राष्ट्रपति ने 17वें प्रवासी भारतीय दिवस सम्मेलन के समापन सत्र की गरिमा बढ़ाईं और प्रवासी भारतीय सम्मान पुरस्कार प्रदान किए

0
76

<>

1. राष्ट्रपति ने 17वें प्रवासी भारतीय दिवस सम्मेलन के समापन सत्र की गरिमा बढ़ाईं और प्रवासी भारतीय सम्मान पुरस्कार प्रदान किए

राष्ट्रपति श्रीमती द्रौपदी मुर्मु ने 10 जनवरी, 2023 को मध्य प्रदेश के इंदौर में 17वें प्रवासी भारतीय दिवस सम्मेलन के समापन सत्र में हिस्सा लिया और उसे संबोधित किया। इसके अलावा उन्होंने प्रवासी भारतीय सम्मान पुरस्कार भी प्रदान किए। प्रवासी भारतीय सम्मान पुरस्कार राष्ट्र की ओर से भारत और उनके घरेलू देशों में प्रवासी सदस्यों के योगदान के लिए उन्हें दी गई सर्वोच्च मान्यता का प्रतीक है। ये पुरस्‍कार विशिष्ट हैं, क्‍योंकि ये न केवल प्रवासियों की उपलब्धियों को लेकर हमारी प्रशंसा और स्‍वीकृति को, बल्कि विश्व में भारत के झंडे को ऊंचा रखने के उनके संकल्प में हमारे विश्वास को भी प्रतिबिम्बित करते हैं। राष्ट्रपति ने इस साल के प्रवासी भारतीय दिवस सम्मेलन की विषयवस्तु- “प्रवासी: अमृत काल में भारत की प्रगति के लिए विश्वसनीय भागीदार” का उल्लेख किया।

2. अखिल भारतीय पीठासीन अधिकारियों का 83वां सम्‍मेलन जयपुर में आरंभ

उपराष्‍ट्रपति और राज्‍यसभा के सभापति जगदीप धनखड ने जयपुर में दो दिन के पीठासीन अधिकारियों के सम्‍मेलन का उद्घाटन किया। लोकसभा अध्‍यक्ष ओम बिरला राज्‍यसभा के उपसभापति सहित कई विधानसभाओं के अध्‍यक्ष और उपाध्‍यक्ष इस सम्‍मेलन में उपस्थित थे। सम्‍मेलन को संबोधित करते हुए उपराष्‍ट्रपति ने कहा कि पीठासीन अधिकारी सम्‍मानित पद पर हैं और इस स्थिति में वे राजनीति के पक्षकार नहीं है। राज्‍यसभा के उपसभापति हरिवंश, राजस्‍थान के मुख्‍यमंत्री अशोक गहलोत, राजस्‍थान विधानसभा के अध्‍यक्ष और विपक्ष के नेता गुलाब चंद कटारिया ने भी सम्‍मेलन के उद्घाटन सत्र को संबोधित किया। राजस्‍थान के राज्‍यपाल कलराज मिश्र समापन समारोह के मुख्‍य अतिथि होंगे। अखिल भारतीय पीठासीन अधिकारियों का 83 वां सम्‍मेलन 11 वर्षों के बाद राजस्थान में हो रहा है। इससे पहले यह सम्‍मेलन राज्‍स्‍थान में वर्ष 2011 में हुआ था।

3. प्रधानमंत्री ने मध्य प्रदेश के इंदौर में आयोजित मध्य प्रदेश ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट 2023 को वीडियो संदेश के माध्यम से संबोधित किया

प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने मध्य प्रदेश के इंदौर में आयोजित मध्य प्रदेश ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट (छठा ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट) को वीडियो संदेश के माध्यम से संबोधित किया। यह शिखर सम्मेलन मध्य प्रदेश में निवेश के विविध अवसरों को प्रदर्शित करेगा। “मध्यप्रदेश : भविष्य के लिए तैयार राज्य” विषय पर आयोजित वैश्विक निवेशक सम्मेलन ‘‘इन्वेस्ट (निवेश) मध्यप्रदेश’’ में गुयाना के राष्ट्रपति मोहम्मद इरफान अली और सूरीनाम के राष्ट्रपति चंद्रिकाप्रसाद संतोखी भी खास तौर पर शामिल हो रहे हैं। दोनों राष्ट्राध्यक्ष इंदौर में मंगलवार को खत्म हुए तीन दिवसीय प्रवासी भारतीय दिवस सम्मेलन में क्रमश: मुख्य अतिथि और विशेष सम्मानित अतिथि के तौर पर शामिल हुए थे। राज्य सरकार ने ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट का हिस्सा बनने के लिए उनसे खास अनुरोध किया था। दो दिन तक चलने वाले सम्मेलन में 65 से अधिक देशों के प्रतिनिधिमंडल और 20 से अधिक देशों के राजदूत, उच्चायुक्त, वाणिज्य दूतावास के अफसर और राजनयिक शामिल होंगे।

4. Global Tamil Angels प्लेटफार्म लांच किया गया

ग्लोबल तमिल एंजल्स प्लेटफॉर्म को “ग्लोबल स्टार्टअप इन्वेस्टर्स समिट” में लॉन्च किया गया, जिसे तमिलनाडु स्टार्टअप एंड इनोवेशन मिशन और FeTNA इंटरनेशनल तमिल एंटरप्रेन्योर नेटवर्क द्वारा सह-आयोजित किया गया था। StartupTN द्वारा होस्ट किया गया प्लेटफॉर्म, तमिलनाडु बेस्ड स्टार्ट-अप को वैश्विक तमिल डायस्पोरा से संभावित निवेशकों से जुड़ने की अनुमति देता है। ग्लोबल तमिल एंजल्स प्लेटफॉर्म पर एक प्रोफाइल बनाकर स्टार्ट-अप शुरू किया जा सकता है। उन्हें अपनी कंपनी के बारे में बुनियादी जानकारी जमा करनी होगी और अपने पिच डेक, राजस्व मॉडल, कर्षण वाले लक्ष्यों को अपलोड करना होगा। StartupTN द्वारा सत्यापन के बाद, उनके प्रोफाइल पोर्टल पर प्रकाशित किए जाएंगे और निवेशकों को दिखाई देंगे। संस्थापक तब उन क्षेत्रों के आधार पर निवेशकों की एक व्यक्तिगत सूची का पता लगा सकते हैं जिनमें वे निवेश करने में रुचि रखते हैं और निवेश चर्चा शुरू करने के लिए निमंत्रण भेज सकते हैं।

5. केंद्रीय मंत्री नारायण राणे ने RAMP के लिए वेब पोर्टल लॉन्च किया

देश में सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यमों (MSMEs) की कार्यान्वयन क्षमता और कवरेज को बढ़ाने के प्रयास में, MSMEs के मंत्री नारायण राणे ने हाल ही में 6,062.45 करोड़ रुपये की विश्व बैंक-सहायता प्राप्त केंद्र सरकार की योजना Raising and Accelerating MSME Performance (RAMP) के लिए वेब पोर्टल लॉन्च किया। विश्व बैंक के एक बयान के अनुसार, इस योजना की मूल रूप से 2020 में देश में कोविड-प्रभावित MSMEs का समर्थन करने के लिए घोषणा की गई थी और इसका उद्देश्य 5.55 लाख MSMEs के प्रदर्शन में सुधार करना है। RAMP योजना के लिए वेब पोर्टल का शुभारंभ भारत में MSMEs को आवश्यक सहायता प्रदान करने की दिशा में एक कदम है जो कोविड-19 महामारी से प्रभावित हुए हैं। यह योजना, जो विश्व बैंक और भारत सरकार दोनों द्वारा समर्थित है, का उद्देश्य संस्थागत और नीतिगत सुधारों, अनुसंधान अध्ययनों और प्रौद्योगिकी उन्नयन का समर्थन करके देश में MSMEs के प्रदर्शन में सुधार करना है। यह योजना शुरू में पूरे भारत में MSMEs को कवर करने के लक्ष्य के साथ पांच राज्यों में लागू की जाएगी।

6. अमेरिका, हैदराबाद में पैगाह मकबरों के संरक्षण और बहाली के लिये वित्तीय सहायता प्रदान करेगा

अमेरिकाहैदराबाद में 18वीं-19वीं शताब्दी में निर्मित 6 पैगाह मकबरों के संरक्षण और बहाली के लिये 250,000 अमेरिकी डॅालर (सांस्कृतिक संरक्षण के लिये अमेरिकी राजदूत कोष द्वारा) की वित्तीय सहायता प्रदान करेगा। आगा खान ट्रस्ट फॉर कल्चर इस परियोजना को लागू करेगा। पैगाह मकबरा (या मकबरा शम्स अल-उमरा) हैदराबाद के निज़ाम (आसफ जाही राजवंश) की सेवा करने वाले पैगाह परिवार की कुलीनता से संबंधित एक कब्रिस्तान है। चूने, मोर्टार और संगमरमर से बने मकबरे इंडो-इस्लामिक वास्तुकला (आसफ जाही और राजपूताना शैलियों का मिश्रण) के बेहतरीन उदाहरणों में से हैं। 18वीं शताब्दी में पैगाह हैदराबाद के सबसे प्रभावशाली और शक्तिशाली परिवारों में से थे। अधिकांश शासकों की तुलना में वे अमीर थे, साथ ही क्षेत्र की सुरक्षा एवं रक्षा के लिये भी ज़िम्मेदार थे। उन्होंने इस्लाम के दूसरे खलीफा हजरत उमर बिन अल-खताब के वंशज होने का दावा किया।

7. वर्ष 2022 में दिल्ली 99.7 ug/m3 की वार्षिक औसत सघनता (PM 2.5) के साथ शीर्ष प्रदूषित शहर

वर्ष 2022 में राष्ट्रीय स्वच्छ वायु कार्यक्रम द्वारा CPCB वायु गुणवत्ता डेटा विश्लेषण के अनुसार, दिल्ली 99.7 ug/m3 की वार्षिक औसत सघनता (PM 2.5) के साथ शीर्ष प्रदूषित शहर था। यह वायु के 40 ug/m3 के CPCB मानक से बहुत अधिक है। विश्लेषण में पाया गया है कि वर्ष 2022 की शीर्ष 10 सबसे प्रदूषित शहरों की सूची में अधिकांश शहर भारत-गंगा के मैदान से हैं; PM 2.5 (दिल्ली, फरीदाबाद, गाज़ियाबाद, पटना, मुज़फ्फरपुर, नोएडा, मेरठ, गोबिंदगढ़, गया और जोधपुर) तथा PM 10 (गाज़ियाबाद, फरीदाबाद, दिल्ली, नोएडा, पटना, मेरठ, मुज़फ्फरपुर, दुर्गापुर, जोधपुर एवं औरंगाबाद) के लिये। वर्ष 2022 में भारत के सबसे स्वच्छ शहर की स्थिति में संयुक्त रूप से श्रीनगर और कोहिमा थे। PM 2.5 और PM 10 के लिये भारत की वर्तमान वार्षिक औसत सुरक्षित सीमा 40 ug/m3 और 60 ug/m3 है। NCAP ने शुरू में प्रमुख वायु प्रदूषकों PM 10 और PM 2.5 को वर्ष 2024 तक 20-30% और 2026 तक 40% (आधार वर्ष – 2017) तक कम करने का लक्ष्य रखा था।

8. केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने रेवोल्यूशनरीज- द अदर स्टोरी ऑफ हाउ इंडिया वन इट्स फ्रीडम नामक पुस्तक का किया विमोचन।

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने नई दिल्ली में एक समारोह में रेवोल्यूशनरीज- द अदर स्टोरी ऑफ हाउ इंडिया वन इट्स फ्रीडम पुस्तक का विमोचन किया। पुस्तक के लेखक अर्थशास्त्री और प्रधानमंत्री की आर्थिक सलाहकार परिषद के सदस्य संजीव सान्याल हैं। इस अवसर पर श्री शाह ने कहा कि देश आजादी का अमृत महोत्सव मना रहा है और प्रधानमंत्री ने पंच प्रण का आह्वान किया है। श्री शाह ने कहा कि अंग्रेज तो चले गए लेकिन उनकी मानसिकता बनी रही और यह पुस्तक उस भ्रम को दूर करने में सहायता करेगी।

9. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया ने ब्रेविंग ए वायरल स्टॉर्म: इंडियाज कोविड-19 वैक्सीन स्टोरी नामक पुस्तक का किया विमोचन।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया ने ब्रेविंग ए वायरल स्टॉर्म: इंडियाज कोविड-19 वैक्सीन स्टोरी पुस्तक का नई दिल्ली में विमोचन किया। पुस्तक के सह-लेखक आशीष चांदोरकर और सूरज सुधीर हैं। जनवरी, 2021 में कोविड-19 टीकाकरण अभियान शुरू करने की दूसरी वर्षगांठ से पहले पुस्तक का विमोचन किया गया है।

10. सरकार ने रूपे ड‍ेबिट कार्ड और कम रकम की लेन-देन से संबंधित भीम-यू.पी.आई. को बढ़ावा देने की दो हजार छह सौ करोड रूपये की प्रोत्‍साहन योजना को मंजूरी दी।

केन्‍द्रीय मंत्रिमंडल ने रूपे ड‍ेबिट कार्ड और कम रकम की लेन-देन से संबंधित भीम-यू.पी.आई. को बढ़ावा देने की प्रोत्‍साहन योजना को मंजूरी दे दी है। इस योजना की वित्‍तीय व्‍यय दो हजार 600 करोड़ रूपये है। इस निर्णय से डिजिटल व्‍यवस्‍था को मजबूत बनाने में मदद मिलेगी। इस योजना की मंजूरी के अतिरिक्‍त मंत्रिमंडल ने कोलकाता स्थित जोका में नेशनल सेंटर फॉर ड्रिंकिंग वॉटर, सैनिटेशन एंड क्‍वालिटी संस्‍थान का नाम श्‍यामा प्रसाद मुखर्जी नेशनल इंस्‍टीट्यूट ऑफ वॉटर एंड सैनिटेशन किये जाने को भी मंजूरी दी है।

11. केंद्र ने नई एकीकृत खाद्य सुरक्षा योजना को प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना का दिया नाम ।

केंद्र ने नई एकीकृत खाद्य सुरक्षा योजना को प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना नाम दिया है। इससे पहले केंद्रीय मंत्रिमंडल ने अंत्योदय अन्न योजना और प्राथमिक घरेलू लाभार्थियों को मुफ्त खाद्यान्न प्रदान करने के लिए नई एकीकृत खाद्य सुरक्षा योजना को स्वीकृति दी थी। नई योजना का कार्यान्वयन इस वर्ष 1 जनवरी से शुरू हो गया है। इससे 80 करोड़ से अधिक गरीब लोग लाभान्वित हुए हैं। केंद्र सरकार 2023 में राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा योजना और अन्य कल्याणकारी योजनाओं के अंतर्गत खाद्य सब्सिडी के रूप में 2 लाख करोड़ रुपये से अधिक खर्च करेगी।

12. छात्रों द्वारा आयोजित भारत का सबसे बड़ा त्‍यौहार सारंग-2023 चेन्‍नई में आयोजित

आई.आई.टी. मद्रास के निदेशक प्रोफेसर कामाकोटि ने कहा है कि छात्रों द्वारा आयोजित भारत का सबसे बड़ा त्‍यौहार सारंग-2023 11 जनवरी से 15 जनवरी तक आयोजित किया जायेगा। देश के पांच सौ से अधिक कॉलेजों के छात्र इसमें भाग लेंगे। कोविड महामारी के कारण तीन वर्ष के अंतराल के बाद ये उत्‍सव आयोजित किया जा रहा है। उन्‍होंने बताया कि इस उत्‍सव में 80 हजार से अधिक छात्रों के भाग लेने की संभावना है। इसमें सौ से अधिक प्रकार के खेल और प्रतिस्‍पर्धाएं आयोजित की जायेंगी।

13. फ्रांस सरकार ने साल 2030 तक सेवानिवृत्ति आयु 62 से बढाकर 64 साल की

फ्रांस सरकार ने वर्ष 2030 तक सेवानिवृत्ति की आयु 62 वर्ष से बढाकर 64 वर्ष करने की घोषणा की है। फ्रांस की प्रधानमंत्री एलिजाबेथ बोर्न ने पेरिस में इस फैसले की घोषणा की और इसे देश की पेंशन प्रणाली को वित्‍तीय रूप से संतुलित करने के रूप में एक सुधार बताया। फ्रांस सरकार ने दलील दी है कि लोग पहले की तुलना में लम्‍बे समय तक जीवित रहते हैं और उन्‍हें वित्‍तीय रूप से मजबूत होने के लिए अधिक काम करना पडता है।

14. यूरोपीय संघ के वैज्ञानिकों ने कहा है कि वर्ष 2022 यूरोप में दूसरा सबसे गर्म वर्ष रहा

यूरोपीय संघ के वैज्ञानिकों ने कहा है कि वर्ष 2022 यूरोप में दूसरा सबसे गर्म वर्ष रहा। इसकी वजह से फसल उत्‍पादन में कमी आई, नदियां सूख गई और हजारों लोगों की मृत्‍यु हुईं। यूरोपीय संघ के कोपरनिकस जलवायु परिवर्तन सेवा-सी3एस ने कहा है कि वर्ष 2022 विश्‍व का पांचवां सबसे गर्म वर्ष भी था। यूरोप में काफी गर्मी पडी और तापमान पिछले तीन दशकों में वैश्विक औसत से दो गुना से अधिक रहा। कई पश्चिमी यूरोपीय देशों में गर्मियों में तापमान के रिकार्ड टूट गए, गर्म हवाएं चलीं और कई भागों में सूखे की स्थिति बन गई थी।

15. कंप्यूटर की खराबी चलते अमरीका का हवाई यातायात कई घंटों तक ठप

कंप्यूटर की खराबी के कारण कई घंटों तक घरेलू उड़ानें ठप रहने के बाद अमरीका का हवाई यातायात सामान्य हो रहा है। उड़ान निगरानी साइट के नवीनतम डेटा से पता चलता है कि देश भर में 4 हजार से अधिक उड़ानों में विलंब हुआ। अमरीका के राष्ट्रपति जो बिडेन को इस समस्या के बारे में जानकारी दी गई। उन्होंने कहा कि फेडरल विमानन प्रशासन को अभी तक इस समस्या के कारण का पता नहीं चला है। व्हाइट हाउस ने कहा कि साइबर हमले का कोई सबूत नहीं मिला है।

16. सड़क सुरक्षा सप्ताह 11 से 17 जनवरी 2023 तक आयोजित होगा

भारत सरकार का सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय 11 से 17 जनवरी 2023 तक “स्वच्छता पखवाड़ा” के तहत सड़क सुरक्षा सप्ताह मना रहा है। इस पहल का उद्देश्य सभी के हित में सुरक्षित सड़कों की आवश्यकता का प्रचार- प्रसार करना है। एक सप्ताह के दौरान, आम जनता के बीच सड़क सुरक्षा के संबंध में जागरूकता बढ़ाई जाएगी और सभी हितधारकों को सड़क पर चलते समय दूसरों की सुरक्षा हेतु अपनी जिम्मेदारी निभाने ले लिए प्रेरित किया जायेगा।

17. केन्द्रीय मंत्रिमंडल ने कोलकाता के जोका में स्थित राष्ट्रीय पेयजल, स्वच्छता एवं गुणवत्ता केंद्र का नाम बदलकर ‘डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी राष्ट्रीय जल और स्वच्छता संस्थान (एसपीएम-निवास)’ किए जाने को कार्योत्तर मंजूरी दी

माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी की अध्यक्षता में केन्द्रीय मंत्रिमंडल ने कोलकाता के जोका में स्थित राष्ट्रीय पेयजल, स्वच्छता एवं गुणवत्ता केंद्र का नाम बदलकर ‘डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी राष्ट्रीय जल और स्वच्छता संस्थान (एसपीएम-निवास)‘ किए जाने को कार्योत्तर मंजूरी दी है। इस संस्थान को कोलकाता, पश्चिम बंगाल के जोका, डायमंड हार्बर रोड पर 8.72 एकड़ भूमि पर स्थापित किया गया है। इस संस्थान की परिकल्पना प्रशिक्षण कार्यक्रमों के माध्यम से जन स्वास्थ्य इंजीनियरिंग, पेयजल, स्वच्छता और साफ-सफाई के क्षेत्र में राज्यों/केंद्र शासित प्रदेशों में क्षमता विकसित करने वाले एक प्रमुख संस्थान के रूप में की गई है।

18. गुवाहाटी वन्यजीव प्रभाग ने दीपोर बील वेटलैंड में पक्षी प्रजातियों की गणना आयोजित की

हाल ही में असम वन विभाग के गुवाहाटी वन्यजीव प्रभाग ने दीपोर बील वेटलैंड में फरवरी 2022 के बाद दूसरी, पक्षी प्रजातियों की गणना आयोजित की, यह असम में एकमात्र रामसर साइट है। दीपोर बील आर्द्रभूमि में पक्षियों की गणना में कुल मिलाकर 96 प्रजातियों के 26,747 पक्षी दर्ज किये गए। वर्ष 2022 में 66 प्रजातियों में 10,289 पक्षी दर्ज किये गए थे। पक्षियों की संख्या से प्रजातियों की विविधता और प्रजातियों की कुल संख्या में वृद्धि का पता चलता है। दीपोर बील असम में मीठे पानी की सबसे बड़ी झीलों में से एक है और बर्ड लाइफ इंटरनेशनल द्वारा घोषित एक महत्त्वपूर्ण पक्षी क्षेत्र है। दीपोर बील को नवंबर 2002 में रामसर साइट के रूप में नामित किया गया है। यह गुवाहाटी शहर, असम के दक्षिण-पश्चिम की ओर स्थित है तथा ब्रह्मपुत्र नदी का पूर्ववर्ती जल चैनल है। यह झील गर्मियों में 30 वर्ग किमी. तक फैल जाती है और सर्दियों में लगभग 10 वर्ग किमी. तक कम हो जाती है।

19. भारत में कृष्णमृग की संख्या में वृद्धि हुई

भारतीय विज्ञान संस्थान (IISc) के एक नए अध्ययन के अनुसार, भारत में कृष्णमृग (Blackbuck) ने अपने अस्तित्व के लिये प्राकृतिक और मानव जनित खतरों के बावजूद स्वयं को सफलतापूर्वक अनुकूलित कर लिया है। भारत भर में घास के मैदानों में बड़े पैमाने पर कमी आने के बावजूद, आँकड़े बताते हैं कि हाल के वर्षों में कृष्णमृग की संख्या में वृद्धि हुई है। कृष्णमृग का वैज्ञानिक नाम ‘Antilope cervicapra’ है, जिसे ‘भारतीय मृग’ (Indian Antelope) के नाम से भी जाना जाता है। यह भारत और नेपाल में मूल रूप से स्थानिक मृग की एक प्रजाति है। ये राजस्थान, गुजरात, मध्य प्रदेश, तमिलनाडु, ओडिशा और अन्य क्षेत्रों (संपूर्ण प्रायद्वीपीय भारत) में व्यापक रूप से पाए जाते हैं। ये घास के मैदानों में सर्वाधिक पाए जाते हैं अर्थात् इसे घास के मैदान का प्रतीक माना जाता है। कृष्णमृग एक दैनंदिनी मृग (Diurnal Antelope) है अर्थात् यह मुख्य रूप से दिन के समय ज़्यादातर सक्रिय रहता है।

20. ओजोन परत चार दशकों के भीतर पूरी तरह से ठीक होने के रास्ते पर है, संयुक्त राष्ट्र की रिपोर्ट

संयुक्त राष्ट्र की एक नई रिपोर्ट के अनुसार, पृथ्वी की सुरक्षात्मक ओज़ोन परत की धीरे-धीरे लेकिन उल्लेखनीय रूप से पुनर्प्राप्त हो रही है जो लगभग 43 वर्षों में अंटार्कटिक के ऊपर बने छिद्र को पूरी तरह से ढक देगी। हालाँकि यह एक उपलब्धि है, लेकिन वैज्ञानिकों ने ओज़ोन परत पर भू-अभियांत्रिकी प्रौद्योगिकियों जैसे- स्ट्रैटोस्फेरिक एरोसोल इंजेक्शन (Stratospheric Aerosol Injection-SAI) के हानिकारक प्रभावों की चेतावनी दी है। एरोसोल स्प्रे, अन्य सामान्य रूप से उपयोग किये जाने वाले पदार्थ जैसे कि ड्राई-क्लीनिंग सॉल्वैंट्स, रेफ्रिजरेंट और फ्यूमिगेंट्स की तरह ओज़ोन-क्षयकारी पदार्थ (ODS) होते हैं जिनमें क्लोरोफ्लोरोकार्बन (CFC), हाइड्रोक्लोरोफ्लोरोकार्बन (HCFC), हैलोन, मिथाइल ब्रोमाइड, कार्बन टेट्राक्लोराइड एवं मिथाइल क्लोरोफॉर्म शामिल हैं। पहली बार वैज्ञानिक मूल्यांकन पैनल ने समताप मंडल में एरोसोल को जान-बूझकर जोड़ने के ओज़ोन पर संभावित प्रभावों की जाँच की जिसे स्ट्रैटोस्फेरिक एरोसोल इंजेक्शन (SAI) के रूप में जाना जाता है। SAI सूर्य के प्रकाश के परावर्तन को बढ़ा सकता है, जिससे क्षोभमंडल में प्रवेश करने वाली ऊष्मा की मात्रा कम हो जाती है लेकिन यह विधि “समतापमंडलीय तापमान, परिसंचरण एवं ओज़ोन उत्पादन तथा विनाश दर और परिवहन को भी प्रभावित कर सकती है”। रासायनिक सूत्र O₃ के साथ ओज़ोन ऑक्सीजन का एक विशेष रूप है। हम जिस ऑक्सीजन में साँस लेते हैं और जो पृथ्वी पर जीवन के लिये बहुत महत्त्वपूर्ण है, वह O₂ है।

21. संक्षारण (कोरोजन) प्रतिरोधी निकेल मिश्र धातु की परत चढ़ाने (कोटिंग्स) की नई तकनीक विषाक्त क्रोम प्लेटिंग़ को प्रतिस्थापित कर सकती है

विज्ञान और प्रौद्योगिकी विभाग (Department of Science and Technology- DST) के स्वायत्त अनुसंधान और विकास केंद्र के अनुसार, इंजीनियरिंग अनुप्रयोगों में उच्च- क्षमता प्रदर्शन सामग्री पर निकेल मिश्र धातु के निक्षेपण की परत चढ़ाने (कोटिंग) की एक नई विधि पर्यावरण की दृष्टि से विषाक्त क्रोम प्लेटिंग/कोटिंग को प्रतिस्थापित कर सकती है। क्रोम प्लेटिंग एक ऐसी प्रक्रिया है जिसके द्वारा विद्युत लेपन/इलेक्ट्रोप्लेटिंग प्रक्रिया का उपयोग करके धातु की सतह पर क्रोमियम की एक पतली परत का आवरण चढ़ाया जाता है। विद्युत के माध्यम से किसी अन्य सामग्री पर किसी वांछित धातु की परत चढ़ाने की प्रक्रिया को विद्युत लेपन कहते हैं।

22. केरल विश्वविद्यालय ने यूथ फेस्टिवल में ‘ओवरऑल चैंपियनशिप’ जीती

केरल विश्वविद्यालय ने तिरुपति में श्री पद्मावती महिला विश्व विद्यालय (SPMVV) में 36वें इंटर यूनिवर्सिटी साउथ ज़ोन यूथ फेस्टिवल पद्म तरंग में ‘ओवरऑल चैंपियनशिप’ हासिल की। महात्मा गांधी विश्वविद्यालय, कोट्टायम उपविजेता रहा। चैंपियनशिप को पांच श्रेणियों में से प्रत्येक में सम्मानित किया गया

  • संगीत: एमजीयू कोट्टायम
  • नृत्य: श्री शंकराचार्य संस्कृत विश्वविद्यालय
  • ललित कला: योगी वेमना विश्वविद्यालय
  • रंगमंच: केरल विश्वविद्यालय
  • साहित्यिक कार्यक्रम: केरल विश्वविद्यालय

23. छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री ने रायपुर में पारंपरिक ‘छेरछेरा’ महोत्सव मनाया

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने छत्तीसगढ़ के रायपुर में दूधाधारी मठ में ‘छेरछेरा/चेरचेरा’ उत्सव मनाया। छत्तीसगढ़ का छेरछेरा त्यौहार ‘पौष’ हिंदू कैलेंडर माह की पूर्णिमा की रात को मनाया जाता है। यह खेती के बाद फसल को अपने घर ले जाने की खुशी और खुशी का जश्न मनाने के लिए है। मुख्यमंत्री बघेल ने छत्तीसगढ़ के सभी नागरिकों को इस शुभ अवसर पर हार्दिक शुभकामनाएं दी हैं।

24. DAC ने VSHORAD मिसाइल प्रणाली को मंज़ूरी

रक्षा अधिग्रहण परिषद (रक्षा मंत्री की अध्यक्षता में) ने DRDO द्वारा डिज़ाइन और विकसित की जा रही वेरी शॉर्ट रेंज एयर डिफेंस सिस्टम/VSHORAD (इन्फ्रारेड होमिंग) मिसाइल प्रणाली की खरीद की आवश्यकता को स्वीकार्यता (Acceptance of Necessity- AoN) प्रदान की। रक्षा अधिग्रहण परिषद (DAC) ने (a) स्वदेशी उन्नत हल्के हेलीकाप्टर/ALH (सेना के लिये) हेतु हेलिना एंटी-टैंक गाइडेड मिसाइल, लॉन्चर और सहायक उपकरण (b) ब्रह्मोस लॉन्चर एंड फायर कंट्रोल सिस्टम तथा नेक्स्ट जेनरेशन मिसाइल वेसल्स (नौसेना के लिये) की खरीद के लिये भी मंज़ूरी दे दी है। DAP-2020 के तहत “बाय (इंडियन-IDDM) श्रेणी” की सर्वोच्च प्राथमिकता वाली खरीद है। रक्षा प्रणाली में यह प्रगति LAC पर चीन के साथ बढ़ते तनाव के मद्देनज़र की गई है।

25. DRDO ने हिमालयी क्षेत्रों में अभियान के लिए मानवरहित यान विकसित किया

हिमालयी सीमा पर साजो-सामान संबंधी परिचालन को लक्षित करते हुए अनुसंधान एवं विकास संगठन (डीआरडीओ) ने एक ऐसा मानवरहित यान विकसित किया है जो पांच किलोग्राम से 25 किलोग्राम तक सामान ले जाने तथा दुश्मन क्षेत्र में बम गिराने में भी सक्षम है। महाराष्ट्र के नागपुर में 108वीं भारतीय विज्ञान कांग्रेस में डीआरडीओ ने इसे प्रदर्शित किया। सिक्किम में 14000 फुट की ऊंचाई पर इसके सफल परीक्षण किये जा चुके हैं।

26. स्प्रिंट योजना के तहत भारतीय नौसेना स्वायत्त हथियारयुक्त नाव स्वार्म प्राप्त करेगी

iDEX ने भारतीय नौसेना के लिए ऑटोनॉमस वेपनाइज्ड बोट स्वार्म्स के लिए सागर डिफेंस के साथ अपने 50वें स्प्रिंट अनुबंध पर हस्ताक्षर किए हैं। 2022 में आज़ादी का अमृत महोत्सव के तहत भारतीय नौसेना द्वारा पेश की गई 75 चुनौतियों में से ऑटोनॉमस वेपनाइज़्ड बोट एक तकनीक है।सागर डिफेंस ने झुंड बनाने की क्षमता वाली देश की पहली स्वायत्त हथियार रहित मानवरहित नाव विकसित की है। रक्षा भारत स्टार्ट-अप चैलेंज (DISC 7) SPRINT पहल की एक भारतीय नौसेना परियोजना के तहत अनुबंध पर हस्ताक्षर किए गए थे।

27. कटक में हॉकी विश्व कप का उदघाटन

एफआईएच पुरुष हॉकी विश्व कप की ओडिशा में कटक के बाराबती स्टेडियम में रंगारंग शुरुआत हुई। उद्घाटन समारोह में ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक, केंद्रीय खेल मंत्री अनुराग ठाकुर, एफआईएच अध्यक्ष तैयब इकराम, हॉकी इंडिया के अध्यक्ष दिलीप टिर्की और कई राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय खिलाड़ी उपस्थित थे।

28. दिग्गज फुटबॉलर गैरेथ बेल ने लिया संन्यास

वेल्स के दिग्गज फुटबॉल खिलाड़ी गैरेथ बेल ने हाल ही में संन्यास का एलान किया। महज 33 साल की उम्र में उन्होंने क्लब और अंतरराष्ट्रीय फुटबॉल से संन्यास का एलान किया है। बेल वेल्स के सबसे महान खिलाड़ियों में से एक हैं। उन्होंने वेल्स को दो यूरोपीय चैंपियनशिप जिताई। इसके साथ ही उन्होंने अपनी टीम को यूरो 2016 के सेमीफाइनल में पहुंचाया, और 1958 के बाद से पहली बार विश्व कप में भी पहुंचाया। लॉस एंजिल्स के फॉरवर्ड खिलाड़ी पहले साउथेम्प्टन, टोटेनहैम और रियल मैड्रिड के लिए खेल चुके थे। उन्होंने 29 नवंबर को इंग्लैंड के साथ वेल्स के विश्व कप ग्रुप स्टेज मैच के दौरान अपना आखिरी मुकाबला खेला।

29. विराट कोहली ने लगाया अपना 45वां वनडे शतक

विराट कोहली ने श्रीलंका के खिलाफ गुवाहाटी में खेले जा रहे पहले वनडे मैच में शानदार शतक जड़ दिया है। इसी के साथ उनके अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में कुल 73 शतक हो गए हैं। साथ ही वनडे क्रिकेट में ये उनका 45वां शतक है। इसके अलावा उन्होंने इंटरनेशनल क्रिकेट में सबसे ज्यादा 100 शतक लगाने वाले भारत के ही सचिन तेंदुलकर के एक रिकॉर्ड की बराबरी भी कर ली है। दरअसल सचिन तेंदुलकर ने भारत की सरज़मीं पर अब तक 20 शतक लगाए हैं वहीं कोहली ने अब तक 19 शतक लगाए थे और श्रीलंका के खिलाफ पहले वनडे में ये शतक जड़कर कोहली ने उनके इस रिकॉर्ड की बराबरी कर ली है। बता दें कि इससे पहले बांग्लादेश के खिलाफ साल 2022 के अंत में खेली गई वनडे सीरीज़ में भी कोहली ने शतक जड़ा था। तब उन्होंने रिकी पोंटिंग के 71 शतक के रिकॉर्ड को क्रॉस करते हुए 72 अंतर्राष्ट्रीय शतक लगाने का करनामा किया था।

30. लेप्रोस्कोपिक सर्जरी के जनक डॉ. टेहेम्टन ई उदवाडिया का निधन

भारत में लेप्रोस्कोपिक सर्जरी के जनक कहे जाने वाले डॉक्टर टेहेम्टन ई उदवाडिया का निधन हो गया। डॉक्टर उदवाडिया ने ब्रीच कैंडी अस्पताल में अंतिम सांस ली। वह बीते कुछ समय से बीमार चल रहे थे। भायखला में दशकों से सरकारी जेजे अस्पताल से जुड़े थे 88 वर्षीय डॉक्टर उदगाडिया। डॉक्टरों ने कहा कि उदवाडिया ने कुछ महीने पहले तक आउट पेशेंट विभाग में काम किया था।