भारत का पहला अटल सामुदायिक नवाचार केंद्र जयपुर में शुरू किया गया

0
23

1.Renewable Energy (RE) Country Attractiveness Index में भारत ने तीसरा स्थान हासिल किया

अर्न्स्ट एंड यंग (EY) अक्षय ऊर्जा देश आकर्षण सूचकांक (Renewable Energy (RE) Country Attractiveness Index) हाल ही में प्रकाशित किया गया था जिसमें भारत को तीसरे स्थान पर रखा गया है । Renewable Energy (RE) Country Attractiveness Index दुनिया के शीर्ष 40 देशों में उनके तैनाती के अवसरों और नवीकरणीय ऊर्जा के आकर्षण के संबंध में रैंक करता है। इस सूचकांक में, भारत अपना तीसरा स्थान बरकरार रखा है जबकि अमेरिका शीर्ष स्थान पर बरकरार है। चीन को दूसरे स्थान पर रखा गया है। इस रिपोर्ट के अनुसार, अक्षय ऊर्जा उत्पादन में तेजी से विकास के लिए स्थितियां परिपक्व हैं। बड़ी चुनौती अपर्याप्त ग्रिड निवेश होगी। इस सूचकांक के अनुसार, कॉर्पोरेट बिजली खरीद समझौते स्वच्छ ऊर्जा विकास के प्रमुख चालक थे क्योंकि पर्यावरण, सामाजिक और शासन के उपाय कंपनियों और निवेशकों के लिए शीर्ष एजेंडा बन रहे हैं। शीर्ष 30 बिजली खरीद समझौते (Power Purchase Agreement (PPA) बाजारों में, भारत को छठे स्थान पर रखा गया है। PPA इंडेक्स अक्षय ऊर्जा खरीद के आकर्षण पर केंद्रित है।

2.मणिपुर के मुख्‍यमंत्री ने चीफ मिनिस्‍टर्स हेल्‍थ फॉर ऑल योजना का शुभारंभ किया

मणिपुर के मुख्‍यमंत्री एन. बीरेन सिंह ने चीफ मिनिस्‍टर्स हेल्‍थ फॉर ऑल योजना का शुभारंभ किया। इस योजना की घोषणा उन्‍होंने पिछले माह 17 तारीख को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जन्‍म दिन के अवसर पर की थी। इस योजना के तहत राज्‍यवासियों के घर-घर जाकर स्‍वास्‍थ्‍य जांच की जाएगी और रोगियों को जनऔषधि दवाएं नि:शुल्‍क दी जाएंगी। प्रधानमंत्री स्‍वास्‍थ्‍य देखभाल योजना और आयुष्‍मान भारत योजना के स्‍वास्‍थ्‍य कार्ड भी पुरानी और गंभीर बीमारियों से पीडित रोगियों को दिए जाएंगे। मुख्‍यमंत्री ने इस नई योजना के लिए आशा प्‍लस उपकरण, स्‍मार्ट फोन और दवा की गोलियां सामुदायिक अधिकारियों, नर्सों और आशा योजना कर्मियों को प्रदान किए। योजना के पहले चरण में राज्‍य के सभी 16 जिलों 1,628 गांव को चुना गया है। इन गांवों को 118 प्रारंभिक स्‍वास्‍थ्‍य उपकेंद्रों, 29 प्रारंभिक स्‍वास्‍थ्‍य केंद्रों और सात सामुदायिक स्‍वास्‍थ्‍य केंद्रों से जोड़ा जाएगा।

3.अल्पसंख्यक कार्य मंत्री ने हुनर हाट के भीतर पहली विश्वकर्मा वाटिका स्थापित करने की जानकारी दी

अल्‍पसंख्‍यक कार्य मंत्री मुख्‍तार अब्‍बास नकवी ने नई दिल्‍ली में बताया कि उत्‍तर प्रदेश के रामपुर में हुनर हाट के भीतर पहली विश्‍वकर्मा वाटिका स्‍थापित की गई है। यह पहल देश के पारंपरिक हस्‍तशिल्पियों के पारंपरिक कौशल को प्रोत्‍साहित करने के लिए की गई है। इस माह की 16 तारीख को शिक्षा और कौशल विकास तथा उद्यमिता मंत्री धर्मेंद्र प्रधान इसका उद्घाटन करेंगे।

4.केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने स्मार्ट पार्किंग ऐप ‘माईपार्किंग’ का शुभारंभ किया

सूचना और प्रसारण तथा युवा और खेल मंत्री अनुराग ठाकुर ने दक्षिण दिल्‍ली नगर निगम के महापौर की उपस्थिति में निगम के पार्किंग स्थलों की रियल टाइम पार्किंग जानकारी के लिए दिल्ली का पहला स्मार्ट पार्किंग ऐप माईपार्किंग का शुभारंभ किया। इस पार्किंग ऐप को निगम ने ब्रॉडकास्ट इंजीनियरिंग कंसल्टेंट्स इंडिया लिमिटेड (बेसिल) के सहयोग से विकसित किया है। इस पार्किंग ऐप की शुरुआत से पार्किंग स्लॉट बुक करने की प्रक्रिया आसान हो जाएगी।

5.रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने अरुणाचल प्रदेश में सेला सुरंग के अंतिम चरण के कार्य का शुभारंभ किया

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने वीडियो कांफ्रेंस के माध्‍यम से अरुणाचल प्रदेश में सेला सुरंग के अंतिम चरण के कार्य की शुरूआत की। सुरंग में विस्फोट के साथ ही अंतिम चरण का कार्य शुरू हो गया है। 13,800 फीट की ऊंचाई पर स्थित सेला दर्रा 317 किलोमीटर लंबे बालीपारा-चारद्वार-तवांग (बीसीटी) सड़क पर स्थित है। सेला अरुणाचल प्रदेश के पश्चिम कामेंग, पूर्वी कामेंग और तवांग जिलों को देश के बाकी हिस्सों से जोड़ता है। इस सुरंग के जरिये तवांग हर मौसम में सड़क संपर्क से जुड़ा रह सकेगा और इससे यात्रा का समय भी कम होगा। इस अवसर पर श्री सिंह ने देश की सुरक्षा और सामाजिक-आर्थिक विकास के प्रति अपनी प्रतिबद्धता के लिए सीमा सड़क संगठन की सराहना की। उन्होंने कहा कि संगठन अपने आदर्श वाक्‍य -श्रमण सर्वम साध्‍यम यानी कड़ी मेहनत से सब कुछ प्राप्त किया जा सकता है, के प्रति वचनबद्ध है।

6.अमरीका के अलास्का में कल से शुरू होने वाले 17वें भारत-अमरीका संयुक्त सैन्य अभ्यास ‘युद्ध अभ्यास’ के लिए भारतीय सेना रवाना

भारतीय सेना का दल 17 वें भारत-अमरीका संयुक्त सैन्य युद्धाभ्यास ‘युद्ध अभ्यास‘ 2021 में भाग लेने के लिए अमरीका रवाना हो गया है। दोनों देशों की सेनाओं का संयुक्‍त सैन्‍य युद्धाभ्‍यास 15 अक्‍तूबर से 29 अक्‍तूबर तक अलास्‍का के एल्मेंडोर्फ-रिचर्डसन बेस पर आयोजित किया जाएगा। इस दल में पैदल सेना के तीन सौ पचास जवान शामिल हैं। भारत और अमरीका की सेनाओं के प्रशिक्षण और रक्षा सहयोग बढ़ाने के लिए यह सबसे बड़ा संयुक्‍त सैन्‍य अभ्‍यास है। दोनों देश बारी-बारी से संयुक्‍त सैन्‍य युद्धाभ्‍यास का आयोजन करते हैं। इससे पहले फरवरी में राजस्थान के बीकानेर में महाजन फील्ड फायरिंग रेंज में संयुक्‍त सैन्‍य अभ्‍यास का आयोजन किया गया था। इसका उद्देश्य दोनों सेनाओं के बीच समझ, सहयोग और अंतर-संचालन को बढ़ाना है।

7.जैव प्रौद्योगिकी विभाग ने देश में पहले ‘एक स्‍वास्‍थ्‍य’ नाम के सहायता संघ की शुरूआत की

जैव प्रौद्योगिकी विभाग ने जीवाणु, विषाणु और परजीवी संक्रमण पर निगरानी रखने के लिए देश में पहले ‘एक स्‍वास्‍थ्‍य‘ (वन हेल्‍थ) नाम के सहायता संघ की शुरूआत की है। जैव प्रौद्योगिकी विभाग में सचिव डॉक्‍टर रेणु स्‍वरूप ने कहा है कि कोविड महामारी के बाद भारत सरकार के एक सबसे बड़े स्‍वास्‍थ्‍य कार्यक्रम के लिए इस संघ में 27 संगठनों को शामिल किया गया है। इस कार्यक्रम में देश के पूर्वोत्‍तर भाग सहित भारत में एक नस्‍ल के दूसरी नस्‍ल को संक्रामित करने वाले जीवाणु संबंधी, वायरल और परजीवी से होने वाले महत्वपूर्ण संक्रमणों की निगरानी करने की परिकल्पना की गई है। जरूरत पड़ने पर मौजूदा नैदानिक ​​परीक्षणों का उपयोग और अतिरिक्त पद्धतियों का विकास निगरानी और उभरती बीमारियों के प्रसार को समझने के लिए अनिवार्य है।

8.वित्त मंत्री निर्मला श्रीमती सीतारमण ने वाशिंगटन डीसी में हुई जी-20 के वित्त मंत्रियों और केंद्रीय बैंकों के गवर्नरों (एफएमसीबीजी) की चौथी बैठक में भाग लिया

केंद्रीय वित्त और कॉरपोरेट कार्य मंत्री श्रीमती निर्मला सीतारमण ने 13 अक्टूबर को वाशिंगटन डीसी में हुई आईएमएफ-विश्व बैंक की सालाना बैठकों से इतर इटली की अध्यक्षता में जी-20 के वित्त मंत्रियों और केंद्रीय बैंकों के गवर्नरों (एफएमसीबीजी) की चौथी बैठक में भाग लिया। यह इटली की अध्यक्षता में जी20 के अंतर्गत अंतिम एफएमसीबीजी बैठक थी और इसमें वैश्विक आर्थिक सुधार, कमजोर देशों को महामारी समर्थन, वैश्विक स्वास्थ्य, जलवायु उपाय, अंतर्राष्ट्रीय कराधान और वित्तीय क्षेत्र से संबंधित विभिन्न मुद्दों पर विचार-विमर्श किया गया व समझौते हुए। महामारी से स्थायी रूप से उबरने के लिए, जी20 के वित्त मंत्री और केंद्रीय बैंक के गवर्नर सहयोग उपायों को समय से पहले वापस लेने से बचने, साथ ही वित्तीय स्थायित्व और दीर्घकालिक राजकोषीय स्थिरता को बनाए रखने व गिरावट के जोखिमों व नकारात्मकता प्रभाव बढ़ने से रोकने पर सहमत हो गए।

9.बीपीसीएल ने ग्राहकों के लिए स्वचालित ईंधन भरने की तकनीक “यूफिल” लॉन्च की

पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्रालय के तहत आने वाले सार्वजनिक उपक्रम भारत पेट्रोलियम कॉर्पोरेशन लिमिटेड (बीपीसीएल) ने “यूफिल” पेश करने की घोषणा की है जो ग्राहकों के लिए एक डिजिटल अनुभव होगा। यह बीपीसीएल के उस वादे को पूरा करता है कि उसके ग्राहकों का ईँधन भरने के संबंध में समय, प्रौद्योगिकी और पारदर्शिता पर पूरा नियंत्रण सुनिश्चित किया जाएगा। यूफिल के साथ ग्राहकों के लिए मंत्रवाक्य ‘ईंधन भरने में तेजी’ होगा जिससे डिजिटल तकनीक का लाभ उठाया जाएगा। इससे ईंधन भराते समय शून्य और अंतिम रीडिंग देखने और इस तरह के ऑफलाइन मैनुअल हस्तक्षेप की जरूरत से बचा जा सकेगा। यूफिल सुविधा को देश भर के 65 शहरों में शुरू किया गया है और जल्द ही इसे पूरे भारत में पेश किया जाएगा।

10.फ्लावर स्कॉर्पियनफिश हिंद महासागर में खोजी गई

हाल ही में फ्लावर स्कॉर्पियनफिश (Hoplosebastes Armatus) नामक मछली की एक प्रजाति (जो केवल प्रशांत महासागर में पाई जाती थी) हिंद महासागर में खोजी गई है। ग्लोबल वार्मिंग के कारण समुद्र के तापमान में वृद्धि ने इस प्रजाति को विभिन्न क्षेत्रों में प्रवास हेतु आकर्षित किया होगा। यह रे-फिनिश मछली के क्रम से संबंधित है जिसे स्कॉर्पेनीफॉर्म (Scorpaeniforme) के नाम से भी जाना जाता है। इसे लगभग एक सदी पहले वर्ष 1929 में जापान से दूर प्रशांत महासागर में खोजा गया था। स्कॉर्पेनीफॉर्म या बिच्छू मछली परिवार की मछलियाँ समुद्र के सबसे ज़हरीले जानवरों में से हैं। इस प्रजाति का सिर शरीर से तुलनात्मक रूप से बड़ा और लंबा होता है। प्रजातियों की लंबाई 75-127 मिमी. तक होती है, जबकि शरीर की चौड़ाई 14-22 मिमी. होती है। स्कॉर्पियनफिश अपने धब्बेदार रंग पैटर्न के कारण मूंगा और चट्टानी परिवेश के साथ पूरी तरह से घुलमिल जाती है।

11.OYO ने पैरालिंपियन दीपा मलिक को स्वतंत्र निदेशक के रूप में नियुक्त किया

हॉस्पिटैलिटी फर्म ओरावेल स्टेज़ लिमिटेड (Oravel Stays Ltd – OYO) ने 2016 पैरालंपिक खेलों में एक भारतीय एथलीट और रजत पदक विजेता दीपा मलिक (Deepa Malik) को कंपनी के निदेशक मंडल में एक स्वतंत्र निदेशक के रूप में नियुक्त किया है। मलिक का अनुभव और यात्रा और रोमांच के लिए उनका जुनून आने वाले वर्षों के लिए OYO के लिए अमूल्य होगा। मलिक OYO के बोर्ड में शामिल हुई, जिसमें रितेश अग्रवाल (Ritesh Agarwal) के अध्यक्ष होने के अलावा तीन अन्य स्वतंत्र निदेशक और एक नामित निदेशक हैं।

12.सज्जन जिंदल बने वर्ल्ड स्टील एसोसिएशन के अध्यक्ष

वर्ल्ड स्टील एसोसिएशन (World Steel Association – WSA) ने JSW स्टील लिमिटेड के अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक सज्जन जिंदल (Sajjan Jindal) को वर्ष 2021-22 के लिए अध्यक्ष चुना है। जिंदल WSA के अध्यक्ष के रूप में सेवा करने वाले भारत के पहले प्रतिनिधि हैं। JSW स्टील विविध $13 बिलियन JSW समूह का प्रमुख व्यवसाय है और भारत और दुनिया भर में लौह और इस्पात उत्पादों के निर्माण में लगा हुआ है। वर्ल्डस्टील इस्पात उद्योग के लिए केंद्र बिंदु के रूप में कार्य करता है, उद्योग को प्रभावित करने वाले सभी प्रमुख रणनीतिक मुद्दों पर वैश्विक नेतृत्व प्रदान करता है, विशेष रूप से आर्थिक, पर्यावरणीय और सामाजिक स्थिरता पर ध्यान केंद्रित करता है। वर्ल्डस्टील के सदस्य दुनिया के स्टील उत्पादन का लगभग 85% प्रतिनिधित्व करते हैं, जिसमें 160 से अधिक इस्पात उत्पादक, राष्ट्रीय और क्षेत्रीय इस्पात उद्योग संघ और इस्पात अनुसंधान संस्थान शामिल हैं।

13.भारत का पहला अटल सामुदायिक नवाचार केंद्र जयपुर में शुरू किया गया

विवेकानंद ग्लोबल यूनिवर्सिटी, जयपुर (वीजीयू) में भारत के पहले अटल कम्युनिटी इनोवेशन सेंटर (Atal Community Innovation Center – ACIC) का उद्घाटन किया गया। यह भारत सरकार, अटल इनोवेशन मिशन (Atal Innovation Mission – AIM) और नीति आयोग द्वारा स्थापित किया जाने वाला देश का पहला केंद्र होगा। ACIC का लक्ष्य उन नवोन्मेषी विचारों का समर्थन और पोषण करना है जो बड़े विचारों का आकार ले सकते हैं और बेहतर कल के लिए समाज को बदलने में मदद कर सकते हैं। अटल इनोवेशन मिशन, NITI Aayog और VGU के संयुक्त तत्वावधान में शुरू किए गए इस केंद्र से राजस्थान के मेहनती, भावुक और साहसी व्यवसायियों को लाभ होगा जो अपने व्यवसाय को ऊंचाइयों पर ले जाना चाहते हैं।

14.कोटक महिंद्रा बैंक ने पूरे भारत में माइक्रो एटीएम लॉन्च किए

निजी ऋणदाता कोटक महिंद्रा बैंक लिमिटेड (Kotak Mahindra Bank Ltd) ने देश भर में माइक्रो एटीएम (Micro ATMs) शुरू करने की घोषणा की है। डेबिट कार्ड रखने वाले सभी बैंकों के ग्राहक कोटक माइक्रो एटीएम का उपयोग प्रमुख बैंकिंग सेवाओं जैसे नकद निकासी और खाते की शेष राशि की जांच के लिए कर सकते हैं। एटीएम का एक छोटा संस्करण, माइक्रो एटीएम छोटे हैंडहेल्ड डिवाइस हैं। माइक्रो एटीएम लॉन्च करने के लिए बैंक अपने व्यापक व्यापार प्रतिनिधियों (Business Correspondents – BC) नेटवर्क का उपयोग करेगा। माइक्रो एटीएम अपेक्षाकृत दूरस्थ स्थानों में रहने वाले लोगों को सुविधाजनक तरीके से नकद निकासी जैसी आवश्यक बैंकिंग सेवाएं प्रदान करने के लिए एक सरल, अभिनव और अत्यधिक प्रभावी समाधान है। यह एक नियमित एटीएम का एक व्यवहार्य विकल्प है, जो उपभोक्ताओं के लिए तेजी से विस्तार और बैंकिंग टचप्वाइंट को बढ़ाने की अनुमति देता है। देश भर में कोटक के माइक्रो एटीएम का नेटवर्क सभी बैंकों (कोटक और गैर-कोटक ग्राहकों) के ग्राहकों को उनके बैंक खातों तक आसानी से पहुंचने और वित्तीय समावेशन को बढ़ावा देने में मदद करेगा।

15.इंडसइंड बैंक को प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष कर एकत्र करने के लिए आरबीआई द्वारा अधिकृत किया गया

इंडसइंड बैंक (IndusInd Bank) ने घोषणा की है कि उसे भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) द्वारा प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष करों के संग्रह के लिए, केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (Central Board of Direct Taxes – CBDT) और केंद्रीय अप्रत्यक्ष कर और सीमा शुल्क बोर्ड (Central Board of Indirect Taxes and Customs – CBIC) की ओर से अधिकृत किया गया है। अब ग्राहक ‘इंडसनेट‘ और ‘इंडसमोबाइल‘ प्लेटफॉर्म के जरिए अपने प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष करों का भुगतान कर सकेंगे। प्राधिकरण को लेखा महानियंत्रक के साथ-साथ वित्त मंत्रालय (भारत सरकार) की एक सिफारिश के आधार पर बैंक को सम्मानित किया गया है और इस तरह सरकारी व्यवसाय के संचालन के लिए इंडसइंड बैंक को आरबीआई की ओर से ‘एजेंसी बैंक (Agency Bank)’ के रूप में नियुक्त किए जाने की संभावनाएं और बढ़ गई हैं। इसके साथ, इंडसइंड बैंक के ग्राहक जल्द ही बैंक के अत्याधुनिक डिजिटल प्लेटफॉर्म जैसे इसके नेट बैंकिंग प्लेटफॉर्म ‘इंडसनेट (Indusnet)’ और इसके मोबाइल बैंकिंग एप्लिकेशन ‘इंडसमोबाइल (IndusMobile)’ के माध्यम से अपने प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष करों का भुगतान करने में सक्षम होंगे।

16.फायर-बोल्ट ने विराट कोहली को बनाया नया ब्रांड एंबेसडर

भारतीय वेरबल ब्रांड फायर-बोल्ट (Fire-Boltt) ने क्रिकेट कप्तान विराट कोहली को अपना नया ब्रांड एंबेसडर नामित किया है। स्किपर घरेलू ब्रांड के विभिन्न मार्केटिंग, विज्ञापन और विज्ञापन अभियानों में भाग लेंगे। फायर-बोल्ट ने कुछ महीने पहले अभिनेता विक्की कौशल (Vicky Kaushal) को अपना पहला ब्रांड एंबेसडर बनाया था। फायर-बोल्ट एक वेरबल, गेमिंग और ऑडियो ब्रांड है जो प्रीमियम गुणवत्ता वाले ऑडियो, फिटनेस और फैशन उत्पादों का एक गुलदस्ता पेश करता है। फायर-बोल्ट के उत्पादों में स्मार्टवॉच, ब्लूटूथ ईयरफोन, ब्लूटूथ हेडफोन, ट्रू वायरलेस ईयरबड्स, ब्लूटूथ स्पीकर, साउंडबार, लाइफस्टाइल शूज आदि शामिल हैं।

17.एडीबी ने 2019-2030 जलवायु वित्त पोषण लक्ष्य बढ़ाकर $100 बिलियन किया

एशियाई विकास बैंक (एडीबी) ने विकासशील सदस्य देशों (डीएमसी) के लिए अपने जलवायु वित्त पोषण लक्ष्यों को 2019-2030 में 20 अरब डॉलर से बढ़ाकर 100 अरब डॉलर करने की घोषणा की है। इससे पहले 2018 में, एडीबी ने 2019-2030 के दौरान एशिया में विकासशील देशों के लिए जलवायु वित्तपोषण के लिए $80 बिलियन के लक्ष्य की घोषणा की थी। वित्त पोषण सहायता में अतिरिक्त $20 बिलियन का उपयोग कम कार्बन ऊर्जा स्रोतों, जलवायु अनुकूलन परियोजनाओं और निजी क्षेत्र की परियोजनाओं सहित जलवायु शमन प्रयासों के लिए किया जाएगा। जलवायु परिवर्तन के खिलाफ लड़ाई एशिया और प्रशांत क्षेत्र में जीती या हारी जाएगी, और हम अपने क्षेत्र के लिए एक जलवायु बैंक और एक दीर्घकालिक जलवायु भागीदार के रूप में सेवा करने के लिए प्रतिबद्ध हैं। मनीला स्थित ऋणदाता कृषि, शहरी और जल अनुकूलन परियोजनाओं सहित $34 बिलियन के जलवायु अनुकूलन वित्तपोषण की योजना बनाएगा।

18.संयुक्त राष्ट्र जैव विविधता शिखर सम्मेलन चीन में शुरू हुआ

संयुक्त राष्ट्र जैव विविधता शिखर सम्मेलन (UN Biodiversity Summit) 12 अक्टूबर, 2021 को चीन में शुरू हुआ। संयुक्त राष्ट्र शिखर सम्मेलन को जैव विविधता की रक्षा करने का काम सौंपा गया है। COP-26 जलवायु सम्मेलन से पहले प्रदूषण से निपटने और बड़े पैमाने पर विलुप्त होने को रोकने के लिए देशों के बीच बैठक की पृष्ठभूमि में यह शिखर सम्मेलन शुरू हुआ। इस शिखर सम्मेलन के दौरान, देश 30% भूमि और महासागरों को संरक्षित स्थिति देने के लिए “30 बाई 30” योजना पर भी बहस करेंगे। यह उपाय राष्ट्रों के व्यापक गठबंधन द्वारा समर्थित है। प्लास्टिक कचरे के निर्माण को रोकने के लिए भी सदस्य देश लक्ष्य निर्धारित करेंगे। हालांकि, चीन ने अभी तक इस योजना के लिए प्रतिबद्धता ज़ाहिर नहीं की है।

19.मसौदा क्षेत्रीय योजना-2041 को मंज़ूरी दी गयी

मसौदा क्षेत्रीय योजना -2041 को NCR योजना बोर्ड द्वारा 12 अक्टूबर, 2021 को अनुमोदित किया गया। सरकार ने मार्च 2022 के अंत तक ‘क्षेत्रीय योजना -2041 का अंतिम संस्करण’ प्रस्तुत करने की योजना बनाई है। मसौदा क्षेत्रीय योजना-2041 भविष्य के लिए तैयार और झुग्गी-झोपड़ी मुक्त राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (NCR) का मार्ग प्रशस्त करती है, जिसमें एयर एम्बुलेंस, रेल, सड़क, हेली टैक्सी और अंतर्देशीय जलमार्ग के माध्यम से उच्च गति कनेक्टिविटी जैसी सुविधाएं शामिल हैं। यह योजना NCR के प्रमुख शहरों के भीतर सुपर-फास्ट ट्रेनों के माध्यम से 30 मिनट की कनेक्टिविटी पर विशेष प्रोत्साहन देती है। इसमें NCR की सीमाओं से दिल्ली तक 30 मिनट के मास ट्रांजिट रेल सिस्टम (MTRS) की व्यवहार्यता का पता लगाने का भी प्रस्ताव है। यह योजना बुलेट ट्रेनों, स्मार्ट सड़कों, हेलिटैक्सी सेवाओं का उपयोग करके कनेक्टिविटी में सुधार करके NCR को एक स्मार्ट कनेक्टेड क्षेत्र बनाने का प्रयास करती है। यह इस क्षेत्र को एक आर्थिक रूप से समृद्ध क्षेत्र के रूप में विकसित करेगा जिसमें नागरिक केंद्रित सामंजस्यपूर्ण बुनियादी ढांचा शामिल होगा। इसमें इलेक्ट्रिक मोबिलिटी इंफ्रास्ट्रक्चर को बढ़ावा देने का भी प्रस्ताव है। इसने जल और वायु गुणवत्ता में सुधार, पर्यावरण संरक्षण में सुधार पर जोर दिया है। इस मसौदा योजना के तहत, प्रमुख पहलों में शहरी उत्थान, झुग्गी-झोपड़ी-मुक्त एनसीआर, 24 घंटे एयर एम्बुलेंस, जीवन की सुगमता, स्वच्छ और स्मार्ट NCR शामिल हैं।

20.यूरोपीय संघ ने पहला ग्रीन बॉन्ड जारी किया

यूरोपीय संघ ने 12 अक्टूबर, 2021 को अपने पहले ग्रीन बॉन्ड के लिए निवेशकों की भारी मांग को आकर्षित किया। 15 साल के कर्ज की 12 अरब यूरो की बिक्री ने लगभग 135 अरब यूरो के ऑर्डर आकर्षित किए। सितंबर के महीने में यूके के £10 अरब की शुरुआत के बाद, यह सबसे बड़ा ग्रीन बॉन्ड सौदा था। यह बिक्री तब हुई जब यूरोप ऊर्जा की कमी से जूझ रहा है, जो यह भी बताता है कि बिजली के विविध और नवीकरणीय स्रोतों की बढ़ती आवश्यकता है। ग्रीन बांड के माध्यम से होने वाली आय को सदस्य देशों को दिया जाएगा जो इसे परिवहन, ऊर्जा दक्षता और प्रकृति संरक्षण जैसे क्षेत्रों पर खर्च कर सकते हैं। यह बांड सतत वित्त बाजार में यूरोपीय संघ और यूरो की भूमिका को मजबूत करने में मदद करेगा। ब्रसेल्स हरित ऋण जारी करने में फ्रांस, इटली, जर्मनी, स्पेन और पोलैंड जैसे कई सदस्य राज्यों के साथ शामिल हो गया है। पर्यावरण, सामाजिक और शासन कारकों पर फंड प्रबंधन उद्योग के फोकस के कारण हरित प्रतिभूतियों की मांग काफी ज्यादा है। ग्रीन बॉन्ड एक ऋण साधन है जिसके माध्यम से ‘हरित परियोजनाओं’ को फण्ड देने के लिए पूंजी जुटाई जाती है। हरित परियोजनाओं में आमतौर पर अक्षय ऊर्जा, सतत जल प्रबंधन और स्वच्छ परिवहन आदि से संबंधित परियोजनाएं शामिल होती हैं।

21.भारत राष्ट्रीय टीकाकरण योजना और लक्ष्य WHO को सौंपेगा

भारत विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) को अपनी कोविड-19 टीकाकरण योजना और लक्ष्य प्रस्तुत करेगा। भारत एक अपडेटेड राष्ट्रीय टीकाकरण प्रक्षेपवक्र और योजनाएँ प्रस्तुत करेगा जो निवेश को निर्देशित करने के लिए खुराक की आवश्यकताओं को परिभाषित करती है। सरकार द्वारा टीकों के निर्माण और उनके वितरण के लिए मार्गदर्शक निवेश की आवश्यकता होती है। WHO की “Strategy to Achieve Global Covid-19 Vaccination by mid-2022” रणनीति के तहत वित्तीय कार्यक्रम व संसाधन विवरण WHO के साथ साझा किया जाएगा। यह रणनीति WHO द्वारा अक्टूबर, 2021 में शुरू की गई थी। भारत सरकार ने पहले इस बात पर प्रकाश डाला था कि उसकी पूरी वयस्क आबादी को दिसंबर, 2021 तक टीका लगाया जाएगा। दूसरी ओर, WHO ने देशों से 2021 के अंत तक अपनी आबादी का 40% और 2022 के मध्य तक 70% टीकाकरण के अपने लक्ष्य को पूरा करने का आह्वान किया है।

22.भारत में बनी कैंसर रोधी दवा की बिक्री अब चीन में भी होगी

भारत में बनी कैंसर रोधी दवा अब चीन में भी बेची जाएगी। भारत की डॉक्‍टर रेड्डीज लैब और चीन की स्‍थानीय कम्‍पनियों ने हाल ही में इस से जुड़े समझौते पर हस्‍ताक्षर किए। चीन में भारत के राजदूत विक्रम मिश्री ने ट्विटर पर यह जानकारी दी। चीन में कैंसर रोधी दवाई की अत्‍यधिक मांग है क्‍योंकि वहां कैंसर के कारण मृत्‍युदर बहुत अधिक है। दुनियाभर में पिछले साल कैंसर से मारे गए लोगों में से तीस प्रतिशत केवल चीन के थे। भारत और चीन के बीच 2018 में समझौता हुआ था जिसके तहत चीन ने भारत से कैंसर रोधी दवाओं के आयात पर शुल्‍क घटाने पर सहमति व्‍यक्‍त की थी। यह खबर ऐसे समय आई है जब दोनों देशों के बीच व्‍यापार निरंतर बढ रहा है। सितम्‍बर के आखिर तक दोनों देशों के बीच व्‍यापार 90 अरब 37 करोड डॉलर तक पहुंच गया। चीन ने भारत को 68 अरब 46 करोड़ डॉलर का निर्यात किया जबकि भारत से 21 अरब 91 करोड़ डॉलर का निर्यात हुआ। चीन के साथ भारत का व्‍यापार घाटा चिंता का प्रमुख कारण बना हुआ है जो 46 अरब 55 करोड़ डॉलर का हो गया है और वर्ष के आखिर तक इसके और भी बढ़ने की आशंका है।

23.आयरलैंड की एमी हंटर वनडे शतक लगाने वाली सबसे युवा बल्लेबाज बनीं

आयरलैंड की एमी हंटर (Amy Hunter) ने जिम्बाब्वे के खिलाफ अपने 16वें जन्मदिन पर नाबाद 121 रन बनाए, जिससे वह पुरुष या महिला क्रिकेट में एकदिवसीय शतक बनाने वाली सबसे कम उम्र की बल्लेबाज बन गईं। बेलफास्ट बल्लेबाज – जो केवल अपने चौथे एकदिवसीय मैच में खेल रही थी – ने भारत की मिताली राज (Mithali Raj) के रिकॉर्ड को तोड़ दिया, जिसने 1999 में आयरलैंड के खिलाफ शतक बनाया था, जब वह 16 साल 205 दिन की थी।

24.अंतर्राष्ट्रीय ई-कचरा दिवस

विश्व भर में प्रतिवर्ष 14 अक्तूबर को ई-कचरे के स्वास्थ्य प्रभावों के संबंध में जागरूकता पैदा करने हेतु ‘अंतर्राष्ट्रीय ई-कचरा दिवस’ का आयोजन किया जाता है। इस दिवस की शुरुआत ‘वेस्ट इलेक्ट्रिकल एंड इलेक्ट्रॉनिक फोरम’ (WEEF) द्वारा वर्ष 2018 में की गई थी। कंप्यूटर व उससे संबंधित अन्य उपकरण और टी.वी., वाशिंग मशीन, फ्रिज जैसे घरेलू उपकरण एवं कैमरे, मोबाइल फोन तथा उससे जुड़े अन्य उत्पाद जब चलन/उपयोग से बाहर हो जाते हैं तो इन्हें संयुक्त रूप से ‘ई-कचरे’ की संज्ञा दी जाती है। जुलाई 2020 में ‘संयुक्त राष्ट्र विश्वविद्यालय’ द्वारा एक रिपोर्ट जारी की गई थी, जिसमें बताया गया गया था कि वर्ष 2020 और वर्ष 2030 की अवधि में वैश्विक ई-कचरे में तकरीबन 38 प्रतिशत तक की बढ़ोतरी हो सकती है। आँकड़ों की मानें तो भारत ने वर्ष 2019 में 3.2 मिलियन टन ई-कचरा उत्पन्न किया था। ‘केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड’ के अनुसार भारत में 312 पंजीकृत ई-कचरा पुनर्चक्रणकर्त्ता हैं, जिनकी क्षमता प्रतिवर्ष 782,080.62 टन ई-कचरे के प्रबंधन की है।

25.14 अक्टूबर : विश्व मानक दिवस

विश्व मानक दिवस या अंतर्राष्ट्रीय मानक दिवस हर साल 14 अक्टूबर को विश्व स्तर पर मनाया जाता है। इस दिन का उद्देश्य उपभोक्ताओं, नियामकों और उद्योग के बीच वैश्विक अर्थव्यवस्था में मानकीकरण के महत्व के बारे में जागरूकता बढ़ाना है। विश्व मानक दिवस 2021 की थीम “सतत विकास लक्ष्यों के लिए मानक – एक बेहतर दुनिया के लिए साझा दृष्टिकोण” है। 1956 में लंदन में 25 देशों के प्रतिनिधियों की पहली सभा को चिह्नित करने के लिए इस तारीख को चुना गया था जिन्होंने मानकीकरण की सुविधा के लिए एक अंतर्राष्ट्रीय संगठन बनाने का फैसला किया था। आईएसओ का गठन एक साल बाद 1947 में हुआ था। हालाँकि, पहला विश्व मानक दिवस 1970 में मनाया गया था।