Prime Minister Shri Narendra Modi reviewed

0
20

 

DAILY CURRENT GK UPDATES BY ANUSHKA ACADEMY, UDAIPUR

  1. प्रधानमंत्री ने गुजरात दुर्घटना के मृतकों के प्रति संवेदना व्यक्त की :- प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने गुजरात में हुई दुर्घटना में मरने वालों के प्रति दुख और अपनी संवेदना व्यक्त की है। प्रधानमंत्री ने कहा, “जिन लोगों ने गुजरात में रनघोला के नजदीक हुई दुर्घटना में अपने प्रियजनों को खो दिया है, उनके लिए मेरी संवेदना है। यह दुर्घटना बेहद दुर्भाग्यपूर्ण और पीड़ादायक है। दुर्घटना में घायल लोगों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करता हूं।

 

Prime Minister expresses condolences to the victims of Gujarat Accident :- Prime Minister Shri Narendra Modi has expressed his condolences to the people who died in the accident in Gujarat and expressed his condolences. He said , ” People who have lost their loved ones in the accident near Rngola in Gujarat , my condolences to them. This accident is extremely unfortunate and painful. I wish the injured people to get well soon. “

 

  1. पिछले पांच वर्षों में होम्‍योपैथी चिकित्‍सा का लाभ लेने वाले मरीजों की संख्‍या में पचास प्रतिशत की वृद्धि : श्री श्रीपद नाइक :- होम्‍योपैथी कोई छद्म विज्ञान नहीं है। प्राचीन होम्‍योपैथी चिकित्‍सा पद्धति के विषद अध्‍ययनों की समीक्षाओं में पाया गया है कि इसका सकारात्‍मक प्रभाव मात्र प्रायोगिक स्‍तर पर ही नहीं बल्कि इससे से भी कहीं बहुत ज्‍यादा है। सभी तरह की स्थितियों में होम्‍योपैथी के प्रभाव का अध्‍ययन करने के लिए चार सुनियोजित समीक्षाएं अंतर्राष्‍ट्रीय जर्नलों में प्रकाशित हुई हैं। इनमें से सैकड़ों नैदानिक परीक्षणों पर आधारित तीन समीक्षाओं में यह साबित हुआ है कि होम्‍योपैथी नैदा‍निक रूप से बेहद प्रभावी है। अत्‍यधिक घुलनीय अवस्‍था वाली होम्‍योपैथी दवाओं के शोध की समीक्षाओं में इनकी 70 फीसदी प्रतिकृतियां सकारात्‍मक पायी गई हैं।

 

Fifty percent increase in the number of patients taking homeopathy treatment in the last five years: Mr. Shripad Naik :- Homeopathy is not a pseudo-science. Reviews of the study of the study of ancient homoeopathic medical practices have found that its positive effect is not only at the experimental level but also much more than that. In order to study the effects of homeopathy in all situations, four well-planned reviews have been published in international journals. Three reviews based on hundreds of clinical trials have proved that homeopathy is clinically effective. 70 percent of their reproductions have been found to be positive in the review of highly dissolved homoeopathic medicines.

 

  1. रेल मंत्रालय ने क्षेत्रीय कार्यालयों को रेलों के आगमन और प्रस्थान से संबंधित जानकारी डेटा लॉगर्स में अद्यतन करने का निर्देश दिया :- सही आंकड़ों की जानकारी सुनिश्चित करने के लिए रेल मंत्रालय ने 41 बड़े रेलवे जंक्‍शनों पर  हस्‍तचालित जानकारी देने की प्रक्रिया को समाप्‍त कर दिया है।  रेलवे बोर्ड ने सभी क्षेत्रीय कार्यालयों को 1 जनवरी 2018 से डेटा लॉगर्स में रेलों के आगमन और प्रस्थान की जानकारी देने का निर्देश दिया है। निर्देश के तहत यह भी कहा गया है कि समयबद्धता के कम होने के भय का त्‍याग करते हुए वे प्रामाणिक जानकारी उपलब्‍ध कराएं।

 

Ministry of Railways has instructed Regional Offices to update information regarding the arrival and departure of trains in the data loggers :- In order to ensure the correct data, the Ministry of Railways has abolished the process of giving manual information to 41 major railway junctions. The Railway Board has instructed all the Regional Offices to provide information regarding departure and departure of trains in the data loggers from January 1, 2018. It has also been said under the directive that they should provide authentic information while sacrificing the fear of decreasing timeliness.

 

  1. नेताओं ने एसएससी का मामला सीबीआई को सौंपने के सरकार के निर्णय का स्वागत किया :-भूतपूर्व केंद्रीय मंत्री और कांग्रेस सांसद डॉ. शशि थरूर, दिल्ली प्रदेश भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष श्री मनोज तिवारी, नई दिल्ली की सांसद सुश्री मीनाक्षी लेखी सहित अन्य प्रमुख नेताओं ने कर्मचारी चयन आयोग (एसएससी) की संयुक्त स्नातक स्तरीय परीक्षा (सीजीएलई) से संबंधित मामला केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) को सौंपने के सरकार के निर्णय का स्वागत किया है। उन्होंने स्थिति को नियंत्रित करने और इसे संकट का रूप लेने से रोकने के लिए सरकार की पहल का स्वागत किया।

 

Leaders welcomed the government’s decision to hand over SSC case to CBI :- Other prominent leaders including former Union Minister and Congress MP Dr. Shashi Tharoor, Delhi Pradesh Bharatiya Janata Party President Mr. Manoj Tiwari, MP of New Delhi, Ms. Meenakshi Lekhi, related to the Joint Bachelor Level Examination (CGEE) of the Staff Selection Commission (SSC) The matter has been welcomed by the government’s decision to hand over the case to the Central Bureau of Investigation (CBI). They welcomed the government’s initiative to control the situation and prevent it from becoming a crisis.

 

  1. राष्ट्रीय सड़क प्रकाश कार्यक्रम के तहत अभी तक 49 लाख एलईडी स्ट्रीट लाइटें लगाई गईं :- राष्ट्रीय सड़क प्रकाश कार्यक्रम (एसएलएनपी) के तहत अभी तक 28 राज्यों/केंद्र शासित प्रदेशों में 49 लाख एलईडी स्ट्रीट लाइट लगाई जा चुकी हैं।  इस कार्यक्रम की शुरूआत 5 जनवरी 2015 को प्रधानमंत्री द्वारा की गई थी जिसका उद्देश्य मार्च 2019 तक 1.34 करोड़ पारंपरिक स्ट्रीट लाइट के स्थान पर ऊर्जा कुशल एलईडी लाइट लगाना है। एसएलएनपी को ऊर्जा दक्षता सेवा लिमिटेड (ईईएसएल) द्वारा लागू किया जा रहा है, जो ऊर्जा मंत्रालय के तहत सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रमों (पीएसयू) की एक संयुक्त उद्यम कंपनी है।

 

Under National Road Lighting Program, 49 lakh LED Street lights have been installed :- Under National Road Lighting Program (SLNP), so far 49 lakh LED Street lights have been installed in 28 States / UTs. The program was started by the Prime Minister on January 5, 2015, with the purpose of replacing 1.34 million conventional street lights with energy-efficient LED lights by March 2019. The SLNP is being implemented by Energy Efficiency Service Limited (EESL), a joint venture company of Public Sector Undertakings (PSU) under the Ministry of Power.

 

  1. प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने आयुष्मान भारत योजना को शुरू करने की तैयारी की समीक्षा की :- प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने सोमवार को केंद्रीय बजट में घोषित की गई राष्ट्रीय स्वास्थ्य सुरक्षा योजना आयुष्मान भारतकी शुरुआत करने की तैयारियों की समीक्षा की। प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने दो घंटे से अधिक चली उच्चस्तरीय बैठक में इस योजना को लेकर अब तक हुए काम के लिए प्रधानमंत्री कार्यालय, स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय और नीति आयोग के अधिकारियों की सराहना की।

 

Prime Minister Shri Narendra Modi reviewed the preparation of the launch of Ayushman Bharat Scheme :- Prime Minister Narendra Modi  reviewed the preparations for the launch of the National Health Protection Scheme ” Ayushman India ” announced in the Union Budget on Monday. Prime Minister Shri Narendra Modi appreciated the Prime Minister’s Office, the Ministry of Health and Family Welfare and the Policy Commission for the work done so far in this high-level meeting held in more than two hours.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here