हास्‍य कलाकार राजू श्रीवास्‍तव का दिल्‍ली के एम्‍स में निधन

0
9

1. एआईबीडी ने सर्वसम्मति से भारत की अध्यक्षता को एक और वर्ष के लिए बढ़ाया

प्रतिष्ठित एशिया-प्रशांत प्रसारण विकास संस्थान (एआईबीडी) में भारत की अध्यक्षता को एक वर्ष के लिए और बढ़ा दिया गया है। नई दिल्ली में आयोजित संस्थान के दो दिवसीय 47वीं वार्षिक आम सभा में एआईबीडी सदस्य देशों द्वारा सर्वसम्मति से यह निर्णय लिया गया। वर्तमान में, प्रसार भारती के मुख्य कार्यकारी अधिकारी और दूरदर्शन के महानिदेशक मयंक कुमार अग्रवाल, एआईबीडी के अध्यक्ष हैं। सम्मेलन का उद्घाटन केंद्रीय सूचना और प्रसारण, युवा मामले और खेल मंत्री श्री. अनुराग सिंह ठाकुर ने किया था। यूनेस्को के तत्वावधान में 1977 में स्थापित एशिया-प्रशांत प्रसारण विकास संस्थान (एआईबीडी), एशिया और प्रशांत के लिए इलेक्ट्रॉनिक मीडिया विकास के क्षेत्र में संयुक्त राष्ट्र आर्थिक और सामाजिक आयोग (यूएन-ईएससीएपी) के देशों की सेवा करने वाला एक विशिष्ट क्षेत्रीय अंतर-सरकारी संगठन है। एआईबीडी नीति और संसाधन विकास के माध्यम से एशिया-प्रशांत क्षेत्र में एक जीवंत और सामजस्यपूर्ण इलेक्ट्रॉनिक मीडिया वातावरण बनाने के लिए प्रतिबद्ध है। एआईबीडी के वर्तमान में 26 पूर्ण सदस्य (देश) हैं जिसमें 43 संगठनों का प्रतिनिधित्व है, और 50 संबद्ध सदस्य (संगठन) हैं। कंबोडिया के सूचना और संचार मंत्री श्री खिउ खानहरित को 2021 के लिए लाइफटाइम अचीवमेंट अवार्ड प्रदान किया गया। 2022 के लिए लाइफटाइम अचीवमेंट अवार्ड प्रसार भारती के मुख्य कार्यकारी अधिकारी और एआईबीडी के अध्यक्ष श्री मयंक अग्रवाल को प्रदान किया गया।

2. कुड़मी समाज के अनिश्चितकालीन ‘रेल रोको’ आंदोलन के कारण कई रेल सेवाएं प्रभावित

पश्चिम बंगाल, झारखंड और ओडिशा के कुड़मी संगठन अनुसूचित जनजाति का दर्जा दिए जाने और कुदमाली भाषा को संविधान की आठवीं अनुसूची में शामिल करने की मांग कर रहे हैं। कुड़मी समाज के अनिश्चितकालीन ‘रेल रोको‘ आंदोलन के कारण कई रेल सेवाएं प्रभावित हुई हैं। इस आंदोलन के कारण लोकल ट्रेनों के साथ लंबी दूरी की अधिकतर ट्रेन रद्द कर दी गई हैं या उनका मार्ग बदल दिया गया है।

3. गुजराती फिल्म छेल्लो शो को ऑस्कर 2023 के लिए भारत की आधिकारिक प्रविष्टि घोषित

गुजराती फिल्म छेल्लो शो को ऑस्कर 2023 के लिए भारत की आधिकारिक प्रविष्टि घोषित किया गया है। फिल्म फेडरेशन ऑफ इंडिया ने 95वें अकादमी पुरस्कारों के लिए इसकी घोषणा की। छेल्लो शो को सर्वश्रेष्ठ अंतर्राष्ट्रीय फीचर फिल्म श्रेणी में चुना गया है। यह फिल्म 14 अक्टूबर को भारतीय सिनेमाघरों में रिलीज़ होने वाली है। छेल्‍लो शो का शीर्षक अंग्रेजी में लास्‍ट फिल्म शो है। इस फिल्‍म का रॉबर्ट डे नीरो के ट्रिबेका फिल्म फेस्टिवल में उद्घाटन फिल्म के रूप में वर्ल्‍ड प्रीमियर हुआ था और इसने विभिन्न अंतरराष्ट्रीय फिल्म समारोहों में कई पुरस्कार जीते हैं। छेल्‍लो शो के निर्देशक नलिन पैन ने ऑस्कर के लिए फिल्म का चयन करने पर फिल्म फेडरेशन ऑफ इंडिया और जूरी सदस्यों को धन्यवाद दिया है। छेल्‍लो शो एक किशोर बालक की कहानी है। वह भारत के एक दूरदराज के गाँव में रहता है और सिनेमा के साथ उसका गहरा संबंध जुड जाता है। यह फिल्म दर्शाती है कि कैसे एक छोटा लड़का प्रोजेक्शन बूथ से फिल्‍में देखने में पूरी गर्मियों का समय बिताता है।

4. भारतीय रिजर्व बैंक ने सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया को अपने त्वरित सुधारात्मक कार्रवाई दायरे-पीसीएएफ से हटाया

भारतीय रिजर्व बैंक ने सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया को अपने त्वरित सुधारात्मक कार्रवाई दायरे-पीसीएएफ से हटा दिया है। विभिन्न वित्तीय अनुपातों तथा कर्ज वसूली में विफलता से जुड़ी बैंक की गतिविधियों में सुधार को देखते हुए यह फैसला किया गया है। जब भी कोई बैंक निर्धारित नियमों का उल्लंघन करता है तो उसपर पीसीएएफ लागू किया जाता है। भारतीय रिजर्व बैंक ने बड़े पैमाने पर कर्जों की वसूली न कर पाने और परिसंपत्तियों से नकारात्मक अर्जन के कारण 2017 में सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया को पीसीएएफ सूची में शामिल किया था। अब बैंक के कामकाज की समीक्षा के बाद रिजर्व बैंक ने ये प्रतिबंध हटाने का फैसला किया है। सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया ने लिखित रूप से प्रतिबद्धता व्यक्त की है कि वह सभी नियमों का अनुपालन करेगा।

5. गृह मंत्री अमित शाह ने त्रिपुरा के मुख्यमंत्री माणिक साहा के साथ ब्रू समझौते के कार्यान्वयन की समीक्षा की

गृह मंत्री अमित शाह ने नई दिल्ली में त्रिपुरा के मुख्यमंत्री माणिक साहा के साथ बैठक में ब्रू समझौते के कार्यान्वयन की समीक्षा की। जनवरी 2020 में ब्रू समझौते पर हस्ताक्षर होने के बाद मिजोरम से विस्थापित ब्रू समुदाय के लोगों को त्रिपुरा में बसाने की दिशा में महत्वपूर्ण प्रगति हुई है। समझौते में प्रत्येक परिवार के पुनर्वास के लिए व्यापक पैकेज का प्रावधान किया गया है। बैठक में केंद्र और राज्य सरकार के वरिष्ठ अधिकारी भी मौजूद थे। पुर्नवासित ब्रू परिवारों को त्रिपुरा के स्थायी निवासी का प्रमाण पत्र, अनसूचित जनजाति प्रमाण पत्र, आधार कार्ड और मतदाता पहचान पत्र जारी किए जा रहे हैं।

6. धर्मान्तरण करने वाले दलितों के लिए एक आयोग का गठन किया जाएगा

केंद्र सरकार हिंदू, बौद्ध और सिख धर्म के अलावा अन्य धर्मों में परिवर्तित होने वाले अनुसूचित जातियों या दलितों के सदस्यों की सामाजिक, आर्थिक और शैक्षिक स्थिति का अध्ययन करने के लिए एक राष्ट्रीय आयोग का गठन करेगी। यह प्रस्तावित आयोग महत्वपूर्ण है क्योंकि वर्तमान में कई याचिकाएं सुप्रीम कोर्ट के समक्ष लंबित हैं, जो दलितों के लिए एससी आरक्षण लाभ की मांग कर रही हैं, जिन्होंने ईसाई या इस्लाम धर्म अपना लिया है। अनुच्छेद 341 के तहत संविधान (अनुसूचित जाति) आदेश, 1950 में कहा गया है कि हिंदू, सिख या बौद्ध धर्म के अलावा किसी अन्य धर्म से संबंधित व्यक्ति को अनुसूचित जाति के सदस्य के रूप में मान्यता नहीं दी जा सकती है। मूल आदेश ने केवल हिंदू धर्म से संबंधित अनुसूचित जाति के सदस्यों को वर्गीकृत किया था। बाद में 1956 में सिखों को शामिल करने और 1990 में बौद्धों को शामिल करने के लिए इसमें संशोधन किया गया। प्रस्तावित आयोग में 3 से 4 सदस्य होंगे, जिसके अध्यक्ष केंद्रीय कैबिनेट मंत्री होंगे। यह आयोग उन दलितों की स्थिति में परिवर्तन के व्यापक विश्लेषण में शामिल होगा जो ईसाई या इस्लाम धर्म अपना चुके हैं। यह वर्तमान एससी सूची में अधिक सदस्यों को जोड़ने के प्रभाव का भी अध्ययन करेगा। केंद्र सरकार की नौकरियों में सीधी भर्ती के लिए SCs को वर्तमान में 15 प्रतिशत आरक्षण दिया जाता है।

7. प्रधानमंत्री ने पीएम केयर्स फण्‍ड के ट्रस्‍टी बोर्ड की बैठक की अध्‍यक्षता की

प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने पीएम केयर्स फण्‍ड के ट्रस्‍टी बोर्ड की बैठक की अध्‍यक्षता की। बैठक में पीएम केयर्स फण्‍ड द्वारा चार हजार 345 बच्‍चों की मदद कर रही पीएम केयर्स योजना और इस कोष के विभिन्‍न प्रयासों के बारे चर्चा की गई। ट्रस्टियों ने देश में कठिन समय में इस कोष की उल्‍लेखनीय भूमिका की सराहना की। श्री मोदी ने पीएम केयर्स फण्‍ड को पूरे मन से समर्थन देने पर देशवासियों का आभार व्‍यक्‍त किया। बैठक में पीएम केयर्स फंड के ट्रस्टियों, केन्‍द्रीय गृहमंत्री और केन्‍द्रीय वित्‍तमंत्री ने भी भाग लिया। फंड के नवनियुक्‍त ट्रस्टियों में उच्‍चतम न्‍यायालय के पूर्व न्‍यायाधीश के. टी. थॉमस, लो‍कसभा के पूर्व उपाध्‍यक्ष करिया मुंडा और टाटा संस के चेयरमैन एमिरेटस रतन टाटा ने भी बैठक में भाग लिया। ट्रस्‍ट ने यह फैसला भी किया कि पीएम केयर्स फंड के परामर्श बोर्ड में जानी-मानी हस्तियों को शामिल किया जायेगा। इनमें भारत के पूर्व नियंत्रक और महालेखाकार राजीव महर्षि, इंफोसिस फाउंडेशन की पूर्व अध्‍यक्ष सुधामुर्ति और टेक फॉर इंडिया के सहसंस्‍थापक इंडिकॉरर्स तथा पीरामल पाउंडेशन के पूर्व सी.ई.ओ. आनंदशाह शामिल हैं।

8. असम के एल्विस अली हजारिका, नॉर्थ चैनल को पार करने वाले पूर्वोत्‍तर के पहले तैराक बने

असम के एल्विस अली हजारिका नॉर्थ चैनल को पार करने वाले पूर्वोत्‍तर क्षेत्र के पहले तैराक बन गये हैं। नॉर्थ चैनल उत्‍तरी आयरलैंड और दक्षिण पश्चिमी स्‍कॉटलैंड के बीच का जलक्षेत्र है। एल्विस और उनकी टीम ने इस जलक्षेत्र को पार करने में 14 घंटे 38 मिनट का समय लिया। इस प्रकार एल्विस नॉर्थ चैनल को पार करने वाले सबसे अधिक आयु के भारतीय तैराक भी बन गये।

9. मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे ने मराठा आरक्षण पर उप-समिति के गठन को मंजूरी दी

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे ने मराठा आरक्षण पर उप-समिति के गठन को मंजूरी दी है। राज्‍य के उच्च और तकनीकी शिक्षा मंत्री चंद्रकांत पाटिल छह सदस्यों वाली उप-समिति के अध्यक्ष होंगे। उप-समिति के सदस्यों में राजस्व मंत्री राधाकृष्ण विखे-पाटिल, ग्रामीण विकास मंत्री गिरीश महाजन, बंदरगाह मंत्री दादा भूसे, आबकारी मंत्री शंभूराज देसाई और उद्योग मंत्री उदय सामंत शामिल होंगे। समुदाय की सामाजिक, शैक्षणिक तथा आर्थिक स्थिति पर राज्य पिछड़ा वर्ग आयोग से प्राप्त रिपोर्ट पर यह समिति गौर करेगी।

10. हिमाचल प्रदेश को एशियाई विकास बैंक (ADB) से ऋण

एशियाई विकास बैंक (एडीबी) और भारत सरकार ने हिमाचल प्रदेश में स्वच्छ पेयजल की सुविधा प्रदान करने तथा जल आपूर्ति एवं स्वच्छता से जुड़ी सेवाओं को बेहतर बनाने के लिये 96.3 मिलियन अमेरिकी डॉलर के ऋण समझौते पर हस्ताक्षर किये। यह परियोजना भारत सरकार के जल जीवन मिशन के उद्देश्य के अनुरूप है, जिसका लक्ष्य 2024 तक सभी ग्रामीण परिवारों को पाइप से पानी उपलब्ध कराना है। यह सुरक्षित, सतत् और समावेशी ग्रामीण जल आपूर्ति एवं स्वच्छता सेवाओं को सुनिश्चित करने के लिये जलापूर्ति के बुनियादी ढाँचे को उन्नत करेगा और संस्थागत क्षमता को मज़बूत करेगा।

11. नाइजीरिया में तेज़ी से फ़ैल रहा है लस्सा बुखार

देश भर में वायरल संक्रमण के प्रसार को कम करने के सरकार के उपायों के बावजूद नाइजीरिया में लस्सा बुखार के कारण 171 लोगों की मौत हो गई है। नाइजीरिया में वर्तमान में लस्सा बुखार के कुल 917 पुष्ट मामले हैं, इस वर्ष की शुरुआत से 6,660 संदिग्ध मामले दर्ज किए गए हैं। मरने वालों की संख्या 171 तक पहुंचने के साथ, मामले की मृत्यु दर 18.6 प्रतिशत है। यह 2021 में इसी अवधि की तुलना में कम है, जो 23.3 प्रतिशत थी। वायरल संक्रमण मुख्य रूप से 21 से 30 वर्ष की आयु के लोगों को प्रभावित कर रहा है। नाइजीरिया रोग नियंत्रण केंद्र वर्तमान में वायरल संक्रमण के प्रसार को नियंत्रित करने के लिए देश भर में चिकित्सा प्रतिक्रिया वस्तुओं का वितरण कर रहा है। लस्सा बुखार एक तीव्र वायरल रक्तस्रावी बुखार है जो लस्सा वायरस के कारण होता है, जो एरेनाविरिडे परिवार से संबंधित है। यह पहली बार 1969 में नाइजीरिया में खोजा गया था।

12. पर्यटन स्थलों पर राष्ट्रीय ध्वज की स्थापना की जाएगी : श्री जी किशन रेड्डी

केंद्रीय पर्यटन मंत्री श्री जी. किशन रेड्डी की उपस्थिति में धर्मशाला, हिमाचल प्रदेश में राज्य पर्यटन मंत्रियों का तीन दिवसीय राष्ट्रीय सम्मेलन संपन्न हुआ। 12 राज्यों मध्य प्रदेश, अरुणाचल प्रदेश, असम, गोवा, हरियाणा, मिजोरम, ओडिशा, तमिलनाडु, उत्तर प्रदेश, पंजाब, महाराष्ट्र और हिमाचल प्रदेश के पर्यटन मंत्रियों ने सम्मेलन में भाग लिया। श्री रेड्डी ने आग्रह किया कि सभी राज्य पर्यटन क्षेत्र को बढ़ावा देने के लिए सर्वोत्तम कार्य प्रणालियों को साझा करें और उन्हें अपनाएं। पर्यटन स्थलों को बेहतर बनाने और बढ़ावा देने के लिए राज्यों को अपने स्तर पर विभिन्न विभागों के जिला अधिकारियों और हितधारकों के साथ इस तरह के सम्मेलन आयोजित करने चाहिए। श्री रेड्डी ने युवा पर्यटन क्लबों के महत्व पर जोर दिया और कहा कि ये क्लब इस क्षेत्र में बड़े बदलाव ला सकते हैं। श्री रेड्डी ने यह भी जानकारी दी कि पर्यटन स्थलों पर राष्ट्रीय ध्वज स्थापित किए जाएंगे। उन्होंने राज्यों और हितधारकों से सभी होटलों और पर्यटन स्थलों पर झंडा लगाने की भी अपील की। देश को 2024 कर 1.5 करोड़ विदेशी यात्रियों के आगमन, सकल घरेलू उत्पाद में पर्यटन से 50 अरब डालर के और विदेशी मुद्रा आय में 30 अरब डालर के योगदान का अनुमान है।

13. नासा के परसेवेरांस रोवर ने मंगल ग्रह पर कार्बनिक पदार्थ की खोज की

परसेवेरांस रोवर ने मंगल ग्रह की सतह से कार्बनिक पदार्थों की उच्च सांद्रता वाले नमूने एकत्र किए हैं। परसेवेरांस रोवर ने मंगल ग्रह पर एक प्राचीन नदी डेल्टा से कई कार्बनिक रॉक नमूने एकत्र किए हैं। इन चट्टानों के नमूनों में कार्बनिक पदार्थों की बड़ी सांद्रता है। इस नवीनतम संग्रह के साथ, रोवर ने अब कुल 12 नमूने एकत्र किए हैं। एकत्रित चट्टानों में से एक को वाइल्डकैट रिज के रूप में उपनाम दिया गया था। इस चट्टान का निर्माण तब हुआ था जब मिट्टी और रेत खारे पानी की झील में बैठ गए थे क्योंकि यह झील अरबों साल पहले वाष्पित हो गई थी। रोवर पर मौजूद एक उपकरण जिसे SHERLOC (Scanning Habitable Environments with Raman & Luminescence for Organics & Chemicals) कहा जाता है, ने पाया कि इन नमूनों में कार्बनिक अणुओं का एक वर्ग है जो सल्फेट खनिजों के साथ सहसंबंधित हैं। तलछटी चट्टान की परतों में पाए जाने वाले सल्फेट खनिज पानी के वातावरण में अंतर्दृष्टि प्रदान कर सकते हैं जिस पर चट्टान के नमूनों की खोज की गई थी। इससे पता चलता है कि जब झील वाष्पित हो रही थी, तब सल्फेट और कार्बनिक अणु दोनों ही इस क्षेत्र में जमा, संरक्षित और केंद्रित थे।

14. बंगलादेश ने नेपाल को 3-1 से हरा कर सैफ महिला फुटबॉल चैपियनशिप पहली बार जीती

बंगलादेश ने काठमांडू में सैफ महिला फुटबॉल चैपियनशिप के फाइनल में नेपाल को 3-1 से हराकर पहली बार ऐतिहासिक खिताबी जीत दर्ज की। टूर्नामेंट में बंगलादेश की कप्‍तान सबीना खातून ने पांच मैचों में सबसे अधिक आठ गोल किए। उन्‍हें शानदार प्रदर्शन के लिए टूर्नामेंट का सर्वश्रेष्‍ठ खिलाड़ी घोषित किया गया। बंगलादेश की टीम को फेयर प्‍ले पुरस्‍कार भी दिया गया। कप्‍तान सबीना ने सैफ महिला फुटबॉल चैम्पियनशिप ट्रॉफी बंगलादेश की जनता को समर्पित की। बंगलादेश की गोल कीपर रूपना चकमा को सर्वश्रेष्‍ठ गोल कीपर नामित किया गया। टूर्नामेंट में उन्‍होंने बंगलादेश के खिलाफ होन वाले अधिकांश गोल रोके और केवल एक ही गोल होने दिया।

15. रेलवे सुरक्षा बल (आरपीएफ) ने अपना 38वां स्थापना दिवस मनाया

रेलवे सुरक्षा बल (आरपीएफ) ने अपना 38वां स्थापना दिवस 20 सितंबर 2022 को जगजीवन राम आरपीएफ अकादमी, लखनऊ में केंद्रीय स्तर पर पहली बार परेड आयोजित कर मनाया। यह पहली बार हुआ है जब नई दिल्ली से बाहर आरपीएफ की राष्ट्रीय स्तर की परेड का आयोजन किया गया। रेलवे की संपत्ति को सुरक्षा प्रदान करने के लिए वर्ष 1957 में संसद में पारित एक अधिनियम के जरिए रेलवे सुरक्षा बल का गठन किया गया था। इसके बाद वर्ष 1966 में रेलवे सुरक्षा बल को रेलवे की संपत्ति के अवैध कब्जे में शामिल अपराधियों से पूछताछ, गिरफ्तारी और उन पर मुकदमा चलाने का अधिकार दिया गया था। कई वर्षों से यह महसूस किया जा रहा था कि रेलवे सुरक्षा बल को “संघ के एक सशस्त्र बल” का दर्जा देने की आवश्यकता है और अंत में संसद द्वारा आरपीएफ अधिनियम में संशोधन करके 20 सितंबर 1985 को रेलवे सुरक्षा बल को यह दर्जा दिया गया। इसलिए रेलवे सुरक्षा बल के सदस्यों और उनके परिवारों द्वारा हर साल 20 सितंबर को आरपीएफ के स्थापना दिवस के रूप में मनाया जाता है।

16. सोवियत अंतरिक्ष यात्री वालेरी पॉलाकोव का निधन

अंतरिक्ष में सबसे लंबे समय तक अकेले रहने का रिकॉर्ड रखने वाले वालेरी पॉलाकोव का 80 वर्ष की आयु में निधन हो गया है। अंतरिक्ष में 437 दिनों का वैलेरी पॉलाकोव का रिकॉर्ड 8 जनवरी 1994 को शुरू हुआ था। सोवियत अंतरिक्ष स्टेशन मीर पर सवार रहते हुए उन्होंने 22 मार्च, 1995 को पृथ्वी पर वापस लौटने से पहले 7,000 से अधिक बार पृथ्वी की परिक्रमा की। उन्होंने एक चिकित्सक के रूप में प्रशिक्षण लिया और बाहरी अंतरिक्ष में विस्तारित अवधि का सामना करने के लिए मानव शरीर की क्षमता का प्रदर्शन किया। इससे पहले, पॉलाकोव ने 1988-89 में हुए एक मिशन पर 288 दिन अंतरिक्ष में बिताए थे। यह अंतरिक्ष में उनका पहला मिशन था। वह 8 महीने बाद वर्ष 1989 में पृथ्वी पर लौटे। उन्होंने मॉस्को में इंस्टीट्यूट ऑफ बायोमेडिकल प्रॉब्लम्स के उप निदेशक के रूप में कार्य किया। 1995 में औपचारिक रूप से एक अंतरिक्ष यात्री होने से सेवानिवृत्त होने के बाद भी उन्होंने इस पद को धारण किया और साथ ही साथ रूसी अंतरिक्ष यात्री को प्रमाणित करने के लिए जिम्मेदार आयोग के डिप्टी चेयर के रूप में कार्य किया। अंतरिक्ष में 678 दिनों के पॉलाकोव के सबसे लंबे रिकॉर्ड को 1999 में अंतरिक्ष यात्री सर्गेई अवदेयेव ने पीछे छोड़ दिया, जो 747 दिनों तक अंतरिक्ष में रहे।

17. हास्‍य कलाकार राजू श्रीवास्‍तव का दिल्‍ली के एम्‍स में निधन

जाने-माने हास्‍य कलाकार राजू श्रीवास्‍तव का दिल्‍ली के अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्‍थान-एम्‍स में निधन हो गया। वे 58 वर्ष के थे। पिछले महीने दिल का दौरा पडने के बाद उन्‍हें एम्‍स में भर्ती कराया गया था।