GENERAL KNOWLEDGE

0
115

हेदर नाइट अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट के तीनों फॉर्मैट में शतक जड़ने वाली पहली महिला बनीं

इंग्लैंड टीम की कप्तान हेदर नाइट ने ऑस्ट्रेलिया में खेले जा रहे आइसीसी वुमेंस टी20 विश्व कप के लीग मैच में थाइलैंड की महिला टीम के खिलाफ शतक जड़ा. वे इसी के साथ इंटरनेशनल क्रिकेट के तीनों फॉर्मेट (टेस्ट, वनडे और टी20) में शतक जड़ने वालीं पहली महिला खिलाड़ी बन गईं. हेदर नाइट ने इस तरह अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में बड़ा इतिहास रचा है.

इससे पहले हेदर नाइट ने साल 2013 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट शतक, पाकिस्तान के खिलाफ 2017 में वनडे मैच में शतक जड़ा था. इंग्लैंड की टीम की कप्तान हेदर नाइट को दूसरे ही ओवर में बल्लेबाजी के लिए आना पड़ा था, जब टीम का स्कोर मात्र सात रन पर दो विकेट था.

शाहीन बाग मामला: सुप्रीम कोर्ट ने कहा- सुनवाई हेतु अभी माहौल ठीक नहीं

सुप्रीम कोर्ट ने 26 फरवरी 2020 को शाहीन बाग प्रदर्शन मामले में सुनवाई से फिलहाल इनकार कर दिया है. सुप्रीम कोर्ट का कहना है कि सुनवाई के लिए अभी माहौल सही नहीं है, अब अगली सुनवाई 23 मार्च को होगी. दिल्ली के शाहीन बाग में प्रदर्शनकारी नागरिकता संशोधन कानून के विरोध में काफी समय से प्रदर्शन कर रहे हैं. इस मामले में याचिका दायर की गई है जिसमें रास्ते पर बैठे प्रदर्शनकारियों को हटाने की मांग की गई थी.

इससे पहले सुप्रीम कोर्ट की ओर से प्रदर्शनकारियों से बात करने हेतु तीन वार्ताकार नियुक्त किए गए थे, जिन्होंने अपनी रिपोर्ट 24 फरवरी 2020 को कोर्ट में जमा कर दी है. अब सुप्रीम कोर्ट रिपोर्ट पर सुनवाई करेगा. कोर्ट की ओर से नियुक्त वार्ताकार साधना राम चंद्रन, संजय हेगड़े लगातार चार दिन तक प्रदर्शन स्थल पर प्रदर्शनकारियों से बात करने पहुंचे थे.

कोरोना वायरस: चीन में कहर जारी

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, चीन में कोरोना वायरस से लगभग 71 और लोगों की मौत के बाद देश में इससे मरने वालों की संख्या 2,663 हो गई. चीन के राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग (एनएचसी) के अनुसार, इसके 508 नए मामले सामने आने के बाद इसके कुल 77,658 मामलों की पुष्टि हो चुकी है.

चीन के वुहान के बाद अब ईरान कोरोना वायरस का नया केंद्र बन रहा है. चीन के बाद कोरोना वायरस की वजह से सबसे ज्यादा मौतें ईरान में हुई हैं. रिपोर्ट के अनुसार इरान में अब तक कुल 47 लोग संक्रमित हुए हैं. इनमें से 12 लोगों की मौत हो चुकी है.

जावेद अशरफ फ्रांस में भारत के अगले राजदूत नियुक्त

जावेद अशरफ को 26 फरवरी 2020 को फ्रांस में भारत का अगला राजदूत नियुक्त किया गया है. जावेद अशरफ 1991 बैच के भारतीय विदेश सेवा के अधिकारी हैं. वर्तमान में वे सिंगापुर में भारत के उच्चायुक्त हैं. वे विनय मोहन क्वात्रा का स्थान लेंगे. दोनों देशों के बीच बढ़ते रणनीतिक संबंधों के मद्देनजर यह एक महत्वपूर्ण पदस्थाना है.

विनय मोहन क्वात्रा को नेपाल में भारत का राजदूत नियुक्त किया गया है. जावेद अशरफ नवंबर 2016 को सिंगापुर में भारत के उच्चायुक्त नियुक्त हुए थे. जावेद अशरफ ने पूर्व प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह और तत्कालीन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कार्यकाल में साल 2016 तक प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) में संयुक्त सचिव के रूप में कार्य किया है.

एंटी-करप्शन हेल्पलाइन की ब्रांड एम्बेसडर बनी पीवी सिंधु

विश्व चैंपियन भारतीय महिला बैडमिंटन स्टार पीवी सिंधु को हाल ही में आंध्र प्रदेश सरकार की एंटी-करप्शन हेल्पलाइन की ब्रांड एम्बेसडर नियुक्त किया गया है. पीवी सिंधु और आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री वाई एस जगन मोहन रेड्डी की मौजूदगी में 25 फरवरी 2020 को यहां एंटी-करप्शन टोल फ्री हेल्पलाइन नंबर जारी किया गया. इस अवसर पर ‘भ्रष्टाचार रोको’ शीर्षक से एक वीडियो भी जारी किया गया. इसमें लोगों को भ्रष्टाचार के खिलाफ अपनी आंखें और कान खोले रखने को कहा गया. पीवी सिंधु एक विश्व वरीयता प्राप्त भारतीय महिला बैडमिंटन खिलाड़ी हैं. वे भारत की ओर से ओलम्पिक खेलों में महिला एकल बैडमिंटन का रजत पदक जीतने वाली वे पहली खिलाड़ी हैं.

भारत में सभी सार्वजनिक और निजी क्षेत्र के बैंकों की सूची 2020

वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने 30 अगस्त 2019 को 10 सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों (Public Sector Banks का 4 बड़े सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों में विलय कर दिया था. वर्तमान में भारत में सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों की संख्या घटकर 12 रह गई है जो कि 2017 में 27 थी. आइये इस लेख में जानते हैं कि भारत में कौन कौन से सार्वजानिक बैंक हैं?

भारतीय रिजर्व बैंक (RBI), भारत में सर्वोच्च बैंकिंग नियामक अथॉरिटी है. यह भारतीय रिजर्व बैंक अधिनियम, 1934 द्वारा स्थापित किया गया था. RBI, देश में बैंकिंग व्यवस्था के लिए नियम बनाता है और देश की मौद्रिक नीति के बारे में निर्णय लेता है.

भारत के बैंकिंग क्षेत्र को मुख्य रूप से दो प्रमुख वर्गों में बांटा गया है पहला है; अनुसूचित बैंक और  गैर-अनुसूचित बैंक. अनुसूचित बैंक उन बैंकों को कहा जाता है जिनको आरबीआई अधिनियम,1934 की द्वितीय अनुसूची में शामिल किया गया है.

स्वामित्व के आधार पर; वाणिज्यिक बैंकों को तीन समूहों में विभाजित किया जाता है अर्थात् निजी क्षेत्र के बैंक, सार्वजनिक क्षेत्र के बैंक और विदेशी बैंक.

भारत में वाणिज्यिक बैंकों के प्रकार (Types of Commercial Banks in India)

1. प्राइवेट क्षेत्र के बैंक (Private Sector Banks): – जिन बैंकों में निजी व्यक्तियों का स्वामित्व होता है, उन्हें प्राइवेट बैंक कहा जाता है. प्राइवेट बैंकों के उदाहरण हैं; एचडीएफसी बैंक, आईसीआईसीआई बैंक और एक्सिस बैंक आदि.

banking-structure-india

2. सार्वजनिक क्षेत्र के बैंक (Public Sector Banks): – जिन बैंकों में मेजोरिटी हिस्सेदारी (51%) सरकार के पास होती है, उन्हें सार्वजनिक क्षेत्र का बैंक कहा जाता है. सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों के उदाहरण हैं; पंजाब नेशनल बैंक, भारतीय स्टेट बैंक और सेंट्रल बैंक ऑफ़ इंडिया आदि.

3. विदेशी बैंक (Foreign Banks):- एक विदेशी बैंक को मेहमान देश और मेजवान देश दोनों के नियमों को मानना पड़ता है. भारत के लिए विदेशी बैंक दो प्रकार के हो सकते हैं. एक वे बैंक जो भारत में अपनी ब्रांच खोलते हैं और दूसरे वे बैंक जो भारत में अपनी प्रतिनिधि शाखा के माध्यम से बिज़नेस करते हैं. भारत में विदेशी बैंकों के उदहारण हैं;स्टैंडर्ड चार्टर्ड बैंक, अमेरिकन एक्सप्रेस और सिटी बैंक आदि.

भारत में सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों की सूची 2020 (List of Public Sector Banks in India 2020)

बैंक का नामस्थापनामुख्यालय
1. बैंक ऑफ बड़ौदा1908वडोदरा, गुजरात
2.बैंक ऑफ इंडिया1906मुंबई, महाराष्ट्र
3.बैंक ऑफ महाराष्ट्र1935पुणे, महाराष्ट्र
4. केनरा बैंक1906बेंगलुरु, कर्नाटक
5. सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया1911मुंबई, महाराष्ट्र
5. इंडियन बैंक1907चेन्नई, तमिलनाडु
7. इंडियन ओवरसीज बैंक1937चेन्नई, तमिलनाडु
8. पंजाब और सिंध बैंक1908नई दिल्ली, दिल्ली
9.पंजाब नेशनल बैंक1894नई दिल्ली, दिल्ली
10. स्टेट बैंक ऑफ इंडिया1955मुंबई, महाराष्ट्र
11. यूको बैंक1943कोलकाता, पश्चिम बंगाल
12.यूनियन बैंक ऑफ इंडिया1919मुंबई, महाराष्ट्र
निजीक्षेत्रकेबैंकोंकीसूची 2020 (List of Private Sector Banks 2020)
बैंक का नामस्थापनामुख्यालय
1. एक्सिस बैंक1993मुंबई, महाराष्ट्र
2. बंधन बैंक2015कोलकाता, पश्चिम बंगाल
3. CSB बैंक1920त्रिशूर, केरल
4. सिटी यूनियन बैंक1904तंजावुर, तमिलनाडु
5. DCB बैंक1930मुंबई, महाराष्ट्र
6. धनलक्ष्मी बैंक1927त्रिशूर, केरल
7. फेडरल बैंक1931अलुवा, केरल
8. एचडीएफसी बैंक1994मुंबई, महाराष्ट्र
9. आईसीआईसीआई बैंक1994मुंबई, महाराष्ट्र
10. इंडसइंड बैंक1964मुंबई, महाराष्ट्र
11. IDFC फर्स्ट बैंक2015मुंबई, महाराष्ट्र
12. जम्मू और कश्मीर बैंक1938श्रीनगर, जम्मू और कश्मीर
13. कर्नाटक बैंक1924मंगलुरु, कर्नाटक
14. करूर वैश्य बैंक1916करूर, तमिलनाडु
15. कोटक महिंद्रा बैंक2003मुंबई, महाराष्ट्र
16. लक्ष्मी विलास बैंक1926चेन्नई, तमिलनाडु
17. नैनीताल बैंक1922नैनीताल, उत्तराखंड
18. RBL बैंक1943मुंबई, महाराष्ट्र
19. साउथ इंडियन बैंक1929त्रिशूर, केरल
20. तमिलनाड मर्केंटाइल बैंक1921थूथुकुडी, तमिलनाडु
21. YES बैंक2004मुंबई, महाराष्ट्र
22. IDBI बैंक1964मुंबई, महाराष्ट्र

राजस्व के मामले में, एचडीएफसी बैंक भारत में निजी क्षेत्र का सबसे बड़ा बैंक है. इसका कुल राजस्व रु. 816.02 बिलियन (US $ 11 बिलियन) है. राजस्व के मामले में ICICI बैंक दूसरे स्थान पर है इसका राजस्व रु. 736.60 बिलियन (यूएस $ 10 बिलियन) है.

यदि सरकारी बैंकों के बारे में बात की जाये तो राजस्व के हिसाब से सबसे बड़ा बैंक भारतीय स्टेट बैंक है.इसका कुल राजस्व 52,050 बिलियन रुपये (US$730 बिलियन अमेरिकी डॉलर) है. वर्तमान में इस बैंक में भारत सरकार की हिस्सेदारी 61% है.

वर्तमान में भारत में सार्वजनिक क्षेत्र के कितने बैंक हैं (How many Public Sector Banks are there in India in 2020)

वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने 30 अगस्त 2019 को 10 सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों का 4 बड़े सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों में विलय कर दिया था. इस विलय के कारण वर्तमान में भारत में सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों की संख्या घटकर 12 हो गई है जो कि पहले 27 थी. ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स और यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया का विलय पंजाब नेशनल बैंक में किया गया है. 

इस विलय के बाद पंजाब नेशनल बैंक शाखा नेटवर्क के मामले में भारतीय स्टेट बैंक के बाद भारत का दूसरा सबसे बड़ा सार्वजनिक क्षेत्र का बैंक होगा.

निजी क्षेत्र के बैंकों और सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों की उपर्युक्त सूची समय-समय पर बदलती रहती है. इसलिए छात्रों को समाचार पत्रों और अन्य स्रोतों के माध्यम से लेटेस्ट जानकारी प्राप्त करने की आवश्यकता है.

ICC महिला T20 विश्व कप के रिकार्ड्स

ICC महिला T20 विश्व कप का आयोजन इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल की देखरेख में हर 2 साल के अन्तराल पर किया जाता है. ICC महिला T20 विश्व कप के सबसे पहले संस्करण का आयोजन इंग्लैंड में 2009 में किया गया था और इंग्लैंड ने ही पहला संस्करण जीता था.

ICC महिला T 20 विश्व कप से जुड़े कुछ रिकार्ड्स (ICC Women T 20 Cricket World Cup Records)

1. ऑस्ट्रेलिया की महिला टीम सबसे सफल टीम है जिसने इस टूर्नामेंट में 32 मैच खेले हैं जिनमें से उसने 24 जीते, 7 हारे और एक मैच टाई रहा है. इस प्रकार इस टूर्नामेंट में ऑस्ट्रेलिया की महिला टीम की जीत का प्रतिशत 76% है.

2. इस टूर्नामेंट में सबसे कम जीत का प्रतिशत बांग्लादेश की महिला टीम का है जिसने 13 मैच खेले हैं और सिर्फ 2 मैचों में जीत दर्ज की है जबकि 11 मैचों में हार का सामना करना पड़ा है. इस प्रकार इसकी जीत का प्रतिशत 15.38 है.

3. ICC महिला T 20 विश्व कप में सबसे अधिक रन (881) बनाने का रिकॉर्ड न्यूजीलैंड की सुजी बेट्स के नाम है.

4. ICC महिला T 20 विश्व कप में सबसे अधिक विकेट (36) लेने का रिकॉर्ड, ऑस्ट्रेलिया की एलिस पेरी के नाम है

5. ऑस्ट्रेलिया इस प्रारूप की सबसे सफल टीम है जिसने अब तक 4 आईसीसी महिला T 20 विश्व कप जीते हैं.

6. अब तक के 6 महिला T 20 विश्व कप सिर्फ तीन टीमों ऑस्ट्रेलिया, इंग्लैंड और वेस्टइंडीज ने जीते हैं.

7. महिला T20 विश्व कप के एक ही संस्करण में सबसे अधिक रन बनाने के रिकॉर्ड ऑस्ट्रेलिया की मेग लैनिंग के नाम है जिन्होंने 2014 के महिला T20 विश्व कप में 257 रन बनाये थे.

8. महिला T20 विश्व कप के एक ही संस्करण में सबसे विकेट लेने का रिकॉर्ड इंग्लैंड की ‘आन्या श्रबसोल’ के नाम है जिन्होंने 2014 के महिला T20 विश्व कप में सबसे अधिक 13 विकेट लिए थे.

9. भारत की ओर से महिला T20 विश्व कप में सबसे अधिक विकेट लेने का रिकॉर्ड ‘डायना डेविड’ के नाम है. इन्होंने 2010 के विश्व कप में 9 विकेट लिए थे.

10. महिला T20 विश्व कप में भारतीय महिला टीम का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन सिर्फ 3 बार सेमीफाइनल मैच खेलना है.भारत ने 2009, 2010 और 2018 में सेमीफाइनल मैच खेला था.

11. महिला T20 विश्व कप 2020 में थाईलैंड की टीम पहली बार भाग ले रही है. थाईलैंड ने अपने पहले मैच में वेस्टइंडीज को केवल 79 रनों का लक्ष्य दिया था और वेस्टइंडीज ने यह मैच 7 विकेट से जीत लिया है.

चूंकि महिला क्रिकेट इतना ज्यादा पॉपुलर नहीं है इसलिए इसकी ख़बरों को मीडिया और विज्ञापन की दुनिया में ज्यादा कवरेज नहीं मिलती है. लेकिन अब इसमें तेजी से बदलाव हो रहा है. उम्मीद है कि महिला T20 विश्व कप के ये रिकार्ड्स आपको पसंद आये होंगे.