बरतने के लिए जागरूकता फैलाना है।

16 नामीबिया के जान निकोल लॉफ्टी-ईटन ने जड़ा सबसे तेज़ शतक

नामीबिया के जान निकोल लॉफ्टी-ईटन ने टी20 इंटरनेशनल में सबसे तेज़ शतक लगाने का कारनामा कर दिया। जान निकोल लॉफ्टी-ईटन ने नेपाल के खिलाफ खेले गए मुकाबले में 33 गेंदों में अपना शतक पूरा कर लिया था। वहीं इससे पहले नेपाल के कुशल मल्ला ने 34 गेंदों में सेंचुरी जड़ने का रिकॉर्ड कायम किया था, जो अब टूट चुका है। जान निकोल लॉफ्टी-ईटन ने 36 गेंदों में 101 रनों की पारी खेली, जिसमें उन्होंने 11 चौके और 8 छक्के जड़े।