GENERAL KNOWLEDGE

0
84

कोरोना का कहर जारी: पंजाब में दो हफ्ते लिए कर्फ्यू बढ़ाया गया

कोरोना वायरस को लेकर पंजाब में लगाए गए कर्फ्यू को दो हफ्ते और बढ़ा दिया गया है. पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने इस फैसले का घोषणा किया. हालांकि, इसके साथ ही उन्होंने कहा कि इस दौरान राज्य में सुबह सात बजे से सुबह ग्यारह बजे तक चार घंटे के लिए ढील दी जाएगी.

इससे पहले पंजाब में 30 अप्रैल तक कर्फ्यू लागू किया गया था. इसे अब बढ़ाने का घोषणा किया गया है. मुख्यमंत्री ने कहा कि सुबह सात बजे से ग्यारह बजे तक लोग घर से बाहर आ सकते हैं, दुकानें खुली रहेंगी. मुख्यमंत्री ने कहा कि हम दुकानें खोलना चाहते हैं और इंडस्ट्री चलाना चाहते हैं लेकिन पूरी छूट का अभी समय नहीं है. कोरोना वायरस से बचने का फिलहाल सोशल डिस्टेंसिंग ही एक रास्ता है.

पश्चिम बंगाल ने होम डिलीवरी के ज़रिए गैर-ज़रूरी चीज़ों की बिक्री को मंज़ूरी दी

पश्चिम बंगाल सरकार ने लॉकडाउन के बीच होम डिलीवरी के माध्यम से गैर-ज़रूरी चीज़ों की बिक्री को मंज़ूरी दे दी है. व्यापारियों को आशंका है कि लाकडाउन बढ़ाया जा सकता है. इससे उनका नुकसान कई गुना बढ़ सकता था. मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने खुदरा व्यपारियों को होम डिलीवरी की इजाजत देने का आश्वासन दिया है लेकिन इस बाजारे में अभी राज्य सरकार की ओर से व्यापक दिशानिर्देश नहीं जारी किए गए हैं.

पश्चिम बंगाल व्यापार संघों के परिसंघ के अध्यक्ष सुशील पोद्दार ने कहा कि मुख्यमंत्री की घोषणा के बाद हम आशान्वित हैं. सरकार सामाजिक दूरी बनाकर रखने के मानदंड को लागू कर सकती है और लाखों लोगों की आजीविका को बचाया भी जा सकता है. मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने राज्य सरकार द्वारा व्यवसायों को बढ़ावा देने और लोगों के जीवन को आसान बनाने के के लिए गैर-आवश्यक वस्तुओं की होम डिलीवरी की अनुमति देने के निर्णय की घोषणा की.

मूडीज ने साल 2020 में भारत के वृद्धि अनुमान को घटाकर 0.2 प्रतिशत किया

मूडीज इन्वेस्टर्स सर्विस ने साल 2020 के लिए भारत के वृद्धि अनुमान को घटाकर 0.2 प्रतिशत कर दिया, जबकि मार्च में उसने इसके 2.5 प्रतिशत रहने की उम्मीद जताई थी. मूडीज को उम्मीद है कि साल 2021 में भारत की वृद्धि दर 6.2 प्रतिशत रह सकती है. मूडीज ने अपनी रिपोर्ट में कहा कि 2020 में चीन की वृद्धि दर एक प्रतिशत रह सकती है.

मूडीज ने कहा कि कोरोना वायरस संकट के चलते वैश्विक अर्थव्यवस्था के बंद होने की आर्थिक लागत तेजी से बढ़ रही है. रिपोर्ट में अनुमान जताया गया कि जी20 देशों की वृद्धि दर में सामूहिक रूप से 5.8 प्रतिशत की कमी होगी. यहां तक कि सुधार के बाद भी ज्यादातर अग्रणी अर्थव्यवस्थाओं की वृद्धि दर कोरोना वायरस महामारी से पहले वाले स्तर के मुकाबले कम रहने का अनुमान है.

एशियाई विकास बैंक ने कोरोना से लड़ने के लिए भारत को 11370 करोड़ रुपये के ऋण को दी मंज़ूरी

एशियाई विकास बैंक (एडीबी) ने बताया है कि उसने कोरोना वायरस महामारी के खिलाफ लड़ाई में मदद के लिए भारत को करीब 11,370 करोड़ रुपये ऋण देने को मंज़ूरी दे दी है. इस बारे में एडीबी और भारत सरकार के बीच एक एग्रीमेंट हुआ है. एडीबी देश के प्राइवेट सेक्टर के भी संपर्क में है ताकि जहां जरूरी हों, वहां सहायता की जा सके. रोग पर काबू पाने, गरीबों और आर्थिक रूप से कमजोर वर्गों की मदद के लिए भारत को यह लोन दिया जाएगा.

इस लोन का इस्तेमाल संक्रमण पर काबू पाने, इसे फैलने से रोकने के साथ-साथ आर्थिक रूप से पिछड़े तबके के लोगों की सामाजिक सुरक्षा के लिए इस्तेमाल किया जाएगा. एडीबी के प्रेजिडेंट मासत्सुगु असाकावा ने कहा कि वह इस अप्रत्याशित चुनौती से निपटने में पूरी तरह भारत सरकार के साथ हैं. कोरोना वायरस का कहर दुनिया के साथ-साथ भारत में भी बढ़ता जा रहा है. देश में इस खतरनाक वायरस के अब तक कुल लगभग 29,435 मामले आ चुके हैं.

अंतरराष्ट्रीय नृत्य दिवस 29 अप्रैल को मनाया गया

प्रतिवर्ष 29 अप्रैल को अंतरराष्ट्रीय नृत्य दिवस के रूप में मनाया जाता है. भारत के कोने-कोने में बहुत सारे लोकनृत्य प्रचलित हैं. जिसमें भरतनाट्यम, कुचिपुड़ी, मोहिनीअट्टम, कत्थक, कथकली, बिहू, छाऊ जैसे कुछ लोकप्रिय नृत्य विधाएं हैं. भारत के कुछ मशहूर नर्तकों ने पूरी दुनिया में अपनी कला से लोगों को आकर्षित किया है. अंतरराष्ट्रीय नृत्य दिवस की शुरुआत 29 अप्रैल 1982 से हुई. यूनेस्को के अंतरराष्ट्रीय थिएटर इंस्टिट्यूट की अंतरराष्ट्रीय डांस कमेटी ने 29 अप्रैल को नृत्य दिवस के रूप में स्थापित किया. एक महान रिफॉर्मर जीन जार्ज नावेरे के जन्म की स्मृति में यह दिन अंतरराष्ट्रीय नृत्य दिवस के रूप में मनाया जाता है.

बॉलीवुड अभिनेता इरफान खान का निधन, जानें क्या थीं बिमारी

इरफान खान की इस खबर के बाद पूरे बॉलीवुड में शोक के लहर दौड़ गई है. साल 2018 में इरफान खान को पता चला था कि वह न्यूरोएंडोक्राइन ट्यूमर से पीड़ित हैं. इस बीमारी के इलाज के लिए इरफान खान लंदन भी गए थे और करीब साल भर इलाज कराने के बाद वह वापस भारत लौटे थे.

पद्म श्री सम्मान से नवाजे जा चुके इरफान खान का जन्म 7 जनवरी 1967 को हुआ था. राजस्थान के टोंक जिले में मुस्लिम परिवार में पैदा हुए इरफान खान ने अपने टैलेंट के दम पर दुनियाभर में नाम रोशन किया. उन्होंने लगभग 30 साल के करियर में 50 से अधिक फिल्मों में काम किया था.

मई 2020 के अंत तक भारत में विकसित हो जाएगी त्वरित परीक्षण किट: डॉ. हर्षवर्धन

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने 28 अप्रैल 2020 को जैव प्रौद्योगिकी विभाग और इससे संबंधित शोध संस्थाओं के शीर्ष अधिकारियों के साथ कोरोना वायरस के खिलाफ अभियान में तकनीकी संसाधनों को विकसित करने हेतु चलाये जा रहे कार्यों की समीक्षा बैठक की.

स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने समीक्षा के दौरान कहा कि स्वदेशी रैपिड टेस्ट और आरटी-पीसीएस डायग्नोस्टिक किट बनाने के मामले में मई 2020 तक हमारा देश आत्मनिर्भर हो जाएगा. इस दौरान आनुवांशिक अनुक्रमण के बारे में चर्चा करते हुए उन्होंने कहा कि ये अनुवांशिक अनुक्रमण के प्रयास मुझे 26 साल पहले के पोलियो उन्मूलन अभियान की याद दिलाती है.

सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र से ‘एक राष्ट्र, एक राशन कार्ड’ योजना अपनाने के लिए कहा

सर्वोच्च न्यायालय के निर्देश से ऐसे अनेक प्रवासी श्रमिकों और अन्य लाभार्थियों को मदद मिलेगी जो भारत के विभिन्न राज्यों में फंसे हुए हैं और स्थानीय पहचान पत्र के बिना बुनियादी सुविधाओं का लाभ  नहीं उठा सकते हैं. इस योजना को जून 2020 में केंद्र सरकार द्वारा शुरू किया जाना था.

अदालत का यह निर्देश अधिवक्ता रिपक कंसल द्वारा दायर याचिका के बाद आया है जिसमें उन प्रवासी श्रमिकों और अन्य लाभार्थियों के लिए यह योजना शुरू करने की मांग की गई है जो वर्तमान में अपने राज्य में नहीं हैं और इस लॉकडाउन के दौरान भारत के विभिन्न राज्यों में फंसे हुए हैं.

भारत को लगा बड़ा झटका, गंवाई 2021 विश्व मुक्केबाजी चैंपियनशिप की मेजबानी

भारत ने पुरुषों की विश्व मुक्केबाजी चैम्पियनशिप 2021 की मेजबानी गंवा दी. भारतीय मुक्केबाजी महासंघ मेजबानी की फीस नहीं भर सका था. लिहाजा, अब वो इस प्रतियोगिता का आयोजन नहीं कर पाएगा. अंतरराष्ट्रीय मुक्केबाजी महासंघ ने साल 2017 में किया गया करार तोड़कर अब सर्बिया को मेजबानी सौंपी है.

भारतीय मुक्केबाजी महासंघ ने स्वीकार किया कि विलंब हुआ है, लेकिन कहा कि पैसा किस खाते में भेजना है, इसे लेकर मसले सुलझाने में एआइबीए के नाकाम रहने के कारण यह प्रक्रियागत पेचीदगियां पैदा हुईं. भारत पहली बार इस चैम्पियनशिप की मेजबानी मिलने वाली थी.