राष्‍ट्रपति द्रौपदी मुर्मु ने दिल्‍ली में 75 शिक्षकों को राष्‍ट्रीय शिक्षक पुरस्‍कार प्रदान किए

0
36

1 राष्‍ट्रपति द्रौपदी मुर्मु ने दिल्‍ली में 75 शिक्षकों को राष्‍ट्रीय शिक्षक पुरस्‍कार प्रदान किए

राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मु ने नई दिल्‍ली में आयोजित एक समारोह में 75 चयनित शिक्षकों को राष्‍ट्रीय शिक्षक पुरस्‍कार प्रदान किये। इसमें 50 स्‍कूली शिक्षक, उच्‍च शिक्षा विभाग के 13 शिक्षक तथा कौशल विकास और उद्यमिता मंत्रालय के 12 शिक्षक शामिल हैं। इस साल से उच्‍च शिक्षा विभाग तथा कौशल विकास और उद्यमिता मंत्रालय के शिक्षकों को भी राष्‍ट्रीय शिक्षक पुरस्‍कार के दायरे में लाया गया है। प्रत्‍येक वर्ष 5 सितम्‍बर को डाक्‍टर सर्वपल्‍ली राधाकृष्णन की जयंती को राष्‍ट्रीय शिक्षक दिवस के रूप में मनाया जाता है। इसका उद्देश्‍य देश में शिक्षा की गुणवत्‍ता में सुधार लाने और विद्यार्थियों के जीवन को समृद्ध करने के लिए शिक्षकों के योगदान को सम्‍मानित करना है। पुरस्‍कार के रूप में शिक्षकों को प्रमाण पत्र, रजत पदक और 50 हजार रुपये नकद दिये जाते हैं।

2 भारत सरकार के पर्यटन मंत्रालय ने संयुक्त राष्ट्र विश्व पर्यटन संगठन (यूएनडब्ल्यूटीओ) के सहयोग से जी20 पर्यटन और एसडीजी डैशबोर्ड का अनावरण किया

पर्यटन एवं संस्कृति और पूर्वोत्तर क्षेत्र विकास मंत्री श्री जी किशन रेड्डी ने एक वर्चुअल समारोह के दौरान डैशबोर्ड का अनावरण किया। भारत की जी20 अध्यक्षता के अंतर्गत और यूएनडब्ल्यूटीओ के विशेषज्ञों की ज्ञानवर्धक साझेदारी के साथ विकसित किया गया यह डैशबोर्ड टिकाऊ पर्यटन के लिए भारत की प्रतिबद्धता का एक प्रमाण है। यह जी20 देशों की सर्वोत्तम कार्य प्रणालियों, विषयवार अध्ययनों और अंतर्दृष्टि को प्रदर्शित करता है। इसको सभी सतत विकास लक्ष्यों (एसडीजी) को हासिल करने के लिए तैयार किया गया है। एसडीजी डैशबोर्ड भारत की जी20 अध्यक्षता की एक स्थायी विरासत है, जो दुनिया भर के पर्यटन उद्योग में वैश्विक सहयोग एवं सतत विकास के प्रति इसके समर्पण को प्रदर्शित करता है। जी20 पर्यटन और एसडीजी डैशबोर्ड एक व्यापक ऑनलाइन सार्वजनिक मंच के रूप में कार्य करता है, जिसमें जी20 पर्यटन कार्य समूह का संपूर्ण सामूहिक ज्ञान समाहित होता है। यह गोवा रोडमैपसर्वेक्षण परिणाम, विषयवार अध्ययन और जी20 देशों की सर्वोत्तम कार्य प्रणालियों को समेकित करता है। एसडीजी डैशबोर्ड स्थायी पर्यटन कार्य प्रणालियों में निरीक्षण आधारित अंतर्दृष्टि प्रदान करता है और ज्ञान के आदान-प्रदान, सहयोग एवं विकास के लिए एक मंच भी उपलब्ध कराता है।

3 संस्कृति गलियारा – जी20 डिजिटल संग्रहालय

संस्कृति मंत्रालय ने G20 सदस्यों और आमंत्रित देशों की साझा विरासत का प्रतिनिधित्व करने और जश्न मनाने के लिए संस्कृति गलियारे – G20 डिजिटल संग्रहालय की संकल्पना की है। यह परियोजना भारत की जी20 थीम ‘वसुधैव कुटुंबकम’ और संस्कृति कार्य समूह (सीडब्ल्यूजी) के हॉलमार्क अभियान ‘संस्कृति सभी को एकजुट करती है’ पर आधारित है। संस्कृति गलियारा – जी20 डिजिटल संग्रहालय भारत में जी20 नेताओं के शिखर सम्मेलन के लिए आयोजित एक अंतरराष्ट्रीय परियोजना है। इस प्रदर्शनी का अनावरण 9 सितंबर 2023 को जी20 लीडर्स समिट के आयोजन स्थल भारतमंडपम में किया जाएगा और लीडर्स समिट के बाद यह जनता के लिए खुल जाएगी। भारत मंडपम के दूसरे स्तर में सभी 20 सदस्य देशों और 9 अतिथि देशों की प्रतिष्ठित कलाकृतियों के भौतिक और डिजिटल दोनों प्रदर्शन होंगे। ये प्रस्तुतियाँ पाँच श्रेणियों में फैली हुई हैं: सांस्कृतिक महत्व, प्रतिष्ठित उत्कृष्ट कृतियाँ, अमूर्त सांस्कृतिक विरासत, प्राकृतिक विरासत और लोकतांत्रिक प्रथाओं से संबंधित कलाकृतियाँ। उल्लेखनीय प्रदर्शनों में यूके से मैग्ना कार्टा, भारत से पाणिनि की अष्टाध्यायी, फ्रांस से मोना लिसा, जर्मनी से गुटेनबर्ग बाइबिल, मैक्सिको से कोटलिक्यू प्रतिमा और बहुत कुछ शामिल हैं। संस्कृति गलियारा-G20 डिजिटल संग्रहालय, एक विरासत परियोजना, का लक्ष्य एक सहयोगी संग्रहालय बनाना है जो वैश्विक विरासत का जश्न मनाता है।

4 Personalised Adaptive Learning (PAL) को दीक्षा (DIKSHA) में एकीकृत किया जाएगा

इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय का हिस्सा, नेशनल ई-गवर्नेंस डिवीजन (NeGD)Personalised Adaptive Learning (PAL) को मौजूदा Digital Infrastructure for Knowledge Sharing (DIKSHA) प्लेटफॉर्म में एकीकृत करने की योजना बना रहा है। PAL छात्रों को उनकी व्यक्तिगत आवश्यकताओं और क्षमताओं के आधार पर अनुरूप शिक्षण अनुभव प्रदान करने के लिए AI-संचालित सॉफ़्टवेयर का उपयोग करता है। शिक्षा मंत्रालय के तहत दीक्षा, एक ऑनलाइन पोर्टल और मोबाइल ऐप के माध्यम से स्कूलों को ई-सामग्री प्रदान करती है। इसकी उपयोगिता के बावजूद, दीक्षा में गतिशील सामग्री का अभाव है। PAL के एकीकरण का उद्देश्य अंतराल की पहचान करके और छात्रों को मूलभूत अवधारणाओं पर वापस लाकर सीखने के परिणामों को बढ़ाना है।

5 प्राइमेटोलॉजिस्ट्स ने असम में हूलोंगापार गिब्बन अभयारण्य से गुजरने वाले रेलवे ट्रैक का मार्ग बदलने का प्रस्ताव दिया

प्राइमेटोलॉजिस्ट्स ने 1.65 किलोमीटर लंबे रेलवे ट्रैक का मार्ग बदलने का प्रस्ताव दिया है जो पूर्वी असम में हूलोंगापार गिब्बन अभयारण्य को दो असमान हिस्सों में विभाजित करता है। इस अभयारण्य में पश्चिमी हूलॉक गिब्बन पाए जाते हैं। गिब्बन दक्षिण-पूर्व एशिया के उष्णकटिबंधीय और उपोष्णकटिबंधीय जंगलों में पाए जाते हैं तथा इन्हें सभी वानरों में सबसे छोटे एवं समझदार वानरों के रूप में भी जाना जाता है। इनमें अन्य वानरों के समान तीष्ण बुद्धि, विशिष्ट व्यक्तित्व और मज़बूत पारिवारिक बंधन होते हैं। ये विश्व भर में पाई जाने वाली 20 गिब्बन प्रजातियों में से एक का प्रतिनिधित्व करते हैं। हूलॉक गिब्बन भारत की एकमात्र वानर प्रजाति है।

6 डिमेंशिया से निपटने हेतु कर्नाटक की पहल

कर्नाटकमनोभ्रंश (डिमेंशिया) को एक स्वास्थ्य चिंता के रूप में प्राथमिकता देने के लिये प्रतिबद्ध है। डिमेंशिया एक व्यापक शब्द है जिसमें ऐसी बीमारियाँ शामिल हैं जो स्मृति, संज्ञानात्मक क्षमताओं और व्यवहार को प्रभावित करती हैं तथा दैनिक गतिविधियों में बाधा डालती हैं। अल्ज़ाइमर रोग, मनोभ्रंश का सबसे सामान्य प्रकार है। हाल के अनुमानों से पता चलता है कि 60 वर्ष और उससे अधिक उम्र के भारतीयों में मनोभ्रंश की व्यापकता दर 7.4% है, यानी कुल लगभग 9 लाख व्यक्ति। यह संख्या वर्ष 2016 के 88 लाख से बढ़कर वर्ष 2036 तक 1.7 करोड़ होने का अनुमान है। मनोभ्रंश के जोखिम कारकों में धूम्रपान, अत्यधिक शराब का सेवन, शारीरिक निष्क्रियता, सामाजिक अलगाव, सिर की चोट और मधुमेह, बधिरता, अवसाद, मोटापा तथा उच्च रक्तचाप (hypertension) जैसी स्थितियाँ शामिल हैं।

7 अनुच्छेद 371D की समाप्ति से आंध्र प्रदेश के ‘स्थानीय कोटा’ को लेकर अनिश्चितताएँ

अनुच्छेद 371D के समाप्त होने के कारण संरक्षित शैक्षणिक संस्थानों में आंध्र प्रदेश के छात्रों के ‘स्थानीय कोटा‘ को लेकर अनिश्चितता की स्थिति उत्पन्न हो गई है क्योंकि आंध्र प्रदेश पुनर्गठन अधिनियम, 2014 अपने निर्धारित अवधि के बाद मई 2024 में समाप्त हो जाएगा। संविधान का अनुच्छेद 371 देश के 11 राज्यों के लिये “विशेष प्रावधान” करता है, जिसमें पूर्वोत्तर के छह राज्य (त्रिपुरा और मेघालय को छोड़कर) शामिल हैं। अनुच्छेद 371D को वर्ष 1973 में संविधान में 32वें संशोधन द्वारा शामिल किया गया था। यह विशेष रूप से आंध्र प्रदेश (जहाँ 1970 के दशक की शुरुआत में आंदोलन हुए थे) के क्षेत्रों पर लागू होता है। अनुच्छेद 371D को शिक्षा और रोज़गार में स्थानीय छात्रों के अधिकारों की सुरक्षा के लिये पेश किया गया था। अनुच्छेद 371D के तहत शैक्षणिक संस्थानों में 85% सीटें स्थानीय छात्रों के लिये आरक्षित हैं। इस प्रावधान ने विशिष्ट क्षेत्रों में छात्रों के लिये शिक्षा तक पहुँच सुनिश्चित करने में महत्त्वपूर्ण भूमिका निभाई है।

8 विशाखापत्तनम बंदरगाह के अंतर्राष्ट्रीय क्रूज टर्मिनल का किया गया उद्घाटन

विशाखापत्तनम बंदरगाह पर अंतर्राष्ट्रीय क्रूज टर्मिनल का उद्घाटन 4 सितंबर को पर्यटन राज्य मंत्री श्रीपाद येसो नाईक, पत्तन, पोत परिवहन और जलमार्ग मंत्री सर्बानंद सोनोवाल, वीपीए अध्यक्ष डॉ. एम. अंगामुथु, आईएएस, एवं अन्य प्रतिष्ठित गणमान्य लोगों की उपस्थिति में किया गया। अंतर्राष्ट्रीय क्रूज़ टर्मिनल, जो अब परिचालन के लिए तैयार है, भारत के पूर्वी तट पर घरेलू और अंतर्राष्ट्रीय क्रूज़ पर्यटन दोनों के लिए एक महत्वपूर्ण प्रवेश द्वार के रूप में काम करेगा। यह विश्व स्तरीय सुविधा आर्थिक विकास को बढ़ावा देने और स्थानीय समुदायों को लाभान्वित करते हुए पर्यटकों को एक परिवर्तनकारी अनुभव प्रदान करने का वादा करती है। अंतर्राष्ट्रीय क्रूज़ टर्मिनल नवंबर से मार्च के महीनों के दौरान क्रूज़ टर्मिनल के रूप में काम करेगा, जो कि दुनिया भर के यात्रियों की जरूरतों को पूरा करेगा। इसके अलावा, अप्रैल से अक्टूबर के शेष महीनों के दौरान, बर्थ का उपयोग तटीय कार्गो संचालन के लिए किया जाएगा। यह ऐतिहासिक परियोजना पर्यटन विकास, बुनियादी ढांचे के विकास और पर्यावरण जागरूकता को बढ़ावा देने के लिए भारत की प्रतिबद्धता का प्रतीक है। यह पर्यटन मंत्रालय और बंदरगाह, जहाजरानी और जलमार्ग मंत्रालय के बीच सहयोगात्मक प्रयासों के प्रमाण के रूप में खड़ा है, जो भारत की पर्यटन क्षमता और आर्थिक समृद्धि में महत्वपूर्ण योगदान देगा।

9 विदेश मंत्री एस जयशंकर ने पर्नप्री बहिधा-नुकारा को थाईलैंड के नए उप प्रधानमंत्री और विदेश मामलों के मंत्री नियुक्त किए जाने पर बधाई दी

विदेश मंत्री एस जयशंकर ने पर्नप्री बहिधा-नुकारा को थाईलैंड के नए उप प्रधान मंत्री और विदेश मामलों के मंत्री नियुक्त किए जाने पर बधाई दी है। देश के नए प्रधान मंत्री श्रेथा थाविसिन ने अपने मंत्रिमंडल के 34 सदस्यों को राजा महा वजिरालोंगकोर्न के सामने पद की शपथ दिलाई। फेउ थाई पार्टी का प्रतिनिधित्व करने वाले श्रीथा को 22 अगस्त को प्रधान मंत्री के रूप में नामित किया गया था।

10 नई दिल्‍ली में 18वें जी-20 शिखर सम्‍मेलन स्‍थल पर भारतीय रिजर्व बैंक का एक प्रदर्शनी मंडप

नई दिल्‍ली में 18वें जी-20 शिखर सम्‍मेलन स्‍थल पर भारतीय रिजर्व बैंक का एक प्रदर्शनी मंडप लगाया जा रहा है। यह सम्‍मेलन प्रगति मैदान में 9 और 10 सितम्‍बर को होगा। मंडप में यूपीआई वन वर्ल्ड, सेन्ट्रल बैंक डिजिटल करन्‍सी, फ्रिक्‍शनलैस क्रेडिट के लिए पब्लिक टेक प्‍लेटफार्म, रूपे ऑन द गो और भारत बिल पेमेंट सिस्‍टम प्रदर्शित किया जायेगा। रिजर्व बैंक के डिजिटल रूपया और इसकी यात्रा पर एक वीडियो भी दिखाया जायेगा। प्रदर्शनी में भाग ले रहे चुनिन्दा बैंक डिजिटल रुपया लेन-देन का सजीव प्रदर्शन करेंगे।

11 जी20 शिखर सम्मेलन के अवसर पर आठ से दस सितंबर तक प्रगति मैदान के भारत मंडपम में एक शिल्प बाजार दिखेगा

नई दिल्ली में जी20 शिखर सम्मेलन के अवसर पर आठ से दस सितंबर तक प्रगति मैदान के भारत मंडपम में एक ‘शिल्प बाजार‘ लगाया जा रहा है। यह शिल्प बाज़ार देश के विभिन्न हिस्सों के हस्तशिल्प उत्पादों का प्रदर्शन करेगा। इसमें एक जिला एक उत्पाद, जीआई-टैग वाली वस्तुओं और महिलाओं और आदिवासी कारीगरों द्वारा तैयार किए गए उत्पादों पर विशेष ध्यान दिया जाएगा। शिखर सम्मेलन में भाग लेने वाले प्रतिनिधियों और अंतर्राष्ट्रीय मीडिया को स्थानीय रूप से प्राप्त उत्पादों को खरीदने का अवसर मिलेगा। प्रदर्शनी का आयोजन जी-20 सचिवालय कपड़ा मंत्रालय और राज्य और केंद्रशासित प्रदेश सरकारों के समन्वय से कर रहा है।

12 राष्ट्रीय आधुनिक कला संग्रहालय जी-20 शिखर सम्‍मेलन के दौरान रूट्स टू रूट्स नामक प्रदर्शनी आयोजित करेगा

राष्ट्रीय आधुनिक कला संग्रहालय जी-20 शिखर सम्‍मेलन के दौरान रूट्स टू रूट्स नामक प्रदर्शनी आयोजित करेगा। इसमें देशभर की दुर्लभ कलाकृतियों को प्रदर्शित किया जायेगा। इस प्रदर्शनी का उददेश्‍य भारत के सांस्‍कृतिक गौरव को विश्‍व के मानचित्र पर लाना है। प्रदर्शनी में विभिन्‍न सरकारी संग्रहालयों और दीर्घाओं की भारतीय कलाकृतियों और मूर्तियों को दर्शाया जायेगा। जी-20 नेताओं की पत्‍नियां इस प्रदर्शनी का उद्घाटन करेंगी। संवाददाताओं से बातचीत में संस्‍कृति राज्‍य मंत्री मीनाक्षी लेखी ने बताया कि भारत की संस्‍कृति और विरासत पांच हजार साल से ज्‍यादा पुरानी है।

13 भारत ने शंघाई सहयोग संगठन के सदस्य देशों की कानूनी और न्यायिक क्षमताओं को बढ़ाने के लिए समर्थन दिया

भारत ने शंघाई सहयोग संगठन-एससीओ के सदस्य देशों की कानूनी और न्यायिक क्षमताओं को बढ़ाने के लिए समर्थन दिया है। एससीओ देशों के कानून और न्याय मंत्रियों की 10वीं बैठक वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए हुई। इस अवसर पर कानून और न्याय राज्य मंत्री अर्जुन राम मेघवाल ने एससीओ चार्टर और इसके आपसी विश्वास, संप्रभुता और क्षेत्रीय अखंडता के लिए सम्मान और पारस्परिक लाभ के सिद्धांतों के प्रति भारत की प्रतिबद्धता पर जोर दिया। उन्‍होंने कहा कि यह प्रतिबद्धता प्रधानमंत्री के इस दृष्टिकोण पर आधारित है कि भारत विश्व मित्र के रूप में उभरा है।

14 भारतीय दूरसंचार नियामक प्राधिकरण ट्राई ने एफएम रेडियो प्रसारण से संबंधित मुद्दों पर सिफारिशें जारी की

भारतीय दूरसंचार नियामक प्राधिकरण ट्राई ने एफएम रेडियो प्रसारण से संबंधित मुद्दों पर सिफारिशें जारी की हैं। ट्राई ने सिफारिश की है कि निजी एफएम रेडियो ऑपरेटरों को हर घंटे दस मिनट तक समाचार और समसामयिक कार्यक्रम प्रसारित करने की अनुमति दी जानी चाहिए। इसने यह भी सिफारिश की है कि समाचार सामग्री के लिए आकाशवाणी पर लागू कार्यक्रम आचार संहिता को निजी एफएम रेडियो चैनलों पर भी लागू किया जा सकता है। इसमें कहा गया है कि एफएम रेडियो चैनल की वार्षिक लाइसेंस फीस को नॉन-रिफंडेबल वन टाइम एंट्री फीस से अलग किया जाना चाहिए। पूरी सिफारिशों का उल्‍लेख ट्राई की वेबसाइट www.trai.gov.in पर है।

15 इरेडा ने नवीकरणीय ऊर्जा परियोजनाओं के सह-वित्तपोषण के लिए यूनियन बैंक ऑफ इंडिया और बैंक ऑफ बड़ौदा के साथ समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए

भारत में नवीकरणीय ऊर्जा के विकास में तेजी लाने की दिशा में एक और कदम उठाते हुए भारतीय नवीकरणीय ऊर्जा विकास एजेंसी लिमिटेड (इरेडा) ने 5 सितंबर 2023 को यूनियन बैंक ऑफ इंडिया (यूबीआई) और बैंक ऑफ बड़ौदा (बीओबी) के साथ समझौता ज्ञापन (एमओयू) पर हस्ताक्षर किए। ये समझौते स्थापित और उभरती दोनों प्रकार की आरई प्रौद्योगिकियों सहित नवीकरणीय ऊर्जा परियोजनाओं की एक विस्तृत श्रृंखला के लिए सह-उधार और ऋण सिंडिकेशन में यूबीआई और बीओबी के साथ सहयोग करने के लिए इरेडा को अधिकार संपन्न बनाएंगे।

16 फ़्रांस ने डिस्पोजेबल वेप्स (Disposable Vapes) पर प्रतिबंध की घोषणा की

धूम्रपान और इससे जुड़े स्वास्थ्य जोखिमों से निपटने के लिए, फ्रांस डिस्पोजेबल इलेक्ट्रॉनिक सिगरेट (disposable electronic cigarettes), जिसे आमतौर पर “पफ्स” (puffs) कहा जाता है, पर प्रतिबंध लगाने के लिए तैयार है। प्रधानमंत्री एलिज़ाबेथ बोर्न ने इस योजना का अनावरण किया, जो देश में धूम्रपान की दरों पर अंकुश लगाने के लिए एक बड़ी रणनीति का हिस्सा है। अक्सर आइस कैंडी और बबलगम जैसे लुभावने विकल्पों से सुगंधित इन डिस्पोजेबल वेप्स ने किशोरों के लिए उनकी अपील और पारंपरिक धूम्रपान के प्रवेश द्वार के रूप में काम करने की उनकी क्षमता के बारे में चिंताएं बढ़ा दी हैं। सरकार का लक्ष्य धूम्रपान से संबंधित मौतों को रोकना है, लेकिन उसने सिगरेट पर और कर नहीं लगाने का विकल्प चुना है।

17 ग्लोबल वार्मिंग के कारण 2080 तक भारत में भूजल की कमी तीन गुना हो जाएगी

एक हालिया रिपोर्ट से पता चलता है कि ग्लोबल वार्मिंग के प्रभावों के कारण भारत में भूजल की कमी दर 2041 और 2080 के बीच तीन गुना हो जाएगी। वर्षा में संभावित वृद्धि के बावजूद, बढ़ते तापमान से भूमिगत जल संसाधनों की मांग में वृद्धि होगी, जो देश की जल और खाद्य सुरक्षा के लिए एक महत्वपूर्ण खतरा पैदा करेगी। अध्ययन में पाया गया कि जैसे-जैसे तापमान बढ़ता है, किसान बढ़ती फसल की पानी की जरूरतों को पूरा करने के लिए भूजल दोहन तेज कर देते हैं, जिससे कमी की समस्या बढ़ जाती है। इस मुद्दे को संबोधित करने के लिए, रिपोर्ट बिजली आपूर्ति को राशन देने, बिजली के उपयोग को मापने, क्षेत्रीय जल संसाधन विकास को बढ़ावा देने और भूजल पुनर्भरण प्रयासों के लिए किसानों को पुरस्कृत करने जैसी नीतियों को लागू करने की सिफारिश करती है। कुशल सिंचाई तकनीक और कम पानी वाली फसलें उगाना भी समाधान सुझाए गए हैं।

18 त्रिपुरा में कोकबोरोक भाषा के लिए रोमन लिपि को अपनाने की मांग

त्रिपुरा में 56 संगठनों का एक गठबंधन, ‘रोमन स्क्रिप्ट फॉर कोकबोरोक चोबा’ के बैनर तले, कोकबोरोक भाषा के लिए रोमन लिपि को अपनाने की मांग को लेकर सड़कों पर उतर आया है। यह कदम राज्य में स्वदेशी समुदाय द्वारा अपनी मूल भाषा को संरक्षित और बढ़ावा देने के दशकों के प्रयासों की परिणति के रूप में आता है। कोकबोरोक त्रिपुरा के स्वदेशी समुदाय की भाषा है, जो राज्य की लगभग एक-तिहाई आबादी द्वारा बोली जाती है। त्रिपुरा के लोगों के लिए इसके सांस्कृतिक और भावनात्मक महत्व को कम करके आंका नहीं जा सकता। कोकबोरोक के लिए रोमन लिपि की मांग बढ़ती डिजिटल और परस्पर जुड़ी दुनिया में इसके अस्तित्व और पहुंच को सुनिश्चित करने की आवश्यकता से उपजी है।

19 मार्गन स्टेनली ने भारत की विकास दर का अनुमान बढ़ाया

वैश्विक निवेश बैंक मार्गन स्टेनली ने भारत की विकास दर के बढ़ जाने की उम्मीद जताई है। मार्गन स्टेनली ने कहा कि वित्त वर्ष 2023-24 की अप्रैल-जून तिमाही में तेज वृद्धि के बाद पूरे वित्त वर्ष के लिए भारत की विकास दर को 6.4 फीसदी तक रहने का अनुमान लगाया है। इससे पहले मार्गन स्टेनली ने विकास दर 6.2 प्रतिशत रहने की बात कही थी।

20 बीईएल ने इज़राइल एयरोस्पेस इंडस्ट्रीज के साथ समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए

नवरत्न रक्षा पीएसयू भारत इलेक्ट्रॉनिक्स लिमिटेड (बीईएल) और इज़राइल की अग्रणी एयरोस्पेस और रक्षा कंपनी इज़राइल एयरोस्पेस इंडस्ट्रीज (आईएआई) ने हाल ही में एक समझौता ज्ञापन (एमओयू) पर हस्ताक्षर किए हैं, जिसका उद्देश्य शॉर्ट रेंज एयर डिफेंस के क्षेत्र में भारत की आवश्यकताओं को संबोधित करने में सहयोग बढ़ाना है।

21 सत्यजीत मजूमदार को डॉ वी जी पटेल मेमोरियल अवार्ड 2023 से सम्मानित किया गया

टाटा इंस्टीट्यूट ऑफ सोशल साइंसेज (TISS) के स्कूल ऑफ मैनेजमेंट एंड लेबर स्टडीज के डीन, मुंबई प्रोफेसर सत्यजीत मजूमदार को उद्यमिता को बढ़ावा देने और मजबूत करने में उनके काम के लिए ‘एंटरप्रेन्योरशिप ट्रेनर, एजुकेटर और मेंटर के लिए डॉ वी जी पटेल मेमोरियल अवार्ड -2023’ प्राप्त हुआ है। पटेल को भारत में उद्यमिता आंदोलन के जनक के रूप में व्यापक रूप से स्वीकार किया जाता है।

22 बीसीसीआई ने एक दिवसीय क्रिकेट विश्‍व कप के लिए 15 सदस्‍यीय टीम की घोषणा की

आगामी विश्‍व कप-2023 के लिए भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड ने 15 सदस्‍यीय क्रिकेट टीम की घोषणा कर दी है। मुम्‍बई में अजित आगरकर के नेतृत्‍व वाली चयन समिति ने विश्‍व कप के लिए टीम के सदस्‍यों के नाम घोषित किए। विश्‍व कप के लिए टीम के कप्‍तान रोहित शर्मा होंगे, जबकि हरफनमौला खिलाडी हार्दिक पांड्या को उपकप्‍तान बनाया गया है। इनके अलावा विराट कोहली, शुभमन गिल, जसप्रीत बुमराह, रविन्‍द्र जडेजा, शार्दुल ठाकुर, मोहम्‍मद सिराज और कुलदीप यादव को भी टीम में जगह मिली है। मोहम्‍मद शमी, अक्षर पटेल, ईशान किशन और सूर्य कुमार यादव भी भारतीय टीम का हिस्‍सा होंगे। भारतीय क्रिकेट टीम ने 2011 में महेन्‍द्र सिंह धोनी की कप्‍तानी में विश्‍व कप जीता था। विश्‍व कप 2023 का आयोजन आगामी पांच अक्‍तूबर से भारत में किया जाएगा जबकि फाइनल मुकाबला 19 नवंबर को अहमदाबाद के नरेन्द्र मोदी स्टेडियम में खेला जाएगा।

23 5 सितंबर : राष्ट्रीय शिक्षक दिवस

देश के पहले उप-राष्ट्रपति और दूसरे राष्ट्रपति डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन के जन्मदिन के उपलक्ष्य में 5 सितंबर को राष्ट्रीय शिक्षक दिवस हर साल मनाया जाता है। इस दिन का जश्न मनाने के लिए शिक्षकों को सम्मानित करने के लिए देश भर में स्कूलों और कॉलेजों में कई प्रकार के कार्यक्रम आयोजित किए जाते हैं। डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन का जन्म 5 सितंबर, 1888 को ब्रिटिश भारत की तत्कालीन मद्रास प्रेसीडेंसी (अब तमिलनाडु में) में हुआ था। वह भारतीय दार्शनिक और राजनेता थे और 20वीं शताब्दी में भारत में तुलनात्मक धर्म और दर्शन के क्षेत्र में सबसे प्रसिद्ध विद्वानों में से एक थे। पश्चिमी लोगों की नजर में उन्होंने नई समकालीन हिंदू पहचान की दिशा में बेहतरीन योगदान दिया था। वह शिक्षकों के लिए बहुत सम्मान रखते थे और हमेशा मानते थे कि शिक्षक ही वास्तविक राष्ट्र निर्माता हैं। वह भारत के पहले उपराष्ट्रपति (1952-1962 तक कार्यालय में), भारत के दूसरे राष्ट्रपति थे(1962 से 1967 तक कार्यालय में)। वे राजनीतिज्ञ सी. राजगोपालाचारी, वैज्ञानिक सी.वी. रमन के साथ भारत के सर्वोच्च नागरिक पुरस्कार भारत रत्न के पहले प्राप्तकर्ता थे। उन्हें ब्रिटिश रॉयल ऑर्डर ऑफ मेरिट (1963) से भी सम्मानित किया गया था।

24 अंतर्राष्ट्रीय चैरिटी दिवस 2023

हर साल 5 सितंबर को अंतरराष्ट्रीय दान दिवस यानी इंटरनेशनल चैरिटी डे मनाया जाता है। इस दिन भारत में शिक्षक दिवस भी मनाया जाता है। इसे सबसे पहली बार हंगरी में मनाया गया था। इसके बाद संयुक्त राष्ट्र संघ ने 2012 में हर साल 5 सितंबर को अंतरराष्ट्रीय दान दिवस मनाने की घोषणा की। उस समय से हर साल 5 सितंबर को अंतरराष्ट्रीय दान दिवस मनाया जाता है। इसका उद्देश्य जरूरतमंदों की सहायता करना है। इसके लिए दान दिया जाता है। भारत में दान की प्रथा प्राचीन काल से है।

25 चंद्रयान-3 लॉन्चिंग के काउंटडाउन को आवाज देने वाली इसरो वैज्ञानिक वलारमथी का निधन

श्रीहरिकोटा के सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र (एसडीएससी) में हर लॉन्च मिशन के काउंटडाउन को आवाज देने वाली साइंटिस्ट एन वलारमथी (N Valarmathi) का चेन्नई में निधन हो गया है। उन्होंने 14 जुलाई को लॉन्च किये गए भारत के सफल चंद्रयान-3 मिशन को भी आवाज दी थी। यह उनकी आखिरी काउंटडाउन आवाज थी। वलारमथी,वर्ष 2012 में रिमोट सेंसिंग RISAT-1 परियोजना की निदेशक थी। तमिलनाडु के अरियालुर की मूल निवासी वलारमथी का चेन्नई में दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया।