People of Indian origin strengthen India’s identity and image in the world: President :-

0
144

DAILY CURRENT GK

 

1.श्रीलंका के राष्ट्रपति ने राष्ट्रपति पद की अवधि पांच वर्ष करने के कानून के मद्देनजर अपने पद पर छह साल तक बने रहने के बारे में उच्चतम न्यायालय से राय मांगी :-

श्रीलंका के राष्ट्रपति मैत्रीपाला सिरीसेना ने सुप्रीम कोर्ट से राय मांगी है कि वे वर्ष 2021 तक छह वर्ष के लिए अपने पद पर बने रह सकते हैं या नहीं। उनका कार्यकाल 2020 में समाप्त हो रहा है। 2015 में उनके निर्वाचित होने के बाद संविधान के 19वें संशोधन से राष्ट्रपति का कार्यकाल छह से घटाकर पांच वर्ष कर दिया गया था। हमारे संवाददाता ने बताया है कि उन्होंने सुप्रीम कोर्ट से 14 जनवरी या उससे पहले अपना जवाब देने का अनुरोध किया है।

 

The Sri Lankan President sought the opinion of the Supreme Court about staying in office for six years in view of the law for five years :-

Sri Lankan President Maitripala Sirisena has sought the Supreme Court’s opinion that they can remain in office for six years till 2021 or not. His tenure ends in 2020. After his election in 2015, the President’s tenure from the 19th amendment to the Constitution was reduced from six to five years. Our correspondent has told that he has requested the Supreme Court to give his answer on or before January 14.

 

2.प्रधानमंत्री नरेन्द्र  मोदी करेंगे नीति आयोग में देश के प्रमुख अर्थशास्त्रियों के साथ भावी अर्थनीति पर बातचीत :-

प्रधानमंत्री नीति आयोग में देश के प्रमुख अर्थशास्त्रियों और विभिन्न क्षेत्रों के विशेषज्ञों के साथ बातचीत करेंगे। नीति आयोग ने आर्थिक नीति-आगे की राह विषय पर आयोजित बातचीत में चुनिंदा अर्थशास्त्रियों और विषय विशेषज्ञों को प्रधानमंत्री के साथ विचार-विमर्श के लिए आमंत्रित किया है। वित्तमंत्री अरुण जेटली, सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी और कृषि मंत्री राधामोहन सिंह सहित सरकार के अन्यी वरिष्ठ अधिकारी बैठक में भाग लेंगे।

 

Prime Minister Narendra Modi will talk to the country’s leading economists on future economics in the Policy Commission :-

Prime Minister will now interact with the country’s leading economists and experts from various fields in the Policy Commission. The Policy Commission has invited select economists and subject experts in consultation with the Prime Minister in a discussion on the subject of economic policy- forward path  . Other senior officials of the government including Finance Minister Arun Jaitley, Road Transport and Highways Minister Nitin Gadkari and Agriculture Minister Radha Mohan Singh will attend the meeting.

 

3.विश्व बैंक ने भारत की वृद्धि दर वर्ष 2018 में 7.3 प्रतिशत रहने का अनुमान लगाया :-

विश्व बैंक ने भारत की वृद्धि दर वर्ष 2018 में 7 दशमलव 3 प्रतिशत और अगले दो साल के दौरान साढ़े सात प्रतिशत रहने का अनुमान लगाया है। मंगलवार रात वॉशिंगटन में जारी वैश्विक आर्थिक अनुमान – 2018 में विश्व बैंक ने कहा कि महत्वाकांक्षी सरकार के व्यापक आर्थिक सुधारों के कारण भारत में अन्य उभरती अर्थव्यवस्था वाले देशों के मुकाबले वृद्धि की व्यापक संभावनाएं मौजूद हैं। विश्व बैंक में विकास अनुमान समूह के निदेशक अयहान कोसे ने कहा कि अगले 10 वर्षों में भारत की वृद्धि दर 7 प्रतिशत के आसपास होगी। चीन की वृद्धि दर कम हो रही है और उम्मीद है कि चीन के मुकाबले भारत की वृद्धि दर धीरे-धीरे बढ़ेगी। श्री कोसे ने बताया कि वस्तु और सेवा कर व्यवस्था लागू करना एक निर्णायक कदम था और बैंकों में और पूंजी डालने की योजना वास्तव में महत्वपूर्ण है।

 

The World Bank estimated India’s growth rate to be 7.3 percent in 2018 :-

The World Bank has estimated India’s growth rate to be 7 decimal 3 percent in 2018 and 7.5 percent in the next two years. Global economic estimates released in Washington on Tuesday night – In 2018, the World Bank said that due to the macroeconomic reforms of the ambitious government, there is widespread potential for growth in India compared to other emerging economies. Director of Development Estimates Group in the World Bank, Ayhan Kose said that in the next 10 years India’s growth rate will be around 7 percent. China’s growth rate is declining and it is expected that India’s growth rate will increase gradually against China. Shri Kose said that implementing the goods and services tax system was a decisive step and the plan to put more capital into banks is really important.

 

4.दूरसंचार आयोग ने देश में दूरसंचार सेवाओं को बढ़ावा देने के लिए कई उपायों को मंजूरी दी :-

दूरसंचार आयोग ने देश में दूरसंचार सेवाओं को बढ़ावा देने के लिए मोबाइल कंपनियों की स्पेक्ट्रम रखने की सीमा बढ़ाने के ट्राई के सुझाव से सहमति व्योक्ते की है। इससे वित्तीय दबाव में पड़ी दूरसंचार कंपनियों के लिये कारोबार से बाहर निकलने का रास्ता आसान होगा।

भारतीय दूरसंचार नियामक प्राधिकरण ट्राई ने पिछले महीने मोबाइल परिचालकों के लिये निश्चित बैंड में स्पेक्ट्रम रखने की सीमा हटाने की सिफारिश की थी।

 

Telecom Commission approves several measures to promote telecommunication services in the country :-

Telecom Commission has agreed with the suggestion of TRAI to increase the spectrum limit of mobile companies to promote telecommunications services in the country. This will make it easier for telecom companies lying in financial pressure to get out of business.

Telecom Regulatory Authority of India, TRAI had last month recommended removing the limit of spectrum for mobile operators in the fixed band.

 

5.भारत ने अपनी छवि संभावनाओं से भरे और संकल्प निभाने की क्षमता वाले देश के रूप में पेश की : क्लाउस श्वाब :-

विश्व आर्थिक मंच के संस्थापक अध्यक्ष क्लाउस श्वाब ने कहा है कि भारत ने अपनी छवि संभावनाओं से भरे और संकल्प निभाने की क्षमता वाले देश के रूप में पेश की है। उन्होंने कहा कि साहसिक तथा ढांचागत सुधारों की महत्वपूर्ण गति से भारत में वृहद आर्थिक आधार को मज़बूती मिलने के साथ लंबी अवधि के आर्थिक दृष्टिकोण का भी विकास हुआ है। श्री श्वाब ने एक लेख में कहा कि हमारा साझा भविष्य तय करने में भारत की निस्संदेह बड़ी भूमिका होगी। विश्व आर्थिक मंच के संस्थापक अध्यक्ष ने प्रधानमंत्री के नारे सबका साथ सबका विकास की सराहना करते हुए कहा कि भारत वैश्विक अर्थव्यमवस्थार के विभिन्नल क्षेत्रों में नई पहल कर अपने नेतृत्व का विस्तार कर रहा है।

यह लेख वर्ष 2018 की विश्व आर्थिक मंच की वार्षिक बैठक से जुड़ा है। यह बैठक इस महीने के अंत में स्विट्ज़रलैंड के दावोस-क्लोस्टर्स में होगी। बैठक का विषय होगा विखंडित विश्व में साझे भविष्य का निर्माण। श्री मोदी 22 जनवरी को दो दिन की यात्रा पर स्विट्ज़रलैंड जाएंगे और विश्व आर्थिक मंच के समापन सत्र में प्रमुख भाषण देंगे।

 

India presented itself as a country with its potential to fulfill its image and resolve it: Klaus Schwab :-

World Economic Forum founder Klaus Schwab has said that India has presented its image as a nation with its potential to fulfill its potential and resolve. He said that with the significant speed of bold and structural reforms, with the strengthening of macroeconomic base in India, there has been a long-term economic outlook developed. Mr. Schwab said in an article that India will undoubtedly play an important role in deciding our shared future. The Prime Minister’s slogan, the founder president of the World Economic Forum,  lauded the development of everyone  and said that India is expanding its leadership by taking new initiatives in different areas of the global economy.

This article is related to the annual meeting of the World Economic Forum of 2018. This meeting will be held in Davos-Clostars of Switzerland later this month. The theme of the meeting will be: –  Creating a shared future in a divided world . Shri Modi will go to Switzerland on a two-day visit on January 22 and give key speeches in the closing session of the World Economic Forum.

 

6.भारतीय मूल के लोगों ने पूरे विश्वy में भारत की पहचान और छवि को किया मजबूत : राष्ट्रपति :-

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने कहा है कि भारतीय मूल के लोगों ने पूरे विश्वe में भारत की पहचान और छवि को मजबूत किया है। नई दिल्लीो में भारतीय मूल के सांसदों के अंतर्राष्ट्री य सम्मेेलन का उद्घाटन करते हुए श्री कोविंद ने कहा कि भारतीय मूल के लोगों ने अपने देश से हजारों मील दूर रहते हुए भी भारतीय संस्कृेति को अक्षुण्ण  रखा है और अपने देश से मजबूती से जुड़े रहे हैं।

राष्ट्रुपति ने कहा कि अगर भारतीय व्यंमजन और फिल्में। अंतर्राष्ट्री य स्त र पर आज विख्या त हैं तो उसका कारण है कि भारतवंशियों ने अपनी जन्मरभूमि की छवि को धूमिल नहीं होने दिया है। राष्ट्र पति ने कहा कि भारतवंशी जिस किसी भी देश में हैं उस देश और समाज की आर्थिक उन्ननति में महत्वरपूर्ण भूमिका निभाते हैं और उसे बौद्धिक सम्पीदा से समृद्ध करते हैं।

 

People of Indian origin strengthen India’s identity and image in the world: President :-

President Ramnath Kovind has said that the people of Indian origin have strengthened India’s identity and image throughout the world. Inaugurating the International Conference of Indian-American MPs in New Delhi, Shri Kovind said that while people of Indian origin have lived thousands of miles away from their country, they have kept Indian culture intact and are firmly attached to their country.

The President said that if Indian cuisine and films are known internationally today, then it is because the Indian diasis have not allowed their image to be drewn. The President said that in any country in which the Indigenous people are, they play an important role in the economic development of that country and society and enrich it with intellectual property.

 

7.केन्द्रीय मंत्रिमंडल ने राष्ट्रीय न्यास के अध्यक्ष और बोर्ड के सदस्योंन के कार्यावधि से जुड़े नियमों में संशोधन को दी मंजूरी :-

केन्द्रीय मंत्रिमंडल ने ऑटिज्मे और अन्यो मानसिक बीमारियों से ग्रस्तय लोगों के कल्यादण के राष्ट्रीलय न्या स के अध्यरक्ष और बोर्ड के सदस्यों  के कार्यावधि से जुड़े नियमों में संशोधन को मंजूरी दी है। अध्येक्ष और सदस्योंर का कार्यकाल तीन वर्ष निर्धारित किया गया है।

 

Central Cabinet approves the amendment in the rules related to the term of the National Trust’s Chairman and members of the board :-

The Union Cabinet has approved the amendment in the rules related to autonomy of the members of the National Trust for the welfare of autism and other mental disorders and the working hours of the board members. The term of the chairman and members has been fixed for three years.

 

8.डॉक्टर राजीव बिंदल सर्वसम्मrति से हिमाचल प्रदेश विधानसभा के अध्यक्ष चुने गए :-

हिमाचल प्रदेश में डॉक्टरर राजीव बिंदल को सर्वसम्म ति से विधानसभा अध्य क्ष चुना गया है। वे नहान से विधायक हैं। बुधवार को सदन की कार्यवाही शुरू होते ही मुख्यममंत्री जयराम ठाकुर ने श्री बिंदल को अध्य क्ष बनाये जाने का प्रस्ता व सदन में रखा। इसका विपक्षी कांग्रेस सहित सभी सदस्यों  ने समर्थन किया।

श्री बिंदल वर्ष दो हजार से लगातार सदन के सदस्यं रहे हैं। वे पिछली भाजपा सरकार में स्वा‍स्य्थ  मंत्री थे।

 

Dr. Rajiv Bindal elected unanimously the President of Himachal Pradesh Assembly :-

Dr. Rajiv Bindal has been elected unanimously as Speaker of Assembly in Himachal Pradesh. He is a MLA from Nahan. As soon as the proceedings of the House began on Wednesday, Chief Minister Jairam Thakur proposed to make Mr. Bindal the chairperson in the House. All members including its opposition Congress supported it.

Mr. Bindal has been a member of the House for two thousand consecutive years. He was the health minister in the previous BJP government.

 

Visit Us for Daily Updates :-

www.anushkaacademy.com, www.gkindiatoday.com