विनोबा सेवा प्रतिष्ठान के सहयोग से आयुष मंत्रालय ने किया ‘आयुर्वेद पर्व’ का आयोजन

0
63

1. WEF के जेंडर गैप सूचकांक 2021 में भारत 140 वें स्थान पर

वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम द्वारा ग्लोबल जेंडर गैप रिपोर्ट 2021 में 156 देशों में से भारत 140वें स्थान पर 28 स्थान खिसक गया है। 2020 में, भारत 153 देशों में से 112 वें स्थान पर था। आइसलैंड ने 12 वीं बार दुनिया में सबसे अधिक लिंग-समान देश के रूप में सूचकांक में शीर्ष स्थान हासिल किया है। रिपोर्ट में अफगानिस्तान सबसे खराब प्रदर्शन करने वाला देश है। भारत दक्षिण एशिया में तीसरा सबसे खराब प्रदर्शन करने वाला देश बन गया। दक्षिण एशिया में बांग्लादेश का सबसे अच्छा प्रदर्शन है। भारत के पड़ोसियों में, बांग्लादेश 65 वें, नेपाल 106 वें, पाकिस्तान 153 वें, अफगानिस्तान 156 वें, भूटान 130 वें और श्रीलंका 116 वें स्थान पर है। दक्षिण एशिया में, केवल पाकिस्तान और अफगानिस्तान भारत से नीचे थे। शीर्ष 10 लिंग-समान देश –

  1. आइसलैंड
  2. फ़िनलैंड
  3. नॉर्वे
  4. न्यू ज़ीलैण्ड
  5. रवांडा
  6. स्वीडन
  7. नामीबिया
  8. लिथुआनिया
  9. आयरलैंड
  10. स्विट्ज़रलैंड

 

  1. बिम्‍सटेक देशों के विदेश मंत्रियों की बैठक में बंगाल की खाड़ी क्षेत्र के लिए प्रमुख सम्‍पर्क मास्टर प्लान को अंतिम रूप दिया गया

बिम्‍सटेक देशों के विदेश मंत्रियों की हुई वर्चुअल बैठक में बंगाल की खाड़ी क्षेत्र के लिए एक प्रमुख सम्‍पर्क मास्टर प्लान को अंतिम रूप दिया गया। भारत, बांग्लादेश, नेपाल, भूटान, श्रीलंका, थाईलैंड और म्यांमार के सात सदस्यों वाले क्षेत्रीय समूह संगठन के अगले शिखर सम्मेलन में परिवहन सम्‍पर्क सुविधा के लिए प्रमुख योजना तैयार की जाएगी। यह सम्‍मेलन जल्‍दी ही आयोजित किया जाएगा जिसकी मेजबानी श्रीलंका करेगा। बैठक में आपराधिक मामलों में आपसी कानूनी सहायता, राजनयिक और प्रशिक्षण अकादमियों के बीच सहयोग तथा कोलंबो में बिम्सटेक प्रौद्योगिकी हस्तांतरण सुविधा की स्थापना से संबंधित तीन समझौता ज्ञापनों और समझौतों की सिफारिश की गई।

  1. रेलवे ने एक ही वर्ष 2020-21 के दौरान रिकॉर्ड छह हजार किलोमीटर से अधिक रेललाइन के विद्युतीकरण का काम किया

रेलवे ने एक ही वर्ष 2020-21 के दौरान छह हजार किलोमीटर से अधिक रेललाइन के विद्युतीकरण का काम किया है जो एक रिकॉर्ड है। इससे पहले वर्ष 2018-19 में पांच हजार किलोमीटर रेललाइन का विद्युतीकरण किया गया था जो उस समय का सबसे अधिक किया गया काम था। रेलवे ने आयात होने वाले पेट्रोलियम आधारित ऊर्जा पर निर्भरता कम करने के उद्देश्‍य से हाल के वर्षों में विद्युतीकरण पर अधिक ध्‍यान केंद्रित किया है। 2007 से 2014 की अवधि की तुलना में पिछले सात सालों में विद्युतीकरण का काम पांच गुना से भी अधिक हुआ है। इस दौरान जिन बडे रेलखंडों का विद्युतीकरण किया गया है-उनमें मुंबई-हावडा, दिल्‍ली-दरभंगा-जयनगर और चेन्‍नई-त्रिचि रेलखंड शामिल है। रेल मंत्रालय ने कहा है कि दिसम्‍बर 2023 तक देशभर के सभी रेलखंडों का विद्युतीकरण कर दिया जाएगा।

  1. सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय ने वित्त वर्ष 2020-21 में प्रतिदिन 37 किलोमीटर राजमार्गों का निर्माण कर नया कीर्तिमान बनाया

सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय द्वारा पिछले कुछ वर्षों में देश भर में राष्ट्रीय राजमार्गों के निर्माण में काफी प्रगति हुई है। मंत्रालय ने वित्त वर्ष 2020-21 में प्रतिदिन 37 किलोमीटर राजमार्गों के निर्माण कर नया कीर्तिमान बनाया है, जो अभूतपूर्व है। सड़क परिवहन और राजमार्ग और एमएसएमई मंत्री श्री नितिन गडकरी है। पिछले 7 वर्षों में राष्ट्रीय राजमार्गों की लंबाई 91,287 किलोमीटर (अप्रैल 2014 के अनुसार) से 1,37,625 किलोमीटर (20 मार्च 2021 तक) 50% बढ़ गई है।

  1. सुभाष कुमार संभालेंगे ONGC के CMD का अतिरिक्त प्रभार

सुभाष कुमार (Subhash Kumar) ने 01 अप्रैल 2021 को तेल और प्राकृतिक गैस निगम (Oil and Natural Gas Corporation-ONGC) के अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक (CMD) के रूप में अतिरिक्त प्रभार ग्रहण किया है। वह ONGC में निदेशक (वित्त) के रूप में सेवारत हैं। कुमार, CMD, शशि शंकर, जो कि 31 मार्च, 2021 को सेवानिवृत्त हुए, का स्थान लेंगे।

6.विनोबा सेवा प्रतिष्ठान के सहयोग से आयुष मंत्रालय ने किया आयुर्वेद पर्व’ का आयोजन

आयुष मंत्रालय (Ministry of AYUSH) के सहयोग से प्रचलित जीवनशैली से संबंधित बीमारियों के लिए मुख्य उपचार के रूप में आयुर्वेद को बढ़ावा देने के लिए, विनोबा सेवा प्रतिष्ठान (Vinoba Seva Pratisthan-VSP) ने 3-दिवसीय “आयुर्वेद पर्व” का सफलतापूर्वक आयोजन किया है। इस अनूठी पहल का उद्देश्य न केवल लोगों के बीच आयुर्वेद की अधिक से अधिक स्वीकृति सुनिश्चित करना है, बल्कि वर्तमान जीवन शैली की बीमारियों के इलाज के लिए मुख्य लाइन के रूप में आयुर्वेद को लोकप्रिय बनाना है। आयुष मंत्रालय ने इस कार्यक्रम में पूर्ण सहयोग प्रदान किया। इस पर्व के दौरान, विशेषज्ञों और शोधकर्ताओं द्वारा लगभग 25 शोध पत्र प्रस्तुत किए गए थे।

  1. भारतीय रेलवे 71 अनारक्षित मेल और एक्सप्रेस ट्रेन सेवाएं शुरू करेगा

भारतीय रेलवे सोमवार से 71 अनारक्षित मेल और एक्सप्रेस ट्रेन सेवाएं शुरू करने जा रहा है। रेल मंत्री पीयूष गोयल ने एक ट्वीट में कहा कि ये ट्रेनें यात्रियों के लिए सुरक्षित और आरामदायक यात्रा सुनिश्चित करेंगी। रविवार से हज़रत निजामुद्दीन और सिकंदराबाद के बीच एक साप्ताहिक राजधानी सुपरफास्ट स्पेशल ट्रेन भी चलाई जाएगी। भारतीय रेलवे विश्व के सबसे उत्कृष्ट रेलवे नेटवर्क में से एक है, भारतीय रेलवे का 1,51,000 किलोमीटर ट्रैक, 7000 स्टेशन, 13 लाख कर्मचारी तथा 160 वर्षों का इतिहास है। भारत में रेलवे की शुरुआत 16 अप्रैल, 1853 को बोरी बंदर और थाने के बीच हुई थी। तत्पश्चात भारतीय रेलवे का काफी विस्तार हुआ, देश के आर्थिक विकास में भारतीय रेलवे की भूमिका काफी महत्वपूर्ण है।

  1. SBI ने जापान बैंक के साथ USD1 बिलियन का ऋण समझौता किया

भारत के सबसे बड़े ऋणदाता, भारतीय स्टेट बैंक, ने भारत में जापानी ऑटोमोबाइल उद्योग की आपूर्ति श्रृंखला को ऋण देने के लिए जापान बैंक फॉर इंटरनेशनल कोऑपरेशन (JBIC) से 1 बिलियन डॉलर जुटाए हैं। यह ऋण भारत में जापानी ऑटोमोबाइल के निर्माताओं, आपूर्तिकर्ताओं और डीलरों को प्रदान किए गए धन के समर्थन के खिलाफ पुनर्वित्त के रूप में है। SBI और JBIC के बीच यह सहयोग बैंक को संपूर्ण आपूर्ति श्रृंखला में उस समय ऋण सुविधा प्रदान करने में मदद करेगा जब लोग परिवहन के एक निजी मोड को प्राथमिकता दे रहे हैं। अब SBI और JBIC के बीच कुल ऋण सुविधा $2 बिलियन हो गई है। इससे पहले अक्टूबर 2020 में, SBI ने JBIC के साथ $1 बिलियन के लिए एक समान समझौता किया था।

  1. RBI ने ऑटो डेबिट पेमेंट लागू करने की समयसीमा 6 महीने बढ़ाई

भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने आवर्ती ऑनलाइन लेनदेन को संसाधित करने की समयसीमा 6 महीने बढ़ाकर 30 सितंबर, 2021 कर दी है। इससे पहले दिसंबर 2020 में, RBI ने RRB, NBFC और पेमेंट गेटवे सहित सभी बैंकों को निर्देश दिया था कि कार्ड या प्रीपेड पेमेंट इंस्ट्रूमेंट्स (PPI) या यूनिफाइड पेमेंट्स इंटरफेस (UPI) का उपयोग करके आवर्ती लेनदेन (घरेलू या क्रॉस-बॉर्डर) का संसाधन,यदि वे अतिरिक्त कारक प्रमाणीकरण (AFA) का अनुपालन नहीं करते हैं, तो 31 मार्च, 2021 से आगे जारी नहीं रहेगा। इसका मतलब यह है कि 30 अप्रैल, 2021 से, AFA का अनुपालन न करने वाली व्यवस्था / प्रथाओं के तहत रिचार्ज और यूटिलिटी बिल सहित विभिन्न सेवाओं के लिए कोई स्वचालित आवर्ती भुगतान नहीं होना चाहिए था। ​हालांकि, बैंकों और भुगतान गेटवे ने स्वचालित पुनरावृत्ति भुगतान पर RBI के निर्देशों का पालन करने के लिए अतिरिक्त समय मांगा था। इसे ध्यान में रखते हुए, RBI ने समयसीमा को आगे बढ़ाने का निर्णय लिया।

  1. FY22 की पहली छमाही में बाजार से 7.24 लाख करोड़ का कर्ज लेगी सरकार

सरकार ने कोरोनोवायरस महामारी से प्रभावित अर्थव्यवस्था को पुनर्जीवित करने के लिए संसाधनों को पूरा करने के लिए वित्त वर्ष 2021-22 (FY22) की पहली छमाही में 7.24 लाख करोड़ रुपये उधार लेने का निर्णय लिया है। यह उधार वित्त वर्ष 2021-22 के लिए अनुमानित सकल निर्गमन का 60.06 प्रतिशत है। बजट 2021-22 के अनुसार, अनुमानित सकल ऋण 01 अप्रैल, 2021 से शुरू होने वाले वित्तीय वर्ष में 12.05 लाख करोड़ रुपये आंका गया है। सरकार अपने राजकोषीय घाटे को दिनांकित प्रतिभूतियों और ट्रेजरी बिलों के माध्यम से निधि देने के लिए बाजार से धन जुटाती है।

  1. सरकार ने आपातकालीन ऋण सुविधा गारंटी योजना जून तक बढ़ायी

केंद्र सरकार ने आपातकाालीन ऋण सुविधा गारंटी योजना (Emergency Credit Line Guarantee Scheme)(ECLGS 3.0) को 30 जून, 2021 तक तीन महीने के लिए या फिर योजना के तहत 3 लाख करोड़ रुपये की गारंटी जारी किये जाने तक बढ़ायी गयी है। इसके अतिरिक्त, सरकार ने आर्थिक पुनरुत्थान की दिशा में आगे बढ़ने के लिए ECLGS योजना में कुछ संशोधन भी किए हैं। 29 फरवरी, 2020 की स्थिति के अनुसार विभिन्न वित्तीय संस्थानों में कुल बकाया कर्ज का 40 प्रतिशत तक ऋण दिया जाएगा। यह सीमा पहले 20 प्रतिशत थी। यह सुविधा उन उद्यमों के लिए है, जिनका कुल ऋण 500 करोड़ रुपये से अधिक नहीं है और उन पर 29 फरवरी, 2020 तक किसी कर्ज का बकाया पहले के 30 दिनों की तुलना में 60 दिन या इससे कम का रहा हो। ECLGS 3.0 के तहत दिये जाने वाले कर्ज की मियाद छह साल होगी। इसमें मूलधन के पुनर्भुगतान पर 2 साल की मोहलत शामिल होगी। ECLGS 2.0 में, मियाद 12-महीने की मोहलत के साथ पांच साल थी।इसके अलावा, योजना ने MLI (सदस्य ऋण देने वाली संस्थाओं) को एक प्रोत्साहन भी प्रदान किया है ताकि पात्र लाभार्थियों को अतिरिक्त धन की सुविधा उपलब्ध हो सके। ECLGS को MSMEs, व्यवसाय उद्यमों, व्यवसाय उद्देश्यों के लिए व्यक्तिगत ऋण और MUDRA उधारकर्ताओं के लिए पूरी तरह से गारंटीकृत और संपार्श्विक-मुक्त अतिरिक्त ऋण प्रदान करने के लिए केंद्र सरकार के आत्म निर्भार भारत पैकेज के हिस्से के रूप में घोषित किया गया था।

  1. सरकार ने 4 पीएसबी में 14,500 करोड़ रुपये के पूंजी निवेश की घोषणा की

केंद्र सरकार ने 2020-21 में चार राज्य-स्वामित्व वाले उधारदाताओं जैसे कि सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया, इंडियन ओवरसीज बैंक, बैंक ऑफ इंडिया और यूको बैंक में 14,500 करोड़ रुपये का निवेश करने की घोषणा की है। ​यह संचार चालू वित्त वर्ष 2020-21 के लिए सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों में 20,000 करोड़ रुपये के कुल पूंजीगत संचार को पूरा करेगा। इससे पहले दिसंबर 2020 में, इसने पंजाब और सिंध बैंक में 5,500 करोड़ रुपये का निवेश किया था। पुनर्पूंजीकरण बांड छह विभिन्न परिपक्वताओं के साथ जारी किए जाएंगे, और पात्र बैंकों द्वारा किए गए आवेदन के अनुसार राशि के लिए विशेष प्रतिभूतियां “सममूल्य पर” होंगी। भारतीय रिज़र्व बैंक (RBI) द्वारा रखी गई अनिवार्य आरक्षित आवश्यकताओं को पूरा करने, खराब ऋणों के लिए प्रावधान बनाने और अर्थव्यवस्था में मांग को पुनर्जीवित करने के लिए उधार चक्र शुरू करने के लिए बैंकों को पूंजी की आवश्यकता होती है।

  1. एक्सिस बैंक टेक प्लेटफार्म को बेचेगा

निजी क्षेत्र के ऋणदाता एक्सिस बैंक (Axis Bank) ने अपनी सहायक कंपनी, एक्सिस बैंक यूके लिमिटेड से ओपनपेड होल्डिंग्स लिमिटेड (OpenPayd Holdings Ltd.) में 100 प्रतिशत हिस्सेदारी की बिक्री के लिए एक शेयर खरीद समझौता किया है। यह समझौता 31 मार्च, 2021 को दर्ज किया गया था, और लेनदेन यूके फाइनेंशियल रेगुलेटर, प्रूडेंशियल रेगुलेशन अथॉरिटी (PRA) द्वारा अनुमोदन के अधीन है। लेन-देन के लिए विचार या मूल्य, पूर्ण शुद्ध परिसंपत्ति मूल्य (पूरा होने की तारीख पर बैंक का अंकित मूल्य) होगा, साथ ही $ 5,500,000 का निश्चित प्रीमियम भी होगा। एक्सिस बैंक को उम्मीद है कि यूके फाइनेंशियल रेगुलेटर, PRA से प्राप्त ‘चेंज इन कंट्रोल’ के अनुमोदन के अधीन 30 सितंबर, 2021 तक बिक्री पूरी हो जाएगी।

  1. उत्तर प्रदेश में गाजियाबाद नगर निगम बीएसई में सूचीबद्ध

गाजियाबाद नगर निगम (Ghaziabad Nagar Nigam) ने खुद को BSE में सूचीबद्ध किया और BSE BOND का उपयोग करके निजी प्लेसमेंट बेसिस पर नगर निगम बांड जारी करके सफलतापूर्वक 150 करोड़ रुपये जुटाए। यह देश में किसी भी नगर निगम द्वारा जारी किया गया पहला ग्रीन बॉन्ड है। ​धन का उपयोग गाजियाबाद के इंदिरापुरम में तृतीयक सीवेज उपचार संयंत्र के निर्माण के लिए किया जाएगा। धन का उपयोग आंशिक रूप से परियोजना को निधि देने के लिए किया जाएगा, जिसकी कीमत 240 करोड़ रुपये है। यह ट्रीटमेंट प्लांट सीवेज के पानी को उपचार के बाद उद्योगों के लिए उपयोग करने में सक्षम करेगा। गाजियाबाद नगर निगम उत्तर प्रदेश राज्य में धन जुटाने वाला दूसरा नगर निगम है। इससे पहले, लखनऊ नगर निगम को BSE में सूचीबद्ध किया गया था।

  1. पेटीएम मनी ने पुणे में खोला नया R&D सेंटर

ऑनलाइन निवेश प्लेटफॉर्म पेटीएम मनी ने पुणे, महाराष्ट्र में एक नई R&D सुविधा स्थापित की है, जो विशेष रूप से इक्विटी, म्यूचुअल फंड और डिजिटल गोल्ड के क्षेत्र में उत्पाद नवाचार को चलाएगी। कंपनी ने कहा कि वह नए धन उत्पादों और सेवाओं के निर्माण के लिए 250 से अधिक इंजीनियरों और डेटा वैज्ञानिकों को नियुक्त करने की योजना बना रही है। पेटीएम मनी का लक्ष्य छोटे शहरों और कस्बों से आने वाले अधिकांश उपयोगकर्ताओं के साथ, FY21 में 10 मिलियन से अधिक उपयोगकर्ता और 75 मिलियन वार्षिक लेनदेन प्राप्त करना है।

  1. केंद्र ने वापस ले लिया छोटी बचत योजनाओं पर ब्याज कटौती का आदेश

सरकार ने 2021-22 की पहली तिमाही के लिए राष्ट्रीय बचत प्रमाणपत्र (NSC) और सार्वजनिक भविष्य निधि (PPF) सहित छोटी बचत योजनाओं पर ब्याज दरों में कमी करने के अपने आदेश को वापस ले लिया है। इससे पहले 31 मार्च 2021 को वित्त मंत्रालय ने छोटी बचत योजनाओं के लिए ब्याज दरों में 50-110 आधार अंकों की कटौती की घोषणा की थी। छोटी बचत योजनाओं के लिए ब्याज दरों को तिमाही आधार पर अधिसूचित किया जाता है। हालाँकि, जारी किए गए आदेश सरकार द्वारा 01 अप्रैल, 2021 को वापस ले लिए गए। यह लगातार चौथी तिमाही है कि सरकार ने ऐसी योजनाओं पर दरों को बनाए रखा है जो 1 अप्रैल से प्रभावी हैं और 30 जून, 2021 तक प्रभावी रहेंगी।

  1. आर्मी वॉर कॉलेज, महू ने अपनी स्वर्ण जयंती मनाई

आर्मी वॉर कॉलेज (एडब्ल्यूसी) महू ने भारतीय सेना के प्रमुख प्रशिक्षण संस्थान के रूप में अपनी स्थापना के 50 गौरवशाली वर्षों के उपलक्ष्य में 2 अप्रैल को अपनी स्वर्ण जयंती मनाई । यह कॉलेज भारतीय सेना में सभीसामरिक प्रशिक्षण का प्रमुख केंद्र है एवं पूरी तरह से भारतीय सशस्त्र बलोंके और मित्र देशों के अधिकारियों के प्रशिक्षण के लिए उत्तरदाई है । कॉलेजयुद्धकला की शिक्षा प्राप्त करने, रणनीति, रसद, समकालीन सैन्य अध्ययन एवंसैन्य सिद्धांत में सुधार का अग्रणी स्थान है । आर्मी वॉर कॉलेज अपनी गौरवशाली विशिष्ट पहचान के साथ अंकितआदर्श वाक्य ‘युद्धाय कृतनिश्चयः’ के साथ खड़ा हुआ है जिसका अर्थ है ‘युद्धके लिये निश्चय करके खड़ा हो जा’ । 1971 के बाद से अपनी मामूलीशुरुआत के बाद से यह कॉलेज सीखने और सैन्य नेतृत्व के विकास के एक शानदारऔर जीवंत केंद्र के रूप में उभरा है।

  1. विश्व ऑटिज्म जागरूकता दिवस

विश्व ऑटिज्म जागरूकता दिवस हर वर्ष दो अप्रैल को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर मनाया जाता है। इस दिन संयुक्त राष्ट्र के सदस्य देशों को ऑटिज्म और एस्पर्जर सिंड्रोम सहित ऑटिस्टिक स्पेक्ट्रम विकारों वाले लोगों के बारे में जागरूकता के लिए प्रोत्साहित किया जाता है। इस वर्ष संयुक्त राष्ट्र का विषय है – इन्क्लूज़न इन द वर्कप्लेस, चैलेंजेज़ एंड अपार्च्युनिटीज़ इन ए पोस्ट पैनडेमिक वर्ल्ड। संयुक्त राष्ट्र ने कहा है कि ऑटिज्म से पीड़ित लोगों को आय और पर्याप्त धन, स्वास्थ्य देखभाल तक पहुंच, कानून के तहत सुरक्षा और राजनीतिक समावेश जैसी कई असमानताओं का सामना करना पड़ता है और महामारी के कारण इसमें और तेजी आई है। ऑटिज्म, आजीवन रहने वाली एक न्‍यूरोलॉजिकल स्थिति है जिसका पता बचपन में ही चल जाता है।

  1. अंतर्राष्ट्रीय बाल पुस्तक दिवस: 02 अप्रैल

अंतर्राष्ट्रीय बाल पुस्तक दिवस (International Children’s Book Day-ICBD) का आयोजन एक अंतर्राष्ट्रीय गैर-लाभकारी संगठन, इंटरनेशनल बोर्ड ऑन बुक्स फॉर यंग पीपल (IBBY) द्वारा पढ़ने के प्रति प्यार को प्रेरित करने और बच्चों की पुस्तकों पर ध्यान देने के लिए 1967 से प्रतिवर्ष 2 अप्रैल को किया जाता है। विषय 2021: “द म्यूजिक ऑफ़ वर्ड्स।” हर साल IBBY को एक अलग राष्ट्रीय खंड में ICBD के अंतर्राष्ट्रीय प्रायोजक होने और एक विषय पर निर्णय लेने का अवसर होता है। IBBY संयुक्त राज्य अमेरिका अंतर्राष्ट्रीय बाल पुस्तक दिवस 2021 का प्रायोजक है।

  1. गुड फ्राइडे

2 अप्रैल शुक्रवार को गुड फ्राइडे मनाया गया। इस दिन ईसा मसीह को सलीब पर चढ़ाया गया था। ईसा मसीह ने प्राणी मात्र के प्रति प्रेम और मानवता के कष्‍ट दूर करने के लिए अपने जीवन का बलिदान दिया था। इसाई समुदाय के लोग इस अवसर पर एक दूसरे के लिए शक्ति और समृद्धि की कामना करते हैं। रविवार को ईस्‍टर के समारोह शुरू होंगे। ऐसी मान्‍यता है कि ईस्‍टर के दिन ईसा मसीह फिर से जीवित हो गए।