भारतीय रेलवे ने ऑक्सीजन एक्सप्रेस (Oxygen Express) शुरू की

0
39

1. विश्व प्रेस स्वतंत्रता सूचकांक, 2021

गैर-लाभकारी संगठन रिपोर्टर्स विदाउट बॉर्डर्स ने हाल ही में वर्ल्ड प्रेस फ्रीडम इंडेक्स, 2021 (World Press Freedom Index, 2021) प्रकाशित किया था। इसने 180 देशों को रैंक किया है। इस सूचकांक में भारत 142वें स्थान पर है। भारत 2020 में भी इसी स्थान पर था। नॉर्वे इस सूचकांक में सबसे ऊपर है, इसके बाद फिनलैंड और डेनमार्क का स्थान है।नॉर्वे 2020 में भी इस सूचकांक में सबसे ऊपर था।इरीट्रिया को इंडेक्स में आखिरी रैंक मिला है।चीन 180 देशों में से 177वें स्थान पर रहा । उत्तर कोरिया 179वें और तुर्कमेनिस्तान 178वें स्थान पर था। 2016 में भारत 133वें स्थान पर था और तब से वह फिसल रहा है। भारतीय पड़ोस में, श्रीलंका 127वें स्थान पर, नेपाल 106वें स्थान पर, म्यांमार 140वें स्थान पर, बांग्लादेश 152वें स्थान पर और पाकिस्तान 145वें स्थान पर है।

  1. श्री पीयूष गोयल ने स्टार्टअप इंडिया सीड फंड योजना की शुरूआत की

रेल, वाणिज्य एवं उद्योग और उपभोक्ता मामले, खाद्य एवं सार्वजनिक वितरण मंत्री, श्री पीयूष गोयल द्वारा स्टार्टअप इंडिया सीड फंड योजना (एसआईएसएफएस) की शुरूआत की गई। इस फंड का उद्देश्य स्टार्टअप्स की अवधारणा, प्रोटोटाइप विकास, उत्पाद परीक्षणों, बाजार में प्रवेश और व्यावसायीकरण के प्रमाणीकरण को वित्तीय सहायता प्रदान करना है। इस योजना की घोषणा प्रधानमंत्री, श्री नरेंद्र मोदी द्वारा 16 जनवरी, 2021 को स्टार्टअप इंडिया पहल के 5 वर्ष पूरा होने के उपलक्ष्य को चिह्नित करने के लिए किए आयोजित हुए ‘प्रारंभ: स्टार्टअप इंडिया इंटरनेशनल समिट’ के भव्य संबोधन में की गई थी। पूरे भारतवर्ष में पात्र इनक्यूबेटरों के माध्यम से पात्र स्टार्टअप्स को बीज का वित्तपोषण प्रदान करने के लिए 945 करोड़ की राशि का विभाजन अगले 4 वर्षों में किया जाएगा। इस योजना में 300 इनक्यूबेटर के माध्यम से अनुमानित रूप से 3,600 स्टार्टअप्स को सहायता प्रदान करने की संभावना है।

  1. हेनले पासपोर्ट इंडेक्स 2021 जारी

COVID -19 के बढ़ते मामलों और विदेश यात्रा पर प्रतिबंध के बीच, जब कई देश सबसे ज्यादा प्रभावित देशों से व्यक्तियों पर प्रतिबंध लगा रहे हैं, तो 17 अप्रैल को हेनले पासपोर्ट इंडेक्स (Henley Passport Index) ने सबसे शक्तिशाली पासपोर्ट की अपनी सूची जारी की। ​भारत सूची में 84 वें स्थान पर है, क्योंकि भारतीय नागरिक 58 से अधिक स्थानों पर वीज़ा-मुक्त या वीज़ा-ऑन-अराइवल यात्रा कर सकते हैं। जापान, सिंगापुर और जर्मनी, दक्षिण कोरिया क्रमशः शीर्ष 3 में हैं। हेनले पासपोर्ट इंडेक्स सूची जारी करता है, जिसमें दुनिया के सबसे अधिक यात्रा के अनुकूल पासपोर्ट को मापता है। सूचकांक उन देशों के आधार पर रैंक करता है कि उनका पासपोर्ट कितना मजबूत है।

  1. मिगुएल डियाज कैनेल क्यूबा के नए राष्ट्रपति होंगे

मिगेल डियाज कैनेल, राउल कास्त्रो की जगह क्यूबा के नए राष्ट्रपति होंगे। वे क्यूबा की कम्युनिस्ट पार्टी के प्रथम सचिव बनेंगे, जो देश में सबसे शक्तिशाली पद है। श्री मिगेल डियाज कैनेल 1959 की क्रांति के बाद, कास्त्रो उपनाम के बिना, क्यूबा का राष्ट्रपति बनने वाले पहले व्यक्ति होंगे। डियाज कैनेल, फिदेल कास्त्रो और राउल कास्त्रो के वफादार और उनके आर्थिक मॉडल के समर्थक रहे हैं।

  1. पिछले 12 महीनों में दो भारतीय वयस्कों में से एक ने साइबर अपराध का अनुभव किया

NortonLifeLock ने हाल ही में “2021 Norton cyber–Safety Insights Report” शीर्षक से एक रिपोर्ट जारी की है। 59% भारतीय, यानी देश के दो वयस्कों में से एक ने पिछले 12 महीनों में साइबर अपराध का अनुभव किया है।इस रिपोर्ट के अनुसार 10 में से 7 भारतीय वयस्कों का मानना ​​है कि COVID-19 द्वारा बनाए गए दूरस्थ कार्य वातावरण (remote work atmosphere) ने हैकर्स और साइबर अपराधियों के लिए रास्ता आसान बना दिया है।भारत में लगभग 52% वयस्कों को पता नहीं है कि साइबर क्राइम से खुद को कैसे बचाया जाए।27 मिलियन भारतीय वयस्कों ने पहचान की चोरी होने का अनुभव किया है।ऑनलाइन लेनदेन का उपयोग करने वाले 90% उपभोक्ता अपने डेटा की सुरक्षा के लिए सक्रिय कदम उठा रहे हैं।42% का मानना ​​है कि उनकी गोपनीयता की रक्षा करना असंभव है।66% लोगों का मानना है कि वे COVID-19 के कारण साइबर अपराधों के लिए अधिक असुरक्षित हैं।52% साइबर अपराध पीड़ितों ने मदद के लिए अपने दोस्तों की ओर रुख किया और 47% ने मुद्दों को सुलझाने के लिए कंपनी से संपर्क किया।भारत में होने वाले कुल साइबर अपराधों में से, 2020 में 14% अपराध हुए।2020-21 में 27 करोड़ से अधिक वयस्कों को पहचान के चोरी होने का सामना करना पड़ा है।

  1. इज़राइल ने 2050 तक 80% ग्रीन हाउस गैस उत्सर्जन को कम करने की राष्ट्रीय योजना प्रस्तुत की

इजराइल के ऊर्जा मंत्रालय ने हाल ही में 2015 की तुलना में 2050 तक ग्रीनहाउस गैस उत्सर्जन में 80% की कमी लाने के लिए एक राष्ट्रीय योजना की घोषणा की। इस योजना का लक्ष्य 2025 तक सभी कोयला-आधारित बिजली संयंत्रों को बंद करना है।इसका लक्ष्य 2050 तक बिजली क्षेत्र में ग्रीनहाउस गैस उत्सर्जन को 75% से 85% तक कम करना है।यह देश में अक्षय ऊर्जा के उत्पादन को बढ़ाएगा।इस योजना को नवीन तकनीकों के विकास, इलेक्ट्रिक वाहनों के उपयोग, घरों में ऊर्जा के उपयोग में परिवर्तन और पावर ग्रिड में सुधार के माध्यम से लागू किया जायेगा। इस योजना का लक्ष्य मौजूदा स्तर की तुलना में 2030 तक देश में 25% बसों और वाहनों को शून्य उत्सर्जन बनाना होगा।साथ ही, यह भारी ट्रकों के 10% को कम करने के लिए काम करेगा, विशेष रूप से उन ट्रकों का वजन 5 टन से कम है।यह सार्वजनिक परिवहन हब को अपनाने के लिए घरों और व्यवसायों को निर्देशित करेगा।शहर के डाउनटाउन क्षेत्रों को कारों के लिए बंद किया जायेगा।केवल उन वाहनों को जो प्रदूषण नहीं करते हैं, इन क्षेत्रों में अनुमति दी जाएगी।लक्ष्य हासिल करने के लिए इजराइल सौर और हाइड्रोजन ऊर्जा को बढ़ावा देगा।

  1. स्वदेश निर्मित आईएनएएस 323 को गोवा में एएलएच एमके III की पहली इकाई के रूप में नौसेना में किया गया शामिल

स्वदेश निर्मित एएलएच एमके III हेलीकॉप्टर की पहली इकाई भारतीय नौसेना एयर स्क्वाड्रन (आईएनएएस) 323 को दिनांक 19 अप्रैल, 21 को आईएनएस हंसा गोवा में माननीय रक्षा राज्य मंत्री श्री श्रीपाद नाइक और पश्चिमी नौसेना कमान के फ्लैग ऑफिसर कमांडिंग-इन-चीफ वाइस एडमिरल आर हरि कुमार की उपस्थिति में भारतीय नौसेना में कमीशन किया गया। यह स्क्वाड्रन हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड (एचएएल) द्वारा निर्मित शक्ति इंजन के साथ तीन अत्याधुनिक मल्टीरोल हेलीकाप्टर एएलएच एमके III का संचालन करेगी। एएलएच के एमके III संस्करण में सभी ग्लास कॉकपिट हैं और इसका उपयोग खोज और बचाव, विशेष अभियानों और तटीय निगरानी के लिए किया जाएगा। 16 एयरक्राफ्ट की खरीद चल रही है और इनको चरणबद्ध तरीके से भारतीय नौसेना को सौंपा जा रहा है ।आईएनएएस 323 की कमान कमांडर समिक नंदी के पास है जो एक व्यापक परिचालन अनुभव वाले निपुण और अनुभवी एएलएच पायलट हैं ।

  1. भूमि युद्ध अध्ययन केंद्र (सीएलएडब्ल्यूएस) ने सेना अधिकारियों के लिए पीएचडी कार्यक्रम की शुरुआत की

भारतीय सेना के संरक्षण के तहत एक स्वायत्त थिंक टैंक भूमि युद्ध अध्ययन केंद्र (सीएलएडब्ल्यूएस) ने मणिपाल एकेडमी ऑफ हायर एजुकेशन (एमएएचई), मंगलौर के साथ सेना अधिकारियों के लिए पीएचडी कार्यक्रम संचालित करने को लेकर एक संयुक्त पहल की स्थापना की है। मणिपाल एकेडमी ऑफ हायर एजुकेशन को पहले मणिपाल विश्वविद्यालय के नाम से जाना जाता था। सीएलएडब्ल्यूएस ने अधिकारियों की व्यावसायिक सैन्य शिक्षा (पीएमई) को आगे और बढ़ाने के लिए यह पहल की है। यह संबंधित क्षेत्रों में गहन ज्ञान से युक्त सैन्य नेताओं के साथ देश को लाभान्वित करेगा। इस पहल के तहत सीएलएडब्ल्यूएस को एमएएचई के उप-केंद्र के रूप में मान्यता दी गई है, जिससे सीएलएडब्ल्यूएस संकायों में से पांच सह-पर्यवेक्षक के रूप में काम करेंगे। इसके अलावा सीएलएडब्ल्यूएस यूजीसी एवं एमएएचई के दिशानिर्देशों के अनुरूप चयन प्रक्रिया शुरू करेगा और अनिवार्य अनुसंधान पद्धति कक्षाओं का संचालन करेगा।

  1. भारत और जर्मनी ने ‘समुद्री पर्यावरण में प्रवेश कर रहे प्लास्टिक कचरे की समस्‍या का सामना कर रहे शहरों’ के बारे में एक समझौते पर हस्ताक्षर किए

आवास और शहरी कार्य मंत्रालय (एमओएचयूए), भारत सरकार और जर्मन संघीय पर्यावरण मंत्रालय, प्रकृति संरक्षण और परमाणु सुरक्षा की ओर से डोयशे श्ल्सचैफ्ट फर इंटरनेशनेल जुसाममेनारबीत (जीआईजैड) जीएमबीएच इंडिया ने तकनीकी सहयोग के बारे में आज एक वर्चुअल समारोह में नई दिल्ली में एक समझौते पर हस्ताक्षर किए, जिसका शीर्षक है ‘प्‍लास्टिक जिससे शहर लड़ रहे हैं वह समुद्री पर्यावरण में प्रवेश कर रहा’ है। इस परियोजना की परिकल्पना भारत और जर्मनी गणराज्‍य के बीच ‘समुद्री कचरे की रोकथाम’ के क्षेत्र में सहयोग के उद्देश्‍य से संयुक्त घोषणापत्र की रूपरेखा के तहत 2019 में की गई। समुद्री पर्यावरण में प्‍लास्टिक को रोकने की व्‍यवस्‍था बढ़ाने के उद्देश्‍य से इसपरियोजना कोराष्ट्रीय स्तर (एमओएचयूएपर), चुनिंदा राज्यों (उत्तर प्रदेश, केरल और अंडमान और निकोबार द्वीप समूह) और कानपुर, कोच्चि और पोर्ट ब्लेयर शहरों में साढ़े तीन साल की अवधि के लिए चालू किया जाएगा।

  1. जल जीवन मिशन : 2022 तक पंजाब ‘हर घर जल’ वाला राज्य बनेगा

पंजाब ने अपनी ‘जल जीवन मिशन’ वार्षिक कार्ययोजना वीडियो कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से प्रस्तुत की। कार्ययोजना प्रस्तुत करने के दौरान पंजाब ने राज्य की इस प्रतिबद्धता को दोहराया कि वह तय योजना के अनुसार 2022 तक ‘हर घर जल’ के लक्ष्य को हांसिल कर लेगा। पंजाब में 34.73 लाख ग्रामीण परिवार हैं, जिनमें से 25.88 लाख (74.5 प्रतिशत) को नल कनैक्शन से पानी की आपूर्ति होती है। 2021-22 में, राज्य की योजना 8.87 लाख नल कनैक्शन मुहैया करा कर हर एक ग्रामीण परिवार को नल कनैक्शन प्रदान करने की है। पंजाब में 1,634 बस्तियां ऐसी हैं जहां का जल आर्सेनिक,फ्लोराइड और अन्य प्रकार के प्रदूषकों से प्रदूषित है। इनमें से 558 बस्तियों में राज्य सरकार ने काम शुरू कर दिया है, शेष सभी जल गुणवत्ता प्रभावित बस्तियों में अल्पकालिक उपाय के तौर पर राज्य सरकार पीने योग्य पानी मुहैया कराएगी।

  1. डिजिटल भुगतान संभालने के लिए LIC ने की पेटीएम के साथ साझेदारी

राज्य द्वारा संचालित भारतीय जीवन बीमा निगम (LIC) ने अपने डिजिटल भुगतान को सुविधाजनक बनाने के लिए घरेलू भुगतान कंपनी पेटीएम (Paytm) की नियुक्ति की है। पहले एक अन्य भुगतान गेटवे के साथ टाई-अप करने के बाद, देश के सबसे बड़े जीवन बीमाकर्ता ने एक नया सौदा किया है क्योंकि इसके अधिकांश भुगतान डिजिटल मोड में चले गए हैं। नए समझौते के लिए एक आसान भुगतान प्रक्रिया, भुगतान विकल्पों की एक विस्तृत श्रृंखला और भुगतान चैनलों में अधिक खिलाड़ियों (पर्स, बैंक आदि) की आवश्यकता होती है। ​LIC ने COVID-19 महामारी के बाद ई-पेमेंट में उतार-चढ़ाव देखा है। PSU बीमाकर्ता डिजिटल मोड के माध्यम से 60,000 करोड़ रुपये का प्रीमियम जमा करता है, जिसमें बैंकों के माध्यम से किए गए भुगतान शामिल नहीं होते हैं।

  1. भारतीय रेलवे ने ऑक्सीजन एक्सप्रेस (Oxygen Express) शुरू की

रेल मंत्रालय ने हाल ही में घोषणा की कि ऑक्सीजन एक्सप्रेस ट्रेनों की तेज आवाजाही सुनिश्चित करने के लिए ग्रीन कॉरिडोर बनाया जायेगा। ऑक्सीजन की कमी के मुद्दे से निपटने में देश की मदद के लिए इन ऑक्सीजन एक्सप्रेस ट्रेनों का संचालन किया जायेगा। भारतीय रेलवे बोईसर (Boisar) और कालांबोली (Kalamboli) रेलवे स्टेशनों से खाली टैंकरों को स्थानांतरित करेगा। वे मुंबई के पास स्थित हैं। इन टैंकरों को मेडिकल ऑक्सीजन लोड करने के लिए जमशेदपुर, विजाग, बोकारो और राउरकेला भेजा जायेगा। COVID-19 डबल म्युटेंट संस्करण के कारण, देश में COVID-19 संक्रमणों की संख्या में वृद्धि होने लगी है। इसके साथ, भारत अमेरिका के बाद दुनिया में दूसरा सबसे ज्यादा COVID -19 संक्रमित देश बन गया। और इसके कारण ऑक्सीजन की मांग में वृद्धि हुई है।

  1. बच्चों की नई पुस्तक द क्रिसमस पिग‘: जे. के. रोलिंग अक्टूबर में होगी रिलीज़

इस शरद ऋतु में जेके राउलिंग (JK Rowling) की एक नई किताब आने वाली है, जिसमें सभी नए पात्रों के साथ बच्चों की उत्सव सम्बन्धी कहानी है। कहानी जैक नाम के एक लड़के और उसके खिलौने डर पिग की है, जो क्रिसमस की पूर्व संध्या पर लापता हो जाता है। यह पुस्तक दुनिया भर में 12 अक्टूबर को रिलीज़ होने वाली है।”द क्रिसमस पिग (The Christmas Pig)” हैरी पॉटर के बाद से राउलिंग का पहला बच्चों का उपन्यास है।

  1. फ्रांस ने “इकोसाइड” को अपराध बनाने वाले बिल को मंजूरी दी

फ्रांसीसी नेशनल असेंबली ने हाल ही में “इकोसाइड” को अपराध बनाने वाले बिल को मंजूरी दी। इस कानून के तहत, अपराधियों के लिए दस साल की जेल और 5 मिलियन यूरो (यानी 5.4 मिलियन अमरीकी डॉलर) जुर्माने का प्रावधान है। यह कानून मुख्य रूप से उन लोगों को दंडित करेगा जो पर्यावरण को खतरे में डालते हैं या प्रदूषण सम्बन्धी अपराध करते हैं। ऐसे व्यक्तियों को तीन साल की जेल और 3,00,000 यूरो का जुर्माना होगा। अप्रैल 2015 में, फ्रांसीसी राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रोन ने जलवायु के लिए नागरिक सम्मेलन (Citizens Convention for Climate) के निर्माण की घोषणा की थी। इस सम्मेलन का उद्देश्य 1990 के स्तर की तुलना में ग्रीन हाउस गैस उत्सर्जन को 40% तक कम करना था। इस कन्वेंशन ने इकोसाइड को एक अपराध बनाने के विचार का प्रस्ताव दिया। इकोसाइड के खिलाफ एक कानून बनाने के अलावा, लगभग 149 प्रस्ताव इस सम्मेलन में किए गए थे। इस कन्वेंशन को जिलेट जॉन्स क्राइसिस (Gillet Jaunes Crisis) के परिणाम के रूप में लॉन्च किया गया था। इसे येलो वेस्ट मूवमेंट भी कहा जाता है।

  1. टेबल माउंटेन नेशनल पार्क में आग तेजी से फ़ैल रही है

टेबल माउंटेन नेशनल पार्क दक्षिण अफ्रीका के केप टाउन में स्थित है। हाल ही में, इस पार्क में आग लग गई और तेजी से फ़ैल रही है। इस आग को बुझाने के लिए क्षेत्र में 200 से अधिक अग्निशमन दल तैनात किए गए हैं। इस राष्ट्रीय उद्यान में दो सबसे महत्वपूर्ण स्थल टेबल माउंटेन (Table Mountains) और केप ऑफ गुड होप (Cape of Good Hope) हैं। केप अगुलहास (Cape Agulhas) अफ्रीका का दक्षिणी सिरा है।

  1. इंडियन जंपिंग आंट अपने मस्तिष्क को लगभग 20 प्रतिशत तक कम कर सकती है

हाल ही में वैज्ञानिकों ने पाया है कि ‘इंडियन जंपिंग आंट’ अपने शरीर को प्रजनन के लिये तैयार करने हेतु अपने मस्तिष्क को लगभग 20 प्रतिशत तक कम कर सकती है, और प्रजनन के बाद हफ्तों के भीतर अपने मस्तिष्क के आकार को पुनः बढ़ा सकती है। मधुमक्खियों समेत कुछ अन्य कीटों में केवल अपने मस्तिष्क के आकार को बढ़ाने की क्षमता पाई जाती है, किंतु ‘इंडियन जंपिंग आंट’ ऐसे पहले कीट हैं जिनमें अपने मस्तिष्क के आकार को बढ़ाने के साथ-साथ घटाने की भी क्षमता है। भारत के मैदानी इलाकों में पाई जाने वाली ‘इंडियन जंपिंग आंट’ (वैज्ञानिक नाम: हार्पेग्नाथोस सॉल्टेटर) एक बड़ी आँखों वाली चींटी होती है, जिसमें तकरीबन चार इंच तक कूदने/ छलांग लगाने की अद्भुत क्षमता होती है, साथ ही इसमें अपने आकार से दोगुने आकार के जीव का शिकार करने की भी क्षमता होती है।

  1. डिस्क-फुटेड बैट को मेघालय में पास देखा गया

हाल ही में भारत का पहला बाँस के वृक्षों पर रहने और चिपचिपे डिस्क (पंजों का आंतरिक हिस्सा) वाले चमगादड़ को मेघालय के नोंगखिल्लेम वन्यजीव अभयारण्य (Nongkhyllem Wildlife Sanctuary) के पास देखा गया। चमगादड़ की यूडिसकोपस डेंटिकुलस (Eudiscopus denticulus) प्रजाति, जिसे डिस्क-फुटेड बैट (Disk-Footed Bat) भी कहा जाता है, अँगूठे और चमकीले नारंगी रंग में प्रमुख डिस्क जैसे गद्दी (Pad) के साथ दिखने में बहुत विशिष्ट लगते हैं।इसे बाँस के तना के आंतरिक भाग में पाया गया है।यह प्रजाति दक्षिणी चीन, वियतनाम, थाईलैंड और म्याँमार के कुछ इलाकों में पाई जाती है।यह अपने नज़दीकी निवास स्थान म्याँमार से लगभग 1,000 किमी. पश्चिम में मेघालय में नोंगखिल्लेम वन्यजीव अभयारण्य के निकट लाईलाड क्षेत्र (Lailad area) में देखी गई है।

  1. टायरानोसोरस रेक्स की कुल संख्या 2.5 अरब से भी ज्यादा थी : अध्ययन

कैलिफोर्निया विश्वविद्यालय में एक नए अध्ययन के अनुसार पृथ्वी पर कुल 2.5 बिलियन से अधिक टायरानोसोरस रेक्स निवास करते थे। डायनासोर की संख्या की गणना शरीर के आकार और यौन परिपक्वता के आधार पर की गई थी। ये डायनासोर 1,27,000 से अधिक पीढ़ियों तक थे। हालांकि इनका जनसंख्या घनत्व कम था। एक शहर जितने बड़े क्षेत्र में संभवतः दो डायनासोर रहते थे । इस अध्ययन ने वैज्ञानिकों को टायरानोसोरस रेक्स जीवाश्मों के संरक्षण की दर निर्धारित करने में मदद की। अब तक पृथ्वी पर टी रेक्स के 100 जीवाश्म पाए गए हैं।

  1. 1 मई से 18 साल से ऊपर के सभी लोगों का टीकाकरण शुरू किया जायेगा

1 मई, 2021 से 18 वर्ष से अधिक आयु के सभी लोगों के लिए कोविड-19 टीकाकरण शुरू हो जायेगा। फ़िलहाल, वर्तमान में 45 वर्ष से ऊपर की आयु के लोगों का टीकाकरण किया जा रहा है। टीकाकरण अभियान सभी 10,000 सरकारी अस्पतालों में मुफ्त चलेगा। लेकिन लाभार्थी को 20,000 निजी टीकाकरण केंद्रों पर अपना टीकाकरण कराने के लिए भुगतान करना होगा। स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा अभी तक टीकों का शुल्क तय नहीं किया गया है। कोविड-19 टीकाकरण अभियान का पहला चरण 16 जनवरी, 2021 को शुरू किया गया था। यह अभियान पूरे देश में 3006 टीकाकरण केंद्रों पर शुरू किया गया था। पहले चरण में केवल स्वास्थ्य कर्मियों और फ्रंटलाइन श्रमिकों का टीकाकरण शुरू किया गया था।

  1. केवल 3% भूमि पर अभी तक मानव हस्तक्षेप नहीं : अध्ययन

कैम्ब्रिज के प्रमुख जैव विविधता क्षेत्र सचिवालय के शोधकर्ताओं ने पृथ्वी पर “अक्षुण्ण प्राकृतिक आवास” (Intact Habitat) की मात्रा का पता लगाया है। एक अक्षुण्ण आवास वह क्षेत्र है जहाँ मानव गतिविधि का कोई संकेत नहीं होता। हालांकि, इस अध्ययन में “इंटैक्ट हैबिटेट” को परिभाषित करने के लिए एक अतिरिक्त कारक शामिल किया गया है, जो कि इन क्षेत्रों में 500 से बरक़रार पौधे और पशु जीवन है। यह व्यापक रूप से स्वीकार किया जाता है कि अक्षुण्ण आवास लगातार नष्ट हो रहे हैं। हालांकि, इस अध्ययन में पाया गया है कि अक्षुण्ण आवासों में प्रजातियां आक्रामक प्रजातियों या बीमारियों के कारण समाप्त रही हैं। इसका तात्पर्य है कि अक्षुण्ण आवास मानव गतिविधियों के बिना भी खतरों का सामना कर रहे हैं। कार्यात्मक रूप से अक्षुण्ण क्षेत्र उत्तरी कनाडा, बोरेल, कांगो बेसिन अमेज़ॅन, सहारा रेगिस्तान, टुंड्रा बायोम, पूर्वी साइबेरिया हैं। पहले यह दावा किया गया था कि पृथ्वी का 40% हिस्सा मानव गतिविधियों से मुक्त है। हालांकि, इस अध्ययन कहता है कि यह क्षेत्र मात्र 3% है।

  1. ARCs की व्यावहारिक समीक्षा के लिए RBI ने किया समिति का गठन

भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने वित्तीय क्षेत्र के पारिस्थितिकी तंत्र में एसेट रिकंस्ट्रक्शन कंपनियों (ARCs) के कामकाज की व्यापक समीक्षा करने के लिए छह सदस्यीय पैनल का गठन किया है। पैनल की अध्यक्षता भारतीय रिजर्व बैंक के पूर्व कार्यकारी निदेशक, सुदर्शन सेन (Sudarshan Sen) करेंगे।

  1. व्यापार सुधार उपायों के तहत क्षेत्र में सहयोग तंत्र स्थापित करने के लिए भारत और बांग्लादेश के बीच समझौता ज्ञापन

प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी की अध्यक्षता में मंत्रिमंडल ने व्यापार उपचार महानिदेशालय, भारत और बांग्लादेश व्यापार शुल्क आयोग, पीपुल्स रिपब्लिक ऑफ बांग्लादेश के बीच 27 मार्च, 2021 को ढाका में व्यापार उपचार उपायों के क्षेत्र में सहयोग का तंत्र विकसित करने के लिए हुए समझौता ज्ञापन (एमओयू) को पूर्व प्रभाव से स्वीकृति दे दी है। इस समझौता ज्ञापन का प्राथमिक उद्देश्य व्यापार उपचार में दोनों देशों के बीच सहयोग को प्रोत्साहन देना, सूचना के आदान-प्रदान से संबंधित व्यापक गतिविधियों को शामिल करना, भारत और बांग्लादेश के बीच द्विपक्षीय व्यापार में, एंटी डम्पिंग, काउंटवेलिंग और सुरक्षा उपायों के क्षेत्र में विश्व व्यापार संगठन के विभिन्न प्रावधानों के अनुरूप क्षमता निर्माण गतिविधियों का संचालन करना है।

  1. मंत्रिमंडल ने द इंस्टीट्यूट ऑफ चार्टर्ड एकाउंटेंट्स ऑफ इंडिया और चार्टर्ड एकाउंटेंट्स ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड के बीच समझौता ज्ञापन को मंजूरी दी

प्रधानमंत्री श्री नरेन्‍द्र मोदी की अध्यक्षता में मंत्रिमंडल ने द इंस्टीट्यूट ऑफ चार्टर्डएकाउंटेंट्स ऑफ इंडिया(आईसीएआई) और चार्टर्ड एकाउंटेंट्स ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड (सीए एएनजैड) के बीच एक नए समझौता ज्ञापन (एमओयू) को मंजूरी दे दी है। एमआरएसदस्यों, छात्रों और उनके संगठनों के हित में आपसी लाभ के संबंध विकसित करने का इरादा रखता है और उम्‍मीद है कि वह आईसीएआईसदस्यों को अपनी पेशेवर सीमा का विस्तार करने और दो लेखा संस्थानों के बीच कामकाजी संबंधों को बढ़ावा देने का अवसर प्रदान करेगा। दो लेखा संस्थानों के पास वैश्विक परिवेश में पेशे के सामने नई चुनौतियों का सामना करने में नेतृत्व की भूमिका निभाने का अवसर होगा। दोनों संस्थानों के बीच जुड़ाव के परिणामस्वरूप भारतीय चार्टर्ड अकाउंटेंटों के लिए रोजगार के अधिक से अधिक अवसर पैदा हुए हैं और साथ ही बहुत से भारत वापस आए भी हैं।

  1. मंत्रिमंडल ने बैंगलोर मेट्रो रेल परियोजना के चरण 2ए और चरण 2बी को मंजूरी दी

प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी की अध्यक्षता में केंद्रीय मंत्रिमंडल ने बैंगलोर मेट्रो रेल परियोजना के कुल 58.19 किलोमीटर लंबे चरण 2ए (सेंट्रल सिल्क बोर्ड जंक्शन से के.आर. पुरम तक) और चरण 2बी (हेब्बल जंक्शन के रास्ते के.आर. पुरम से हवाई अड्डे तक) को मंजूरी दे दी। परियोजना की कुल पूर्ण लागत 14,788.101 करोड़ रुपए है। परियोजना के कार्यान्वयन से बैंगलोर को बेहद जरूरी अतिरिक्त सार्वजनिक परिवहन बुनियादी ढांचा उपलब्ध होगा।

  1. मंत्रिमंडल ने सी सी आई और ब्राजील की सी ए डी ई के बीच समझौता ज्ञापन को मंजूरी

मंत्रिमंडल ने भारतीय प्रतिस्‍पर्धा आयोग- सी सी आई और ब्राजील की एडमिनिस्‍ट्रेटिव काउंसिल ऑफ इकोनोमिक डिफेंस- सी ए डी ई के बीच समझौता ज्ञापन को मंजूरी दे दी। प्रतिस्‍पर्धा अधिनियम 2002 की धारा 18, भारतीय प्रतिस्‍पर्धा आयोग को अपने कार्यों और दायित्‍वों को पूरा करने के लिए किसी अन्‍य देश की प्रतिस्‍पर्धा एजेंसी के साथ समझौता करने की अनुमति प्रदान करती है। भारतीय प्रतिस्‍पर्धा आयोग ने अब तक अमरीका के संघीय व्‍यापार आयोग और न्‍याय विभाग के साथ समझौता ज्ञापन किए हैं। इसके अलावा, आयोग ने यूरोपीय यूनियन, रूस, ऑस्‍ट्रेलिया, कनाडा और ब्रिक्‍स देशों की प्रतिस्‍पर्धा और एकाधिकार की निगरानी करने वाली संस्‍थाओं के साथ भी समझौता ज्ञापन किए हैं।

  1. झारखंड सरकार ने राज्य में कोविड-19 के प्रकोप को रोकने के उद्देश्य से 22 से 29 अप्रैल के बीच स्वास्थ्य सुरक्षा सप्ताह के आयोजन की घोषणा

झारखंड सरकार ने राज्य में कोविड-19 के प्रकोप को रोकने के उद्देश्य से 22 से 29 अप्रैल के बीच स्वास्थ्य सुरक्षा सप्ताह के आयोजन की घोषणा की है। लोगों से कहा गया है कि वे अनावश्यक रूप से घर से बाहर न निकलें। इस दौरान जरूरी और चिकित्सा सेवा बहाल रहेंगी। जबकि केंद्रीय तथा राज्य सरकार के कार्यालयों के अलावा निजी क्षेत्र के चिन्हित कार्यालय खुले रहेंगे।

  1. 20 अप्रैल को विश्व स्तर पर मनाया जाता है यूएन चीनी भाषा दिवस

यूएन चीनी भाषा दिवस (UN Chinese Language Day) हर साल 20 अप्रैल को विश्व स्तर पर मनाया जाता है। इस दिन को कैन्जी (Cangjie) को श्रद्धांजलि देने के लिए चुना गया है, जो एक पौराणिक आकृति है, जिसे लगभग 5,000 साल पहले चीनी पात्रों का आविष्कार करने के लिए माना जाता है। पहला चीनी भाषा दिवस 2010 में 12 नवंबर को मनाया गया था, लेकिन 2011 के बाद से यह तारीख 20 अप्रैल को मनाया जाने लगा। यह दिन बहुभाषावाद और सांस्कृतिक विविधता के साथ-साथ पूरे संगठन में इसकी छह आधिकारिक कामकाजी भाषाओं के समान उपयोग को बढ़ावा देता है।

  1. पूर्व केंद्रीय मंत्री बच्ची सिंह रावत का निधन

भाजपा के वरिष्ठ नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री बच्ची सिंह रावत (Bachi Singh Rawat) का निधन हो गया है। ​वह उत्तराखंड में अल्मोड़ा-पिथौरागढ़ निर्वाचन क्षेत्र से चार बार सांसद थे। उन्होंने अटल बिहारी वाजपेयी सरकार में केंद्रीय विज्ञान और प्रौद्योगिकी राज्य मंत्री के रूप में कार्य किया था।

  1. राष्ट्रीय पुरस्कार विजेता फिल्म निर्माता सुमित्रा भावे का निधन

सुप्रसिद्ध मराठी फिल्म निर्माता सुमित्रा भावे (Sumitra Bhave) का निधन हो गया है। सुमित्रा भावे मराठी सिनेमा और मराठी थिएटर में फिल्म निर्माता सुनील सुख्तनकर के साथ एक जोड़ी के रूप में लोकप्रिय थीं। वह अपनी आउट-ऑफ-द-बॉक्स कंटेंट और साथ ही अपनी फिल्मों में सामाजिक मुद्दों को संभालाने के उनके तरीकों के लिए जानी जाती थी। सुमित्रा और सुनील की जोड़ी ने एक साथ कई लोकप्रिय फिल्में जैसे डॉगी, दहावी फा, वास्तुपुरुष, देवराई, बाधा, एक कप च्या, संहिता, अस्तू, कासव का निर्देशन किया। उन्होंने परिवार कल्याण पर सर्वश्रेष्ठ नॉन-फीचर फिल्म, सर्वश्रेष्ठ शैक्षिक / प्रेरक / निर्देशात्मक फिल्म, अन्य सामाजिक मुद्दों पर सर्वश्रेष्ठ फिल्म, सर्वश्रेष्ठ फीचर फिल्म श्रेणियों में राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार जीते हैं।

  1. प्रसिद्ध कन्नड़ लेखक गंजम वेंकटसुब्बैया का निधन

प्रसिद्ध कन्नड़ लेखक गंजम वेंकटसुब्बैया (Ganjam Venkatasubbiah) का निधन हो गया है। वह एक व्याकरणिक, संपादक, लेक्सिकाग्रफर और साहित्यिक आलोचक भी थे। वह 107 वर्ष के थे। उन्हें आमतौर पर अपने साहित्यिक मंडल में कन्नड़ भाषा और संस्कृति के चलते फिरते विश्वकोश के रूप में जाना जाता था। प्रोफेसर जी वेंकटसुब्बैया ने 12 शब्दकोश संकलित किए थे और लगभग 60 पुस्तकें लिखी थीं। ​उन्हें कन्नड़ साहित्य, कविता, निबंध और अनुवाद में दक्षता के लिए 2017 में पद्मश्री मिला। इसके अलावा, उन्होंने कन्नड़ साहित्य अकादमी पुरस्कार और अन्य में से पम्पा पुरस्कार भी प्राप्त किया था।