TALENT HUNT ANSWERS 14/06/2021

0
23

1. पेन पिंटर पुरस्कार 2021 का विजेता कौन है?

a) वलीद अबुलखैर

b) इरीना खलीपी

c) बेफेकादु हैलु

d) त्सित्सी डांगरेम्बगा

Answer (d) त्सित्सी डांगारेम्बगा ज़िम्बाब्वे की बुकर-शॉर्टलिस्टेड लेखिका त्सित्सी डांगारेम्बगा ने पेन पिंटर पुरस्कार 2021 जीता है। त्सित्सी डांगरेम्बगा ‘नर्वस कंडीशंस’ पुस्तक की लेखिका हैं, जिसे उन्होंने 25 साल की उम्र में लिखा था। इसके बाद ‘द बुक ऑफ नॉट’ ‘ और त्रयी का तीसरा भाग ‘दिस मोर्नेबल बॉडी’, जिसे बुकर पुरस्कार 2020 के लिए भी चुना गया था।

2. जुलाई 2021 में श्रीलंका के खिलाफ वनडे, टी20 सीरीज के लिए टीम इंडिया की कप्तानी कौन करेगा?

a) Shikhar Dhawan

b) हार्दिक पांड्या

c) संजू सैमसन

d) देवदत्त पडिक्कल

Answer (a) Shikhar Dhawan शिखर धवन श्रीलंका के छह मैचों के वनडे और टी20 दौरे पर टीम इंडिया की कप्तानी करेंगे, जो 13-25 जुलाई, 2021 के बीच कोलंबो के आर प्रेमदासा इंटरनेशनल क्रिकेट स्टेडियम में होने वाला है।

3. कौन सा देश G7 शिखर सम्मेलन 2021 की मेजबानी कर रहा है?

a)यूके

b) फ्रांस

c) यूएस

d) इटली

Answer (a) यूके G7 शिखर सम्मेलन 2021 की मेजबानी यूनाइटेड किंगडम द्वारा 11-13 जून, 2021 तक कॉर्नवाल में कार्बिस बे में की जाएगी। यूके ने इस वर्ष सात देशों के समूह (G7) की अध्यक्षता संभाली है और यूके के प्रधान मंत्री बोरिस जॉनसन ने लिया। दुनिया को लड़ने में मदद करने के लिए अग्रणी लोकतंत्रों को आमंत्रित करने और फिर COVID-19 से बेहतर निर्माण करने का अवसर।

4. 2032 ओलंपिक खेलों की मेजबानी के लिए किस शहर का नाम रखा गया है?

a) ऑकलैंड

b) एडिलेड

c) वेलिंगटन

d) ब्रिस्बेन

Answer (d) ब्रिस्बेन अंतर्राष्ट्रीय ओलंपिक समिति (IOC) के कार्यकारी बोर्ड ने 10 जून, 2021 को ब्रिस्बेन को 2032 ओलंपिक की मेजबानी के लिए प्रस्तावित करने का निर्णय लिया। ऑस्ट्रेलियाई शहर को टूर्नामेंट की मेजबानी के लिए फास्ट ट्रैक पर रखा गया था जब आईओसी ने इसे फरवरी 2021 में पसंदीदा उम्मीदवार के रूप में नामित किया था।

5. किस भारतीय संस्थान के शोधकर्ताओं ने यूके में स्ट्रेथक्लाइड विश्वविद्यालय की एक टीम के साथ मिलकर अपशिष्ट जल में COVID-19 का पता लगाने के लिए एक कम लागत वाला सेंसर विकसित किया है?

a) आईआईटी मद्रास

b) आईआईटी बॉम्बे

c) आईआईटी दिल्ली

d) आईआईटी कानपुर

Answer  (b) आईआईटी बॉम्बे यूनाइटेड किंगडम में स्ट्रेथक्लाइड विश्वविद्यालय और भारत के आईआईटी बॉम्बे के शोधकर्ताओं ने संयुक्त रूप से एक कम लागत वाला सेंसर विकसित किया है जो अपशिष्ट जल में COVID-19 के लिए जिम्मेदार वायरस के टुकड़ों का पता लगा सकता है।