CURRENT GK HINDI

0
155

 

1.भारत-ओमान का संयुक्त सैन्य अभ्यास नागाह- II शुरु :-

(I)भारत और ओमान के सैनिकों के बीच 14 दिवसिय संयुक्त सैन्य अभ्यास हिमाचल प्रदेश के बाकलोह में होने गया है।

(II)रक्षा मंत्रालय ने कहा कि नागाह-II अभ्यास में दोनों सेनाओं से पलटन ताकत वाले सैनिक शामिल दल शामिल होंगे।

(III)दोनो देशों के बीच यह दूसरा संयुक्त अभ्यास है और इससे पहले यह अभ्यास दो साल पहले ओमान में हुआ था।

 

ओमान :-

राजधानी: मस्कट

मुद्रा: रियाल

सुल्तान: कबूस बिन सईद अल सईद

 

  1. म्यांमार की नौसेना को प्रशिक्षण देगा भारत :-

(I)भारतीय नौसेना मौसम संबंधी सुविधाएं स्थापित करके म्यांमार नौसेना को प्रशिक्षण प्रदान करेगी।

(II)म्यांमार के एक प्रतिनिधिमंडल की हालिया कोच्चि यात्रा के दौरान इस पर सहमति हुई थी।

(III)म्यांमार जल्द ही अपनी आवश्यकताओं के साथ एक प्रस्ताव भेजेगा।

(IV)यह ‘एक्ट ईस्ट’ नीति के तहत रणनीतिक सहयोग को बढ़ावा देने के भारत का समग्र प्रयास है और यह पड़ोसी देश में चीन की उपस्थिति घटाने में मदद करेगा।

 

म्यांमार :-

राजधानी: नैपीडा

मुद्रा: क्यात

सुल्तान: ह्तिन क्याव

 

  1. विमानवाहक आईएनएस विराट नौसेना से विदा :-

(I)विमानवाहक पोत आईएनएस विराट को 30 साल की सेवा के बाद 6 मार्च 2017 को भारतीय नौसेना से विदाई दी गई।

(II)भारतीय नौसेना में 30 सालों तक सेवाएं देने से पहले देश का दूसरा एयरक्राफ्ट आईएनएस विराट 27 सालों तक ब्रिटेन के रॉयल नेवी के पास था।

(III)युद्धपोत का नाम सबसे अधिक समय तक सेवा देने वाले युद्धपोत के लिए गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में है।

(IV)एचएमएस हर्मीस के नाम से पहचाने जाने वाला पोत पहले रॉयल नेवी की सेवा में था।

(V)इसे 1987 को भारतीय नौसेना की सेवा में शामिल किया।

 

  1. आईआईएससी शीर्ष 10 में शामिल होने वाला पहला भारतीय विवि :-

(I)पहली बार एक भारतीय शैक्षणिक संस्थान वैश्विक विश्वविद्यालय रैंकिंग के शीर्ष 10 में शामिल हो गया है।

(II)टाइम्स हायर एजुकेशन (टीएचई) ने रैंकिंग के 2017 संस्करण में यह खुलासा किया है कि दुनिया के सबसे अच्छे लघु विश्वविद्यालयों में से एक भारत में है।

(III)इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ साइंस, बैंगलोर को 2017 में टीएचई की विश्व की सर्वश्रेष्ठ लघु विश्वविद्यालयों की सूची में आठवें स्थान पर रखा गया है।

(IV)लघु विश्वविद्यालय वो होटल हैं जिनमें 5000 से कम छात्र होते हैं।

(V)भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, गुवाहाटी, और सावित्रीबाई फुले पुणे विश्वविद्यालय, जो 2016 के संस्करण में क्रमश: 14वें और 18वें स्थान पर थे इस बार शीर्ष 20 में अपने स्थान को बरकरार नहीं रख पाए।

 

  1. डॉ. जितेन्द्र सिंह ने ‘डेस्टिनेशन नॉर्थ ईस्ट – 2017’ का उद्घाटन किया :-

(I)पूर्वोत्तर क्षेत्र के विकास (स्वतंत्र प्रभार), प्रधानमंत्री कार्यालय, कार्मिक, लोक शिकायत और पेंशन, परमाणु ऊर्जा एवं अंतरिक्ष विभाग मंत्री डॉ. जितेन्द्र सिंह ने चंडीगढ में तीन दिवसीय ‘डेस्टिनेशन नॉर्थ ईस्ट – 2017’ कार्यक्रम का उद्घाटन किया।

(II)इस अवसर पर सम्बोधित करते हुए डॉ. जितेन्द्र सिंह ने कहा कि पूर्वोत्तर के लोग एवं वहां की संस्कृति को देश के प्रत्येक कोने तक पहुंचाने के प्रयासों के क्रम में इस वर्ष ‘डेस्टिनेशन नॉर्थ ईस्ट 2017’ कार्यक्रम को आयोजित करने के लिए चंडीगढ़ शहर को चुना गया है।

(III)उन्होंने कहा कि यह पहला मौका है, जब इस कार्यक्रम को राजधानी दिल्ली से बाहर किसी दूसरे शहर में आयोजित किया जा रहा है।

 

  1. जनजातीय उत्सव ‘भागोरिया’ शुरू :-

(I)वार्षिक जनजातीय त्योहार ‘भागोरिया’ झाबुआ और मध्य प्रदेश के चार अन्य जिलों में 6 मार्च से शुरू हुआ।

(II)पश्चिमी मध्य प्रदेश के झाबुआ, अलीराजपुर, धार, खरगोन और बारवानी जिलों में अलग-अलग भागोरा हाट (स्थानीय बाज़ार) में सप्ताह भर यह त्योहार आयोजित किया जाता है।

(III)झाबुआ कलेक्टर आशिष सक्सेना ने बताया कि यह आयोजन 34 स्थानों पर आयोजित किया जा रहा है।

 

  1. विजया बैंक ने तिरुपति में खोली 2000वीं शाखा :-

(I)विजया बैंक ने तिरुपति में अपनी 2000 वीं शाखा खोल दी है।

(II)यह शाखा चाड़लावाड़ा कृष्ण मूर्ति, तिरुमला तिरुपति देवस्थानों के अध्यक्ष द्वारा खोली गई।

(III)यह क्षेत्र की 65 वीं शाखा है और तिरुपति शहर में दूसरी शाखा है।

(IV)इस अवसर पर मूर्ति ने कहा कि विजया बैंक तिरुमला में बैंकिंग परिचालन शुरू करने वाला पहला बैंक है और लॉर्ड वेंकटेश्वर के भक्तों को श्रम सेवा प्रदान कर रहा है।

 

विजया बैंक :-

मुख्यालय: बेंगलुरु

स्थापना: 1931

सीईओ: किशोर कुमार सांसी

टैगलाइन: अ फ्रेंड यू केन बैंक ऑन

 

  1. एनपीए 6.8 लाख करोड़ रुपये के स्तर पर :-

(I)सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों की गैर-निष्पादित आस्तियां (एनपीए) 6.8 लाख करोड़ रुपये के चिंताजनक स्तर पर पहुंच गई हैं। ऐसे में एक प्रमुख संसदीय समिति ने बैंक कर्ज नहीं चुकाने वाले कारपोरेट घरानों का नाम सार्वजनिक कर उन्हें शर्मिंदा किए जाने का पक्ष लिया है।

(II)संसद की लोक लेखा समिति (पीएसी) के प्रमुख के वी थॉमस ने उम्मीद जताई कि ऐसी कंपनियों का नाम सार्वजनिक करने से वित्तीय संस्थानों को अपना पैसा वापस पाने में मदद मिलेगी।

(III)थॉमस ने कहा कि सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों के 6.8 लाख करोड़ रुपये के फंसे कर्ज में से 70 प्रतिशत राशि बड़े कॉरपोरेट घरानों पर बकाया है जबकि इसमें से मुश्किल से एक प्रतिशत कर्ज ही किसानों को दिया गया कर्ज है।

(IV)वित्त मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक, देश की सबसे बड़ी भारतीय स्टेट बैंक का एनपीए 97,356 करोड़ रुपये है, उसके बाद 54,640 करोड़ रुपये पंजाब नेशनल बैंक और 44,040 करोड़ रुपये बैंक ऑफ इंडिया के हैं।