राज्यसभा के सभापति जगदीप धनखड़ ने चार महिला सांसदों को उपसभापति पैनल में नामित किया है

0
32

1 राज्यसभा के सभापति जगदीप धनखड़ ने चार महिला सांसदों को उपसभापति पैनल में नामित किया है

राज्यसभा के सभापति जगदीप धनखड़ ने चार महिला सांसदों को उपसभापति पैनल में नामित किया है। ये हैं- पीटी उषा, एस. फांगनोन कोन्याक, डॉ. फौजिया खान और सुलता देव। मानसून सत्र से पहले पुनर्गठित पैनल में कुल आठ नाम शामिल हैं। वी. विजयसाई रेड्डी, घनश्याम तिवारी, डॉ. एल. हनुमंथैया और सुखेंदु शेखर रे को भी उपसभापति पैनल में नामित किया गया है। सभी महिला सदस्य पहली बार सांसद बनी हैं और एस. फांगनोन कोन्याक नागालैंड से राज्यसभा सदस्य के रूप में चुनी जाने वाली पहली महिला हैं। उच्च सदन के इतिहास में यह पहली बार है कि उपाध्यक्षों के पैनल में महिला सदस्यों को समान प्रतिनिधित्व दिया गया है।

2 श्रीलंका के राष्ट्रपति रानिल विक्रमसिंघे दो दिन की यात्रा पर नई दिल्ली पहुंचे

श्रीलंका के राष्‍ट्रपति रानिल विक्रमसिंघे प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी के आमंत्रण पर भारत की दो दिवसीय यात्रा पर आज नई दिल्‍ली पहुंच गये हैं। विदेश राज्‍यमंत्री वी. मुरलीधरन ने हवाई अड्डे पर उनकी अगवानी की। राष्‍ट्रपति का कार्यभार संभालने के बाद श्री विक्रमसिंघे की यह पहली भारत यात्रा है। भारत और श्रीलंका राजनयिक संबंधों की 75वीं वर्षगाठ मना रहे हैं। इसी संदर्भ में इस यात्रा का आयोजन किया गया है।

3 आयुष मंत्रालय ने पारंपरिक औषधियों के बारे में भारत-आसियान सम्‍मेलन का नई दिल्‍ली में आयोजन किया

आयुष मंत्रालय ने पारंपरिक चिकित्‍सा के बारे में भारत-आसियान सम्‍मेलन का नई दिल्‍ली में आयोजन किया। इसमें भारत और आसियान के 75 प्रतिनिधियों ने भाग लिया। इस अवसर पर आयुष मंत्री सर्बानन्‍द सोनोवाल ने कहा कि यह सम्‍मेलन सतत् विकास लक्ष्‍य हासिल करने में पारंपरिक चिकित्‍सा के विभिन्‍न आयामों पर चर्चा के लिए मंच प्रदान करता है। उन्‍होंने कहा कि पारंपरिक चिकित्‍सा प्रणाली में सभी के लिए स्‍वास्‍थ्‍य लक्ष्‍य को हासिल करने में महत्‍वपूर्ण भूमिका निभाने की क्षमता है। सम्‍मेलन को वर्चुअल रूप से संबोधित करते हुए आसियान के महासचिव डॉ. काओ किम हॉर्न ने भारत और आसियान के बीच साझा संस्‍कृति और पारंपरिक चिकित्‍सा पद्धतियों का उल्‍लेख किया। उन्‍होंने आसियान और भारत के बीच समन्‍वय के तीन मुख्‍य बिन्दुओं के बारे में बताया। इनमें पारंपरिक तथा पूरक चिकित्‍सा के जरिये जन स्‍वास्‍थ्‍य में सहयोग शामिल है।

4 सरकार ने रेहड़ी-पटरी वालों को ई-कॉमर्स मंच पर लाने के उपाय के तौर पर स्विगी और जोमैटो के साथ समझौते का नवीनीकरण किया

सरकार ने रेहड़ी-पटरी वालों को ई-कॉमर्स मंच पर लाने के उपाय के तौर पर स्विगी और जोमैटो के साथ समझौते का नवीनीकरण किया है। लोकसभा में एक लिखित उत्‍तर में केन्‍द्रीय आवास और शहरी मामलों के राज्य मंत्री कौशल किशोर ने बताया कि लगभग नौ हजार चार सौ विक्रेता पहले ही ई-कॉमर्स मंच में शामिल हो चुके हैं। उन्‍होंने बताया कि प्रधानमंत्री स्वनिधी योजना के अंतर्गत छह हजार तीन सौ 99 करोड़ रुपये की राशि के 50 लाख से अधिक के ऋण सीधे लाभार्थियों के बैंक खातों में भेजे गए हैं।

5 भारत ने जापान के साथ सेमीकंडेक्‍टर आपूर्ति श्रृंखला विकसित करने में सहयोग के लिए समझौता ज्ञापन पर हस्‍ताक्षर किए

भारत ने जापान के साथ सेमीकंडेक्‍टर आपूर्ति श्रृंखला विकसित करने में सहयोग के लिए समझौता ज्ञापन पर हस्‍ताक्षर किए। जापान सेमीकंडेक्‍टर के निर्माण और तकनीकी विकास में अग्रणी देश है। इलेक्‍ट्रॉनिकी और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री अश्‍विनी वैष्‍णव ने नई दिल्‍ली में संवाददाता सम्‍मेलन में कहा कि उत्‍पादन, उपकरण शोध, डिजाइन, आपूर्ति और प्रतिभा के विकास में सहयोग बढाया जाएगा। उन्‍होंने कहा कि भारत में सेमीकंडक्टर मिशन बडी तेजी से प्रगति कर रहा है। श्री वैष्‍णव ने बताया कि जापान के साथ इस तकनीकी समझौते से देश में समग्र सेमीकंडक्टर इकोसिस्‍टम तैयार करने की भारत की क्षमताओं और प्रतिबद्धता का वैश्विक स्‍तर पर पता चलेगा।

6 भारत और जापान ने आज इस्‍पात क्षेत्र में शून्‍य कार्बन उत्‍सर्जन के मुद्दों पर सहयोग के लिए द्विपक्षीय बैठक की

भारत और जापान ने इस्‍पात क्षेत्र में शून्‍य कार्बन उत्‍सर्जन के मुद्दों पर सहयोग के लिए द्विपक्षीय बैठक की। केंद्रीय इस्‍पात मंत्री ज्‍योतिरादित्‍य सिंधिया और जापान के आर्थिक, व्‍यापार और उद्योग मंत्री निसीमूरा यासुतोषी के बीच नई दिल्‍ली में यह बैठक हुई। दोनों पक्षों ने भारत और जापान के उद्योग जगत को ध्‍यान में रखते हुए इस्‍पात क्षेत्र में आर्थिक वृद्धि और कार्बन उत्‍सर्जन कम करने के महत्‍व पर बल दिया। बैठक के दौरान वैश्विक इस्‍पात उद्योग में दोनों देशों की लाभदायक साझेदारी पर चर्चा की गई। उल्‍लेखनीय है कि भारत और जापान क्रमश: विश्‍व में दूसरे और तीसरे बडे इस्‍पात उत्‍पादक हैं। दोनों पक्षों ने इस्‍पात क्षेत्र में शून्‍य कार्बन उत्‍सर्जन की दिशा में सहयोग बढाने पर बल दिया।

7 सीमा पार लेनदेन के लिए स्थानीय मुद्राओं के उपयोग करेंगे भारत और यूएई

भारत और संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) ने अपनी-अपनी राष्ट्रीय मुद्राओं में व्यापार निपटान के लिए एक रूपरेखा स्थापित करने और अपनी तेज़ भुगतान प्रणालियों को जोड़ने के उद्देश्य से एक समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए हैं। यह विकास दोनों देशों के बीच वित्तीय संपर्क बढ़ाने में एक महत्वपूर्ण मील का पत्थर है। भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) के गवर्नर शक्तिकांत दास और सेंट्रल बैंक ऑफ यूएई (CBUAE) के समकक्ष खालिद मोहम्मद बलामा द्वारा हस्ताक्षरित समझौता ज्ञापन, सीमा पार लेनदेन के लिए भारतीय रुपये (INR) और यूएई दिरहम (AED) के उपयोग को बढ़ावा देना चाहता है। यह एक स्थानीय मुद्रा निपटान प्रणाली (LCSS) स्थापित करता है जो चालू खाता लेनदेन और अनुमत पूंजी खाता लेनदेन को कवर करता है।

8 एडवांस्ड एयरोनॉटिकल टेक्नोलॉजी पर भारत और फ्रांस सहयोग करेंगे

भारत और फ्रांस ने वैमानिकी प्रौद्योगिकियों को आगे बढ़ाने के लिए एक अभूतपूर्व सहयोग शुरू किया है। इस संयुक्त विकास का उद्देश्य दोनों देशों की रक्षा क्षमताओं को बढ़ाना है, विशेष रूप से लड़ाकू विमान इंजन और भारतीय मल्टी रोल हेलीकॉप्टर (IMRH) के इंजन के क्षेत्र में। यह घोषणा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की पेरिस यात्रा के दौरान की गई थी और यह दोनों देशों के बीच रक्षा साझेदारी में एक महत्वपूर्ण मील का पत्थर है। एक बड़े विकास में, जनरल इलेक्ट्रिक (GE) एयरोस्पेस ने F414 इंजन बनाने के लिए हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड (HAL) के साथ एक समझौते पर हस्ताक्षर किए हैं। इन इंजनों का उपयोग भारतीय वायु सेना के Light Combat Aircraft Mk2 विमान में किया जाएगा, और समझौते में 80% प्रौद्योगिकी हस्तांतरण शामिल है। F414 इंजन में 98 kN का थ्रस्ट होता है।

9 संयुक्त राष्ट्र में हिंदी को बढ़ावा देने के लिए भारत ने 1 मिलियन डॉलर का दान दिया

भारत ने हिंदी भाषा को बढ़ावा देने के लिए संयुक्त राष्ट्र को 1 मिलियन डॉलर का दान दिया है। ग्लोबल कम्युनिकेशंस के अवर महासचिव मेलिसा फ्लेमिंग ने @UNinHindi सेवा में उनके उदार निवेश के लिए @IndiaUNNewYork और @ruchirakamboj का आभार व्यक्त किया, जिसका उद्देश्य भारत और उसके बाहर हिंदी भाषी दर्शकों तक संयुक्त राष्ट्र समाचार और कहानियां पहुंचाना है। भारत की स्थायी प्रतिनिधि रुचिरा कंबोज ने दान चेक प्रस्तुत किया और संयुक्त राष्ट्र में हिंदी के उपयोग को बढ़ावा देने के लिए भारत की प्रतिबद्धता की पुष्टि की। उन्होंने हिंदी में समाचार और मल्टीमीडिया सामग्री को मुख्यधारा और समेकित करने के लिए संयुक्त राष्ट्र द्वारा किए गए प्रयासों पर प्रकाश डाला, जिन्हें भारत और अन्य देशों में हिंदी भाषी आबादी के बीच अच्छी तरह से प्राप्त किया गया है।

10 अमेरिका ने भारत को सौंपे 105 पुरावशेष

जून में पीएम मोदी की अमेरिका की राजकीय यात्रा काफी सफल रही। इसी क्रम में भारत को एक और सफलता मिली है। पीएम मोदी की यात्रा के बाद अब अमेरिका भारत के 105 तस्करी वाले पुरावशेष वापस सौंप रहा है। इस बात की जानकारी अमेरिका में भारत के राजदूत तरनजीत सिंह संधू ने दी। उन्होंने बताया कि अमेरिका की ओर से सौंपे गए 105 तस्करी वाले पुरावशेषों के लिए एक प्रत्यावर्तन समारोह न्यूयॉर्क में भारतीय वाणिज्य दूतावास में आयोजित किया गया। 105 कलाकृतियां भारत में उनकी उत्पत्ति के संदर्भ में व्यापक भौगोलिक विस्तार का प्रतिनिधित्व करती हैं। लगभग 50 कलाकृतियां धार्मिक विषयों (हिंदू धर्म, जैन धर्म और इस्लाम) से संबंधित हैं और बाकी सांस्कृतिक महत्व की हैं। दूसरी-तीसरी शताब्दी ईस्वी से 18वीं-19वीं शताब्दी ईस्वी तक की अवधि में फैली कलाकृतियां टेराकोटा,पत्थर, धातु और लकड़ी से बनी हैं। 105 कलाकृतियां भारत में अपनी उत्पत्ति के संदर्भ में व्यापक भौगोलिक विस्तार का प्रतिनिधित्व करती हैं। इनमें 47 कलाकृतियां पूर्वी भारत से, 27 दक्षिणी भारत से, 22 मध्य भारत से, 6 उत्तरी भारत से और 3 पश्चिमी भारत से है। पहली बार 2016 में अमेरिका की ओर से 16 प्राचीन वस्तुएं लौटाई गईं थीं। इसके बाद 2021 में 157 प्राचीन वस्तुएं वापस की गईं। इन 105 पुरावशेषों के साथ, अमेरिकी पक्ष ने 2016 से भारत को कुल 278 सांस्कृतिक कलाकृतियां सौंपी हैं।

11 केन्‍द्र ने गैर-बासमती चावल की पर्याप्‍त घरेलू उपलब्‍धता के लिए निर्यात पर रोक लगा दी है

केन्‍द्र ने गैर-बासमती चावल की पर्याप्‍त घरेलू उपलब्‍धता के लिए निर्यात पर रोक लगा दी है। घरेलू स्तर पर एक साल में चावल की कीमतों में 11 प्रतिशत की बढ़ोतरी हुई है। उपभोक्‍ता मामलों के मंत्रालय ने कहा है कि घरेलू बाजार में गैर-बासमती चावलों के मूल्‍य में कमी और उपलब्धता सुनिश्चित करने के लिए पिछले साल अगस्‍त में 20 प्रतिशत निर्यात शुल्क लगाया गया। मंत्रालय ने कहा है कि किसानों को फसल का लाभ सुनिश्चित करने के लिए सभी प्रयास किये जा रहे हैं।

12 राजस्थान मृत शरीर का सम्मान विधेयक -2023

मांग मनवाने के लिए शव रखकर किए जा रहे प्रदर्शन में शामिल हुए तो आपको भी 5 साल तक की जेल हो सकती है। इसके लिए राजस्थान विधानसभा ने मृत शरीर का सम्मान विधेयक-2023 पारित किया गया, ऐसा कानून लाने वाला राजस्थान पहला राज्य है। उधर, राजस्थान न्यूनतम आय गारंटी व भर्ती परीक्षाओं में नकल पर उम्रकैद की सजा वाले विधेयकों पर शुक्रवार को चर्चा होगी। न्यूनतम आय की गारंटी देने के लिए कानून लाने वाला भी राजस्थान पहला राज्य होगा। शव रखकर धरना-प्रदर्शन करने की वर्ष 2014 से 2018 तक 82 एवं वर्ष 2019 से अब तक 306 घटनाएं हुई। वर्ष 2023 तक प्रदेश में 3216 लावारिस शव मिले। इन घटनाओं को रोकने के लिए पारित विधेयक में डीएनए प्रोफाइलिंग और डिजिटाइजेशन के माध्यम से आनुवंशिक जेनेटिक डाटा सूचना का संरक्षण और सूचना की गोपनीयता का प्रावधान भी है। इससे लावारिस शवों का रिकॉर्ड संधारित हो सकेगा और उनकी भविष्य में पहचान भी हो सकेगी।
मृत शरीर का सम्मान विधेयक-2023 के खास प्रावधान –

  • 24 घंटे में करना होगा अंतिम संस्कार
  • परिजन द्वारा शव नहीं लेने पर एक वर्ष, शव रखकर धरना-प्रदर्शन करने पर 2 वर्ष की सजा व जुर्माना
  • परिजन से इतर अन्य व्यक्ति द्वारा शव को विरोध के लिए इस्तेमाल करने पर 6 माह से 5 वर्ष तक की सजा।
  • कार्यपालक मजिस्ट्रेट मृतक का अंतिम संस्कार 24 घंटे में कराएगा। समय विशेष परिस्थिति में बढ़ाया जा सकेगा।
  • परिजन द्वारा अंतिम संस्कार नहीं करने पर लोक प्राधिकारी अंतिम संस्कार करा सकेगा।

13 अरुणाचल प्रदेश में मनाया गया चचिन चराई महोत्सव

अरुणाचल प्रदेश के बुमला दर्रे के पास तवांग क्षेत्र के स्थानीय चरवाहों ने 14-15 जुलाई को चाचिन चराई उत्सव मनाया। चाचिन में आयोजित दो दिवसीय कार्यक्रम में तवांग क्षेत्र के सभी चरवाहों ने उत्साहपूर्वक भाग लिया। इस कार्यक्रम में लगभग 100 चरवाहों और याकों के उनके झुंड ने भाग लिया, जिनकी संख्या 400 से अधिक थी। इस उत्सव में स्थानीय चरवाहों की सहायता के लिए एक चिकित्सा शिविर आयोजित किया गया था जो अक्सर शहरी क्षेत्रों में प्रचलित चिकित्सा सुविधाओं के बिना दूरदराज के स्थानों में रहते हैं।

14 अल्जाइमर की नई दवा क्या है, डोनानेमेब

न्यू इंग्लैंड जर्नल ऑफ मेडिसिन में प्रकाशित अध्ययन के अनुसार, अल्जाइमर रोग की नई दवा डोनानेमब ने क्लिनिकल परीक्षण में सकारात्मक परिणाम दिखाए हैं। शुरुआती चरण के अल्जाइमर वाले 257 प्रतिभागियों पर डोनानेमब दवा का परीक्षण किया गया है, जिन्हें 76 सप्ताह तक हर चार सप्ताह में अंतःशिरा जलसेक द्वारा डोनानेमब या प्लेसिबो प्राप्त करने के लिए यादृच्छिक रूप से नियुक्त किया गया था। शोधकर्ताओं ने एकीकृत अल्जाइमर रोग रेटिंग स्केल (आईएडीआरएस) नामक संज्ञानात्मक और कार्यात्मक स्कोर में बदलाव को मापा, जो 0-144 के बीच है। शोधकर्ताओं ने एमिशन टोमोग्राफी (पीईटी) स्कैन का उपयोग करके मस्तिष्क में अमाइलॉइड-बीटा स्तर में बदलाव को भी मापा।

15 SJVN ने जीता स्वच्छता पखवाड़ा पुरस्कार 2023 में पहला पुरस्कार

SJVN लिमिटेड को ऊर्जा मंत्रालय द्वारा स्वच्छता पखवाड़ा पुरस्कार 2023 में प्रथम पुरस्कार से सम्मानित किया गया है। SJVN के अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक (सीएमडी) एनएल शर्मा ने नई दिल्ली में आयोजित एक समारोह के दौरान विद्युत मंत्रालय के सचिव पंकज अग्रवाल से पुरस्कार प्राप्त किया। इन पुरस्कारों के लिए सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रमों (पीएसयू) का मूल्यांकन विभिन्न मानदंडों पर आधारित है, जिसमें जनता के बीच स्वच्छ भारत अभियान के बारे में जागरूकता बढ़ाने के लिए की गई पहल भी शामिल है। SJVN ने शीर्ष स्थान हासिल किया है, जिसमें दूसरा और तीसरा पुरस्कार क्रमशः पावर ग्रिड और पीएफसी को दिया गया है। SJVN ने पिछले वर्ष के स्वच्छता पखवाड़ा पुरस्कारों में भी प्रथम पुरस्कार हासिल किया था।

16 एंडोमेट्रियोसिस और एक संक्रामक जीवाणु के बीच विलक्षण संबंध

अध्ययन के अनुसार, एक संक्रामक जीवाणु, फ्यूसोबैक्टीरियम कुछ महिलाओं में एंडोमेट्रियोसिस से जुड़ा हुआ है। वैज्ञानिकों को अभी तक यह पता लगाना बाकी है कि प्रत्येक महिला में घावों के स्थान अलग-अलग क्यों होते हैं। एंडोमेट्रियोसिस एक ऐसी बीमारी है जिसमें गर्भाशय के अस्तर के समान ऊतक गर्भाशय के बाहर बढ़ता है। यह श्रोणि में गंभीर दर्द पैदा कर सकता है और गर्भवती होने के लिए कठिन बना सकता है। एंडोमेट्रियोसिस किसी व्यक्ति की पहली मासिक धर्म अवधि में शुरू हो सकता है और रजोनिवृत्ति तक रहता है। एंडोमेट्रियोसिस एक प्रजनन रोग है जो दस महिलाओं में से एक को प्रभावित करता है। एंडोमेट्रियोसिस के सामान्य कारणों में से एक प्रतिगामी मासिक धर्म हो सकता है- जब मासिक धर्म रोग का कुछ हिस्सा योनि से बाहर बहने के बजाय पेट के क्षेत्र में पीछे की ओर बहता है जो एंडोमेट्रियोसिस का कारण बन सकता है। प्रतिगामी मासिक धर्म से रक्त कोशिकाओं का पता लगाने और समाप्त करने के लिए प्रतिरक्षा प्रणाली की अक्षमता, इसे श्रोणि क्षेत्र में बने रहने की अनुमति देती है, प्रतिरक्षा प्रणाली में कुछ शिथिलता की ओर इशारा करती है।

17 डिजिटल मुद्रा पायलट को मिली गति; एसबीआई, एचडीएफसी बैंक ने अभियान बढ़ाया

भारत में सेंट्रल बैंक डिजिटल करेंसी (सीबीडीसी) पायलट जोर पकड़ रहा है क्योंकि बैंक ग्राहकों को जोड़ने के अपने प्रयासों में तेजी ला रहे हैं, पायलट अब अपने दूसरे चरण में है। मुंबई, नई दिल्ली, बेंगलुरु, भुवनेश्वर और चंडीगढ़ जैसे प्रमुख शहरों को कवर करने के बाद, बैंक हैदराबाद, इंदौर, कोच्चि, लखनऊ, पटना, शिमला, गोवा, गुवाहाटी और टियर- II जैसे स्थानों में चुनिंदा ग्राहकों तक अपनी पहुंच बढ़ा रहे हैं। इस विस्तार का लक्ष्य पायलट में नामांकन के लिए अधिक उपयोगकर्ताओं को आकर्षित करना है। ई-रुपया का उपयोग करके खुदरा लेनदेन के लिए सीबीडीसी पायलट ने उल्लेखनीय रुचि पैदा की है, जिसमें दस लाख से अधिक उपयोगकर्ता और 2,62,000 व्यापारी पहले से ही भाग ले रहे हैं। भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने भारतीय वित्तीय परिदृश्य में डिजिटल मुद्रा के बढ़ते महत्व को उजागर करते हुए बैंकों से वर्ष के अंत तक सीबीडीसी का उपयोग करके प्रतिदिन दस लाख लेनदेन के लिए तैयार रहने का आह्वान किया है।

18 गोमती नदी: बारहमासी स्थिति और संरक्षण पर विवाद

गोमती नदी जो गंगा नदी की एक महत्त्वपूर्ण सहायक नदी है, अपनी बारहमासी स्थिति एवं संरक्षण को लेकर विवादास्पद मुद्दों का केंद्र बन गई है। उत्तर प्रदेश सरकार के सिंचाई विभाग ने सितंबर 2020 में गोमती को “गैर-बारहमासी नदी” घोषित किया था जिसकी जल विशेषज्ञों और नदी अधिकार कार्यकर्त्ताओं ने आलोचना की थी। इसके अतिरिक्त गोमती मानसून के दौरान गंगा को पुनः जलधारा से पूर्ण करने में महत्त्वपूर्ण भूमिका निभाती है जिससे यह क्षेत्र के पारिस्थितिकी तंत्र के लिये अपरिहार्य हो जाती है। इस नदी की सुरक्षा की सख्त ज़रूरत को केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (CPCB) की एक रिपोर्ट से उज़ागर किया गया है जिसमें वर्ष 2022 तक गोमती को देश की पाँचवीं सबसे प्रदूषित नदी का दर्जा दिया गया था।

19 AI के विकास में जवाबदेही और सुरक्षा सुनिश्चित करना

आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस/कृत्रिम बुद्धिमता पर संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की पहली बैठक के दौरान AI के सुरक्षित और ज़िम्मेदार विकास को लेकर चिंताएँ जताई गईं। AI मानव मस्तिष्क की समस्या-समाधान एवं निर्णय लेने की क्षमताओं की नकल करने के लिये कंप्यूटर और मशीनों का सहारा लेता है। इसलिये अंतर्राष्ट्रीय समुदाय ने अराजक अथवा अप्रत्याशित व्यवहार से बचने के लिये क्षमताओं, दुरुपयोग तथा सुरक्षा खामियों के लिये AI प्रणाली के परीक्षण के तरीकों को विकसित करने की आवश्यकता पर ज़ोर दिया। संयुक्त राष्ट्र महासचिव ने पूर्वाग्रही, भेदभावपूर्ण और सत्तावादी निगरानी जैसे मुद्दों को हल करने के लिये संयुक्त राष्ट्र में मानकों तथा सर्वोत्तम प्रथाओं को अपनाने के महत्त्व पर ज़ोर दिया। मानव-केंद्रित और भरोसेमंद AI व्यवस्था सुनिश्चित करने के लिये इसका विकास लोकतांत्रिक मूल्यों एवं मानवाधिकारों के अनुरूप होना ही चाहिये।

20 वित्त मंत्रालय ने सेबी के ईडी प्रमोद राव को IFSCA बोर्ड में नियुक्त किया

वित्त मंत्रालय ने SEBI के कार्यकारी निदेशक प्रमोद राव को अंतर्राष्ट्रीय वित्तीय सेवा केंद्र प्राधिकरण (IFSCA) के बोर्ड में सदस्य के रूप में नियुक्त किया है। राव ने SEBI के कार्यकारी निदेशक सुजीत प्रसाद की जगह ली है, जिन्हें जुलाई 2020 में आईएफएससीए में सदस्य (SEBI का प्रतिनिधित्व करते हुए) के रूप में नियुक्त किया गया था। IFSCA अंतर्राष्ट्रीय वित्तीय सेवा केंद्र प्राधिकरण अधिनियम, 2019 के तहत स्थापित एक वैधानिक प्राधिकरण है, जिसे अंतर्राष्ट्रीय वित्तीय सेवा केंद्रों (IFSC) में वित्तीय उत्पादों, वित्तीय सेवाओं और वित्तीय संस्थानों को विकसित और विनियमित करने का जनादेश दिया गया है। वर्तमान में, गुजरात में गिफ्ट सिटी भारत का पहला और एकमात्र परिचालन IFSC है।