समय पूर्व सेवानिवृत्त होंगे पाकिस्तान के उच्चायुक्त बासित

0
144

CURRENT GK

1.यौन उत्पीड़न से संबंधित शिकायतें दर्ज करने के लिए एसएचई-बॉक्स आरंभ :-

केंद्रीय महिला और बाल विकास श्रीमती मेनका संजय गांधी ने नई दिल्ली में कार्य स्थल पर यौन उत्पीड़न से संबंधित शिकायतें दर्ज करने के लिए यौन उत्पीड़न इलेक्ट्रॉनिक -बॉक्स (एसएचई-बॉक्स) शीर्षक वाली एक ऑनलाइन शिकायत प्रबंधन व्यवस्था – का आरंभ किया।

यह शिकायत प्रबंधन व्यवस्था कार्य स्थल पर महिलाओं का यौन उत्पीड़न (निवारण, निषेध और निवारण) अधिनियम, 2013 का प्रभावी कार्यान्वयन सुनिश्चित करने के लिए विकसित की गई है।

यह पोर्टल केंद्र सरकार (केंद्रीय मंत्रालयों, विभागों, सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रमों, स्वायत्त निकायों, संस्थाओं आदि ) के किसी भी कार्यालय में काम करने वाली या वहां जाने वाली महिलाओं को – उक्त अधिनियम के अंतर्गत कार्य स्थल पर यौन उत्पीड़न से संबंधित शिकायतें दर्ज करने का मंच उपलब्ध कराने की दिशा में की गई एक पहल है।

जो महिलाएं इस अधिनियम के अंतर्गत आंतरिक शिकायत समिति (आईसीसी) के समक्ष पहले ही लिखित शिकायत दर्ज करा चुकी हैं, वे भी इस पोर्टल के माध्यम से अपनी शिकायत दर्ज कर सकती हैं।

 

2.लखनऊ मेट्रो अपने एफएम रेडियो स्टेशन वाला भारत का पहला मेट्रो :-

लखनऊ मेट्रो भारत का पहला मेट्रो बनने वाला है जिसके पास अपना एफएम रेडियो स्टेशन होगा जो मेट्रो सुरक्षा पर मनोरंजन और सूचना प्रदान करेगा।

यह मेट्रो यात्रियों को ‘गो स्मार्ट’ कार्ड के साथ पीने का पानी, शौचालय की सुविधा और वाईफाई भी नि: शुल्क प्रदान करेगा।

 

3.महाराष्ट्र, राजस्थान में बाल विवाह के सर्वाधिक मामले :-

नवीनतम सरकारी आंकड़ों से पता चलता है कि बाल विवाह में महाराष्ट्र सबसे आगे है, उसके बाद राजस्थान का स्थान है। लातूर, मुंबई और पुणे सहित महाराष्ट्र के 17 जिलों में बाल विवाह के केस मिलने की सूचना है।

राजस्थान में, जयपुर, अजमेर और भीलवाड़ा समेत 13 जिलों में बाल विवाह की घटनाओं में वृद्धि की सूचना है।

बाल विवाह के प्रसार को उजागर करने वाले आंकड़े महिला और बाल विकास राज्य मंत्री कृष्ण राज ने लोकसभा में किए गए सवालों के जवाब में पेश किये।

 

4.जल मंथन – IV का आयोजन 28 और 29 जुलाई, 2017 को :-

जल क्षेत्र के विविध मामलों के समाधान के लिए विभिन्न हितधारकों के बीच व्यापक परामर्श और नए विचारों पर मंथन के प्रति अपनी संकल्पबद्धता के मद्देनजर जल संसाधन, नदी विकास और गंगा संरक्षण मंत्रालय 28 और 29 जुलाई, 2017 को नई दिल्ली में जल मंथन – IV का आयोजन करेगा।

इस संगोष्ठी में संबंधित मंत्रालयों/विभागों के केंद्रीय मंत्रियों, कुछ राज्यों/संघशासित प्रदेशों के मुख्यमंत्रियों, राज्यों/संघशासित प्रदेशों के सिंचाई/जल संसाधन मंत्रियों, जल क्षेत्र के जाने-माने विशेषज्ञों, गैर-सरकारी संगठनों के प्रतिनिधियों और केंद्र और राज्य सरकारों के वरिष्ठ अधिकारियों के भाग लेने की संभावना है।

 

5.पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय स्थापना दिवस :-

प्रत्येक वर्ष 27 जुलाई को पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय स्थापना दिवस मनाया जाता है। पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय मानसून पूर्वानुमान तथा अन्य मौसम/जलवायु मानकों, समुद्री स्थिति, भूकंप, सुनामी तथा पृथ्वी प्रणाली से संबंधित अन्य घटनाओं के बारे में श्रेष्ठ संभावित सेवाएं प्रदान करता है।

मंत्रालय समुद्री संसाधनों (जीवित और अजीवित) की खोज और दोहन के लिए विज्ञान प्रौद्योगिकी कार्य करता है तथा अंटार्कटिक / आर्कटिक / हिमालय तथा दक्षिणी समुद्री अनुसंधान के लिए मॉडल भूमिका अदा करता है।

 

6.गुजरात के पीपावाव में आरडीईएल द्वारा पहले दो नौसैनिक अपतटीय गश्ती जहाज साची और श्रुति लांच किए गए :-

रिलायंस डिफेंस एंड इंजीनियरिंग लिमिटेड (आरडीईएल) ने आज गुजरात के पीपावाव शिपयार्ड में पहले दो नौ सैनिक अपतटीय गश्तीव जहाज (एनओपीवी) को लांच किया। ये जहाज भारतीय नौसेना के लिए पांच जहाज निर्माण परियोजना के हिस्साघ हैं।

दोनों अपतटीय गश्ती  जहाज- साची और श्रुति- को आज वाइस एडमिरल गिरीश लूथरा, वीपीएसएम, एवीएसएम, वीएसएम, एडीसी, पश्चिमी नौसेना कमान के फ्लैग ऑफिसर कमांडिंग इन चीफ की पत्नीस श्रीमती प्रीति लूथरा ने लांच किया।

अपतटीय गश्तीच जहाज सामान्यशत: देश के विशाल विशेष आर्थिक क्षेत्र (ईईजेड) की निगरानी का काम करते हैं।

इसके अतिरिक्तै जहाज पायरेसी विरोधी गश्तीत, बेड़ों को समर्थन, अपतटीय परिसम्पेत्तियों की समुद्री रक्षा, तटीय सुरक्षा तथा नौवहन मार्ग की रक्षा का काम भी करते हैं। एनओपीवी भारतीय नौ सेना की समुद्री निगरानी और गश्तीथ क्षमता को बढ़ाएंगे।

 

7.पटसन किसानों की आय दोगुनी करने के लिए सरकार की पहल जूट- आईकेयर :-

बेहतर कृषि आर्थिक व्यवहारों को लोकप्रिय बनाने/ प्रचलित करने के लिए वर्ष 2015 में लांच की गई पहल जूट के लिए बेहतर खेती और आधुनिक आर्द्रता (जूट-आईकेयर) ने हाल में पायलट आधार पर पश्चिम बंगाल और असम के कुछ ब्लॉकों में किसानों के बीच माइक्रो बायल समर्थित नमी अभ्यास किया।

संशोधित कृषि आर्थिक व्यवहार में पैदावार 10-15 प्रतिशत बढ़ाने के लिए क्यारीबद्ध तरीके से पटसन की बुआई, खर-पतवार प्रबंधन लागत में कमी के लिए हाथ की जगह मशीनों से खर-पतवार प्रबंधन शामिल हैं।

 

8.स्वास्थ्य मंत्रालय ने मातृत्व मृत्यु निगरानी एवं मोचन (एमडीएसआर) को मजबूत बनाने और मातृत्व में व्यावधान पड़ने के कारणों की समीक्षा (एमएनएम) के लिए राष्ट्रीय कार्यशाला का आयोजन किया :-

स्वानस्य्नि  एवं परिवार कल्यातण मंत्रालय ने मातृत्वृ मृत्यु  निगरानी एवं मोचन (एमडीएसआर) को मजबूत बनाने और मातृत्व् में व्यापवधान पड़ने के कारणों की समीक्षा (एमएनएम) के लिए दो दिवसीय राष्ट्रीतय कार्यशाला का आयोजन किया।

नए एमडीएसआर दिशा-निर्देश पुराने दिशा-निर्देशों पर आधारित हैं। इनमें गोपनीय समीक्षा, प्रवासी मातृत्वा मृत्युन समीक्षा, मातृत्वम मृत्युप के कारणों से संबंधित आईसीडी-10 वर्गीकरण का इस्तेामाल, बैठकों का सटीक बयौरा, प्रत्युृत्तर और समीक्षा का समावेश तथा ‘न नाम- न आरोप’ नीति को शुरू करने जैसे मुख्यप बिंदु शामिल हैं।

 

9.समय पूर्व सेवानिवृत्त होंगे पाकिस्तान के उच्चायुक्त बासित :-

भारत में पाकिस्तान के उच्चायुक्त अब्दुल बासित समय से पहले सेवानिवृत्त होंगे। उन्होंने पाकिस्तान सरकार से इस आशय का आग्रह किया था।

प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने उनका आग्रह स्वीकार कर लिया है। यह जानकारी मंगलवार को मीडिया में दी गई है।

बासित को अप्रैल 2018 में विदेश मंत्रालय से सेवानिवृत्त होना था। उन्होंने प्रधामंत्री शरीफ को समय से पहले सेवानिवृत्त होने की अर्जी सौंपी थी।

पाकिस्तान के वरिष्ठ राजनयिक नई दिल्ली में तीन वर्षो का कार्यकाल पूरा कर चुके हैं। अगले महीने सोहैल महमूद भारत में उच्चायुक्त की जवाबदेही संभालेंगे।

 

10.गूगल के सीईओ सुंदर पिचाई अल्फाबेट के बोर्ड में शामिल :-

भारत में जन्मे गूगल के सीईओ सुंदर पिचाई को अल्फाबेट के निदेशक मंडल में नियुक्त किया गया है। गूगल की पेरेंट कंपनी अल्फाबेट ने यह जानकारी दी है। कैलीफोर्निया स्थित बहुराष्ट्रीय कंपनी अल्फाबेट के सीईओ लेरी पेज ने सोमवार को एक बयान में कहा कि गूगल के सीईओ के तौर पर पिचाई शानदार काम कर रहे हैं। उनके प्रयासों से गूगल को मजबूत रफ्तार और भागीदारी मिल रही है।

उनके साथ कई इनोवेटिव प्रोडक्ट भी विकसित किये जा रहे हैं। उनके साथ काम करना अच्छा लग रहा है। हमें खुशी है कि वह अल्फाबेट के बोर्ड में शामिल हो रहे हैं। चेन्नई के रहने वाले पिचाई आइआइटी खड़गपुर के छात्र रहे हैं और गूगल में लंबे अरसे से जुड़े हैं।

उन्हें दो साल पहले गूगल के सीईओ के तौर पर नियुक्त किया गया था। अल्फाबेट के बोर्ड में पिचाई की नियुक्ति 19 जुलाई से प्रभावी हुई है। 13 सदस्यीय बोर्ड में चार और अन्य अधिकारियों को भी शामिल किया गया है।

 

11.वोडाफोन-आइडिया मर्जर: प्रतिस्पर्धा आयोग ने दी विलय सौदे को मंजूरी :-

भारतीय प्रतिस्पर्धा आयोग (सीसीआई) ने सोमवार को अतिरिक्त जांच के बिना वोडाफोन-आइडिया विलय के लिए बिना शर्त मंजूरी दे दी।

सूत्रों के मुताबिक सीसीआई ने वोडाफोन और आइडिया को अनुमोदन पत्र भेजा है। सूत्र ने आगे बताया कि वोडाफोन और आइडिया को अब आवश्यक मंजूरी के लिए सेबी से संपर्क करना होगा।

सूत्र ने बताया, “विलय के लिए सभी विनियामक अनुमोदन 6 महीनों के भीतर होने की संभावना है। वोडाफोन और आइडिया दोनों ने ही आश्वासन दिया है कि वो सरकार को उन सर्कल्स के स्पेक्ट्रम को वापस कर देंगे जो जरूरी हैं। एनसीएलटी यह सुनिश्चित करेगा कि विलय डीओटी के मर्जर एंड एक्विजिशन दिशा निर्देशों के अनुसार है।”