विजया बैंक और देना बैंक के विलय के साथ बैंक ऑफ बड़ोदा बनेगा देश का तीसरा सबसे बड़ा बैंक

0
101

 

राष्ट्रीय न्यूज़

1.भारत के मिशन शक्तिपर नासा का प्रहार, भयानक प्रयोग, इंटरनेशनल स्पेस स्टेशन के लिए बढ़ा खतरा:-

अंतरिक्ष की तकनीक में भारत दुनिया की चौथी महाशक्ति बनकर उभरा है। अमेरिका, रूस और चीन के बाद भारत दुनिया का चौथा देश बन गया है, जिसने अंतरिक्ष में घूम रहे एंटी सैटेलाइट (A-SAT) को मार गिराया। भारत के लिए उपग्रह भेदी मिसाइल परीक्षण (ए-सैट) मिशन शक्तिएक कीर्तिमान है, लेकिन अमेरिका रक्षा संस्‍थान नासा ने इस मिशन को बेहद भयानक बताया है।

नासा का कहना है कि भारत का मिशन शक्ति बेहद भयानक है। इसकी वजह से अंतरिक्ष की कक्षा में करीब 400 मलबे के टुकड़े फैल गए हैं। इससे भविष्‍य में अंतरराष्‍ट्रीय अंतरिक्ष स्‍टेशन में मौजूद अंतरिक्ष यात्रियों के लिए एक नया खतरा पैदा हो गया है। नासा की तरफ से यह बात उनके प्रमुख जिम ब्रिडेनस्टाइन ने कही।बता दें कि इस एंटी सैटेलाइट को लो अर्थ ऑर्बिट (LEO) के 300 किलोमीटर के अंदर मारा गया। इस पूरी प्रक्रिया में ISRO (इंडियन स्पेस रिसर्च ऑर्गेनाइजेशन) को महत तीन मिनट लगे। इसरो ने इस एंटी सैटेलाइट को मारने के लिए मिशन शक्ति चलाया था जो पूरी तरह कामयाब रहा। इस एंटी सैटेलाइट सिस्टम के जनक के तौर पर अमेरिका और रूस को जाना जाता है।

सोमवार को नासा के कर्मचारियों को संबोधित करते हुए जिम ब्रिडेनस्‍टाइन ने कहा कि भारत ने पांच दिन पहले अंतरिक्ष में एक मिसाइल का परीक्षण किया, जो अंतरिक्ष के लिए अच्‍छा नहीं है। उनके मुताबिक, सैटेलाइट के सभी टुकड़े इतने बड़े नहीं हैं, जिन्हें ट्रैक किया जा सके। हमारी उसपर नजर है। बड़े टुकड़े ट्रैक हो रहे हैं। हम लोग 10 सेंटीमीटर (6 इंच) से बड़े टुकड़ों की बात कर रहे हैं। ऐसे अबतक 60 टुकड़े मिले हैं। भारत द्वारा ये टेस्‍ट आईएसएस समेत कक्षा में मौजूद बाकी सभी सैटलाइट से नीचे किया गया था। लेकिन अब इसके करीब 24 टुकड़े इंटरनेशनल स्पेस स्टेशन के ऊपर चले गए हैं। यह भयानक, बेहद भयानक है कि ऐसा काम किया गया जिससे मलबा अंतरराष्ट्रीय स्पेस स्टेशन से भी ऊपर जा रहा है। ऐसी गतिविधियों की वजह से भविष्य में मानव को अंतरिक्ष में भेजना मुश्किल हो जाएगा।गौरतलब है कि अमेरिका ने सन 1950 में जबकि रूस ने 1956 में एंटी सैटेलाइट सिस्टम विकसित किया है। साल 2007 में चीन ने अपने ही एक सैटेलाइट को लो अर्थ ऑर्बिट में मारकर इस तकनीक के क्षेत्र में कदम रखने वाला तीसरा देश बन गया। भारत 2010 में इस तरह के एंटी सैटेलाइट मिसाइल को लो ऑर्बिट में मारने की तकनीक पर काम कर रहा था।

 

2.इसरो ने किया एमिसैट के साथ अन्य देशों की 28 सैटेलाइट्स को भी सफलतापूर्वक प्रक्षेपित:-

इसरो ने अंतरिक्ष में इतिहास रच दिया है। इसरो ने बताया कि एमिसैट के साथ-साथ अन्य देशों की 28 सैटेलाइट्स भी अलग-अलग कक्षाओं में सफलतापूर्वक स्थापित कर दिया गया है। इससे पहले पीएसएलवी सी-45 ने इलेक्ट्रॉनिक इंटेलिजेंस सैटेलाइट— एमिसैट को सन सिंक्रोनस पोलर ऑर्बिट में सफलतापूर्वक प्रक्षेपित किया। एमिसैट को पीएसएलवी सी-45 से इसरो ने श्रीहरिकोटा के सतीश धवन स्पेस सेंटर से लॉन्च किया। बता दें कि इसरो का यह पहला ऐसा मिशन हैजो तीन अलग-अलग कक्षाओं में सैटेलाइट्स को स्थापित करेगा। जो सैटेलाइट्स लान्च किए गई हैंउनमें सबसे महत्वपूर्ण है एमिसैट यानी इलेक्ट्रॉनिक इंटेलिजेंस सैटेलाइट। यह डीआरडीओ को डिफेंस रिसर्च में मदद करेगा। एमिसैट उपग्रह का मकसद विद्युत चुंबकीय माप लेना है। एमिसैट के अलावा इसरो ने रॉकेट के जरिए दूसरे देशों के 28 सैटेलाइट्स को भी लान्च किया है। इनमें अमेरिका के 24, लिथुआनिया का 1, स्पेन का 1 और स्विट्जरलैंड का 1 सैटलाइट शामिल हैं। इसरो का यह पहला ऐसा मिशन हैजिसे आम लोगों की मौजूदगी में लॉन्च किया गया है।

 

3.स्वदेश निर्मित छठा परिवहन पोत लैंडिंग क्राफ्ट यूटिलिटी एल-56’ नौसेना में शामिल:-

स्वदेश निर्मित छठा परिवहन पोत भारतीय नौसेना में शामिल कर लिया गया है। रक्षा मंत्रालय ने एक वक्तव्य में बताया कि एल.सी.यू एल-56 भारतीय नौसेना में शामिल किया जाने वाला लैंडिंग क्राफ्ट यूटिलिटी एमके-4 श्रेणी का छठा जहाज है।

 

अन्तराष्ट्रीय न्यूज़

4.जुजाना कैपुतोवा बनीं स्लोवाकिया की पहली महिला राष्ट्रपति:-

भ्रष्टाचार-रोधी मुहिम चलाने वाली उम्मीदवार जुजाना कैपुतोवा ने स्लोवाकिया में राष्ट्रपति चुनाव जीत लिया है। वह यहां की पहली महिला राष्ट्र प्रमुख बन गई हैं। रिपोर्ट के मुताबिक, कैपुतोवा ने हाई-प्रोफाइल राजनयिक मारोस सेफकोविक को दूसरे चरण की वोट की गिनती में हरा दिया। कैपुतोवा को एक वकील के तौर पर शोहरत मिली, जब उन्होंने अवैध कचरा भराव क्षेत्र के खिलाफ एक मामले की अगुवाई की। यह 14 साल तक चला। कैपुतोवा को यूरोपियन कमीशन के उपाध्यक्ष सेफकोविट के 42 फीसदी पर 58 फीसदी वोटों से जीत हासिल हुई। वह उदारवादी प्रोग्रेसिव स्लोवाकिया पार्टी की सदस्य हैं। इस पार्टी की संसद में कोई सीट नहीं है। 46 वर्षीय कैपुतोवा तलाकशुदा और दो बच्चों की मां हैं। ऐसे देश में जहां समलैंगिक विवाह व गोद लेना अब तक कानूनी नहीं है, कैपुतोवा के उदारवादी विचार एलजीबीटीक्यू अधिकारों को बढ़ावा देंगे। यह चुनाव खोजी पत्रकार जान कुसिएक की 2018 में हत्या के बाद हुआ है।

5.जापान में एक मई से शुरू होगा नया शाही युग रीवा‘, सरकार ने की घोषणा:-

जापान में एक मई को युवराज नारुहितो के राजगद्दी संभालते ही नए शाही युग की शुरुआत होगी। इसका नाम रीवारखा गया है। यह नाम एक प्राचीन कविता से लिया गया है। जापान की सरकार ने सोमवार को इसकी आधिकारिक घोषणा की।

राजधानी टोक्यो में इस घोषणा को बड़ी संख्या में लोगों ने जगह-जगह लगाई गई बड़ी टीवी स्क्रीनों पर देखा। रीवा की शुरुआत के साथ 1989 में शुरू हुए हीसेई युग का अंत होगा। जापानी कैलेंडर प्रणाली गेंगो के मुताबिक, देश में काल निर्धारण में अब रीवा नाम प्रयोग किया जाएगा।

जापान में ग्रेगरी कैलेंडर के अलावा स्वदेशी गेंगो कैलेंडर का प्रयोग भी बड़े स्तर पर होता है। जापान के वर्तमान राजा सम्राट अकिहितो 30 अप्रैल को राजगद्दी छोड़ रहे हैं।दो सदी से भी ज्यादा समय में स्वेच्छा से राजगद्दी छोड़ने वाले वह पहले राजा हैं। उनके स्थान पर मौजूदा युवराज नारुहितो राजगद्दी संभालेंगे। नए राजा के सत्तासीन होने पर देश में पारंपरिक तौर पर नए शाही युग की शुरुआत होती है।

 

खेल न्यूज़

6.12वीं एशियाई एयरगन चैंपियनशिप की पदक तालिका में शीर्ष पर भारत:-

भारतीय निशानेबाजों ने ताइपै में चल रही 12वीं एशियाई एयरगन चैम्पियनशिप में अपना दबदबा कायम रखते हुए 10 मीटर एयर राइफल स्पर्धा के सभी स्वर्ण पदक जीत लिए हैं। भारत ने अभी तक 14 में से 12 स्वर्ण जीते हैं और उसकी झोली में 12 स्वर्णचार रजत और दो कांस्य पदक हैं। दिव्यांश सिंह पंवार और इलावेनिल वालारिवान ने 10 मीटर एयर राइफल पुरूष और महिला वर्ग के स्वर्ण जीते। उन्होंने अपने साथियों के साथ मिलकर टीम वर्ग का भी स्वर्ण पदक जीता। दिव्यांश ने 249.7 का स्कोर किया। भारतीय तिकड़ी ने 1880.7स्कोर करके कोरिया को पछाड़कर स्वर्ण पदक जीता। महिला फाइनल में इलावेनिल ने स्वर्ण पदक जीता जबकि ताइपै की लिन यिंग शिन को रजत पदक मिला। कोरिया की पार्क सुनमिन ने कांस्य पदक जीता। महिला टीम चैथे स्थान पर रही ।

7.एशियाई एयरगन चैंपियनशिप में 16 स्वर्ण पदक के साथ भारत का अंत:-

भारतीय निशानेबाजों ने ताईवान, ताइपे में कुल 25 पदकों के साथ हस्ताक्षर करने के लिए एशियाई एयरगन चैंपियनशिप के अंतिम दिन पांच स्वर्ण पदक जीतने का दावा जारी रखा। भारत 16 स्वर्ण, पांच रजत और चार कांस्य पदक के साथ समाप्त हुआ। भारतीय निशानेबाजों के लिए अगला काम अल अरब, संयुक्त अरब अमीरात में होना है, जहां शुक्रवार को इंटरनेशनल शूटिंग स्पोर्ट फेडरेशन शॉटगन वर्ल्ड कप के दो चरण शुरू होंगे।

8.रोजर फेडरर ने अपना 4 वां एटीपी मियामी ओपन खिताब जीता:-

टेनिस में, रोजर फेडरर ने अपने चौथे एटीपी मियामी ओपन खिताब को पिछली रात गत चैंपियन जॉन इस्नर पर 6-1, 6-4 से जीता। 37 वर्षीय विश्व नंबर पांच ने 24 मिनट में पहला सेट लिया। अपने 50 वें मास्टर्स फ़ाइनल में, स्विस चौथे सीड ने कुछ आम तौर पर सबलिम ग्राउंड स्ट्रोक का उत्पादन किया और एक घंटे और तीन मिनट में मैच को लपेट दिया। यह स्विस खिलाड़ी का 28 वां मास्टर्स खिताब है और कुल मिलाकर 101 वां खिलाड़ी है जिसने 20 ग्रैंड स्लैम एकल खिताब जीते हैं।
 

बाजार न्यूज़

9. विजया बैंक और देना बैंक के विलय के साथ बैंक ऑफ बड़ोदा बनेगा देश का तीसरा सबसे बड़ा बैंक:-

विजया बैंक और देना बैंक का विलय बैंक ऑफ बड़ौदा के साथ हो जाएगा। इन दोनों बैंकों के विलय से बैंक ऑफ बड़ौदा, भारतीय स्टेट बैंक और एच.डी.एफ.सी. बैंक के बाद देश का तीसरा सबसे बड़ा बैंक होगा। बैंक ऑफ बडौदा के प्रमुख पीएस जयकुमार ने एक विज्ञप्ति द्वारा बताया है कि यह नई इकाई एक मजबूत संगठन बनाने के लिए और विनियमिकरण की सफलता के लिए काम करेगी और सामूहिक रूप से धारकों को हिस्सेदारी वितरित करेगी। देना बैंक सभी ग्राहकों को आरबीआई की सभी सकारात्मककार्रवाई के तहत तुरन्त क्रैडिट सुविधा भी पहुंचायेगी। रिजर्व बैंक ने शनिवार को बतायाकि देना बैंक और विजया बैंक की शाखाएं अप्रैल के बाद से बैंक ऑफ बडौदा के आउटलेट केरूप में कार्य करेगी।