CURRENT GK HINDI

0
164

 1.नाटो ने मोंटेनेग्रो को 29 वें सदस्य के रूप में आमंत्रित किया :-

(I)नाटो ने रूस की आपत्तियों के बावजूद औपचारिक रूप से मोंटेनेग्रो को 29 वें सदस्य के रूप में आमंत्रित करते हुए अपने इतिहास में सातवीं बार विस्तार करने के लिए सहमति व्यक्त की।

(II)यह निर्णय अभी भी अमेरिकी सीनेट, गठबंधन के 27 अन्य राष्ट्रीय संसद और मोंटेनेग्रो संसद द्वारा औपचारिक मंजूरी के अधीन है।

(III)मोंटेनिग्रिन प्रधान मंत्री मिलो जुकानोविक ने ब्रुसेल्स में नाटो मुख्यालय में एक परिग्रहण प्रोटोकॉल पर हस्ताक्षर किये।

(IV)उत्तर अटलांटिक संधि (नाटो), जिसे उत्तर अटलांटिक गठबंधन भी कहा जाता है, उत्तर अटलांटिक संधि पर आधारित हैं।

(V)एक अंतरसरकारी सैन्य गठबंधन है जिस पर 4 अप्रैल 1949 को हस्ताक्षर किए गए थे।

(VI)इसका मुख्यालय ब्रुसेल्स, बेल्जियम में है।

(VII)इसके 28 सदस्य हैं।

(VIII)जेन्स स्टॉल्टेनबर्ग नाटो के महासचिव हैं।

 

  1. राष्ट्रपति ने ‘नमामि ब्रह्मपुत्र’ महोत्सव का उद्घाटन किया :-

(I)राष्ट्रपति श्री प्रणब मुखर्जी 31 मार्च, 2017 को असम के दौरे पर हैं जहां उन्होनें गुवाहाटी में ‘नमामि ब्रह्मपुत्र’ महोत्सव का उद्घाटन किया।

(II)5 दिनों तक चलने वाले इस ‘नमामि ब्रह्मपुत्र’ महोत्सव का आयोजन असम के विभिन्न समुदायों के बीच संबंधों को मजबूत बनाने के उद्देश्य से असम सरकार द्वारा किया जाता है। 

  1. शहरी गरीबों के लिए मकानों के निर्माण के मामले में गुजरात प्रथम :-

(I)प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी द्वारा 25 जून, 2015 को लांच की गई प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी) के तहत शहरी गरीबों के लिए किफायती मकानों के निर्माण के मामले में गुजरात अन्य राज्यों से काफी आगे है।

(II)गुजरात में शहरी गरीबों के हित में अब तक 25873 मकानों का निर्माण किया गया है, जो पीएमएवाई (शहरी) के तहत 30 राज्यों एवं केंद्रशासित प्रदेशों में अब तक निर्मित किए गए इस तरह के कुल 82048 मकानों का 32 फीसदी है।

(III)शहरी गरीबों के लिए निर्मित मकानों के मामले में गुजरात के बाद राजस्थान का नंबर आता है। राजस्थान में अब तक इस तरह के 10805 मकान निर्मित किये गये हैं, जो कुल मकानों का 13.17 फीसदी है। इसी तरह कर्नाटक में 10447, तमिलनाडु में 6940 व महाराष्ट्र में 5506 मकानों का निर्माण किया गया है। 

  1. 2019 तक पीएमएवाई-जी के तहत 1 करोड़ घरों का निर्माण करेगा केंद्र :-

(I)सरकार ने कहा है कि उसने प्रधान मंत्री आवास योजना-ग्रामीण के अंतर्गत 1 करोड़ घरों के निर्माण के लिए 2016-17 से 2018-19 की अवधि के लिए 81,975 करोड़ रुपये मंजूर किये हैं।

(II)ग्रामीण विकास राज्य मंत्री राम कृपाल यादव ने लोकसभा में एक प्रश्न के लिखित उत्तर में कहा कि सामाजिक आर्थिक और जाति जनगणना (एसईसीसी) 2011 के अनंतिम आंकड़ों के मुताबिक लगभग 4 करोड़ ग्रामीण परिवारों को घर के अभाव का सामना करना पड़ता है।

(III)इंदिरा आवास योजना व राज्य सहायता के तहत बनाए गए घरों के लिए लेखांकन के बाद, अनुमान लगाया गया है कि ± 10% की अनुमानित विविधता के साथ, वर्ष 2022 तक ‘सभी के लिए आवास’ का उद्देश्य प्राप्त करने के लिए 2.95 करोड़ और अधिक घरों के निर्माण की आवश्यकता होगी।

(IV)गरीबों के लिए इसी तरह की एक योजना 2015 में ‘हाउसिंग फॉर ऑल बाई 2022’ शुरू की गई थी । 

  1. वनजा एन सरना केंद्रीय उत्पाद एवं सीमा शुल्क बोर्ड की प्रमुख नियुक्त :-

(I)वरिष्ठ नौकरशाह वनजा एन सरना को केंद्रीय उत्पाद एवं सीमा शुल्क बोर्ड (सीबीईसी) की चेयरपर्सन नियुक्त किया गया।

(II)भारतीय राजस्व सेवा (सीमा शुल्क और केन्द्रीय उत्पाद शुल्क) की 1980 बैच अधिकारी सरना, वर्तमान में सीबीईसी सदस्य हैं, जो अप्रत्यक्ष करों के लिए एक सर्वोच्च नीति बनाने वाली संस्था है।वह वर्तमान प्रमुख नजीब शाह से प्रभार ग्रहण करेंगी।

(III)जीएसटी शासन में आवश्यक विधायी मंजूरी के बाद सीबीईसी को अप्रत्यक्ष कर और केंद्रीय सीमा शुल्क बोर्ड (सीबीआईसी) के रूप में नामित किया जाएगा।

(IV)सीबीईसी – जो वित्त मंत्रालय के तहत काम करता है – इसमें एक चेयरपर्सन और अधिकतम छह सदस्य शामिल होते हैं। 

  1. एसवी सुनील एशियाई हॉकी प्लेयर ऑफ़ द इयर चुने गये :-

(I)भारत के फॉरवर्ड एस वी सुनील को 2016 के लिए एशियाई हॉकी फेडरेशन (एएचएफ) के प्लेयर ऑफ द ईयर का पुरस्कार दिया गया है।

(II)दूसरी ओर, हरमनप्रीत सिंह को महाद्वीपीय निकाय के वार्षिक पुरस्कारों में साल के सर्वश्रेष्ठ उदीयमान खिलाड़ी के रूप में चुना गया।

(III)अपनी गति के लिए पहचाने जाने वाले सुनील ने पिछले साल लंदन में चैंपियंस ट्रॉफी में भारत के यादगार प्रदर्शन में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई, जहां भारत ने पहली बार रजत पदक जीता। 

  1. भुवनेश्वर जुलाई 6-9 से एशियाई एथलेटिक्स की मेजबानी करेगा :-

(I)भुवनेश्वर जुलाई 6-9 से एशियाई एथलेटिक्स चैंपियनशिप की मेजबानी करेगा, खेल के महाद्वीपीय शासी निकाय ने बैंकाक में अपनी परिषद की बैठक में घोषणा की।

(II)ओडिशा की राजधानी का कलिंगा स्टेडियम महाद्वीप के इस प्रमुख आयोजन की मेजबानी करेगा।

(III)भारत ने पहले दो मौकों पर इसकी मेजबानी की है – नई दिल्ली (1989) और पुणे (2013) में।

(IV)भुवनेश्वर ओडिशा की राजधानी है।

(V)कलिंगा स्टेडियम भुवनेश्वर में स्थित है।

(VI)नवीन पटनायक ओडिशा के मुख्यमंत्री हैं जबकि एससी जमीर राज्यपाल हैं।

(VII)झारखंड की राजधानी, रांची को 1-4 जून तक इस आयोजन की मेजबानी करनी थी लेकिन वित्तीय मुद्दों के कारण भुवनेश्वर को चुना गया। 

  1. तबला उस्ताद जाकिर हुसैन के जीवन पर पुस्तक :-

(I)‘जाकिर हुसैन: ए लाइफ फॉर म्यूजिक, इन वार्सवॉर्सेज विद नसरीन मुन्नी कबीर’ नामक एक किताब, एक गहन साक्षात्कार श्रृंखला के माध्यम से तबला वादक के जीवन का वर्णन करेगी।

(II)हार्पर कोलिंग्स पब्लिशर्स इंडिया द्वारा जनवरी 2018 में रिलीज होने वाली यह पुस्तक हुसैन के जीवन और करियर पर एक अंतरंग रूप प्रदान करेगी।

(III)नसरीन मुन्नी कबीर द्वारा लिखित इस पुस्तक में पाठकों को भारतीय शास्त्रीय संगीत और एक विश्व प्रसिद्ध संगीतकार की सोच के बारे में एक व्यक्तिगत विचार मिलेगा।

(IV)जाकिर हुसैन हिंदुस्तानी शास्त्रीय संगीत में एक भारतीय तबला वादक है।

(V)उन्हें भारत सरकार द्वारा 1988 में पद्म श्री और 2002 में पद्म भूषण से सम्मानित किया गया था। 

  1. सुरेश प्रभु ने पुस्तक “इंडियन रेलवे- द वैविंग ऑफ ए नेशनल टैपेस्ट्री” का विमोचन किया :-

(I)केन्द्रीय रेल मंत्री श्री सुरेश प्रभाकर प्रभु ने “इंडियन रेलवे- द वैविंग ऑफ ए नेशनल टैपेस्ट्री” नाम पुस्तक का विमोचन किया। इस पुस्तक को संयुक्त रूप से श्री बिबेक देबरॉय (सदस्य, नीति आयोग), श्री संजय चड्ढा (संयुक्त सचिव, वाणिज्य मंत्रालय) और सुश्री विद्याकृष्णमूर्ति ने लिखा है।

(II)इसके अतिरिक्त, रेल मंत्री श्री सुरेश प्रभाकर प्रभु ने राष्ट्रीय रेल संग्रहालय में आने वाले आगंतुकों के लिए हाई-स्पीड निःशुल्क वाईफाई की सुविधा का शुभारंभ भी किया।

(III)इस अवसर पर रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष श्री ए.के. मित्तल, पुस्तक के तीनों लेखक, एयर इंडिया के मुख्य प्रबंध निदेशक श्री अश्वनी लोहानी और रेलवे बोर्ड के अन्य सदस्यों सहित कई वरिष्ठ अधिकारी मौजूद थे।

 

10.भारत का विदेशी मुद्रा भंडार बढ़ा, हुआ 1.1 बिलियन का इजाफा :-

(I)भारत के विदेशी मुद्रा भंडार में इजाफा देखने को मिला है। 1.1 बिलियन डॉलर के इजाफे से साथ यह बढ़कर 368 बिलियन डॉलर हो गया है।

(II)24 मार्च को समाप्त सप्ताह के लिए भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) की ओर से जारी किए गए आंकड़ों में यह बात सामने आई है। भारत के विदेशी मुद्रा भंडार में यह लगातार दूसरे हफ्ते का इजाफा है इसके पहले बीते हफ्ते में इसमें 2 बिलियन डॉलर का इजाफा देखने को मिला था।